/>

Breaking

Sunday, May 9, 2021

33 दिन में 3 लाख मरीज, पहले तीन लाख 384 दिन में हुए थे, प्रदेश में 6 लाख पार हुआ संक्रमितों का आंकड़ा

33 दिन में 3 लाख मरीज, पहले तीन लाख 384 दिन में हुए थे, प्रदेश में 6 लाख पार हुआ संक्रमितों का आंकड़ा

चंडीगढ़ : हरियाणा में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 6 लाख पार हो गया है। पिछले 33 दिनों के आंकड़े काफी चिंताजनक हैं। इन्हीं दिनों में 3 लाख लोग संक्रमित हुए हैं। जबकि इससे पहले 3 लाख लोगों के संक्रमित होने में 384 दिनों का समय लगा था। वहीं, इन 33 दिनों में मौतों में 79.89 प्रतिशत बढ़ोतरी हुई है। एक्टिव मरीज भी 752 गुना बढ़ गए हैं।

जब तीन लाख लोग पॉजिटिव हुए तब एक्टिव मरीजों की संख्या सिर्फ 13,829 थी। जो अब बढ़कर 1,17,835 पहुंच गई है। चिंता की बात यह है कि हरियाणा में अभी संभावित पीक आना बाकी है। ऐसे में कोरोना वायरस का संक्रमण और भी खतरनाक हो सकता है। वहीं, प्रदेश में 24 घंटे में 15,132 नए मरीज मिले हैं।
इसके बाद कुल मरीजों का आंकड़ा 6,04,371 हो गया है। जबकि 174 मरीजों की जान गई। अब तक कोरोना से राज्य में 5750 लोेगों की जान जा चुकी है। हालांकि एक अच्छी बात यह है कि प्रदेश में कोरोना से प्रतिदिन स्वस्थ होने वालों की संख्या भी बढ़ रही है। शनिवार को पहली बार 14,366 मरीजों ने कोरोना को हराया है। अब स्वस्थ होने वालो का आंकड़ा 4,80,786 हो गया है।


*गांवों में टेस्टिंग के लिए आठ हजार टीमें बनेंगी*

कोरोना संक्रमण से गांवों को सुरक्षित रखने के लिए हरियाणा सरकार गांवों में टेस्ट, ट्रैक एंड ट्रीट की रणनीति अपनाएगी। इसके लिए 8000 मल्टीडिसप्लनेरी टीमों के गठन होगा। ये टीमें गांवों में डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग करेंगी। धर्मशाला, सरकारी स्कूल व आयुष केंद्र आइसोलेशन सेंटर बनाए जाएंगे।

यह निर्देश सीएम मनोहर लाल ने शनिवार को दिए। वह स्वास्थ्य और पंचायत विभाग के साथ समीक्षा बैठक कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ट्रेनी डॉक्टर के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग, आशा व आंगनबाड़ी वर्कर्स सहित 8000 मल्टीडिसप्लनेरी टीमों का गठन होगा। स्क्रीनिंग कैंप से लगभग 60 लाख परिवारों के प्रत्येक सदस्य को टेस्ट, ट्रैक एंड ट्रीट किया जा सकेगा। हर गांव में एक कोविड आइसोलेशन सेंटर बनाने की योजना है।
*मुंढाल में पांच दिन के लिए सेल्फ लॉकडाउन*

भिवानी, कोरोना की दूसरी लहर ने शहर ही नहीं, बल्कि गांवों को भी चपेट में ले लिया है। मुंढाल में एक सप्ताह में 25 लोगों की मौत हो गई है। यह महामारी आगे न फैले, इसलिए मुंढाल पंचायत ने पांच दिन के लिए सेल्फ लॉकडाउन लगा दिया है। गांव में किसी भी बाहरी व्यक्ति के प्रवेश पर रोक लगा दी है।

सरपंच विजय ने बताया कि गांव में अनाज की दुकान तीन घंटे, दूध की दुकान तीन घंटे व दवाई की दुकानें 24 घंटे खुली रहेंगी। इस संबंध में पंचायत ने डीसी व एसपी को सूचना दे दी है। वहीं, जिले के छह दर्जन गांवों में 500 से भी ज्यादा लोग बुखार से पीड़ित हैं। डीसी राहुल नरवाल ने कहा कि यह कोई कानून व्यवस्था की समस्या नहीं, बल्कि पब्लिक हेल्थ क्राइसिस है। इसमें जनता का सहयोग जरूरी है।

No comments:

Post a Comment