Breaking

Showing posts with label Poltical News. Show all posts
Showing posts with label Poltical News. Show all posts

Saturday, April 17, 2021

April 17, 2021

कुरुक्षेत्र में भाजपा नेता का विरोध:हरियाणा प्रदेशाध्‍यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ के खिलाफ सड़कों पर उतरे किसान, पुलिस के साथ की धक्का मुक्की

कुरुक्षेत्र में भाजपा नेता का विरोध:हरियाणा प्रदेशाध्‍यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ के खिलाफ सड़कों पर उतरे किसान, पुलिस के साथ की धक्का मुक्की

कुरुक्षेत्र : हरियाणा में कृषि कानूनों के विरोध में भाजपा नेताओं के खिलाफ प्रदर्शन जारी है। शुक्रवार को कुरुक्षेत्र जिले में प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ का विरोध हुआ। इस दौरान किसानों और पुलिस वालों के बीच धक्का मुक्की भी हुई। कार्रवाई करते हुए पुलिस ने किसानों को हिरासत में भी लिया।
मिली जानकारी के अनुसार, धनखड़ शुक्रवार को अंबेडकर भवन में शाहाबाद मंडल के कार्यकर्ताओं के दो दिवसीय प्रशिक्षण शिविर में बतौर मुख्यातिथि पहुंचे थे। लेकिन उनके आने की खबर मिलते ही किसान अंबेडकर भवन के बाहर जुट गए। जैसे ही प्रदेशाध्यक्ष आए, किसानों ने गेट को घेर लिया।
किसानों ने सरकार विरोधी नारेबाजी की। यह देखते हुए धनखड़ को पिछले दरवाजे से अंदर ले जाया गया, जहां वे कार्यकर्ताओं से रूबरू हुए। इससे पहले धनखड़ ने मीडिया से बातचीत करते हुए किसान आंदोलन पर बातचीत की। वहीं भवन के बाहर जुटे किसान विरोधी नारेबाजी करते रहे।
पत्रकारों से बातचीत करते हुए ओम प्रकाश धनखड़ ने कहा कि भाजपा की केंद्र और प्रदेश सरकार किसानों के हित में काम कर रही है। कृषि कानून भी किसानों के हित में हैं। लेकिन इनके खिलाफ उन्हें भड़काया जा रहा है। हरियाणा की मंडियों में पुराने सिस्टम से ही गेहूं की खरीद होती रहेगी।
धनखड़ ने कहा कि केंद्र सरकार कई बार किसानों से इस मुद्दे पर बात कर चुकी है, लेकिन वे मानने के तैयार नहीं हैं। उन्हें कांग्रेसियों ने इस तरह भड़का दिया है कि किसान कृषि कानूनों के फायदे देखना ही नहीं चाहते। वैसे केंद्र सरकार की ओर से किसानों के साथ बातचीत के दरवाजे आगे भी खुले हैं।
बता दें कि किसानों के अंबेडकर भवन में पहुंचने की सूचना मिलते ही पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। ASP रविंद्र तोमर ने किसानों को समझाने का प्रयास भी किया, लेकिन किसान अड़े रहे। उन्होंने मुख्य गेट खाली नहीं किया। इस दौरान पुलिस व किसानों के बीच धक्का मुक्की हो गई।

Wednesday, April 14, 2021

April 14, 2021

लोकतांत्रिक राष्ट्र के निर्माण में बाबा साहेब का योगदान बहुत बड़ा है, उनका जीवन लोगों के लिए प्रेरणा : राजू मोर

लोकतांत्रिक राष्ट्र के निर्माण में बाबा साहेब का योगदान बहुत बड़ा है, उनका जीवन लोगों के लिए प्रेरणा : राजू मोर

जींद, 14 अप्रैल : भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर जी जन्मजयन्ती के अवसर पर भारतीय जनता पार्टी जींद द्वारा जिले भर में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये । जींद में रामराय गेट स्थित रविदास धर्मशाला में चमारान सभा द्वारा अम्बेडकर जयन्ती कार्यक्रम में भाजपा जींद जिला अध्यक्ष राजकुमार (राजू मोर) पहुंचे और बाबा को पुष्पांजलि अर्पित कर सभी को बाबा साहेब की जयंती की शुभकामनाएं दी और उनको नमन किया । इस अवसर पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए उन्होंने बताया कि राष्ट्र के निर्माण व संविधान के निर्माण में बाबा साहेब का बहुत बड़ा योगदान है । बाबा साहेब समृद्ध भारत का निर्माण चाहते थे और मौजूदा सरकार भी इनके इसी सपने को साकार करने में लगी है।
उन्होंने कहा कि बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर ने संविधान के माध्यम से सभी को समान रूप से वोट डालने का अधिकार दिया। यह संविधान की ही देन है कि हम अपनी पसंद की सरकार बनाते हैं। हमें अपने प्रतिनिधि चुनने का स्वतंत्र अधिकार है। उन्होंने कहा कि हमें अपने समाज के तानेबाने को मजबूत करने के लिए कार्य करना होगा। 
उन्होंने कहा कि बाबा साहेब को सही अर्थों में नमन तब होगा, जब उनकी शिक्षाओं को अपने स्वभाव में ढ़ालेंगे। हमें उनके मार्ग पर चलकर समाज में ऊंच-नीच के भाव को समाप्त करना होगा। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब के सपने के अनुसार एक ऐसे समाज का निर्माण करना होगा, जहां सभी वर्ग समान हों। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार भी बाबा साहेब के आदर्शों पर चलते हुए समाज के हर वर्ग के लिए नीतियां लागू कर रही है।
वहीं जींद में दुर्गा कालोनी में बाबा साहेब की जयंती के अवसर पर कोरोना वैक्सिनेशन कैम्प का भी आयोजन किया गया ।

