/>

Breaking

Sunday, May 9, 2021

हरियाणा में एक सप्ताह बढ़ेगी सख्तियां, इस बार रखा सुरक्षित हरियाणा नाम, देखिये नई गाइडलाइन

हरियाणा में एक सप्ताह बढ़ेगी सख्तियां, इस बार रखा सुरक्षित हरियाणा नाम, देखिये नई गाइडलाइन

चण्डीगढ़ : हरियाणा में सरकार ने लॉकडाउन की जगह सुरक्षित हरियाणा के नाम से सख्ती बढ़ाने के आदेश दिये हैं। गृहमंत्री अनिल विज ने ट्वीट कर बताया है कि 10 मई से लेकर 17 मई तक हरियाणा में कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए पांबदियां होगी।

आपको बता दें कि हरियाणा सरकार ने 3 मई से 9 मई तक लॉकडाउन लगाया था। आज शाम से लॉकडाउन लगाने की चर्चाएं गर्म थी, लेकिन इस बार इसका नाम बदला गया है और इसे सुरक्षित हरियाणा नाम दिया गया है। हालांकि पहले से ज्यादा पाबंदियां बढ़ने वाली है।

इसके लिए अभी तक आवश्यक दिशानिर्देश नहीं जारी किये गए हैं, लेकिन गृहमंत्री अनिल विज ने साफ कर दिया है कि इस बार सख्ती ज्यादा बढ़ेगी।

*सरकार की कुछ जरूरी गाइडलाइंस*

राज्य सरकार की सभी इमरजेंसी जैसे बिजली, पानी, सेनिटेशन, सिविल डिफेंस, पुलिस, होमगार्ड बिना किसी रोक टोक के काम करेंगी।
सभी हॉस्पिटल्स के साथ ही मेडिकल शॉप्स, मेडिकल लैब, वैक्सीनेशन सेंटर के साथ तमाम मेडिकल सुविधाएं चालू रहेंगी।

राशन की दुकानों के साथ ही फल और सब्जियों की दुकानें खुल सकेंगी लेकिन मास्क और सोशल डिस्टेंस की पालना करनी होगी।

सभी बैंक और एटीएम कोविड नियमों के साथ काम करेंगे। सभी प्राइवेट और गवर्मनेट इंडस्ट्रीज भी खुली रहेंगी बशर्ते वहां काम करने वाले वाले लोगों की वहीं रहने की व्यवस्था करनी होगी।
प्राइवेट वाहनों की मूवमेंट जरूरी आवश्यकता पड़ने पर ही की जा सकती है जैसे मेडिकल, वैक्सीनेशन या जरूरी सामान। 50 प्रतिशत कैपेसिटी के साथ पब्लिक ट्रांसपोर्ट भी अलाउड रहेगा।

सभी स्कूल, कोचिंग और ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट रहेंगे बंद। मॉल्स, होटल्स, बार, सिनेमा हाल, जिम और स्पा सेंटर भी पूर्णतः बंद रहेंगे।

कोई भी सामाजिक, राजनीतिक, मनोरंजन या खेल आयोजन नहीं होंगे, इसके लिए डीसी की स्पेशल परमिशन लेनी होगी। इसके साथ ही सभी धार्मिक स्थल बंद रहेंगे।
जिन शादियों की परमिशन ली जा चुकी है वो 11 लोग इंडोर के हिसाब से केवल घर पर कार्यक्रम कर सकते हैं।
*लक्षण दिखने पर तुरंत करवाएं टैस्टिंग :*
उपायुक्त प्रदीप कुमार ने कहा कि कोरोना संक्रमण के लक्षण बुखार, खांसी व जुकाम जैसे लक्षण दिखे तो वे तुरंत अपनी टेस्टिंग करवाएं और रिपोर्ट आने तक अपने आप को होम आइसोलेट कर ले तथा घरेलू उपाय व आयुर्वेदिक औषधियों का सेवन करें। इसके साथ-साथ घर पर बना ताजा और सादा भोजन करें।
तुलसी, दालचीनी, काली मिर्च, शुण्ठी (सूखी अदरक) एवं मुनक्का से बनी हर्बल टी/काढ़ा दिन में एक से दो बार पिएं (स्वाद अनुसार इसमें नींबू का रस या गुड़ मिला सकते हैं।) गोल्डन मिल्क 150 मि.ली. गर्म दूध में आधा चम्मच हल्दी चूर्ण मिलाकर दिन में एक से दो बार पिएं, 10 ग्राम च्यवनप्राश प्रतिदिन लें, सुबह-शाम दो-दो बूंद तिल/नारियल/सरसों का तेल या घी नाक के दोनों छिद्रों में लगाएं, एक चम्मच ताजा अदरक का रस और 30 मि.ली. गर्म पानी में चुटकी भर नमक मिलाकर प्रतिदिन दो बार गरारा करें।
खांसी/गले में खराश के लिए नागरिक दिन में कम से कम एक बारे पुदीने के पत्ते/अजवाइन डालकर पानी की भाप लें, खांसी या गले मे खराश होने पर लौंग के चूर्ण को गुड़ या शहद मिलाकर दिन में दो से तीन बार लें। अधिक तकलीफ होने पर निकट के चिकित्सक से परामर्श लें।

इसके अलावा नागरिक रोग प्रतिरोधक क्षमता बेहतर करने के लिए पूरा दिन गर्म पानी पिएं। इसके अलावा वे प्रतिदिन कम से कम 30 मिनट योगासन, प्राणायाम एवं ध्यान करें अच्छी नींद ले व तनाव मुक्त रहे, भोजन बनाने में हल्दी, जीरा, धनिया एवं लहसुन आदि मसालों का प्रयोग करें।

No comments:

Post a Comment