Breaking

Showing posts with label Social News. Show all posts
Showing posts with label Social News. Show all posts

Tuesday, May 17, 2022

May 17, 2022

स्कूल की किताबों से भगत सिंह को हटाना उनकी अमर शहीद का अपमान: विक्रम चहल

*स्कूल की किताबों से भगत सिंह को हटाना उनकी अमर शहीद का अपमान: विक्रम चहल*

जींद /उचाना: हाल ही में कर्नाटक में टेक्स्टबुक संशोधन समिति द्वारा दसवीं कक्षा की पाठ्य पुस्तक में शहीद भगत सिंह के पाठ को हटाकर उसके स्थान पर आर एस एस के संस्थापक हेडगेवार के भाषण को शैक्षणिक सत्र 2022-23 के लिए शामिल किया गया।
आम आदमी पार्टी के युवा जिलाध्यक्ष विक्रम चहल ने भाजपा सरकार के इस फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि कन्नड़ पाठ्यपुस्तक में, 23 साल की उम्र में अपने जीवन का बलिदान देने वाले एक महान क्रांतिकारी भगत सिंह पर एक पाठ को हटा दिया गया है, जो उनकी अमर शहीदी का अपमान है और देश हमारे शहीदों का अपमान कभी सहन नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि भगत सिंह के स्थान पर आरएसएस के संस्थापक द्वारा, जो लोगों को एकजुट नहीं करता बल्कि सांप्रदायिक नफरत फैलाता है, उनके भाषण को पाट्यक्रम में शामिल किया गया है। इससे यह स्पष्ट होता है कि सत्तारूढ़ भाजपा और संघ परिवार को भगत सिंह सहित देश के स्वतंत्रता आंदोलन के महान क्रांतिकारियों के प्रति कोई सम्मान नहीं है।
चहल ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाए कि भाजपा सरकार देश अपने राज्यों में पाठ्यक्रम बदलने की कवायद की परंपरा चला रही है और अपनी विचारधारात्मक रवैये के हिसाब से पाठ्यक्रम में बदलाव कर रही है जो निहायत ही शर्मनाक विषय है और देश की आजादी के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने वाले शहीदों की कुर्बानी का अपमान है। देश अपने शहीदों का अपमान बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करेगा, भाजपा सरकार को ये फैसला वापस लेना होगा।
May 17, 2022

बिल्डरों को कराना होगा थर्ड पार्टी से वेरिफिकेशन, वरना होगी कार्यवाही

बिल्डरों को कराना होगा थर्ड पार्टी से वेरिफिकेशन, वरना होगी कार्यवाही

चंडीगढ़ : गुरुग्राम की चिंतल सोसाइटी हादसे के बाद हरियाणा सरकार ने आने वाले वक्त में इस तरह की कोई घटना नहीं हो इसको लेकर आला अफसरों को ठोस प्रबंध करने के निर्देश दिए हैं। आने वाले वक्त में नए भवन और अपार्टमेंट बनाने वाले बिल्डरों को पहले की तरह सेल्फ सर्टिफिकेशन नहीं बल्कि थर्ड पार्टी से कामकाज की गुणवत्ता की जांच करानी होगी। इस दिशा में संबंधित विभाग के अफसरों ने होमवर्क पूरा कर लिया है और थर्ड पार्टी में विशेषज्ञों को शामिल कर बेहतर ढंग से जांच पड़ताल कराने की तैयारी है। यहां पर उल्लेखनीय है कि गुरुग्राम में करोड़ों रुपये का निवेश कर फ्लैट में रहने वाले चिंतल सोसायटी के लोगों को अपनी जान से हाथ गंवाना पड़ा था। हादसे के बाद खुद हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अफसरों के साथ गुरुग्राम और चंडीगढ़ में कई बैठकें की हैं। आने वाले वक्त में कोई हादसा ना हो और बिल्डरों द्वारा तैयार किए जाने वाले टावर पूरी तरह से सुरक्षित व कामकाज गुणवत्ता भरा हो इस बात को लेकर रेरा पंचकूला में गुरुग्राम की ओर से खास तैयारी की गई है।  पहले बिल्डर अपने टावर और कामकाज का खुद सत्यापन कर लिया करते थे जिस कारण से निर्माण की क्वालिटी और इस में रहने वाले लोगों के लिए जान का जोखिम बना रहता था। हरियाणा के गुरुग्राम और अन्य कई स्थानों मोहाली में भी इस प्रकार के हादसे हुए जिसके बाद में आप लोगों ने आवाज उठानी शुरू कर दी है। कुल मिलाकर आने वाले वक्त में बिल्डरों की जवाबदेही ज्यादा बढ़ने जा रही है, इसके साथ ही स्वयं सत्यापन का काम समाप्त होने जा रहा है। आला अफसरों ने बिल्डरों पर शिकंजा कसने और नए टावरो में निवेश करने वह रहने वाले सुरक्षित रहें इस बात की खास तैयारी कर ली गई है। अब थर्ड पार्टी पड़ताल और वेरिफिकेशन बेहद बारीकी से कराने की तैयारी है। इस जांच पड़ताल और वेरिफिकेशन के बाद कोई हादसा हुआ तो थर्ड पार्टी जांच पड़ताल करने वाले भी इसके जिम्मेदार होंगे। कुल मिलाकर इन टावरों में रहने वालों को आने वाले वक्त में कुछ राहत महसूस होगी।
May 17, 2022

