Breaking

Showing posts with label Social News. Show all posts
Showing posts with label Social News. Show all posts

Wednesday, April 14, 2021

April 14, 2021

CBSE की 10वीं की परीक्षाएं रद्द, 12वीं की परीक्षाएं भी टाली

CBSE की 10वीं की परीक्षाएं रद्द, 12वीं की परीक्षाएं भी टाली


नई दिल्ली : केंद्र सरकार ने सीबीएसई बोर्ड की दसवीं की परीक्षाओं को रद्द कर दिया है वहीं बारहवीं की परीक्षाओं को टाल दिया है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शिक्षा विभाग के अधिकारियों की बैठक में यह फैसला लिया गया है।

आदेश के मुताबिक, 4 मई से 14 जून तक होने वाली 12वीं की परीक्षाओं को रद्द कर दिया गया है। 1 जून को एक और बैठक होगी, जिसमें तब के हालात को देखते हुए आगे का फैसला लिया जाएगा।

कोरोना के बढ़ते मरीजों को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। कोरोना संक्रमण बढ़ने के चलते स्कूलों को भी बंद किया जा रहा है वहीं अब केंद्रीय बोर्ड की परीक्षाओं को रद्द कर दिया गया है।
सरकार द्वारा यह फैसला प्रधानमंत्री मोदी की केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’, शिक्षा सचिव और सीबीएसई बोर्ड के अधिकारियों के साथ आज, 14 अप्रैल 2021 को बुलायी गयी एक बैठक लिया गया।

बता दें कि कोविड-19 महामारी के लगातार बढ़ रहे मामलों के बीच देश भर के स्टूडेंट्स पैरेट्स और टीचर्स के साथ- साथ विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्री, कई नेताओं और जन-प्रतिनिधियों द्वारा सीबीएसई बोर्ड की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित या रद्द किये जाने की मांग की जा रही थी।

 

Sunday, March 21, 2021

March 21, 2021

जींद वालों को एक लाख कमाने का मौका, बस देनी होगी ये जानकारी

जींद वालों को एक लाख कमाने का मौका, बस देनी होगी ये जानकारी 

जींद :( सजंय तिरंगाधारी ) पीसी पीएनडीटी एक्ट के तहत नागरिक अस्पताल के प्रशिक्षण केंद्र में जिला सलाहकार समिति की बैठक हुई। बैठक में सफीदों के ज्ञानीराम मेमोरियल अस्पताल व नरवाना के सिटी अल्ट्रासाउंड केंद्र में निरीक्षण के दौरान मिली कमियों के कारण उन्हें नोटिस जारी करने का निर्णय लिया गया। बैठक में सिविल सर्जन डॉ. मनजीत सिंह, डॉ. रघुबीर पूनिया, भूपेंद्र मलिक, एडवोकेट सुशीला धनखड़, राजकुमार भोला ने भाग लिया।

समिति की चेयरमैन डॉ. मंजू सिंगला ने कहा कि जिले में लिंगानुपात को संतुलित करने के लिए ठोस कदम उठाए जा रहे हैं। भ्रूण लिंग परीक्षण पर पूरी तरह से अंकुश लगाने की दृष्टि से जांच अभियान को और तेज किया जाएगा। जो व्यक्ति भ्रूण जांच करवाने वाले की सूचना देगा उसे एक लाख रुपये इनाम में दिए जाएंगे। व्यक्ति का नाम गुप्त रखा जाएगा। जिले में लिंगानुपात धीरे-धीरे सुधर रहा है। बैठक में जींद हर्ट केयर सेंटर को पीसीपीएनडीटी एक्ट के तहत स्वीकृति प्रदान की गई।
बता दें कल जिले के पिल्लूखेड़ा खंड के गांव बेरी खेड़ा में परिजनों ने महिला का गर्भपात करवाकर भ्रूण को मकान के पीछे खाली प्लाट में दबा दिया। किसी ने इसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग को दे दी। डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. पालेराम कटारिया के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मौके पर पहुंचकर भ्रूण को बाहर निकलवाया और पोस्टमार्टम के लिए पीजीआई रोहतक भेज दिया। पिल्लूखेड़ा पुलिस ने डॉ. कटारिया की शिकायत पर महिला, उसके पति, एक लैब संचालक, एक चिकित्सक व परिजनों समेत सात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पूछताछ में महिला ने बताया कि इसमें सफीदों निवासी एक महिला चिकित्सक ने उसकी मदद की है। एक लैब संचालक से गर्भपात की गोलियां दिलवाई है। इसके बाद उसका रात को गर्भपात हो गया। महिला के पेट में 13 सप्ताह का गर्भ था। रात को ही परिजनों ने भ्रूण को मकान के पीछे खाली प्लाट में दबा दिया था। पिल्लूखेड़ा थाना पुलिस ने डॉ. पालेराम कटारिया की शिकायत पर महिला मुकेश, उसके पति देवेंद्र, अमित, कृष्णा, खेड़ा खेमावती निवासी दिलबाग, यश डायग्नोस्टिक सेंटर सफीदों के संचालक जोगिंद्र, राधेकृष्णा नर्सिंग होम की डॉ. मोनिका शर्मा के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। जांच अधिकारी एएसआई नरेंद्र ने कहा कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। जल्द ही आरोपियों को काबू कर लिया जाएगा।
March 21, 2021

