/>

Breaking

Monday, May 10, 2021

हर गांव की होगी मैपिंग, बीमार लोगों की जानकारी जुटाई जाएगी

हर गांव की होगी मैपिंग, बीमार लोगों की जानकारी जुटाई जाएगी

 रोहतक : अब गांवों में रहने वाले लोगों के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी लेने के लिए हर गांव की मैपिंग की जाएगी। इस संबंध में कैप्टन मनोज कुमार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से डिस्ट्रिक्ट क्राइसिस मॉनिटरिंग कमेटी की बैठक ली। उन्होंने कहा कि इस कार्य के लिए रोडवेज के जीएम को नोडल अधिकारी बनाया गया है। उपायुक्त ने निर्देश दिए कि आंगनबाड़ी वर्कर व आशा वर्कर गांव में जाकर हर घर से यह जानकारी जुटाए कि कोई व्यक्ति बीमार तो नहीं है, अगर बीमार है तो कौन से लक्षण हैं। इसके साथ ही उन्होंने सभी एसडीएम, बीडीपीओ, एसईपीओ, डीआरओ व पटवारियों को भी निर्देश दिए कि वे रोजाना गांव का दौरा करें और शाम को लोगों के स्वास्थ्य के बारे में रिपोर्ट दें। बैठक में नगर निगम आयुक्त प्रदीप गोदारा, जिला पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा, महम की एसडीएम मेजर गायत्री अहलावत, रोहतक के एसडीएम राकेश कुमार सैनी तथा नगराधीश ज्योति मित्तल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

रोहतक अब गांवों में रहने वाले लोगों के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी लेने के लिए हर गांव की मैपिंग की जाएगी। इस संबंध में कैप्टन मनोज कुमार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से डिस्ट्रिक्ट क्राइसिस मॉनिटरिंग कमेटी की बैठक ली। उन्होंने कहा कि इस कार्य के लिए रोडवेज के जीएम को नोडल अधिकारी बनाया गया है। उपायुक्त ने निर्देश दिए कि आंगनबाड़ी वर्कर व आशा वर्कर गांव में जाकर हर घर से यह जानकारी जुटाए कि कोई व्यक्ति बीमार तो नहीं है, अगर बीमार है तो कौन से लक्षण हैं। इसके साथ ही उन्होंने सभी एसडीएम, बीडीपीओ, एसईपीओ, डीआरओ व पटवारियों को भी निर्देश दिए कि वे रोजाना गांव का दौरा करें और शाम को लोगों के स्वास्थ्य के बारे में रिपोर्ट दें। बैठक में नगर निगम आयुक्त प्रदीप गोदारा, जिला पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा, महम की एसडीएम मेजर गायत्री अहलावत, रोहतक के एसडीएम राकेश कुमार सैनी तथा नगराधीश ज्योति मित्तल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे। 

कैप्टन मनोज कुमार ने सिविल सर्जन को निर्देश दिए कि हर एक गांव में शेड्यूल के अनुसार स्वास्थ्य विभाग की टीम जाए और टेस्टिंग करे, जो लोग चिन्हित हो जाते हैं उन्हें तुरंत प्रभाव से आइसोलेट करें। उन्होंने कहा कि उन गांव में प्राथमिकता के आधार पर टेस्टिंग का कार्य करें जहां पर लोगों के बीमार होने की सूचनाएं मिल रही हैं। कहा कि कम प्रभाव वाले मरीजों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर ही उपचार दिया जाए। डीसी ने महम की एसडीएम मेजर गायत्री अहलावत को निर्देश दिए कि गांव खरक जाटान को माइक्रो कंटेनमेंट जोन में शामिल किया जाए और टेस्टिंग की जाए। कोविड के जिन मरीजों की होम आइसोलेशन में मृत्यु हो जाती है तो उनका संस्कार निर्धारित श्मशान घाट पर प्रोटोकॉल के अनुसार किया जाए। नगर निगम ऐसे घर, पड़ोस व पूरी गली को तुरंत सेनिटाइज करे। पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा ने बैठक में कहा कि अंतिम संस्कार स्थल पर कानून व्यवस्था की स्थिति के मध्य नजर डीएसपी हेडक्वार्टर गोरखपाल राणा को नोडल अधिकारी बनाया गया है। सिविल सर्जन डॉ. अनिल बिरला ने कहा कि टेस्टिंग के दृष्टिगत स्वास्थ्य विभाग की टीम रोजाना लगभग एक दर्जन गांव को कवर कर रही है।

No comments:

Post a Comment