स्कॉलरशिप के लिए अनुसूचित जाति एवं सामान्य श्रेणी के खिलाड़ी 20 मई तक करें आवेदन

स्कॉलरशिप के लिए अनुसूचित जाति एवं सामान्य श्रेणी के खिलाड़ी 20 मई तक करें आवेदन 

कैथल : जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी सुधा भासिन ने बताया कि खेल नीति 2009 अंतर्गत जिनकी वार्षिक आय अनुसूचित जाति के लिए 2.50 लाख रुपये तथा सामान्य श्रेणी के 1.80 लाख रुपये सालाना से कम है, उन्हें फेयर प्ले स्कीम के अतर्गत वित्त वर्ष 2021-22 यानि 1 अप्रैल 2021 से 31 मार्च 2022 की खेल उपलब्धियों के आधार पर खेल छात्रवृति दी जानी है। छात्रवृति के लिए आवेदन का नमूना विभागीय वेबसाइट www.haryanasports.gov.in पर उपलब्ध है। आवेदन पत्र चौधरी छोटूराम इंडोर स्टेडियम कैथल में अंतिम तिथि 20 मई 2022 तक दे सकते हैं। आवेदन पत्र के साथ सत्यापित खेल प्रमाण पत्र, परिवार पहचान पत्र, जन्म प्रमाण पत्र, बैंक अकाउंट नम्बर, आईएफएससी कोड आदि लगाने हैं। इसके अतिरिक्त प्रार्थी को आवेदन करते समय अपने मूल दस्तावेज भी दिखाने होंगे। उन्होंने बताया कि राज्य स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले खिलाड़ी को 3500 रुपये, द्वितीय को 3000 रुपये, तृतीय को 2500 रुपये प्रति मास दिए जाने तथा अनुसूचित जाति के खिलाड़ी को राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में भाग लेने पर 1500 रुपये प्रति मास छात्रवृति दिए जाने का प्रावधान है। इसी तरह राज्य स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले खिलाड़ी को 5000 रुपये, द्वितीय को 4000 रुपये तथा तृतीय को 3000 रुपये प्रति मास दिए जाने का प्रावधान है। उन्होंने बताया कि इसी प्रकार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले खिलाड़ी को 7000 रुपये, द्वितीय को 6000 रुपये तथा तृतीय को 5000 रुपये प्रति मास दिए जाने का प्रावधान है। इनके अतिरिक्त महिला खिलाड़ियों को 1000 रुपये प्रति मास दिए जाने का प्रावधान है। उन्होंने बताया कि खिलाड़ी द्वारा आवेदन पत्र के साथ एफिडेविट देना होगा कि वह हरियाणा राज्य का स्थाई निवासी है, खिलाड़ी द्वारा प्रतिभागिता करते समय मद निषेद या किसी नशे का प्रयोग नहीं किया गया हो, खिलाड़ी हरियाणा राज्य का शिक्षण संस्थाओं का विद्यार्थी होना अनिवार्य है। खिलाड़ी गत वर्ष के दौरान परीक्षा में फेल न हुआ हो तथा खिलाड़ी द्वारा अन्य संस्था में छात्रवृति हेतु आवेदन जमा न करवाया हो।
May 17, 2022

हरियाणा में अब इलेक्ट्रिक बसों का संचालन होगा , 10 जिलों में 800 बसें आएंगी।

हरियाणा में अब इलेक्ट्रिक बसों का संचालन होगा , 10 जिलों में 800 बसें आएंगी। 

चंडीगढ़ : हरियाणा में अब इलेक्ट्रिक बसों का संचालन होगा। 10 जिलों में 800 बसें आएंगी। इनमें 600 नॉन एसी व 200 एसी बसें होंगी। एक बार बैटरी चार्ज होने पर बस 200 किमी का सफर तय करेगी। इन बसों में पहले से चल रही बसों के समान किराया लगेगा। जबकि एसी बसों में डेढ़ गुणा किराया लगेगा।

बसों का संचालन नगर निगम द्वारा किए जाने पर विचार किया जा रहा है, इसके अलावा स्पेशल पर्पज व्हीकल योजना के तहत भी संचालन हो सकेगा। परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा मंगलवार को यह प्रपोजल सीएमओ को भेजेंगे। यहां से अनुमति मिलते ही बसें आएंगी। संभावना यही है कि नवंबर में पहली बस आएगी, जो महीनेवार बढ़ती रहेंगी। सरकार पहले भी 2000 अन्य बसें खरीदने की योजना बना चुकी है।
*12 साल या 10 लाख किमी तक चलेंगी बसें*

बसों के लिए हरियाणा रोडवेज के अधिकारियों ने सीईसीएल कंपनी से संपर्क किया है, जहां इलेक्ट्रिक बसों के संचालन को लेकर बातचीत का दौर शुरू हुआ है। कंपनी की ओर से ड्राइवर, चार्जिंग स्टेशन, इलेक्ट्रिक रिपेयर मैनेजमेंट, बिजली खर्च आदि शामिल होगा। एक बस को 12 साल या 10 लाख किलोमीटर तक चलाने की योजना है। कंपनी की ओर से देश के 5 शहर सूरत, हैदराबाद, दिल्ली, बैंगलूर और कोलकाता के लिए 5,450 बसें देने के लिए टेंडर फाइनल हुआ है।
*एक बार चार्ज करने पर 200 किमी तक चलेंगी*

रोडवेज अधिकारियों के अनुसार, एक बस की लंबाई 12 मीटर होगी, इसमें 50 प्लस सीट होंगी। यह बस एक बार चार्ज होने पर करीब 200 किलोमीटर का सफर तय करेगी। प्रपोजल पर सीएमओ से यदि इसी माह मुहर लग जाती है तो बसें नवंबर तक हरियाणा में आना शुरू हो जाएंगी।

*एक से दूसरे जिले तक भी कर सकेंगी सफर*

इन बसों का संचालन यूं तो शहरों में करने की योजना है, लेकिन इन बसों को दूसरे जिलों तक भी कनेक्ट किया जाएगा, हरियाणा में एक से दूसरे जिले की दूरी इतनी अधिक नहीं है। चूंकि बस 200 किलोमीटर तक चल सकेगी, रोडवेज डिपो में इन बसों की चार्जिंग की सुविधा मिलेगी।
*कहां कितनी बसें आएंगी*
फरीदाबाद - 100
गुड़गांव - 50
पानीपत - 80
अम्बाला - 100
यमुनानगर - 80
हिसार - 100
रोहतक - 80
करनाल - 100
सोनीपत - 80
पंचकूला - 50

हरियाणा में इलेक्ट्रिक बसों का संचालन शुरू होगा, इससे प्रदूषण कम करने में मदद मिलेगी। 800 बसों का 10 जिलों में संचालन किए जाने की योजना है। प्रपोजल तैयार कर सीएम को भेजा जाएगा। -मूलचंद शर्मा, परिवहन मंत्री, हरियाणा।
May 17, 2022

अपने रक्तचाप को सटीक रूप से मापें , इसे नियंत्रित करें लम्बे समय तक जीवित रहें – डॉ० रमेश पांचाल

अपने रक्तचाप को सटीक रूप से मापें , इसे नियंत्रित करें लम्बे समय तक जीवित रहें – डॉ० रमेश पांचाल 

