/>

Breaking

Friday, June 18, 2021

June 18, 2021

रेलवे अंडर पास पर वाटर शैड बनवाने की डीसी को सौंपी सूची

रेलवे अंडर पास पर वाटर शैड बनवाने की डीसी को सौंपी सूची
जींद  : ( संजय कुमार ) जिले भर में रेलवे अंडर पास में पानी भरकर बरसात के समय लोगों को होने वाली परेशानियों से छुटकारा दिलाने के लिए जजपा के युवा जिलाध्यक्ष बिट्टू नैन तथा जिला कार्यालय सचिव ने डीसी डॉ आदित्य दहिया को अंडर पास की सूची सौंपी। इस कार्य के लिए पिछले सप्ताह उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने जिला प्रधान कृष्ण राठी से अंडर पास वाले गांवों की सूची मांगी थी। इन्होंने बताया कि जिले में एक दर्जन रेलवे अडंर पास है। जहां पर पिछले कई वर्षों से बरसात के समय में पानी भरकर लोगों को परेशानी उठानी पड़ती है। इन अंडर पास का पानी कई-कई दिनों तक भरा रहता है।
इसको देखते हुए जननायक जनता पार्टी ने सभी अंडर पास पर वाटर शैड बनवाने का निर्णय लिया है। इसके तहत जिले में जितने भी अंडर पास हैं। इनका एस्टीमेट बनवाने के लिए डीसी के माध्यम से संबंधित विभागों को यह काम शीघ्र करवाकर देने के लिए सौंपा है। डीसी को दिए गए वाटर शैड में जुलाना शहर,
खरकरामजी, सिवाहा, चाबरी, घसो खुर्द, उचाना मंडी के नजदीक, गुरथली से सुरजाखेड़ा, कालवन से सुलहेड़ा, धमतान से हरनामपुरा, लौन, धरौंदी, मोहलखेड़ा, मोरखी, बुढाखेडा से मलार, होशियारपुरा, बहादुरगढ़ से रोजला, भड़ताना से लुदाना, भंभेवा से सिवानामाल, सफीदों शहर, बरसोला व जींद के अंडर
पास पर वाटर शैड बनवाने के लिए सूची सौंपी है।
June 18, 2021

विवाहित मुस्लिम युवती को पति ने बोला तीन बार तलाक, देवर ने किया दुष्कर्म

विवाहित मुस्लिम युवती को पति ने बोला तीन बार तलाक, देवर ने किया दुष्कर्म
-ससुराल पक्ष के चार नामजद
जींद : ( संजय कुमार ) एक मुस्लिम युवती के साथ उसके ससुराल पक्ष के लोगों ने दहेज के लिए मारपीट कर जान से मारने की धमकी दी। देवर ने उसके साथ जबरदस्ती दुष्कर्म किया और उसके पति ने उसके मायके जाकर 3 बार तलाक बोला। महिला थाना पुलिस ने इस मामले में ससुराल पक्ष के 4 लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
नरवाना सदर थाना क्षेत्र की एक 23 वर्षीय युवती ने महिला थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी शादी वर्ष 2018 में मुआना हाल आबाद सफीदों की राजीव कालोनी के सलीम के साथ हुई थी। शादी में उसके परिजनों ने अपनी हैसियत अनुसार दान-दहेज दिया था, लेकिन उसकी ससुराल पक्ष के लोग उस दान-दहेज से खुश नहीं थे। बार-बार उसे और ज्यादा दहेज लाने को लेकर पेरशान किया जाने लगा। जब उसने विरोध किया तो उसके पति सलीम, सास अंगूरी, ससुर शेरदीन और देवर जामिल ने उसके साथ मारपीट कर जान से मारने की धमकी दी। उसने आरोप लगाया कि उसके देवर ने जबरदस्ती दुष्कर्म किया और उसके पति ने उसके मायके में 3 बार तलाक कहा। जांच अधिकारी एएसआई गीता देवी ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में उक्त सभी ससुराल पक्ष के लोगों को नामजद कर उनके खिलाफ दहेज मांगने, मारपीट करने, जान से मारने की धमकी देने, दुष्कर्म करने और 3 बार तलाक बोलने के आरोप में विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
June 18, 2021

