Breaking

Showing posts with label Haryana Bulletin News. Show all posts
Showing posts with label Haryana Bulletin News. Show all posts

Thursday, March 3, 2022

March 03, 2022

बुजुर्गों की पेंशन काटने के सवाल पर सीएम ने दिया जवाब, पढ़ें क्या बोले

बुजुर्गों की पेंशन काटने के सवाल पर सीएम ने दिया जवाब, पढ़ें क्या बोले
चंडीगढ़ : मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में 10 साल पुराने डीजल तथा 15 साल पुराने पेट्रोल वाले वाहनों पर रोक लगाने के लिए जारी नीति में ट्रैक्टर को शामिल न किया जाए, इसके लिए केन्द्र सरकार से बातचीत करेंगे। मुख्यमंत्री बजट सत्र के दूसरे दिन राज्यपाल के अभिभाषण पर आरम्भ हुई चर्चा के बाद पत्रकारों को सम्बोधित कर रहे थे। परिवार पहचान पत्र के माध्यम से पेंशन काटने के बारे पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पीपीपी के माध्यम से किसी भी बुजुर्ग की पेंशन नहीं काटी गई है, परंतु इसके माध्यम से लगभग 22,000 लोगों की पहचान की गई है, जो किन्हीं कारणों से पेंशन नहीं ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि इनके डाटा का सत्यापन कार्य किया जा रहा है। हकदार को पेंशन अवश्य मिलेगी और किसी का हक नहीं काटा जाएगा। उन्होंने कहा कि वृद्धावस्था सम्मान पेंशन के लिए वार्षिक आय सीमा कांग्रेस सरकार ने 1.25 लाख से बढ़ाकर दो लाख की थी। पीपीपी में इसे 1.80 लाख रुपये रखा गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अलग-अलग राज्यों में दूसरे राज्यों के रह रहे लोगों के लिए वहां का डोमिसाइल प्रमाण पत्र बनवाने के लिए अलग-अलग समयावधि निर्धारित है। हरियाणा सरकार ने इसे पांच वर्ष किया है। आखिकार हम सब भारतवासी हैं। बेसहारा पशुओं के बारे पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे पशु केवल हरियाणा के ही नहीं हैं, बल्कि राजस्थान, पंजाब व गुजरात जैसे राज्यों से झुंड के रूप में वहां के लोग लाते हैं और वापस जाते समय केवल दुधारू पशुओं को ही लेकर जाते हैं और अन्य अनुपयोगी पशुओं को छोड़ जाते हैं। वर्तमान सरकार ने गौ सेवा आयोग का गठन किया है और इसका बजट भी बढ़ाया है। इसके अलावा, गांवों में पंचायती जमीन पर गौशाला खोलने के लिए अनुदान भी दिया जाता है। उन्होंने कहा कि गौशालाओं में गौमूत्र, खाद और लघु उद्योग को बढ़ावा दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बेसहारा पशुओं की समस्या का समाधान जन सहयोग से ही सम्भव है। इसके लिए सरकार के साथ-साथ सामाजिक संस्थानों व लोगों को भी आगे आना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि लोकतंत्र में विपक्ष कभी सत्ता पक्ष की तारीफ नहीं करता तथा पक्ष और विपक्ष की यही लड़ाई रहती है।
March 03, 2022

खराब हुई फसलों को लेकर सीएम का बड़ा बयान !

खराब हुई फसलों को लेकर सीएम का बड़ा बयान !
चण्डीगढ़ : हरियाणा विधानसभा के बजट सत्र के दूसरे दिन की कार्यवाही गुरुवार को शुरू हुई। इस दौरान महम विधायक बलराज कुंडू ने खराब फसलों का मुआवजा नहीं दिए जाने का मामला उठाया।

इस पर डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने जवाब दिया। कुंडू ने कहा कि सभी प्रभावित किसानों तक मुआवजा राशि नहीं पहुंच पाई है। महम में अभी तक सिर्फ 15 गांवों में कुछ ही किसानों को मुआवजा मिला है जबकि उनके हलके के सभी 42 गांवों में फसलें बर्बाद हुई।
*खराब हुई फसलों पर खानापूर्ति करते हैं कर्मचारी*