सफीदों में बाबा साहेब की जयंती के अवसर पर विशाल कोरोना वैक्सिनेशन कैम्प का आयोजन भाजपा सफीदों मण्डल द्वारा किया गया जहां लोगों ने भारी संख्या में कोरोना से बचाव हेतु टिका लगवाया । कैम्प में भाजपा अध्यक्ष राजू मोर ने मुख्यअतिथि के रूप में शिरकत की ।
वहीं नरवाना में भी भाजपा नेताओं  द्वारा बड़े स्तर पर बाबा साहेब की जयंती के कार्यक्रम आयोजित किये गए । इसके अलावां भाजपा के सभी मंडलों द्वारा उचाना व जुलाना में भी अलग अलग कार्यक्रम आयोजित किये गए जहां बराह मण्डल में भी कोरोना टीकाकरण कैम्प आयोजित किये गए ।
इस अवसर पर जिले के आयोजित हुए विभिन्न कार्यक्रमों में कोरोना टीकाकरण अभियान के जिला संयोजक डॉ राज सैनी, सुरेन्द्र धवन, जसबीर सैनी, बलवंत सिंहमार, विरेन्द्र खोखरी, नरेन्द्र शर्मा, मनीष बबलू गोयल, केशव व राजेश जांगड़ा, सफीदों में हरीश शर्मा, रवि थनई, प्रिंस मुदगिल, कविता शर्मा, बलवंत पांचाल, रोहित गुम्बर, मुकेश लूदाना, सुनील लाडवाल, सुभाष थरेजा, रिंकू जांगड़ा, महिला मोर्चा से सुशीला भारद्वाज ,राजकुमारी सहल, ओमपति ,ओम देवी, जैरी तुसामड, सक्षम भाटिया, अंकित सहल, आकाश और नरवाना में सुमन बेदी, जगदीश उझाना, प्रमोद शर्मा, अमित ढाकल, सुदेश चोपड़ा, सुशील बाल्याण, बलदेव बाल्मीकि, मोहन गर्ग समेत सैंकड़ों भाजपा नेताओं व कार्यकर्ताओ ने अलग अलग कार्यक्रम आयोजित कर बाबा साहेब की जयंती कार्यक्रम में शिरकत की ।

Tuesday, April 13, 2021

April 13, 2021

हरियाणा में जेजेपी ने की बड़े स्तर पर नियुक्तियां, देखिये पूरी लिस्ट

हरियाणा में जेजेपी ने की बड़े स्तर पर नियुक्तियां, देखिये पूरी लिस्ट



चंडीगढ : जननायक जनता पार्टी ने अपने संगठन का विस्तार करते हुए कई महत्वपूर्ण नियुक्तियां की है। पार्टी ने 84 पदाधिकारियों को नियुक्त करते हुए एक जिला प्रभारी, दो जिला अध्यक्ष, 61 हलका प्रधान, 14 ब्लॉक प्रधान और 6 जोन प्रधान बनाए हैं। जेजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अजय सिंह चौटाला, प्रदेश के उपमुख्यमंत्री एवं पार्टी के वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दुष्यंत चौटाला, जेजेपी प्रदेशाध्यक्ष सरदार निशान सिंह व अन्य वरिष्ठ नेताओं ने विचार-विमर्श के बाद इन नई नियुक्तियों की सूची जारी की।