जींद : ( संजय कुमार ) --विश्व उच्च रक्तचाप दिवस  के मौके पर स्वास्थ्य विभाग एनसीडी सेल जिला जींद की ओर से सिविल सर्जन डॉ मंजू कादियान की अध्यक्षता में उच्च रक्तचाप दिवस  आयोजन Govt PG College जींद में मनाया गया। 
डिप्टी सिविल सर्जन एनसीडी डॉ रमेश पांचाल ने government PG कॉलेज में उपस्थित छात्रो को विश्व उच्च रक्तचाप दिवस  के उपलक्ष में संबोधित करते हुए बताया कि 17 मई को हर साल विश्व हाइपरटेंशन डे (World Hypertension Day ) मनाया जाता है। इसे मनाने का उद्देश्य हाइपरटेंशन जैसी घातक बीमारी का पता लगाने, उसे कंट्रोल या खत्म करना है। उन्होंने बताया  कि आजकल की दौड़भाग भरी जिंदगी में लोग कम उम्र में ही हाइपरटेंशन (उच्च रक्तचाप) का शिकार हो रहे हैं। ऐसे में एक बैलेंस और तनाव रहित जिंदगी जीने के लिए लोगों को जागरुक करने के मकसद से हर साल विश्व हाइपरटेंशन डे मनाया जाता है। हाइपरटेंशन (Hypertension) को साइलेंट किलर भी कहा जाता है। कई बार इस बीमारी से पीड़ित शख्स में किसी भी तरह के लक्षण नजर नहीं आते। लेकिन यह कार्डियोवस्कुलर सिस्टम और किडनी को नुकसान पहुंचा सकता है। हाइपरटेंशन होने पर ज्यादा पसीना आना, घबराहट होना, अच्छे से नींद न आना जैसी दिक्कतें हो सकती हैं। कई बार हाइपरटेंशन के मरीजों में तेज सिरदर्द और नाक से खून भी आता है। 
 इस अवसर पर जिला प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर एनसीडी डॉ संजीत सिंह ने बताया कि हाइपरटेंशन (Hypertension) ब्लड प्रेशर से जुड़ी एक ऐसी बीमारी है, जिसमें रक्तचाप तय मानक से ज्यादा हो जाता है। दरअसल, धमनियों के जरिए खून को दौड़ने के लिए प्रेशर की एक निश्चित मात्रा की जरूरत होती है। कई बार खून का बहाव सामान्य से ज्यादा हो जाता है तो यह धमनी की दीवार पर ज्यादा दबाव डालता है। इसे ही हाइपरटेंशन कहते हैं। इस मौके पर 200 बच्चों की उच्च रक्तचाप की जांच की गई। 
डॉक्टर गोपाल गोयल एस एम ओ जीएच जींद ने बताया कि हाइपरटेंशन को हल्के में ना लें इसकी निरंतर जांच करवाएं जिससे स्वास्थ्य की पूर्ण देखभाल हो सके। समय-समय पर नागरिक अस्पताल में जांच करवाएं व इनकी दवाई नागरिक अस्पताल में उपलब्ध है जिसका आप लाभ ले सकते है। 
इस अवसर पर गवर्नमेंट कॉलेज के वाईस प्रिंसिपल ओ.पी. गुप्ता, लेक्चरर  गौरव, महिला सेल इंचार्ज Ms सुमन, रेड क्रॉस इंचार्ज भागवान दास, प्रेम, पूनम, निशा, शर्मीला आदि स्टाफ उपस्थित रहे। 
इसके अतिरिक्त जिले जींद के अंतर्गत chc / GH सत्र पर  भी विश्व उच्च रक्तचाप दिवस  मनाया गया | जिस में उपस्थित सभी स्टाफ व छात्राओं को उच्च रक्तचाप के बारे में जागरूक किया गया। 
इस कार्यक्रम में एनसीडी विभाग जिला जींद की तरफ से जिला प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर एनसीडी डॉ संजीत सिंह, नर्सिंग ऑफिसर श्रीमती सुमन, सुनीता , रेनू ,सरोजबाला, डी.ई.ओ. प्रदीप कुमार, एच०ए० नसीब कुमार व एस०ए० विनोद कुमार भी उपस्थित रहे। 
इसके साथ-साथ पूरे जिला जींद के अंतर्गत NCD क्लिनिक जीएच ,नरवाना, उझाना, उचाना,  जुलाना, सफीदों, अलेवा व UPHC-1 &UPHC-2पर भी यह विश्व उच्च रक्तचाप दिवस पर अवेयरनेस का कार्यक्रम आयोजित किया गया।

Sunday, May 15, 2022

May 15, 2022

गूंगा पहलवान ने जीता ब्रॉन्ज मेडल:PM मोदी को समर्पित किया पदक, ट्वीट- तहेदिल से शुक्रिया, हमने 65 वर्ष का इतिहास तोड़ा

गूंगा पहलवान ने जीता ब्रॉन्ज मेडल:PM मोदी को समर्पित किया पदक, ट्वीट- तहेदिल से शुक्रिया, हमने 65 वर्ष का इतिहास तोड़ा

वीरेंद्र उर्फ गूंगा पहलवान मेडल सेरेमनी के दौरान।

चंडीगढ़ : हरियाणा के वीरेंद्र उर्फ गूंगा पहलवान ने ब्राजील में खेले जा रहे 5वें डेफ ओलिंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता है। वीरेंद्र ने इस बात की जानकारी सोशल मीडिया पर ट्वीट करके दी है। वीरेंद्र ने लिखा कि मैं यह अपना 5वां डेफ ओलिंपिक मेडल भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को समर्पित करता हूं। उन्होंने हमें किरण रिजिजू के नेतृत्व में वर्ष 2020 में पैरा एथलीटों के समान अधिकार दिए। हमने भी 65 वर्ष का इतिहास तोड़ दिया, खेल मंत्री अनुराग ठाकुर का तहे दिल से धन्यवाद।
*गूंगा पहलवान द्वारा किया गया ट्वीट*

बता दें कि गूंगा पहलवान ने हरियाणा में डेफ खिलाड़ियों को पैरा ओलिंपिक खिलाड़ियों के समान अधिकार दिए जाने की मांग उठाई है। इसके चलते वे हरियाणा भवन और विधानसभा के बाहर धरना भी दे चुके हैं। इसके बाद सरकार ने एक कमेटी का गठन किया, हालांकि अभी तक कमेटी ने रिपोर्ट नहीं दी।
*सीएम और खेल मंत्री के रवैये पर जताया था ऐतराज*