कुंडू ने कहा कि खेतों में जाकर गिरदावरी रिपोर्ट बनाने की बजाय विभागीय कर्मचारी किसी घर में बैठकर खानापूर्ति करते हैं। गलत रिपोर्ट बनाकर किसानों का नुकसान कराने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों पर कड़ी कार्रवाई की जाए। 

वहीं किसानों को मुआवजा न मिलने के बारे में अनुपूरक सवाल पूछने की इजाजत न देने पर बलराज कुंडू ने तीखे तेवर दिखाए।

*किरण चौधरी ने भी बताया महत्वपूर्ण मुद्दा*

सदन में बलराज कुंडू के साथ किरण चौधरी ने भी इसे महत्वपूर्ण मुद्दा बताया। कुंडू ने की निष्पक्ष विशेष गिरदावरी और मुआवजे की मांग की जिस पर सीएम ने कहा कि सरकार विशेष गिरदावरी करवा रही है।
दूसरे दिन डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने जानकारी दी कि सोहना में पंचगांव से मोहम्मदपुर-तावडू सड़क का मरम्मत व नवीनीकरण का कार्य होगा।

 
केंद्र के अधीन इस सड़क के लिए बजट में देरी हुई। अगर 15 दिन में बजट नहीं आता तो राज्य सरकार टेकअप करेगी। दुष्यंत चौटाला ने बताया कि रादौर में जल्द चमरौड़ी-सिल्ली सड़क बनेगी। एक माह में सड़क की नई टेंडर प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
March 03, 2022

जीन्द से नगर परिषद प्रधान पद के लिएराजकुमार गोयल की भाभी पुष्पा गोयल ने ठोकी तालकहा मिला मौका तो जीन्द की बदल देंगे तस्वीर

जीन्द से नगर परिषद प्रधान पद के लिए
राजकुमार गोयल की भाभी पुष्पा गोयल ने ठोकी ताल
कहा मिला मौका तो जीन्द की बदल देंगे तस्वीर
( पुष्पा गोयल के साथ साक्षात्कार )
जीन्द : जैसे जैसे नगर परिषद चैयरमेन पद के चुनाव नजदीक आते जा रहे हैं वैसे वैसे उम्मीदवारों ने अपनी अपनी ताल ठोकनी शुरू कर दी है। जीन्द के विकास की लड़ाई लड़ रहे प्रमुख समाजसेवी डा. राजकुमार गोयल ने अपनी भाभी पुष्पा गोयल को मैदान में उतारा है। नगर परिषद चैयरमेन का यह पद इस बार महिला के लिए रिजर्व है। ऐसे में राजकुमार गोयल ने खुद न लड़ कर अपनी भाभी को मैदान में उतारा है।

जहां राजकुमार गोयल पिछले 25 साल से समाज सेवा से जुड़े है वही उनकी भाभी पुष्पा गोयल भी प्रमुख समाज सेविका हैं। महिलाओं के उत्थान के लिए उन्होंने समय समय पर अनेकों कार्य किए है। पुष्पा गोयल सामाजिक कार्यों में बढ चढ कर भाग लेती रही है इसके साथ साथ उनमें गरीब बच्चों, बुजर्गो, महिलाओं और जीव जन्तुओं के लिए कुछ करने की तमन्ना है। 
पुष्पा गोयल शहर की विभिन्न सामाजिक संस्थाओं से जुड़ी है। वे अखिल भारतीय अग्रवाल समाज जिला जीन्द की संरक्षक है इसके साथ साथ वे इंटरनेशनल वेलफेयर सोसायटी जीन्द की महिला अध्यक्षा भी हैं। उनके पास भारत विकास परिषद जीन्द इकाई के सह महिला प्रमुख का दायित्व भी है। समाज सेवा के मध्यनजर विभिन्न सामाजिक संस्थाएं उन्हें कई बार सम्मानित कर चुकी हैं।