*चंडीगढ़ ब्रेकिंग*

– जेजेपी में महत्वपूर्ण नियुक्तियां
– एक जिला प्रभारी, दो जिलाध्यक्ष समेत 84 पदाधिकारी बनाए
– 61 हलका प्रधान, 14 ब्लॉक प्रधान व 6 जोन प्रधान भी बनाए
– सुरेंद्र बैनीवाल होंगे सिरसा जिला के प्रभारी
– करनाल में गुरदेव सिंह रंबा को बनाया जिला अध्यक्ष
– महेंद्रगढ़ में अशोक सैनी शहरी जिलाध्यक्ष नियुक्त
*हलका-ब्लॉक-जोन प्रधानों के नाम*
अंबाला शहर में अनिल जंधेड़ी
अंबाला कैंट में देवेंद्र सैनी
मुलाना में मनदीप बोपाराय
नारायणगढ़ में एमसी मदन चनाना (शहरी)
बल्लभगढ़ में एमसी दीपक चौधरी
फरीदाबाद में एमसी कुलदीप तेवतिया
फरीदाबाद एनआईटी में अमरीक कश्यप (शहरी)
फरीदाबाद एनआईटी में हाजी करामत अली (ग्रामीण)
बड़खल में जितेंद्र चौधरी


तिगांव में अमर नरबत
पृथला में जगदीश मेंबर
फतेहाबाद में विजेंद्र साहू (ग्रामीण)
फतेहाबाद में पवन चुघ (शहरी)
टोहाना में संदीप गिल
रतिया में नागपूर ब्लॉक के राकेश सिहाग
रतिया ब्लॉक में सरदार गुरप्रीत सिंह
हिसार में अमित ग्रोवर
आदमपुर में मास्टर भीम सिंह बालसमंद
हांसी में करण सिंह देपल (ग्रामीण)

हांसी में राहुल मक्कड़ (शहरी)
नारनौंद में रामकुमार भट्ट (शहरी)
नारनौंद में अमित बूरा (ग्रामीण)
नलवा में अनूप धनखड़
उकलाना में अनील बाल्किया (ग्रामीण)
उकलाना में शेर सिंह बत्तरा (शहरी)
बरवाला में सत्यवान बिचपड़ी (ग्रामीण)
बरवाला में जगदीश (शहरी)
जींद में कर्मपाल ढुल (ग्रामीण)
जींद में राजेश जैन (शहरी)
नरवाना में मियां सिंह सिहाग (ग्रामीण)
नरवाना में सुरेंद्र दातावाल (शहरी)
उचाना में अलेवा ब्लॉक के शमशेर नगुरा
उचाना ब्लॉक के काला नंबरदार
पिल्लूखेड़ा ब्लॉक में सत्यनारायण बूरा
सफीदों ब्लॉक में बिजेंद्र सरडा
जुलाना ब्लॉक में शिल्कराम मलिक
जींद ब्लॉक में वेदपाल भनवाला

कैथल में चंद्रभान गुर्जर
गुहला में अवतार सिंह
पूंडरी में राजेश (राजू पाई)
कलायत में जगदीश दुबल
लाडवा में जोग ध्यान
थानेसर में सुनील रोड़
शाहाबाद में जगबीर सिंह
पिहोवा में गुरलाल सिंह
घरौंडा में जगरूप
नीलोखेड़ी में विनोद रायपुर
करनाल में अमनदीप चावला
असंध में सतीश बलहारा
इंद्री में महम सिंह
पंचकुला में अजय गौतम (शहरी)
पंचकुला में संदीप राणा (ग्रामीण)
रायपुररानी ब्लॉक में कपिल अग्रवाल
पिंजौर ब्लॉक में निर्मल चौधरी
मोरनी ब्लॉक में बलदेव सिंह राणा

होडल में रोहताश नंबरदार करमन
हथीन में ठाकुर मंगल सिंह
कलानौर में मनोज बालंद
गढ़ी सांपला किलोई में संदीप हुड्डा
महम में सुरेंद्र बलहारा
रोहतक में राजेश सैनी
सिरसा में सुधीर कुकना ताजिया (ग्रामीण)
सिरसा में राजेंद्र सरदाना (शहरी)
कालांवाली में विनोद मित्तल (शहरी)
कालांवाली में सरदार सवाई सिंह (ग्रामीण)
रानियां में मदन शर्मा (शहरी)
डबवाली के जोन नंबर-1 में स. मनजीत सिंह
डबवाली के जोन नंबर-2 में भीम सहारण
रानियां के जोन नंबर-1 में जयपाल नैन
रानियां के जोन नंबर-2 में स. कुलदीप करीवाला
ऐलनाबाद के जोन नंबर-1 में रणजीत सिंह बाना
ऐलनाबाद के जोन नंबर-2 में अंजनी लडा
ऐलनाबाद में जगदीश जांगड़ा (शहरी)
यमुनानगर में शैलेश त्यागी (शहरी)

यमुनानगर में अमित खंडवा (ग्रामीण)
जगाधरी में दमन शर्मा (शहरी)
जगाधरी में मोहन लाल धीमान (ग्रामीण)
रादौर में मांगे राम गुडियानी
बिलासपुर ब्लॉक में मोहिंद्र आर्य
साढौरा ब्लॉक में संजीव कुमार रत्तुवाला
सरस्वती नगर ब्लॉक में जोगिंद्र राणा