लोग 2 समय जरूर करें ब्रश : डॉ. पांचाल

वल्र्ड ओरल हैल्थ डे पर सिविल अस्पताल में कार्यक्रम

-विश्व में 95 प्रतिशत लोग मुंह की बीमारियों से ग्रस्त : डॉ. मनजीत
-लोग 2 समय जरूर करें ब्रश डॉ. पांचाल
जींद, 20 मार्च : सिविल अस्पताल में वर्ल्ड ओरल हैल्थ डे पर शनिवार को कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसकी अध्यक्षता सिविल सर्जन डॉ. मनजीत सिंह ने की। कार्यक्रम में खास तौर पर सीनियर मैडीकल आफिसर डॉ. गोपाल गोयल, वरिष्ठ दंत चिकित्सक रमेश पांचाल, डिप्टी एमएस डॉ. राजेश भोला, डॉ. आरएस पूनिया, डॉ. पूनम मान, डॉ. विशाल पोरस आदि ने शिरकत की। कार्यक्रम में 200 से ज्यादा लोगों ने शिरकत की। 
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सिविल सर्जन डॉ. मनजीत सिंह ने कहा कि वल्र्ड ओरल हैल्थ कार्यक्रम 2020 की रिपोर्ट के अनुसार विश्व में 95 प्रतिशत लोग मसूड़ों की छोटी-बड़ी बीमारियों से परेशान हैं। इसका मुख्य कारण दांतों की ठीक प्रकार से देख-रेख नहीं करना है। उन्होंने कहा कि दांत मोती की तरह हैं। जब तक दांत हैं, तब तक स्वाद है। यदि दांत टूट गए तो स्वाद भी चला जाता है। डिप्टी सिविल सर्जन और वरिष्ठï दंत चिकित्सक रमेश पांचाल ने वल्र्ड ओरल हैल्थ डे पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि इलिनॉय शिकागो विश्वविद्यालय के अनुसार हमारे मुंह में 300 से ज्यादा बैक्टीरिया लाखों की संख्या में पाए जाते हैं। इनमें से कुछ ओरल हैल्थ को बिगाड़ते हैँ। मुंह का सबसे महत्वपूर्ण अंग मसूड़े हैं। इनमें किसी तरह की तकलीफ नहीं है, तो ओरल हैल्थ मोटे तौर पर ठीक है, लेकिन मसूड़ों में से यदि खून बहता है, दुर्गंध आती है, दांतों में गर्म और ठंडा लगता है या दर्द है तो ये ओरल हैल्थ खराब होने के प्रमुख लक्षण हैं। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को अपने दांतों को सुबह और रात को साफ करना चाहिए। हल्के बु्रश से काम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि मुंह के रोगों के कारण दिल के रोग और कैंसर के रोग बढऩे का ज्यादा खतरा रहता है। जो लोग ज्यादा धूम्रपान करते हैं, उनको यह समस्या ज्यादा रहती है। डॉ. पांचाल ने कहा कि लोगों को अपने बच्चों का खास तौर पर ख्याल रखना चाहिए। उन्हें टोफी, चाकलेट और दांतों में चिपकने वाली चीजें नहीं दिलानी चाहिए। मीठा भी कम खाने देना चाहिए। इसके अलावा फास्ट फूड तो पूरी तरह से बंद करना चाहिए, क्योंकि फास्ट फूड स्वास्थ्य के लिए बेहद खतरनाक है। दंतक सर्जन डॉ. विशाल ने कहा कि खाना खाने के बाद मुंह को साफ जरूर करें। कैविटी पैदा करने वाले बैक्टीरिया मीठे खाद्य पदार्थों को एसिड में बदलते हैं। हर बार मीठा खाने के 5 मिनट के भीतर पानी से मुंह को साफ जरूर करना चाहिए। उन्होंने कहा कि पौष्टिïक भोजन जैसे दही, दालें, फल, हरी सब्जियां आदि का अधिक प्रयोग करना चाहिए। टूथ ब्रुश को हर 3 महीने में बदल लेना चाहिए अथवा जब रेशे मुड जाएं तब बदले लें। दंत चिकित्सक से नियमित रूप से दांतों की जांच जरूर करवाएं। इस मौके पर डैंटल सहायक सुनील, भूपेंद्र और विनोद आदि मौजूद रहे।