गूंगा पहलवान ने डेफ ओलिंपिक शुरू होने पर हरियाणा के सीएम मनोहर लाल और खेल मंत्री संदीप सिंह द्वारा शुभकामनाएं न देने पर ऐतराज जताया था। वीरेंद्र ने लिखा था कि एक तरफ हमारा पीएम, हमारा अभिमान, प्रधानमंत्री मोदी हमें शुभकामनाएं दे रहे हैं, दूसरी ओर मेरे राज्य के मुख्यमंत्री और खेल मंत्री को यह भी पता नहीं कि आज से डेफ ओलिंपिक 2021 शुरू हो चुका है।
May 15, 2022

आर्थिक तंगी में डोनेट की थी किडनी:इकरारनामा करके मुकरे बाप-बेटा; मंत्री विज के दरबार में पहुंचा मामला तो केस दर्ज हुआ

आर्थिक तंगी में डोनेट की थी किडनी:इकरारनामा करके मुकरे बाप-बेटा; मंत्री विज के दरबार में पहुंचा मामला तो केस दर्ज हुआ

अंबाला : किडनी ट्रांसप्लांट के बाद इकरारनामे से मुकरने का मामला गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के दरबार में पहुंचा तो देर रात आरोपी पिता-पुत्र के खिलाफ केस दर्ज हो गया। अंबाला कैंट थाना पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ ट्रांसप्लांट ऑफ ह्यूमन ऑर्गन एक्ट के साथ-साथ अन्य कई धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है।
*पीड़ित ने जनता दरबार में लगाई थी फरियाद*

शनिवार को लगे जनता दरबार में सुंदर नगर DRM ऑफिस अंबाला कैंट निवासी राकेश कुमार ने फरियाद लगाई थी। उसने बताया था कि वह वर्ष 2007 में कुम्हार मंडी अंबाला कैंट में किराए के एक मकान में रहता था। वह आर्थिक तंगी से जूझ रहा था। परिवार का पालन पोषण करने में काफी परेशानी झेलनी पड़ रही थी। शारीरिक कमजोरी के चलते मेहनत मजदूरी भी नहीं कर पा रहा था। इसका फायदा उठाते हुए अमित नागपाल और अमन नागपाल ने उसकी किडनी अपने पिता ओमप्रकाश नागपाल को ट्रांसप्लांट करा दी, लेकिन बाद में इकरारनामे से मुकर गए।
*3 हजार हर माह, राशन व मकान का किराया देने का था इकरारनामा*

शिकायतकर्ता राकेश कुमार ने बताया कि किसी ने उसको ओम प्रकाश नागपाल की एक किडनी खराब होने की बात बताई थी और कहा था कि अगर वह उसको किडनी डोनेट करेगा तो वे अच्छे रुपए दे देंगे। उक्त व्यक्ति ने राकेश की मुलाकात रेलवे रोड अंबाला कैंट स्थित ऑफिस में ओमप्रकाश नागपाल से कराई थी। साथ में अशोक के दोनों बेटे अमित नागपाल व अमन नागपाल से बातचीत हुई। उसने अपनी आर्थिक कमजोरी के बारे में बताया। इसका फायदा उठाते हुए तीनों ने उसे अपनी बातों में फंसा लिया। कहा कि वह उसको 30 हजार रुपए देंगे। हर माह 3 हजार रुपए, राशन और मकान का किराया भी देंगे। इस इकरारनामे के बाद उसने किडनी डोनेट करने का मन बनाया।
*कागजों पर सहमति न होते हुए कराए हस्ताक्षर*

शिकायतकर्ता ने बताया कि आरोपियों ने अंबाला सिटी स्थित लैब में उसके खून व किडनी के टेस्ट कराए। इसके बाद वे उसे सिविल अस्पताल अंबाला शहर ले गए। यहां CMO व डॉक्टरों से बातचीत कराई। इसके 3-4 दिन बाद उसे दोबारा सिविल अस्पताल अंबाला सिटी ले गए। यहां कुछ कागजों पर सहमति न होते हुए भी आरोपियों ने उसके ऊपर दबाव बनाकर हस्ताक्षर कराए। 15 जुलाई 2007 को सिल्वर ओक्स अस्पताल मोहाली में उसकी किडनी निकाल ओमप्रकाश नागपाल को ट्रांसप्लांट की। वह 8 दिन तक अस्पताल में दाखिल रहा। इस वक्त भी आरोपियों ने अपने इकरारनामे के अनुसार उसकी मदद करने का आश्वासन दिया था।
*शुरुआत में की आर्थिक मदद, बाद में मुकर गए*

शिकायतकर्ता ने बताया कि आरोपियों ने अगस्त 2007 में 30 हजार रुपए दिए। इसके कुछ समय तक आरोपियों ने हर माह 3 हजार रुपए, राशन व मकान का किराया दिया। आरोपी डॉक्टर द्वारा इंक्वायरी की बात कहकर उसका राशन कार्ड भी ले गए, लेकिन उसके बाद इकरारनामे के अनुसार आर्थिक मदद देना बंद कर दिया।
*थाना पड़ाव में भी की थी शिकायत*

राकेश कुमार ने बताया कि आरोपी उसे मात्र 300/400 रुपए ही देने लगे, जिसकी शिकायत उसने थाना पड़ाव में की थी। यहां आरोपियों ने इकरारनामे के तहत आर्थिक मदद करने तथा राशन कार्ड वापस करने की बात कहते हुए समझौता कर लिया था। कुछ समय तक ठीक रहा, लेकिन फिर वे अपने इकरारनामे से मुकर गए। अब जान से मारने की धमकी देते हैं।
*पिता व दोनों बेटों के खिलाफ किया केस दर्ज*

अंबाला कैंट थाना पुलिस ने आरोपी ओम प्रकाश नागपाल, उसके बेटे अमित नागपाल व अमन नागपाल के खिलाफ ट्रांसप्लांट ऑफ ह्यूमन ऑर्गन एक्ट की धारा 19 और धारा 120 बी, 420, 423, 506 के तहत केस दर्ज किया है।
May 15, 2022