सिरसा की हॉकी खिलाड़ी सविता पूनिया का ओलंपिक में चयन

सिरसा की हॉकी खिलाड़ी सविता पूनिया का ओलंपिक में चयन

सिरसा :  हॉकी खिलाड़ी सविता पूनियां का ओलंपिक में चयन होने पर गांव में खुशी का माहौल है। सविता के चयन पर परिजनों को बधाई देने वालों का तांता लग गया है। परिजन भी इस बार टीम से उम्मीद लगाए बैठे हैं। सविता पूनियां के पिता महेंद्र पूनियां ने कहा कि यह गर्व का विषय है। उन्होंने सविता के साथ-साथ पूरी टीम को शुभकामनाएं देते हुए आशा जताई कि इस बार भारतीय टीम से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि पिछली बार 2016 में 36 साल बाद महिला हॉकी टीम ने ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया था। लगातार दूसरी बार ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करना देश के लिए गर्व की बात है। उन्होंने उम्मीद जताई कि टीम इस बार अच्छा प्रदर्शन करेगी। सविता बोली पापा मेरा चयन हो गया, बाकी बाद में बात करूंगी महेंद्र पूनिया ने बताया कि करीबन पौने 6 बजे सविता ने फोन कर उन्हें ओलंपिक में चयन होने की सूचना दी। सविता ने सिर्फ फोन पर इतनी सूचना देते हुए कहा कि बाकी बातें फुरर्सत में करूंगी। उल्लेखनीय है कि इन दिनों सविता पूनियां बैंगलुरू में ओलंपिक के लिए चल रहे कैंप में हिस्सा ले रही है।
June 18, 2021

निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज पर हैबतपुर के ग्रामीणों की तालाबंदी, चार घंटे जाम लगाया

निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज पर हैबतपुर के ग्रामीणों की तालाबंदी, चार घंटे जाम लगाया

-गंदे पानी की निकासी की समस्या को लेकर हर लामबंद

जींद : ( संजय कुमार ) समीपवर्ती हैबतपुर के ग्रामीणों ने वीरवार सुबह निर्माणाधीन मेडिकल कालेज पर ताला जड़ दिया और जाम लगा दिया। जाम लगाए ग्रामीणों का कहना था कि गांव की समस्याओं की तरफ प्रशासन द्वारा कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है जबकि यहां बनने वाले मेडिकल काॅलेज के लिए गांव ने ही 24 एकड़ जमीन मुफ्त में दी थी। जाम करीब 4 घंटे रहा। अधिकारियों के अश्वान के बाद ही ग्रामीणों ने जाम खोला। ग्रामीण हाथों में तिरंगा लिए हुए थे और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे।
 ग्रामीणों ने साफ कहा कि जब तक उनकी समस्या का स्थायी समाधान नहीं होता तब तक वो जाम नहीं खोलेंगे। 
गांव में जो गंदे पानी की निकासी थी वो इसी जमीन पर होती थी। जिस समय जमीन दी थी उस समय प्रशासन ने आश्वासन दिया था कि गांव में सीवरेज लाइन दबाई जाएगी और उसका कनेक्शन शहर की सीवरेज लाइन से कर दिया जाएगा। प्रशासन ने गांव में सीवर की लाइन को डलवा दी, लेकिन एक साल हो चुका है कि इस लाइन का कनेक्शन शहर की लाइन से नहीं किया गया है। जाम लगने की सूचना मिलने पर सदर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और स्थिति का जायजा लिया। तहसीलदार अजय सैनी सहित कई अधिकारी भी मौका पर पहुंचे हैं, जिन्होंने गांव जाकर गलियों का मुआयना किया है। उन्होंने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि जिला उपायुक्त से मिलकर समस्या का निदान करा देंगे। ग्रामीणों ने कहा कि वे 4-5 बार डीसी से मिल चुके हैं, मगर समस्या का समाधान नहीं हो पा रहा है। तहसीलदार ने मौके पर कहा कि आज ही समस्या के निदान पर कार्य शुरू हो जाएगा। इसके बाद ग्रामीणों ने जाम खोल दिया।
June 18, 2021

पुलिसकर्मियों पर वसूली के आरोप मामले में हाईकोर्ट ने जींद के एसपी से मांगी रिपोर्ट

पुलिसकर्मियों पर वसूली के आरोप मामले में हाईकोर्ट ने जींद के एसपी से मांगी रिपोर्ट