Sunday, April 4, 2021

April 04, 2021

किसान आंदोलन के समर्थन करने वाले सच्चे देशभक्त और विरोधी गद्दार-केजरीवाल

किसान आंदोलन के समर्थन करने वाले सच्चे देशभक्त और विरोधी गद्दार-केजरीवाल
कहा-किसानों की शहादत बेकार नहीं जाने दी जाएगी
-दिल्ली के सीएम ने जींद में किया किसान महापंचायत को संबोधित
जींद : ( संजय तिरँगाधारी ) दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज किसान आंदोलन का समर्थन करने वाले सच्चे देशभक्त है और विरोध करने वाले देश के गद्दार। उन्होंने कहा कि 300 से ज्यादा किसानों ने इस संघर्ष में शहादत दी है, जो बेकार नहीं जाने दी जाएगी। रविवार को वे सेक्टर-9 में आम आदमी पार्टी द्वारा आयोजित किसान महापंचायत को संबोधित कर रहे थे। इससे पहले किसान महापंचायत के आयोजकों रणधीर रेढू, लाभ सिंह आदि किसान नेताओं ने केजरीवाल को किसानी का प्रतीक हल भी भेंट किया।
अपने करीब आधा घंटे के संबोधन में सीएम केजरीवाल ने जहां किसानों को आंदोलन के लिए हरियाणवी अंदाज में डटे रहने का आह्वान किया और कहा कि दिल्ली में आपका बेटा सीएम बैठा है, जो हर तरह से मदद को तैयार है। इस आंदोलन में अंततः किसान की जीत होगी, केंद्र को झुकना ही पड़ेगा। तीनों कृषि कानून वापस लेने हो होंगे।
उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन को आगे ले जाना अब हम सब की जिम्मेदारी है। भले ही इसके लिए हमें कितनी भी कुर्बानी क्यों न देनी पड़े। इसके लिए चाहे जान भी चली जाए हम पीछे नहीं हटेंगे। 
केंद्र की भाजपा सरकार की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा कि उसने दिल्ली में लोकतांत्रिक तरीके से चुनी हुई सरकार की शक्तियां छीनने का काम किया है, मगर हम इससे घबराते नहीं। केंद्र की मोदी सरकार इसलिए यह बिल लेकर आई क्योंकि हमने किसानों की मांगों को जायज ठहराया, हमने दिल्ली के स्टेडियमों को जेल में तब्दील नहीं होने दिया।
किसान आंदोलन को समर्थन करने पर केंद्र सरकार मुझे कोई भी सजा दे, मुझे कोई फिक्र नहीं। हम राजनीति में लोगों की सेवा करने आए हैं। दिल्ली में अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए उन्होंने कहा कि कोई भी कार्य करने के लिए नीयत की जरूरत होती है। आज कांग्रेस और भाजपा के नेता चाहते हैं कि केजरीवाल भी उन्हीं जैसा बन जाये। उन्होंने इन दोनों पार्टियों की आलोचना करते हुए कहा कि 75 साल इस देश पा दोनों पार्टियों ने राज किया, मगर देश विकसित नहीं बन पाया। कहा कि इन दोनों पार्टियों के नेताओं की नीयत ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि यह देश विकसित बने इसके लिए वे जीते-जी प्रयासरत रहेंगे।
महापंचायत में अरविंद केजरीवाल केंद्र सरकार सहित मनोहर सरकार पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि जब से तीनों कृषि कानून बनाए गए हैं, तब से किसान परेशान हैं। कई राज्यों से किसान दिल्ली बॉर्डर पर जारी आंदोलन में हिस्सा नहीं ले पा रहे हैं, लेकिन वह घर में बैठकर दुआ कर रहे हैं कि यह आंदोलन सफल हो। उन्होंने कहा कि मेरी सरकार किसानों को पूरा समर्थन दे रही है। आंदोलन को सफल बनाने के लिए वह किसानों की पूरी मदद कर रहे हैं। इस दौरान केजरीवाल ने कहा कि जिस हरियाणा में बीजेपी और जेजेपी के नेताओं को लोग गांवों में प्रवेश नहीं दे रहे, वहां आज आप के नेताओं की इज्जत हो रही है। मुझे इस बात की खुशी है।
इसके साथ ही अरविंद केजरीवाल ने रोहतक में किसानों पर हुए लाठीचार्ज की कड़ी निंदा की। उन्होंने कहा कि जिस देश में किसानों का सम्मान नहीं है, वह देश कभी प्रगति नहीं कर सकता। सरकार को किसानों का साथ देना चाहिए या उन पर लाठीचार्ज करना चाहिए। इसको लेकर किसानों ने हरियाणा में चक्का जाम कर रखा है, हम किसानों के इस संघर्ष का समर्थन करते हैं।
-मृतक किसानों को शहीद का दर्जा और 1-1 करोड़ मुआवजा दे सरकार-
दिल्ली के सीएम केजरीवाल से पहले किसान महापंचायत को संबोधित करते हुए राज्यसभा सदस्य सुशील गुप्ता ने कहा कि केंद्र सरकार किसानों की शहादत का मजाक उड़ाना बंद करे और 300 से अधिक मृत किसानों को शहीद का दर्जा दे। उनके परिजनों को 1-1 करोड़ मुआवजा भी दिया जाना चाहिए। उन्होंने तीनों कृषि कानूनों को किसानों के डेथ वारंट पर हस्ताक्षर बताया।
किसान महापंचायत में कई प्रस्ताव भी पारित किए गए, जिनमे मृत किसानों को शहीद का दर्जा देने, तीनों कृषि कानून वापस लेने, किसानों पर दर्ज मुकदमें वापस लेने, एमएसपी कानून बनाने आदि शामिल हैं।