हरियाणा बोर्ड के आंसर शीट में मिले अटपटे जवाब

हरियाणा बोर्ड के आंसर शीट में मिले अटपटे जवाब

फतेहाबाद : हरियाणा में दसवीं और बारहवीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं खत्म हो चुकी है। परीक्षाएं खत्म होने के बाद अब आंसर सीट चेक होने की प्रक्रिया भी शुरू हो चुकी है। बोर्ड की कॉपियां चेक करने के दौरान टीचरों को अटपटे जवाब पढ़ने को मिल रहे हैं। परीक्षार्थियों द्वारा प्रश्नों के जवाब में उत्तर पुस्तिका में लिखे गए इन अटपटे जवाबों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। 
फतेहाबाद में पेपर चेकिंग के दौरान एक परीक्षार्थी ने अपनी उत्तर पुस्तिका में लिखा कि फ्रेंडशिप करवा दो अपनी बेटी के साथ। एक छात्रा ने प्रश्न का जवाब देते हुए लिखा, ‘सर प्लीज छोटे प्रश्नों में गलती के लिए माफ करना। प्लीज सर आपकी बेटी जैसी हूं.’
कई छात्र-छात्राओं ने प्रश्नों का जवाब देते हुए शायरियां, गीत और गाने भी लिखे हैं तो कईयों ने पास करने की गुजारिश की है। एक छात्रा ने तो पेपर में यह तक लिख दिया कि अगर 75% अंक नहीं दिए तो सुसाइड कर लूंगी। 
एक छात्रा ने तो प्रश्न के जवाब में अपने जीवन और पढ़ाई के बारे में विस्तार से लिख दिया। छात्रा ने लिखा, ‘उसकी मां सौतेली है, पिता दारू पीते रहते हैं। उन्होंने बहुत दुख दिया है, मुझसे बर्ताव अच्छा नहीं है और ना ही मां अच्छा बर्ताव करती है। छात्रा ने अपनी समस्या को लिखते हुए दो पेज तक भर दिए.’ इस पूरे संदर्भ में जिला शिक्षा अधिकारी का कहना है कि कुछ बच्चे शरारती होते हैं और आउट ऑफ वे में जाकर पेपर में गलत लिख देते हैं। उन्होंने सभी स्कूलों के अध्यापकों से अपील करते हुए कहा कि अध्यापक बच्चों को क्लास में बताएं कि इस तरह की गतिविधियां और इस तरह की एक्टिविटी बोर्ड की परीक्षाओं में न करें।
May 15, 2022

महिला थाने के बाहर धरने पर बैठी दुष्कर्म पीड़िता, एएसआई समेत पूरे पुलिस महकमे पर गंभीर आरोप

महिला थाने के बाहर धरने पर बैठी दुष्कर्म पीड़िता, एएसआई समेत पूरे पुलिस महकमे पर गंभीर आरोप

महेंद्रगढ़ : महेंद्रगढ़ क्षेत्र के गांव की एक महिला ने नारनौल सिटी थाने में कार्यरत एक एएसआई पर शुक्रवार को दुष्कर्म करने का आरोप लगाया था। इस मामले को लेकर पीड़ित महिला ने एसपी विक्रांत भूषण से शुक्रवार को मिलकर न्याय की गुहार लगाई थी। एसपी ने भी महिला को निष्पक्ष जांच करने के आदेश दिए थे। शुक्रवार की शाम तक महिला सदर पुलिस थाने में लगभग छह बजे आई और पुलिस ने महिला को करीब नौ बजे तक थाने में बैठाया रखा। इसके बाद जिला बाल कल्याण समिति की पूर्व चेयरपर्सन मंजू कौशिक ने महिला को फोन के माध्यम से वन स्टॉप सेंटर नारनौल का पता बताया और महिला पूरी रात वन स्टॉप सेंटर नारनौल में रही। वहां सेंटर की इंचार्ज वदंना ने महिला को रहने व खाने की व्यवस्था करवाई। हालांकि पुलिस ने देर रात पीड़िता की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया। शनिवार को जब पीड़िता महिला वन स्टॉप सेंटर से महेंद्रगढ़ थाने में करीब दोपहर के एक बजे आई थी, लेकिन महिला थाने में करीब दो बजे तक यूंं ही बैठी रही और पुलिस ने उसका मेडिकल ही नहीं करवाया। इसके बाद पीड़िता थाने के सामने धरने पर बैठ गई। महिला का यह भी आरोप है कि वह करीब एक बजे थाने में मेडिकल करवाने के लिए आई थी, लेकिन एक पुलिसकर्मी ने उससे कहा कि जब जरूरत होगी, तब आपको बुुला लेंगे। उसने पुलिसकर्मी से जब एफआईआर की कॉपी मांगी तो उन्होंने एफआईआर की कॉपी देने से मना कर दिया। महिला का आरोप है कि पुलिस इस केस को दबाने में लगी हुई है। धरने की सूचना पर इस केस को देख रही जांच अधिकारी नीलम मौके पर पहुंची और उसने महिला का मेडिकल करवाया। फिर न्यायालय में बयान दर्ज भी करवाए।
 *यह है मामला*

 महिला ने पुलिस को दी शिकायत में बताया था कि वह एक गांव की रहने वाली है। उसकी शादी नौ नवबंर 2017 को हुई थी। नामजद एएसआई पहले महेंद्रगढ़ सदर थाने में तैनात था। उसके ससुर से एएसआई से अच्छी जान-पहचान थी। एएसआई ने घर पर आकर जबरदस्ती उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया, जबकि उसका अपना पति, सास व ननद एएसआई का ही साथ देते रहे हैं। उन्होंने बताया कि दिसबंर-2021 को उसकी ननद की लड़की की शादी थी। वहां एएसआई आया हुआ था, उसी रात को ननद ने उसे कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ पिला दिया और उसके बाद एएसआई ने उसके साथ दुष्कर्म किया। महिला ने बताया कि एएसआई और उसका पति, सास व ननद उसके साथ लगातार पांच-छह दिनों से मारपीट कर रहे है और दबाव बना रहे हैं कि अन्य एक व्यक्ति के ऊपर रेप का झूठा केस बनवा देंगे, जिसकी रिकॉर्डिंग भी उनके पास है। क्या बोले अधिकारी थाने में एक शिकायत आई है। जिस पर मामला दर्ज कर लिया है। उसकी जांच की जा रही है। जांच में जो भी आरोपित पाया जाएगा, उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। - गजराम, प्रभारी सदर थाना, महेंद्रगढ़।

Saturday, May 14, 2022

May 14, 2022

327 कर्मियों को 2 माह से वेतन नहीं, कूड़े से भरे 15 वाहन नप में खड़े कर काम बंद करने की चेतावनी दी

