/>

Breaking

Thursday, November 5, 2020

विधानसभा सत्र आज:कृषि कानूनों, शराब और रजिस्ट्री घोटालों पर सरकार को घेरेगा विपक्ष

विधानसभा सत्र आज:कृषि कानूनों, शराब और रजिस्ट्री घोटालों पर सरकार को घेरेगा विपक्ष, सरकार ने कहा-हम चर्चा के लिए तैयार, विपक्ष के पास नहीं कोई मुद्दा

चंडीगढ़ : हरियाणा विधानसभा का सत्र आज शुरू होगा। इसके पूरी तरह हंगामेदार होने के आसार हैं। विपक्ष केंद्रीय कृषि कानूनों के साथ शराब और रजिस्ट्री घोटाले को लेकर सरकार को घेरने को तैयार है। सत्र शुरू होने से पहले कांग्रेस नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा के आवास पर विधायक दल की बैठक करेगी। इधर, यह भी लगभग तय हो गया है कि कांग्रेस और इनेलो की ओर से कृषि कानूनों को लेकर दिए गए प्राइवेट मेंबर बिल विधानसभा सत्र में नहीं लाया जाएगा। हालांकि कांग्रेस के कई विधायकों ने यह प्रस्ताव दिया है। ऐसे में कांग्रेस बिल के अलावा अपना प्रस्ताव पेश करने का भी दावा करेगी।
नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा का कहना है कि सभी मुद्दे विधानसभा में उठाए जाएंगे। हमने कृषि कानूनों को लेकर प्रस्ताव भी दिया हुआ है। जबकि इनेलो विधायक अभय चौटाला ने कहा कि प्राइवेट मेंबर दिया हुआ है, उसे लाना चाहिए। सरकार को इस पर चर्चा करानी चाहिए। हम बताएंगे कि कैसे यह बिल गलत है। दूसरी तरफ कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कहा कि किसान व किसानी के लिए वे कहीं भी चर्चा को तैयार हैं, चाहे वह विधानसभा सदन हो या बाहर। वहीं, गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि विपक्ष में दमखम नहीं है और न ही विपक्ष का ऐसा किरदार है कि वो सरकार को कुछ कह सके।

कोरोना पॉजिटिव विधायक और कर्मचारी नहीं कर सकेंगे एंट्री

कई विधायक कोराेना संक्रमण की वजह से विधानसभा नहीं पहुंच पाएंगे। बड़खल विधायक सीमा त्रिखा जहां अभी पॉजिटिव होने के बाद निगेटिव तो हो चुकी हैं। परंतु स्वास्थ्य अभी पूरी तरह ठीक नहीं है। इसी प्रकार झज्जर से विधायक गीता भुक्कल भी कुछ दिनों पहले ही कोरोना संक्रमित हुई हैं। जबकि गुड़गांव विधायक सुधीर सिंगला और कालांवाली विधायक शीशपाल केहरवाला भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। वहीं, विधानसभा में बिना निगेटिव रिपोर्ट के किसी को एंट्री नहीं मिलेगी। खास बात यह है कि जो पूर्व में पाॅजिटिव होने के बाद निगेटिव हो चुके हैं और वे स्वस्थ हैं तो उन्हें रिपोर्ट दिखाने की जरूरत नहीं होगी।

बेंचों पर लगेगी प्लास्टिक शील्ड

सदन में विधायकों को सोशल डिस्टेंसिंग से बैठाया जाएगा। सभी बेंच के आगे प्लास्टिक की शील्ड लगाई गई है, ताकि बोलते वक्त किसी भी प्रकार का संक्रमण न फैले। सभी के लिए मास्क अनिवार्य किया है। प्रश्नकाल में जहां विधायक अपने क्षेत्र के मुद्दे उठाएंगे। वहीं, शून्यकाल में ताजा घटनाक्रम पर सरकार को घेरने की कोशिश होगी।

No comments:

Post a Comment