Monday, March 8, 2021

March 08, 2021

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर प्रदेश स्तरीय अवार्डों की घोषणा

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर प्रदेश स्तरीय अवार्डों की घोषणा

*महिला एवं बाल विकास मंत्री कमलेश ढांडा ने दी जानकारी*

*विभिन्न श्रेणियों में 29 महिलाओं को अवार्ड तथा 9 महिलाओं को राज्य स्तरीय समारोह में दिए जाएंगे प्रशंसा पत्र*

*8 मार्च को राज्य स्तरीय समारोह चंडीगढ़ मुख्यमंत्री निवास पर होगा, जिला स्तरीय आयोजन होगा जिलों में, तैयारियां पूरी*

*मुख्यमंत्री मनोहर लाल रहेंगे राज्य स्तरीय कार्यक्रम के मुख्यमंत्री*

*खेल क्षेत्र श्रेणी में 9 खिलाडियों को मिलेगा अवार्ड* (प्रत्येक को 21 हजार रूपए की राशि) तथा एक को मिलेगा प्रशंसा पत्र 
 1.जींद निवासी विकास राणा,
2.चरखी दादरी निवासी सोनू कुमारी, 
3.पानीपत निवासी तनुजा देवी, 
4.झज्जर निवासी प्रीति,
 5.भिवानी निवासी ऐश्वर्या,
6.हिसार निवासी सोनिका, 
7.हिसार निवासी पूनम, 
8.रोहतक निवासी रामरती, 
9.रोहतक निवासी स्वीटी को मिलेगा अवार्ड 
गौर तलब है की जींद जिले की शान विकास राणा स्कीइंग की अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी है जो जापान में भी भारत का प्रतिनिधित्व कर चुकी पिछले विंटर सीजन गेम्स में भी विकास राणा ने दिल्ली की ओर से खेलते हुए दो दो मैडल पर अपना कब्जा किया था यही नही विकास राणा एकमात्र ऐसे खिलाड़ी है जो दक्षिण अफ्रीका की सबसे ऊंची चोटी किलिमंजारो को फतह कर स्कीइंग करते हुए बेस कैम्प तक आई और विश्व रिकॉर्ड बनाया। विकास राणा का चयन अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर सम्मान के लिए चयन होने पर मेरा स्वर्णिम हिन्द के राष्ट्रीय अध्यक्ष राममेहर सांगवान और संस्था के सभी सदस्यों ने इस उपलब्धि के लिए विकास राणा को हार्दिक बधाई दी ,विकास राणा सामाजिक संस्था मेरा स्वर्णिम हिन्द की बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान की ब्रांड अम्बेसडर भी है

Saturday, March 6, 2021

March 06, 2021

हरियाणा सरकार ने स्कूल में विद्यार्थियों के मोबाइल लाने पर लगाई रोक, कहा- घर से करें ऑनलाइन पढ़ाई