327 कर्मियों को 2 माह से वेतन नहीं, कूड़े से भरे 15 वाहन नप में खड़े कर काम बंद करने की चेतावनी दी

भिवानी : नगर परिषद के आर्थिक हालात बेहद कमजाेर, कर्मचारियाें काे समय पर वेतन देने के पैसे नहीं
नगर परिषद कर्मचारियाें ने वेतन न मिलने पर बुधवार काे अधिकारियाें के कार्यालय के सामने तथा नप के मुख्य गेट समेत परिसर में कूड़े से भरी ट्रैक्टर ट्राॅली, टिप्प ऑटाे समेत 15 वाहन खड़े कर दिए है। इससे अधिकारियाें के कार्यालय समेत पूरे नप परिसर में बदबू फैलने से कर्मचारियाें के साथ नप में आने वालाें काे परेशानी का सामना करना पड़ा। कर्मचारियाें ने मांगे न मानने पर गुरुवार से शहर में सफाई व कूड़ा उठान का काम बंद करने की भी चेतावनी दी है।
नगर परिषद में 24 ड्राइवर समेत 327 कर्मचारियाें काे एक से दाे महीने का वेतन नहीं मिला है। वेतन न मिलने के कारण कर्मचारियाें के परिवाराें के सामने आर्थिक संकट पैदा हाे गया है। वेतन न मिलने पर नाराज कर्मचारी कूड़े से भरे आठ टिप्पर ऑटाे, तीन ट्रैक्टर ट्राॅली, डस्टबिन से भरी गाड़ी लेकर नप कार्यालय पहुंचे। कर्मचारियाें ने ईओ, एमई, सचिव आदि अधिकारियाें के कार्यालय के सामने बरामदे में कूड़े से भरे वाहन खड़े कर दिए। इसके अलावा मुख्य गेट तथा परिसर में भी कूड़े से भरी ट्रैक्टर ट्राॅली व अन्य वाहन खड़े किए। इससे लाेगाें काे नप में जाने में भी परेशानी का सामना करना पड़ा। बदबू के कारण लाेगाें का नप परिसर में खड़े हाेना भी मुश्किल हाे रहा था।
May 14, 2022

नगर निगम बने घोटालों का गढ़: ओम प्रकाश चौटाला

नगर निगम बने घोटालों का गढ़: ओम प्रकाश चौटाला का आरोप-निगमों में भ्रष्टाचार कांग्रेस की सरकार में शुरू हुआ था और अब भाजपा सरकार में तो इंतहा हो गई है

चंडीगढ़ : हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री एवं इनेलो सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला ने कहा कि प्रदेश में भाजपा सरकार के साढ़े सात साल के शासनकाल में कोई ऐसा विभाग नहीं बचा है जिसमें भाजपा नेताओं ने अधिकारियों के साथ मिलीभगत करके घोटाले न किए हो। 2014 में भाजपा सरकार के आने के बाद हमने भूपेंद्र हुड्डा के शासनकाल में हुए घोटालों की 400 पेजों की एक चार्जशीट मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और महामहिम राज्यपाल को सौंपी थी। चार्जशीट पर कोई कार्रवाई करना तो दूर उलटा कांग्रेस सरकार से चले आ रहे घोटाले भाजपा सरकार में कई गुणा बढ़ गए हैं।
नगर निगम, परिषद और पालिका में भ्रष्टाचार चरम पर है और घोटालों का गढ़ बन चुके हैं। निगमों में भ्रष्टाचार कांग्रेस की सरकार में शुरू हुआ था और अब भाजपा सरकार में तो इंतहा हो गई है। गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, पानीपत, करनाल, पंचकूला, भिवानी, हिसार, अंबाला और सिरसा जिलों के निगमों में भाजपा नेताओं और निगम अधिकारियों की मिलीभगत से लगातार घोटालों के केस सामने आ रहे हैं लेकिन आज तक असली दोषियों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई।
फरीदाबाद निगम में 200 करोड़ का घोटाला हुआ जिसमें बगैर काम किए ठेकेदार को पैसों का भुगतान किया गया। गुरुग्राम निगम में सालिड वेस्ट मैनेजमैैंट, हैल्थ और सेनिटेशन एवं कूड़ा उठान से संबंधित 180 करोड़ का घोटाला। सोनीपत निगम में टेंडर व कूड़ा उठान और सर्विस चार्ज घोटाला। पानीपत निगम में कूड़ा उठान, स्ट्रीट लाइट एवं हाऊस टैक्स का घोटाला। करनाल निगम में स्ट्रीट लाइट, सीवरेज लाइन और अवैध कालोनियों में रजिस्ट्री को लेकर एनओसी जारी करने का करोड़ों रुपए का घोटाला। पंचकूला निगम में कचरा निस्तारण के नाम पर करोड़ों रूपए का घोटाला। भिवानी निगम में चेक और रसीद घोटाला। हिसार निगम में मैनपावर मुहैया करवाने वाली एजेंसी को लाखों रूपए जारी करने का घोटाला। अंबाला निगम में कूड़ा उठान में पांच करोड़ एवं स्टेडियम में 66 करोड़ रूपए का घोटाला। सिरसा निगम में फेक बिल घोटाला जैसे अनेकों घोटाले हुए हैं। सरकार जांच आयोग अधिनियम 1952 के तहत एक आयोग बना कर इन सभी घोटालों की जांच करवाए ताकि असली दोषियों को पकड़ा जा सके।
May 14, 2022

अब शस्त्र लाइसेंस के लिए आवेदन करना हुआ आसान, पूरी करनी होगी यह प्रकिया , जानिए कैसे!

अब शस्त्र लाइसेंस के लिए आवेदन करना हुआ आसान, पूरी करनी होगी यह प्रकिया , जानिए कैसे! 