चंडीगढ़ : सन्देश भेजने के नाम पर धोखाधड़ी के मामले की जांच के मामले में पुलिस कर्मियों द्वारा आरोपी से रुपए वसूलने के आरोपों पर पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने जींद के एसपी से रिपोर्ट तलब की है। जस्टिस एजी मसीह ने 2 सप्ताह का समय देते हुए एसपी को रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं।
चंडीगढ़ सेक्टर-48 निवासी इति सिंह उर्फ तनीषा सिंह ने धोखाधड़ी और इमिग्रेशन फ्रॉड के मामले में गिरफ्तारी से बचने के लिए अग्रिम जमानत याचिका दायर करते हुए कहा कि इस मामले में पुलिस ने समझौते के नाम पर उससे डेढ़ लाख रुपया वसूल लिया। जींद निवासी अजय और सुरेश ने पुलिस में शिकायत दी थी कि विदेश भेजने के नाम पर उनसे तनीषा, राजवीर वर्मा और दीपक ने 16,20,000 रुपए ठग लिए।
June 18, 2021

ग्रामीण अब किसान आंदोलनकारियों को खदेड़ने पर अड़े

ग्रामीण अब किसान आंदोलनकारियों को खदेड़ने पर अड़े 

बहादुरगढ़ : टिकरी बॉर्डर पर गांव कसार के मुकेश मुद्गल काे जिंदा जलाकर मारने के मामले में किसानों ने रोड जाम कर जमकर विरोध जताया। आरोप है कि किसान आंदोलन में आए चार किसानों ने अपने पंडाल के पास व्यक्ति को पेट्रोल डालकर जलाया है। ग्रामीणों का आरोप है कि प्रशासन किसानों के प्रति नर्म व बहादुरगढ़ के ग्रामीणों के प्रति उदासीन रहा।
गुरुवार दोपहर को नाराज ग्रामीणों ने 5 घंटे शव सड़क के बीच में रख जाम लगा दिया। ग्रामीणों ने किसानों को बहादुरगढ़ से भगाने की घोषणा कर दी। इस बीच माैके पर पहुंचे एसडीएम हितेंद्र कुमार ने ग्रामीणों काे उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर समझाया, लेकिन किसी ने एक न सुनी।
ग्रामीण डीसी व एसपी काे माैके पर बुलाने की मांग का रहे थे। ग्रामीणों ने डीसी को ज्ञापन सौंपकर गांव में सुरक्षा बढ़ाने की मांग के साथ किसानों की झोपड़ियों को गांव से 4 किलोमीटर दूर ले जाने की मांग की। मृतक परिवार से किसी एक को सरकारी नौकरी व बेटे की शिक्षा के साथ आर्थिक सहायता व परिवार को सुरक्षा दिलाने की मांग की गई। डीसी श्याम लाल पुनिया ने मांगें सरकार तक पहुंचा देंगें।
*सरकार-प्रशासन से ग्रामीणों की 3 मांगें*
1.किसानों की झोपड़ियों को बॉर्डर से हटाकर 4 किमी दूर शिफ्ट किया जाए
2.मृतक युवक के परिवार के किसी सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाए
3.मृतक के बेटे की पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद, परिवार को सुरक्षा दी जाए
*ग्रामीणों का आरोप- शाम होते ही आंदोलनकारियों की झोपड़ियों के अंदर सजाई जाती है शराब नशे की महफिल*
टिकरी बाॅर्डर पर तीन कृषि कानूनों के विरोध में चल रहे आंदोलन में बाईपास पर कसार गांव के पास सैकड़ों आंदोलनकारियों ने ट्राॅलियों व झोपड़ियों को घरनुमा बना रखा है। ग्रामीणों का आरोप है कि शाम होते ही झोपड़ियों में शराब की महफिल सजती है। रात करीब 8 से 9 बजे के बीच किसानों के साथ बैठकर मुकेश शराब पी रहा था।
आरोप है कि दो किसानों ने नशा होने पर मुकेश पर पेट्रोल डाल आग लगा दी। माना जा रहा कि पेट्रोल भी वहीं पर साथ में लगते एचपी पंप से लाया गया था। वहीं, डीएसपी पवन ने बताया कि आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
इसी कसार गांव के लाेगाें ने किसान आंदाेलन के लिए जुटाया था चंदा, किसानों के लिए पहुंचाया था दूध-पानी

डीसी श्यामलाल पुनिया और एसपी राजेश दुग्गल ने ग्रामीणों को समझाया कि उनकी मांगें सरकार तक पहुंचा दी जाएंगी। आरोिपयों को भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