Sunday, March 21, 2021

March 21, 2021

जींद में सरकार पर गरजे पूर्व आईजी रणबीर शर्मा

किसान आंदोलन से घबरा गई है भाजपा सरकार : पूर्व आईजी बोले, विधानसभा में क्षति वसूली विधेयक लाया जाना निंदनीय 

-जींद में सरकार पर गरजे पूर्व आईजी रणबीर शर्मा
जींद, 20 मार्च :( संजय तिरंगाधारी ) हरियाणा के पूर्व आईजी रणबीर सिंह शर्मा ने सरकार द्वारा क्षति वसूली विधेयक विधानसभा में पास करने की निंदा करते हुए कहा कि यह विधेयक किसान आंदोलन से घबराकर जल्दबाजी में लिया गया फैसला है। संपत्ति के नुकसान की भरपाई का कानून तो देश में पहले से ही है। अब इस विधेयक के जरिए सरकार जन आंदोलनों को कुचलना चाहती है लेकिन जनता अब जाग चुकी है और सरकारी की तानाशाही को बर्दाश्त नही करेगी। शनिवार को रणबीर सिंह शर्मा जींद के सेक्टर-10 में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। 
रणबीर सिंह शर्मा ने कहा कि आज प्रदेश में हालात इस प्रकार के  हो गए हैं कि भाजपा व जजपा का नेता व मंत्री अपने हलके में नही जा सकता। उन्हे भारी जन विरोध का सामना करना पड रहा है। यह सब सरकार की हठधर्मिता के कारण हो रहा है। सरकार को चाहिए था कि आमजन को बजट में महंगाई से राहत देती लेकिन बजट सत्र प्रदेश का ऐसा बजट है जिससे प्रदेश के लोगों को कोई फायदा होने वाला नही है। सरकार की गलत नीतियों के कारण प्रदेश कर्ज में डूबा हुआ है। कुल राजस्व का 54 प्रतिशत कर्जा व ब्याज चुकाने में चला जाता है। 40 प्रतिशत कर्मचारियों के वेतन मे खर्च हो जाता है। शेष 6 प्रतिशत से क्या विकास कार्य हो सकते हैं। 
 पूर्व आईजी ने कहा कि प्रदेश सरकार ने 1057 सरकारी स्कूलोंं को बंद करने का जो फैसला लिया है इससे प्रदेश में ओर अधिक बेरोजगारी बढ़ेगी। पहले ही बेरोजगारी में हरियाणा पूरे देश में पहले स्थान पर है। सरकार के इस निर्णय से लगभग साढ़े तीन लाख से अधिक जेबीटी पास किए हुए युवाओं के भविष्य पर प्रश्न चिह्न लग गया है। सरकार रोजगार देने की बजाए रोजगार छीनने का काम कर रही है। डाईट को बंद किया जा रहा है और भविष्य में जेबीटी परीक्षा बंद करने का जो फैसला सरकार ने लिया है उसकी शर्मा ने कड़ी आलोचना की। 
 रणबीर शर्मा ने कहा कि प्रदेश के लोगों ने सरकारों को परखकर देख लिया है। अब समय आ गया है कि प्रदेश का हर व्यक्ति सत्ता परिवर्तन चाहता है। प्रत्येक सरकार में देश के अन्नदाता के साथ धोखा हुआ है लेकिन बर्दाश्त से बाहर हो गया है, अब देश का अन्नदाता जाग चुका है। शर्मा ने सरकार को चेताते हुए कहा कि सरकार जल्द से जल्द कृषि कानूनों को रद्द कर किसानों का भला करे। उन्होने कहा कि आए दिन किसानों के लिए नए-नए नियम बनाए जा रहे हैं। अब जब गेहूँ की आवक होने को है तो सरकार द्वारा नियम बना दिया गया है कि गेहूँ में नमी 14 प्रतिशत से घटाकर 12 कर दी गई है। ऐसे में सरकार किसानों को परेशान करने पर तुली हई है। 
इस मौके पर चरण सिंह ढांडा, पाला राम, राजेंद्र, सुभाष कौशिक, सुरेश कुमार अहलावत, रिंकेश, जयपाल, डा. रामकुमार कौशिक, भूपेंद्र, प्रदीप, अशोक, इशम, सुरेश राणा सहित अन्य मौजूद रहे।