चण्डीगढ़: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की नागरिक सेवाओं में सूचना प्रौद्योगिकी का अधिक से अधिक उपयोग करने की मुहिम में आज उस समय एक और अध्याय जुड़ गया जब मुख्यमंत्री ने शस्त्र लाइसेंस बनवाने की प्रक्रिया को भी ऑनलाइन करने को हरी झंडी दे दी। मुख्यमंत्री शस्त्र लाइसेंस पर बुलाई गई समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि शस्त्र लाइसेंस की आवेदन प्रक्रिया को परिवार-पहचान-पत्र के साथ लिंक किया जाए। इसके लिए एनआईसी, नागरिक संसाधन सूचना विभाग व गृह विभाग मिलकर कार्य करे। बैठक में मुख्यमंत्री को अश्वासन दिया गया की एक-दो महिनों में पूरी प्रक्रिया को दुरस्त कर लिया जाएगा और एक जुलाई को यह पोर्टल लॉच किया जा सकता है।  शस्त्र लाइसेंस के लिए ट्रेनिंग होगी अनिवार्य बैठक में निर्णय लिया गया कि शस्त्र लाइसेंस प्राप्त करने वालों को पुलिस विभाग से कम से कम एक सप्ताह की शस्त्र के बारे में व फायरिंग की ट्रनिंग लेनी होगी। मुख्यमंत्री को अवगत करवाया कि आरम्भ में पुलिस प्रशिक्षण केन्द्र मधुबन, करनाल, भोंडसी, गुरुग्राम, सुनारिया रोहतक व रोहतक के अलावा हरियाणा पुलिस की सिरसा, नारनौंल, जीन्द व कुरुक्षेत्र की फायरिंग रेंज में ट्रेनिंग दी जा सकती है। लाइसेंस के आवेदन करने वाले को ट्रेनिंग का विकल्प भी भरना होगा इस बात की भी जानकारी दी गई कि शस्त्र अधिनियम के तहत लाईसेंस प्रदान किए जाते हैं और इस अधिनियम में वर्ष 2016 व वर्ष 2019 में संशोधन भी किए गए हैं । अधिनियम के अनुसार पहले शस्त्र लाइसेंस फसलों की सुरक्षा के लिए तथा व्यक्ति की खुद की सुरक्षा के लिए दिए जाते हैं। वर्तमान में शस्त्र लाइसेंस की अवधि पांच वर्ष की है। पंजीकृत सुरक्षा एजेंसियों को भी नियमानुसार रिटेलर लाइसेंस दिए जाते है। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि लाइसेंस श्रेणियां प्राथमिकता के आधार पर वर्णित हो और प्रक्रिया में पूरी पारदर्शिता हो, सभी जिलों के शस्त्र लाइसेंसों के डाटा की समीक्षा नियमित आधार पर की जाए।
May 14, 2022

डेरा प्रमुख राम रहीम को जमानत : विवादित पोस्टर लगाने व बेअदबी केस में फरीदकोट कोर्ट ने दी राहत

डेरा प्रमुख राम रहीम को जमानत : विवादित पोस्टर लगाने व बेअदबी केस में फरीदकोट कोर्ट ने दी राहत 

फरीदाबाद : साल 2015 के बरगाड़ी बेअदबी केस में चार्जशीट डेरा सच्चा सौदा सिरसा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम ने विवादित पोस्टर लगाने व पावन स्वरूप की बेअदबी करने के केसों में पंजाब के फरीदकोट में सीजेएम की अदालत में जमानत याचिका दाखिल की हुई थी जिसे अदालत ने मंजूर कर लिया है। बेअदबी प्रकरण से जुड़े श्री गुरू ग्रंथ साहिब जी का पावन स्वरूप चोरी करने वाले केस में डेरा प्रमुख को पहले से ही जमानत मिली हुई थी और इस केस में वह निचली अदालत में जमानती बॉड भी भर चुके हैं जबकि बाकी दोनों केसों में जमानत के लिए डेरा प्रमुख ने याचिका दाखिल की हुई थी। पंजाब पुलिस की एसआईटी ने बरगाड़ी बेअदबी से जुड़ी तीनों घटनाओं गांव बुर्ज जवाहर सिंह वाला के गुरुद्वारे से श्री गुरू ग्रंथ साहिब जी का पावन स्वरूप चोरी करने, विवादित पोस्टर लगाने व बरगाड़ी के गुरुद्वारे के बाहर पावन स्वरूप की बेअदबी करने के मामलों में राम रहीम को चार्जशीट किया हुआ था। अब राम रहीम को अदालती कार्यवाही में वीसी से ही पेश होना होगा।
May 14, 2022

हरियाणा में अब टैक्स चोरी करना नहीं होगा आसान, सरकार ने बनाई यह योजना

हरियाणा में अब टैक्स चोरी करना नहीं होगा आसान, सरकार ने बनाई यह योजना 

चंडीगढ़ :  हरियाणा में अवैध तौर पर सामान की ढुलाई करने वालों पर शिकंजा कसा जाएगा। जो व्यक्ति टैक्स की पेमैंट किए बिना कमर्शियल वाहन से सामान ले जाता पकड़ा जाएगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। वाहनों की चैकिंग के दौरान कराधान विभाग के अधिकारियों के साथ पुलिस-बल भी होगा। विभाग के जो अधिकारी टैक्स चोरी के मामले में छापेमारी करेंगे, उनके लिए शरीर पर स्पाई-कैमरा भी होगा। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने चंडीगढ़ में आबकारी एवं कराधान विभाग के एनफोर्समैंट की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की। डिप्टी सीएम, जिनके पास आबकारी एवं कराधान विभाग का भी प्रभार है, ने कार्य में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश देते हुए कहा कि जो भी अधिकारी नियमित तौर पर टैक्स चोरी करने वाले वाहनों की ईमानदारी से चैकिंग नहीं करेगा उनके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि जल्द ही कैमरे खरीदे जाएंगे जो कि छापेमारी करने वाले अधिकारियों के कपड़ों में लगाए जाएंगे, इनकी ट्रैकिंग मुख्यालय से की जाएगी।  दुष्यंत चौटाला ने कहा कि अगर लोग ईमानदारी से टैक्स नहीं भरेंगे तो सरकार के पास राजस्व कहां से आएगा, इसी राजस्व से ही राज्य में बिजली, पानी, सडक़, परिवहन, शिक्षा,स्वास्थ्य एवं अन्य जनसुविधाएं लागू की जाती हैं। उन्होंने विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को मासिक आधार पर अपने अधीनस्थ अधिकारियों की समीक्षा बैठक लेने के निर्देश दिए। इन बैठकों में टैक्स चोरी से संबंधित छापेमारी, रिकवरी व केस दर्ज करने आदि से संबंधित सूचनाएं अपडेट की जाएंगी और आवश्यकता अनुसार उच्च अधिकारियों से मार्गदर्शन लिया जाएगा। उपमुख्यमंत्री ने एक वर्ष में टैक्स एकत्रित करने, टैक्स की चोरी पकडऩे के अलावा अधिकारियों की अचीवमैंट्स की भी बारिकी से समीक्षा की और अपेक्षा अनुरूप कार्य न करने वाले अधिकारियों से जवाब-तलबी की।
May 14, 2022