हरियाणा सरकार ने स्कूल में विद्यार्थियों के मोबाइल लाने पर लगाई रोक, कहा- घर से करें ऑनलाइन पढ़ाई
चंडीगढ़ : हरियाणा के सरकारी स्कूलों में विद्यार्थी मोबाइल फोन नहीं ला सकेंगे। सरकार ने मोबाइल लाने पर रोक लगा दी है। जिन विद्यार्थियों को ऑनलाइन पढ़ाई करनी है, वे घर से ही करेंगे। शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने विभाग को इस संबंध में स्पष्ट निर्देश जारी कर दिए हैं।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि स्कूल में कोई भी विद्यार्थी मोबाइल नहीं ला सकेगा। उन्होंने बुधवार को विभाग की कई योजनाओं की प्रगति रिपोर्ट ली। उन्होंने विभाग में लंबित पड़े भर्ती के मामलों में तेजी लाने को कहा है। शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने बताया कि भर्तियों में जो भी कानूनी पेचीदगियां आड़े आ रही हैं, उनका निराकरण जल्द किया जाएगा। विभाग में रिक्त पड़े ग्रुप डी के पदों पर भर्ती करने के लिए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए हैं। शिक्षकों के तबादलों के मामलों को प्राथमिकता के आधार पर निपटाया जाएगा।
136 मॉडल संस्कृति स्कूलों में से 122 स्कूलों के लिए सीबीएसई से मान्यता ली जा चुकी है। कोविड के कारण निजी स्कूलों के दो लाख से अधिक विद्यार्थियों ने सरकारी स्कूलों में दाखिला लिया है। इनमें नौवीं कक्षा के विद्यार्थियो की संख्या अधिक है। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर भी बैठक में चर्चा की गई। मंत्री ने नई शिक्षा नीति को प्रदेश में लागू करने के लिए बनाई गई कमेटियों की रिपोर्ट जल्द प्रस्तुत करने के निर्देश दिए, ताकि नीति को मंजूर कराया जा सके।

शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने बैठक के बाद कहा कि जेबीटी की संख्या पूरी है। पीजीटी की भर्ती के लिए एचएसएससी को लिखा है। टीजीटी की कमी को पूरा करने का प्रयास कर रहे हैं। वहीं स्कूल आने वाले बच्चों का तापमान स्कूल के बाहर जांच रहे हैं। जिनका तापमान ज्यादा आता है, उन बच्चों को स्कूलों में नहीं जाने दिया जा रहा है। बाहर से ही घरों को भेज दिया गया। 2154 बच्चे ऐसे थे, जिनका तापमान अधिक निकला। शिक्षा मंत्री ने कहा अभी विभाग में स्वीपर, माली, चपरासी के 6822 पद खाली हैं।

Thursday, March 4, 2021

March 04, 2021

12वीं मंजिल से गिरी दो साल की बच्ची, डिलीवरी बॉय ने कैच कर बचाई जान

12वीं मंजिल से गिरी दो साल की बच्ची, डिलीवरी बॉय ने कैच कर बचाई जान

नई दिल्ली : सोशल मीडिया पर इन दिनों एक डिलीवरी बॉय का कारनामा छाया हुआ है। इस डिलीवरी बॉय ने दो साल की बच्ची की जान बचाने का काम किया है। दरअसल, वियतनाम में दो साल की बच्ची 12वीं मंजिल की बालकनी से गिरने वाली थी।  लेकिन न्गुयेन नागॉस नामक इस डिलीवरी बॉय ने उसकी जान बचा ली।
न्गुयेन की वीडियो इस समय सोशल मीडिया पर काफी वायरल भी हो रही है।  न्गुयेन की उम्र 31 साल की है औऱ वो अपनी कार में सामान की डिलीवरी करने के लिए ग्राहक का इंतजार कर रहे थे। तभी उन्हें एक बच्ची की रोती हुई आवाज सुनाई दी।

न्गुयेन के मुताबिक डिलीवरी के दौरान उन्होंने देखा की एक बच्ची बालकनी पर रोते हुए लटक गई वह एकदम गिरने ही वाली थी । तभी वह अपनी कार से निकले और पास की एक इमारत पर चढ़ गए ताकि लड़की को लपकने के लिए उचित स्थान खोज सकें।