Saturday, March 13, 2021

March 13, 2021

हरियाणा बजट 2021:खट्‌टर की दो बड़ी घोषणाएं

हरियाणा बजट 2021:खट्‌टर की दो बड़ी घोषणाएं- 12वीं तक मुफ्त शिक्षा, 50 हजार युवाओं को नौकरी; हुड्‌डा का कमेंट- खोदा पहाड़, निकली चुहिया


चंडीगढ़ : हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल ने शुक्रवार को बतौर वित्त मंत्री भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार का दूसरा बजट पेश किया। बजट टैब के जरिए ऑनलाइन पेश किया गया। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने 12 बजकर 4 मिनट पर गणपति वंदना 'वक्रतुंड महाकाय, सूर्यकोटि समप्रभ:, निर्विघ्नम कुरुमे देव सर्व कार्येसु सर्वदा' से बजट भाषण शुरू किया था। बजट भाषण 2 बजकर 38 मिनट पर खत्म हुआ यानी बजट भाषण 2 घंटे 34 मिनट का रहा।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि वे अपनी सरकार के वर्तमान कार्यकाल के इस दूसरे बजट को आजादी की 75वीं वर्षगांठ और प्रदेश की जनता को समर्पित करते हैं। बजट में 12 वीं तक की शिक्षा को फ्री करने के साथ सरकारी स्कूलों में डिजिटल क्लासें बनवाने का ऐलान किया। वहीं राज्य में 3 नए मेडिकल कॉलेज और एक कैंसर विज्ञान केंद्र खोलने की भी घोषणा की।
मुख्यमंत्री के अनुसार, इस बार का बजट 155645 करोड़ रुपए रहा, जो पिछले वर्ष के बजट से 13 फीसदी अधिक है। बजट का 25 प्रतिशत पूंजीगत खर्च और 75 फीसदी राजस्व व्यय होगा। फरवरी 2021 तक 26038 करोड़ रुपए का राजस्व एकत्र किया, यह पिछले साल से 11.36 प्रतिशत अधिक है। 45066 करोड़ स्टेट डेवलपमेंट गोल से सबंधित योजनाओं के लिए आवंटित किए गए। 2021-22 के लिए राजकोषीय घाटा सकल राज्य घरेलू उत्पाद का 3.83 फीसदी अनुमानित है।






अन्य घोषणाएं

SYL नहर के निर्माण के लिये 100 करोड़ का प्रावधान किया गया है। मेवात को पेयजल उपलब्ध करने को 100 क्यूसिक की मेवात फीडर नहर का निर्माण होगा।

हरियाणा हाउसिंग बोर्ड की जमीन पर लगभग 20,000 मकान बनाने की योजना है। यह प्रधानमंत्री आवास योजना के क्रियान्वयन के लिए नोडल विभाग भी होगा।

डाटा सेंटर नीति बनाई जा रही है। इको सिस्टम स्थापित किया जाएगा। बोर्ड, निगमों व विश्वविद्यालय में ई-ऑफिस का पूर्ण क्रियान्वयन होगा।

सरकार ने वृद्धावस्‍था पेंशन में 250 रुपए की वृद्धि कर दी है। अब यह पेंशन 2500 रुपए कर दी गई है। यह वृद्धि एक अप्रैल से लागू होगी।

अनुसूचित जाति के लोगों को मिलने वाली कानूनी सहायता योजना की राशि 11 हजार रुपए से बढ़ाकर 22 हजार रुपए करने का भी ऐलान किया गया है।

मुख्यमंत्री ने अंत्योदय उत्थान अभियान शुरू करने की घोषणा की। इसके तहत एक लाख निर्धनतम परिवारों की पहचान करक उनकी न्यूनतम आर्थिक सीमा 1.80 लाख तक पहुंचाने

को कदम उठाए जाएंगे। मुख्यमंत्री अंत्योदय उत्थान अभियान 2025 तक चलाया जाएगा।

भिवानी के लोहारु किला, तिगड़ाना हड़प्पा स्थल, फतेहाबाद के कर्णकोट, फरीदाबाद में बल्लभगढ़ स्थित रानी की छतरी, नूंह के पुराने तहसील भवन, मकबरा परिसर तावडू, चुहिमल

