/>

Breaking

Wednesday, April 28, 2021

बिजली विभाग ने 4 महीनें के एडवांस बिजली बिल भरवाने के फैसले पर लगाई रोक : राजकुमार गोयल

जीन्द विकास संगठन की एक ओर बडी उपलब्धि
बिजली विभाग ने 4 महीनें के एडवांस बिजली बिल भरवाने के फैसले पर लगाई रोक
प्रधान राजकुमार गोयल ने जताई खुशी
कहा आम आदमी के लिए आसान नहीं था एडवांस बिल भरना
फैसला वापिस लेने से आम आदमी को मिला रिलिफ
जीन्द : जीन्द विकास संगठन की एक ओर बडी उपलब्धि सामने आई है। बिजली विभाग ने उपभोक्ताओं को राहत देते हुए 4 महीनें के एडवांस बिजली बिल भरवाने के फैसले पर आगामी आदेशों तक के लिए रोक लगा दी है। संगठन के अध्यक्ष राजकुमार गोयल ने खुशी जताते हुए कहा है कि आम आदमी के लिए चार चार महीनें का एडवांस बिल भरना आसान नहीं था। फैसला वापिस लेने से आम आदमी को रिलिफ मिला है।
जिस दिन से बिजली विभाग ने चार महीनें का एडवांस बिजली बिल भरने का फैसला लिया था। उसी दिन से जीन्द विकास संगठन इस फैसले के विरोध में आ खडा हुआ था। 

जीन्द विकास संगठन के अध्यक्ष राजकुमार गोयल का कहना था कि बिजली विभाग द्वारा उपभोक्तों से करंट बिल के साथ साथ चार महीने के जो एडवांस बिजली का बिल सिक्योरटी को तौर पर भरवाया जा रहा है वह फैसला बिल्कुल जन विरोधी है। गोयल का कहना था कि आम आदमी पिछले एक साल से कोरोना की मार झेल रहा है। हालात इतने बदतर है कि करंट बिल भरना भी मुश्किल हो रहा है। ऊपर से चार महीने का एडवांस बिल भरवाना तो आम आदमी का गला घोटने जैसा है।

जीन्द विकास संगठन के पदाधिकारी प्रधान राजकुमार गोयल की अध्यक्षता में कई बार जीन्द प्रशासन से मिले और जनहित में इस फैसले को वापिस लेने की मांग की। संगठन के पदाधिकारियों ने कई बार जीन्द प्रशासन के माध्यम से मुख्यमंत्री और बिजली मंत्री को ज्ञापन भी प्रेषित किए। कई बार मुख्यमंत्री को ट्वीट किए गए। कई बार बिजली मंत्री को ट्वीट किए गए और मांग की गई कि इस जन विरोधी फैसले को तुरंत वापिस लिया जाए। गत सप्ताह तो जीन्द विकास संगठन ने यह फैसला लिया था कि जब तक सरकार इस फैसले को वापिस नहीं लेती तब तक जीन्द विकास संगठन कभी पीएम को तो कभी सीएम को पत्र लिखते रहेगें। पत्र लिखने की श्रृंखला तब तक लगातार जारी रहेगी जब तक फैसला वापिस नहीं लिया जाता।

जीन्द विकास संगठन के अध्यक्ष राजकुमार गोयल का कहना है कि बिजली विभाग द्वारा अब फैसला लिया गया कि बिजली उपभोक्ताओं को राहत देते हुए एसीडी यानि एडवांस कंजप्शन डिपोजिट स्कीम पर आगामी आदेशों के लिए रोक लगा दी है। गोयल का कहना है कि यह जीन्द विकास संगठन की जीत है। गोयल का कहना है कि एडवांस बिल भरना आम आदमी के लिए इतना आसान नहीं था। वे आम आदमी के लिए यह लडाई लड रहे थे। जिसमें उन्हें विजय मिली है। उन्होंने कहा की जींद विकास संगठन लगातार जींद के विकास की लड़ाई लड़ रहा है। अब तक जींद विकास संगठन लड़ाई लड़ कर विकास के कई कार्य करवा चूका है। इसके साथ साथ जींद विकास संगठन आम आदमी के हकों की लड़ाई भी लड़ रहा है। एडवांस बिलों को भरवाने के फैसले को वापिस करवाना भी उसी का एक हिस्सा है।

No comments:

Post a Comment