कसार के ग्रामीणों ने आंदोलनकारी किसानों को तुरंत प्रभाव से बहादुरगढ़ खाली करने को कहा है। किसानों का कहना है कि शुरू में किसानों के आंदोलन में कसार गांव में काफी चंदा एकत्र करके दिया था। किसानों के लिए दूध व पानी के साथ गांव के पास शौचालय तक की व्यवस्था की थी। आरोप लगाया कि अब किसानों के पंडालों में 24 घंटे नशे का काम होता है।
छह माह से गांव के महिलाओं का घरों से निकलना भी मुश्किल हो गया है। यहां हर रोज रात के समय किसान शराब व नशा करके गाने बजाते हैं। रातभर विवाद व झगड़ों में गालियां की आवाजें आती रहती है। शाम पांच बजे ग्रामीण हाईवे पर मुकेश के शव को लेकर बैठे थे, लेकिन प्रशासन ग्रामीणों को यह आश्वासन तक नहीं हो पाया कि आंदोलनकारी को बहादुरगढ़ से बाहर भेजा जाएगा।
इस मौके पर पूर्व विधायक नरेश कौशिक ने कहा कि बहादुरगढ़ में उद्योग धंधों व व्यापार को मिट्टी में मिलाने वाले बहादुरगढ़ के युवाओं को मुफ्त शराब व नशे की गिरफ्त में डाल वाले आंदोलनकारियों के बीच में बैठे असामाजिक तत्वों को पहचान कर उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए। बाहरी आंदोलनकारी तुरंत प्रभाव से बहादुरगढ़ को छोड़ दे।
June 18, 2021

संजय बोले- अब BJP का नारा है, सुल्तान अंसारी हमारा है

रामजन्मभूमि घोटाले में फंसे तिवारी और अंसारी, संजय बोले- अब BJP का नारा है, सुल्तान अंसारी हमारा है
नई दिल्ली : बड़ी दिलचस्प बात है कि जिस मजहब के मानने वाले लोगों को लेकर भाजपाई अक्सर सोशल मीडिया पर उटपटांग भाषा का इस्तेमाल किय करते थे, आज उसी सुल्तान अंसारी के बचाव में भाजपा आईटी सेल से लेकर उनके सारे नेता उतर चुके हैं।
सुल्तान अंसारी वही प्राॅपर्टी डीलर हैं जिनका नाम अयोध्या के श्रीराम जन्मभूमि घोटाले में सामने आया है।
आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह ने सुल्तान अंसारी के बचाव में भाजपा समर्थकों के सामने आने पर तंज कसते हुए कहा है कि 


“दुर्भाग्य तो देखिए अब भारतीय जनता पार्टी, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और विश्व हिंदू परिषद की साख बचाने का जिम्मा प्राॅपर्टी डीलर सुल्तान अंसारी के कंधे पर आ गया है”
संजय सिंह ने आगे कहा- BJP का नारा है, सुल्तान अंसारी हमारा है। #चंदा_चोर_चम्पत
मालूम हो कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट द्वारा मंदिर के पास 12 हजार 80 वर्ग मीटर की दो करोड़ रुपये कीमत वाली जमीन को 18 करोड़ रुपये में खरीदे जाने के मामला सामने आने के बाद से ही देश भर में चर्चाआंे का बाजार गर्म है।
इस मामले में सबसे ज्यादा सवाल जमीन की खरीदारी करने वाले ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय और इसकी बिक्री करने वाले मोहम्मद सुल्तान अंसारी पर खड़े हो रहे हैं।
सुल्तान अंसारी अयोध्या के नामी गिरामी प्राॅपर्टी डीलर हैं। वहीं चंपत राय के बारे में कहा जा रहा है कि राम जन्मभूमि के इर्द गिर्द जमीन खरीदने के फैसले वो अकेले ही करते है।
श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने जो जमीन 18.5 करोड़ रुपये में खरीदी है, उसे बेचने वालों में सुल्तान अंसारी के साथ ही उनके पार्टनर रवि मोहन तिवारी का भी नाम शामिल है।
सुल्तान अंसारी ने मीडिया को बताया है कि 2011 में उन्होंने यह जमीन दो करोड़ रुपये में खरीदी थी। यह एकदम खरा सौदा है। इसमें कोई हेराफेरी जैसी बात नहीं है।
अंसारी ने बताया कि ट्रस्ट को मार्केट से भी कम रेट में जमीन दी गई है। अंसारी के इस बयान के बाद से ही सोशल मीडिया पर भक्तों की टोली उनके समर्थन में उतर आई है।
इसे भगवान राम की कृपा ही कही जा सकती है कि जिन भाजपा और संघ समर्थकों की दिन की शुरुआत ही मुसलमानों को अपशब्द बोलने से शुरु होती थी,
अब वह उसी मजहब के मानने वाले प्राॅपर्टी डीलर सुल्तान अंसारी के कसीदे पढ़ रहे हैं। उसे देशभक्ति का सर्टिफिकेट दे रहे हैं और उसे सच्चा हिंदुस्तानी बता रहे हैं।