की छतरी, जींद के किला जफरगढ़, जिला झज्जर की दुजाना स्थित लाल मस्जिद, बाघवाली कोठी और कैथल किला को सरकार अपने संरक्षण में लेगी।

नगर एवं ग्राम योजना विभाग को 1121, पर्यटन को 113, खनन को 73, पुरातत्व व अभिलेखागार को 143, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग को 281 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं।

1.80 लाख रुपए प्रति वर्ष आय और 5 एकड़ प्रति परिवार तक की कुल जोत वाले परिवारों को सालाना 6 हजार रुपए की वित्तीय मदद मिलेगी।

जून 2021 तक राज्य परिवहन में मैनुअल टिकट प्रणाली के स्थान पर ओपन लूप टिकटिंग सिस्टम और GPS सिस्टम शुरू किया जाएगा। 124 इलेक्ट्रिक बसें चलाई जाएंगी।

पिंजौर व गुरुग्राम फिल्म सिटी के तौर पर विकसित किए जाएंगे। हिसार, करनाल, पिंजौर और नारनौल में हवाई अड्डों पर नाइट लैंडिंग हो सकेगी।

श्रम विभाग को 1823 करोड़ आवंटित किए गए हैं। इस बार विभाग के बजट में 40 फीसदी की वृद्धि की गई है। पटौदी बाईपास सहित गुरुग्राम-पटौदी-रेवाड़ी सड़क का निर्माण कार्य

इस साल शुरू किया जाएगा। कैथल जींद हांसी सड़क को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित करके 4 मार्गीय बनाने का प्रस्ताव रखा गया है।

परिवहन विभाग के लिए 2408, वन विभाग के लिए 443 ओर पर्यावरण विभाग के लिए 14 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए हैं। 2025 तक ऊष्मायन केंद्र से 50 प्रतिशत छात्रों को

व्यावसायिक शिक्षा देने का लक्ष्य है, इसके लिए 10 करोड़ आवंटित होंगे।

परिवहन वाहनों की फिटनेस को लेकर 6 केंद्र स्थापित किए जाएंगे। इनमें अम्बाला, करनाल, हिसार, रेवाड़ी, फरीदाबाद और गुरुग्राम शामिल हैं। फिलहाल केवल रोहतक में एक केंद्र है।

राजस्व विभाग के लिए 1302 और आबकारी कराधान विभाग के लिए 285 करोड़ देने का प्रस्ताव पेश किया गया है।

सर्वसमावेशी बीमा योजना शुरू की जाएगी। बीमा योजना के लिए 2021-22 में 10798 करोड़ का प्रावधान किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा 5080 गांवों में 24 छंटे बिजली उपलब्ध कराई गई है। अब अन्य गांवों को भी इस योजना में शामिल करेंगे। 125 नई मृदा जांच प्रयोगशाला स्थापित की जाएंगी।

पूर्व सीएम के कमेंट पर लगे ठहाके


जैसे ही बजट भाषण खत्म हुआ पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा ने कमेंट किया- खोदा पहाड़, निकली चुहिया। इसे सुनकर सदन में मौजूद विपक्ष के सभी सदस्य ठहाका लगाकर हंस पड़े। वहीं, भाषण शुरू करते ही मुख्यमंत्री ने कहा कि यह बजट राज्‍य के सांसदों, विधायकाें व विभिन्‍न लोगों के सुझावों के आधार पर तैयार किया गया है। प्रदेश को विकास की दिशा में आगे बढ़ाना इस बजट का मुख्‍य उद्देश्‍य है। कोरोना काल और लॉकडाउन की चुनौतियों से निपटते हुए भी बजट तैयार किया गया है।
कोरोना काल में सरकार को हजारों करोड़ का नुकसान हुआ
कोरोना महामारी फैलने के कारण लगे लॉकडाउन में हरियाणा सरकार को करीब 12 हजार करोड़ रुपए, के राजस्व का नुकसान हुआ, जिससे अब कम करते हुए 8000 करोड़ तक सरकार ले आई है। इस नुकसान की भरपाई के लिए सरकार ने 5000 करोड़ से ज्यादा का कर्ज लिया है।
1,42,34,378 करोड़ रुपए था 2020-21 का बजट
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने 28 फरवरी 2020 को विधानसभा में वित्त वर्ष 2020-21 के लिए 1,42,34,378 करोड़ रुपए का बजट पेश किया था। उन्होंने पूरा बजट भाषण पढ़ने में 2 घंटे 32 मिनट लगाए थे। सूटकेस की जगह टैब से बजट प्रस्तुत करने की उन्होंने शुरूआत की थी।