16 मई से यहां बदल सकता है मौमस, IMD ने दिए राहत के संकेत

16 मई से यहां बदल सकता है मौमस, IMD ने दिए राहत के संकेत

नारनौल : भारत के उत्तरी मैदानी राज्यों राजस्थान, हरियाणा, एनसीआर व दिल्ली में भीषण गर्मी अपने चरम शबाब पर है और नौतपा से 12 दिन पहले ही सम्पूर्ण इलाका तापमान में बढ़ोतरी से तप रहा है। नौतपा 25 मई से 3 जून तक रहता है क्योंकि 25 मई से सूर्य रोहिणी नक्षत्र में गोचर करेगा तब नौतपा शुरू हो जाएगा। वैज्ञानिक दृष्टिकोण से नौतपा साल के वह 9 दिन होते हैं जब सूर्य पृथ्वी के सबसे नजदीक रहता है जिस कारण से इन 9 दिनों में भीषण और प्रचण्ड गर्मी पड़ती है। कहा जाता है कि धरती जितनी ज्यादा गर्म होती है उतनी ज्यादा बारिश होती है इसके पीछे वैज्ञानिक तथ्य है कि ज्यादा तापमान बढ़ने से स्थल का वायु दबाव कम हो जाता है और सागर पर कम तापमान की वजह से सागर पर अधिक वायु दबाव हो जाता है और फैरल का नियम है पवनें हमेशा उच्च वायुदाब से निम्न वायु दबाव की और चलतीं है और इस नौतपा की वजह से सागरीय पवनों ग्रीष्म ऋतु में सागर से स्थल की ओर चलती हैं और शीत ऋतु में इससे विपरीत होता है यानी पवनें स्थल से सागर की ओर चलती हैं इन्हीं पवनों को मानसून पवनें कहा जाता है।  राजकीय महाविद्यालय नारनौल के पर्यावरण क्लब के नोडल अधिकारी डॉ चंद्रमोहन ने बताया कि भीषण और प्रचण्ड रिकॉर्ड तोड गर्मी का इस साल का चौथा दौर जारी है। इसके साथ राजस्थान, हरियाणा, एनसीआर, दिल्ली में तापमान जबरदस्त तरीके से छलांग लगा रहा है। शुक्रवार को राजस्थान में तापमान 48. 1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि हरियाणा में 47.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया हैं। आने वाले तीन दिनों में भीषण आग उगलती और उमस भरी पसीने वाली गर्मी रिकॉर्ड बनाएगी और पूराने रिकॉर्ड तोड़ेगी और तापमान में बढ़ोतरी दर्ज होगी। वर्तमान में सम्पूर्ण इलाके पर बलुचिस्तान और थार मरुस्थल की गर्म और शुष्क हवाओं का का प्रभाव जारी है। साथ ही आज से एक अन्य मौसम प्रणाली बन गई है क्योंकि पश्चिमी राजस्थान व आसपास के क्षेत्रों के ऊपरी वायुमंडलीय स्तरों में कल रात से ही प्रति चक्रवातीय सरकुलेशन तंत्र के निर्माण से तथा वायुमंडल के निचले स्तरों में बलुचिस्तान और थार मरुस्थल की गर्म व शुष्क पश्चिमी हवाओं के प्रभाव से राज्य में तीव्र हीट वेव की परिस्थिति बनी हुई है। जिसकी वजह से वर्तमान में चल रहे तीव्र हीटवेव का दौर अभी भी अगले 48 घंटों तक जारी रहेगा। भारतीय मौसम विभाग ने सम्पूर्ण इलाके पर ऑरेंज और येलो अलर्ट जारी किया हुआ है।  तत्पश्चात तापमान में हल्की गिरावट होने की सम्भावना है। क्योंकि एक नए पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से एक प्रेरित चक्रवातीय सरकुलेशन बनने जा रहा है जिसकी वजह से प्रति चक्रवातीय सर्कुलेशन कमजोर पड़ने और पवनों की दिशा दक्षिणी पूर्वी नमी वाली हों जाएगी जिसकी वजह से दिनांक 16 मई से अधिकतर स्थानों के तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट होगी। अधिकतम तापमान 40.0 डिग्री सेल्सियस से नीचे दर्ज होंगे तथा हीट वेव के दौर से 16 मई की रात से आफ़त वाली प्रचण्ड गर्मी से राहत मिलने की प्रबल संभावना है। हरियाणा के पश्चिमी दक्षिणी और दक्षिणी पूर्वी जिलों सिरसा, फतेहाबाद, हिसार भिवानी महेंद्रगढ़, चरखी दादरी, रेवाड़ी, फरीदाबाद, गुड़गांव, पलवल, सोहना तावडू, सोनीपत, पानीपत, एनसीआर दिल्ली में भीषण गर्मी और हीट वेव लू चलने की संभावनाएं बन रही है। शेष हरियाणा में भी अब पूर्वी नमी वाली पवनों का प्रभाव हट गया है जिसकी वजह से सम्पूर्ण इलाके में भीषण गर्मी और प्रचण्ड हीट बेव अपना जलवा दिखा रही है। 14,15-16 मई के दौरान तेज धूलभरी हवाएं ( 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा ) चलने की संभावना है। सिमित स्थानों पर हल्की बूंदाबांदी की गतिविधियां देखने को मिलेगी। शुक्रवार को हरियाणा के अधिकतर स्थानों पर अधिकतम तापमान 40.0 से 48.8 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया है। हरियाणा एनसीआर में सिरसा का अधिकतम तापमान 48.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है जो असामान्य स्थिति में पहुंच गया है। जबकि न्यूनतम तापमान 24.4 डिग्री से 30.5 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया। आने वाले दो तीन दिनों तक हरियाणा एनसीआर व दिल्ली में इसी प्रकार की मौसम स्थितियां रहने वाली है। 16 मई से सम्पूर्ण हरियाणा व एनसीआर दिल्ली में मौसम गतिशील और परिवर्तनशील रहने की संभावनाएं हैं जिसकी वजह से तापमान में हल्की गिरावट देखी जाएगी और भीषण गर्मी और प्रचण्ड हीट बेव लू से आंशिक राहत मिलने की संभावनाएं हैं।