इस दौरान जब बच्ची गिरने लगी तो न्गुयेन ने अपनी सूझबूझ से बच्ची को कैच कर लिया और कोशिश की बच्ची सीधे मुंह के बल नीचे ना गिरे। न्गुयेन ने कहा, ‘सौभाग्य से बच्ची मेरी गोद में आ गिरी और मैंने जल्दी से उसे गले लगा लिया, फिर जब उसके मुंह से खून रिसता देखा, तो मैं बहुत डर गया था।’

बच्ची को नेशनल चिल्ड्रेन अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने बताया कि उसके कूल्हे में चोट आई है, लेकिन वह ठीक हो जाएगी । अब बच्ची की जान बचाने के बाद से न्गुयेन काफी खुश हैं।
वहीं न्गुयेन की इस बहादुरी की लोग भी काफी तारीफ कर रहे हैं। लोग न्गुयेन को सुपरहीरो कहकर पुकार रहे हैं।

 

Tuesday, March 2, 2021

March 02, 2021

सरस्वती की जलधारा के लिए तीन गांवों के किसानों ने दी जमीन

सरस्वती की जलधारा के लिए तीन गांवों के किसानों ने दी जमीन

चण्डीगढ : - हरियाणा के खेल एवं युवा मामलेे राज्यमंत्री सरदार संदीप सिंह ने कहा कि सरस्वती नदी के प्रवाह को लेकर सरकार निरंतर प्रयास कर रही है।  इसके लिए यमुनानगर जिले के तीन गांवों के किसानों ने दादूपुर नलवी के तीन किलोमीटर तक की भूमि सरकार को देने का निर्णय लिया है।
इस संबंध में खेल एवं युवा मामले राज्यमंत्री सरदार संदीप सिंह से आज चण्डीगढ स्थित निवास पर यमुनानगर जिले के किसानों का प्रतिनिधिमण्डल मिला। सरदार संदीप सिंह ने कहा कि हरियाणा में सरस्वती नदी की धारा लगातार सालभर बहे और किसानों को इसका पूरा लाभ मिले। मुख्यमंत्री का भी यह विजन है कि सरस्वती नदी का प्रवाह निरंतर चलता रहे। इसके लिए स्यालवा, झाड़ चन्दना व उंचा चंदना सहित 3 गांवों के किसानों ने खुद आगे आकर सरकार को भूमि देने की पहल की है। उन्होंने किसानों को आश्वासन देते हुए कहा कि वे मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल से बातचीत कर किसानों की जायज मांगों पर चर्चा करेंगे।

*क्षेत्र में जलस्तर बढ़ेगा*

खेल मंत्री ने कहा कि सरस्वती नदी से किसानों की आस्था जुड़ी हुई है। लेकिन दादूपुर नलवी के लगभग 3 किलोमीटर के दायरे में इस नदी का प्रवाह नहीं हो रहा है। उन्होंने कहा कि किसानों का सरकार को भूमि देने के लिए स्वयं आगे आना सरकार के लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि दादूपुर नलवी नहर का पानी सरस्वती नदी से जुड़ेगा तो इस क्षेत्र में जलस्तर स्तर भी बढ़ेगा।
अब जलधारा में कोई बाधा नहीं रहेगी
किसानों के प्रतिनिधि मण्डल ने बताया कि यमुनानगर के इन तीन गांवों की लगभग 60 एकड़ भूमि पर लिंक नहर न बनने के कारण सरस्वती नदी के प्रवाह में बाधा आ रही थी। इसलिए किसानों ने आगे आकर जमीन देने के लिए रुचि दिखाई है तथा दादूपुर नलवी नहर का यह क्षेत्र सरस्वती नदी से जुडऩे से अब सरस्वती नदी की जलधारा में कोई बाधा नहीं रहेगी। किसानों का कहना है कि अपनी आने वाली पीढिय़ों को जल उपलब्ध कराने के लिए वह हर प्रकार का त्याग करने को तैयार हैं। सरस्वती नदी के धरातल पर आने से उनके क्षेत्र के साथ-साथ हरियाणा के अन्य जिलों में भी पानी की समस्या दूर होगी। प्रतिनिधि मण्डल में सुभाष चौहान, रामपाल सिंह, जितेन्द्र सिंह, तेलू भगत, महावीर सिंह, वेदपाल, कवंरपाल, इन्द्रजीत, जोगेन्द्र सिंह, प्रताप सिंह महल आदि शामिल थे।