Saturday, March 6, 2021

March 06, 2021

इस्तीफा देकर सभी बहरूपियों को बेनकाब कर दिया: अभय सिंह चौटाला

इस्तीफा देकर सभी बहरूपियों को बेनकाब कर दिया: अभय सिंह चौटाला

हिसार / नारनौंद : नारनौंद के गांव राखी में बारह खाप के निर्माणाधीन चबूतरे पर बारह खाप द्वारा किसान मजदूर महापंचायत का आयोजन किया गया। वहाँ मौजूद किसान नेताओं ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि चौधरी अभय चौटाला ने विधायक पद से इस्तीफा देकर ताऊ देवीलाल की बलिदानी परंपरा को आगे बढ़ाया है ।
महापंचायत में आए किसानों को सम्बोधित करते हुए इनेलो के प्रधान महासचिव अभय सिंह चौटाला ने कहा कि हरियाणा सरकार ने इस कोरोना काल में एक राजनीतिक कमेटी बनाई थी जिसका सदस्य उन्हें भी बनाया गया था और उन्होंने सरकार को सुझाव दिया था कि हरियाणा के किसान की फसल का एक-एक दाना बिना किसान को परेशान किए खरीदा जाए लेकिन हरियाणा सरकार ने कोरोना की आड़ में 9 बड़े घोटाले किए और केंद्र सरकार ने 3 काले कृषि कानून बनाए। 26 जनवरी 2021 को किसान अपने ट्रैक्टरों पर सवार होकर 3 कृषि कानूनों को वापिस कराने के लिए गए थे लेकिन केंद्र सरकार ने उसको भी बदनाम करने का काम किया।
इनेलो नेता ने कहा कि 1965 से पहले मंडी व्यवस्था नहीं थी। लाल बहादुर शास्त्री जी ने मण्डी व्यवस्था और एमएसपी लागू करवाकर किसानों को राहत दी थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री बनने से पहले वायदे किए थे की प्रधानमंत्री बनते ही पहली कलम से किसानों के ऋण माफ किए जाएंगे, स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करेंगे, कृषि लागत से 1.5 गुणा मूल्य दिया जाएगा लेकिन प्रधानमंत्री बनते ही अपने किए वायदों से मुकर गए और किसानों को मारने के लिए 3 काले कृषि कानून लागू कर दिए । हरियाणा विधानसभा में जब 3 कृषि कानून लागू करने के लिए लाए गए तो कांग्रेस पार्टी के विधायक इसका विरोध करने की बजाय विधानसभा से वॉकआउट कर गए । मैंने उसी दिन यह फैसला कर लिया था कि मैं ऐसी विधानसभा का हिस्सा नहीं रहूंगा जहां किसानों का अपमान किया गया हो। कुछ लोग कटाक्ष कर रहे थे की उंगली कटाकर शहीद होने का ड्रामा कर रहे हैं लेकिन मैंने इस्तीफा देकर सभी बहरूपियों को बेनकाब कर दिया है।
इनेलो नेता ने लोगों से आग्रह करते हुए कहा की इस आंदोलन को मजबूती देने के लिए यदि एक घर से 2 लोगों को जाना पड़े तो हिचकिचाहट नहीं होनी चाहिए। किसान किसी के साथ कभी छेडख़ानी नहीं करता लेकिन सरकार ने किसानों के साथ छेडख़ानी की है। मैं भगवान से आशा करता हूं कि सरकार को सद्बुद्धि दे जिससे सरकार तीनों कृषि कानूनों को रद्द कर किसानों को राहत दे। उन्होंने कहा की जो 25 लाख रुपए बारह खाप चबूतरे के निर्माण के लिए देने की पहले घोषणा की थी, वे एक महीने के अंदर अंदर मिल जायेंगे। स्थानीय पत्रकारों ने प्रश्न करते हुए पूछा की दिल्ली के बॉर्डरों पर कुछ लोग किसानों के आंदोलन से परेशान हैं और कृषि कानूनों को सही बता रहे हैं के जवाब में कहा की वो आरएसएस के लोग हैं ।
इस महापंचायत में मुख्य रूप से रवि आजाद युवा प्रदेश अध्यक्ष भारतीय किसान यूनियन, कुमारी पूनम पंडित, कुमारी राकेश श्योराण (गायक कलाकार लोहारू से),  श्री राज सिंह मोर, श्री रणबीर लोहान प्रदेश प्रवक्ता इनेलो, अजय हुड्डा, विकास सीसर, सुरेश कोथ, मंजीत करोड़ा, सतबीर सिसाय, राजीव राजा हसनगढ़, रामफल जांगड़ा प्रधान बारह खाप, मास्टर राजकुमार राखी, रमेश श्योराण जिला पार्षद सहित हजारों किसान नेता व पार्टी कार्यकर्ता मौजूद थे।