पुष्पा गोयल का कहना है कि यदि इस बार उन्हें मौका मिला तो वे जीन्द की तस्वीर बदलने का काम करेगी। जीन्द शहर का सम्पूर्ण विकास करवाएगी। जीन्द शहर सुन्दर नजर आए यह उनका पूरा प्रयास रहेगा। इसके साथ साथ वे भ्रष्टाचार पर पूरी तरह से लगाम लगाने का काम करेंगी। 

जीन्द शहर में करोड़ो रूपये विकास के नाम के आए लेकिन कही भी शहर में विकास कार्य नजर नही आ रहा। उन्हें मौका मिला तो वे किसी भी प्रकार का भ्रष्टाचार नहीं होने देगी। पिछले विकास कार्यों में धांधली की शिकायत मिलने पर उन सब की जांच करवाने का काम करेगी।

इसके साथ साथ पुष्पा गोयल का यह भी कहना है कि जन्म प्रमाण पत्र, मृत्यु प्रमाण पत्र या अन्य किसी भी काम के लिए शहरवासी नगर परिषद में आयेंगे तो मौजूदा स्टाफ उनके साथ 'जी' कह कर संबोधन करेंगे। काम के लिए कई कई घण्टे लाईन में लगना पड़ता है अगर उन्हें मौका मिला तो वे लाईन सिस्टम खत्म कर देगी। 

किसी भी काम के लिए आने वाले शहरवासियों को लाईन में नही लगना पड़ेगा। उन्हें बैठने के लिए कुर्सिया उपलब्ध होगी और बिना लाईन में लगे टोकन सिस्टम के साथ उनका काम प्राथमिकता के आधार पर होगा। 

महिला और बुजुर्गों के मान सम्मान में किसी भी प्रकार की कोई कमी न रहे इसके लिए उनकी भरपूर कोशिस रहेंगी। इसकेेे साथ साथ नगर परिषद से संबंधित कार्यों के लिए रिश्वत लेने वाले कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करवाई जाऐगी।

पुष्पा गोयल का कहना है कि शहर के सभी 31 वार्डो में विकास कार्य बिना किसी भेदभाव के प्राथमिकता के आधार पर करवाया जाऐगा। जिन वार्डों की मूलभूत सुविधाएं अभी तक अधर में लटकी पड़ी हैं। पहले उन कार्यों को प्राथमिकता दी जाऐगी। शहर में कोई भी प्रमुख सड़क टायलों की नही बनाई जाऐगी। 

शहर के हर वार्ड में पार्क बनाने की व्यवस्था की जाऐगी। शहर के प्रमुख मार्गों पर शौचालयों की कोई भी उचित व्यवस्था नहीं है। या तो कई कई किलोमीटर तक शौचालय नजर नही आते, आते हैं तो बदहाल मिलते हैं या फिर उन पर लोक लगा मिलता है। यह व्यवस्था कि जाऐगी कि शहर के हर प्रमुख मार्गों पर शौचालयों की व्यवस्था हो। 

जिस प्रकार कुरूक्षेत्र व अन्य बडे शहरों में शौचालय के साथ साथ वाशरूम की व्यवस्था है उसी प्रकार इन बडे शहरों की तर्ज पर शौचालय कम वाशरूम बनवाए जाएंेगे ताकि राहगीरों को किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत न आए।
पुष्पा गोयल का कहना है कि शहर में हर साल करोड़ो रूपये सफाई के नाम पर खर्च हो रहे हैं लेकिन सच्चाई यह है कि शहर में करोड़ो रूपये लगने के बाद भी सफाई नजर नही आ रही। शहर में जगह जगह गंदगी के ढेर लगे है। सफाई कर्मचारी शहर की ओर ध्यान न देकर बडे बडे अफसरों की कोठियों में काम करते दिखाई दे रहे है। कई सालों से चले आ रहे इस सिस्टम को तुरंत प्रभाव से बंद करवाया जाऐगा। 

नगर परिषद के जितने भी कर्मचारी है वे शहर की सफाई करते नजर आऐंगे। जो भी कर्मचारी कोताही बरतता हुआ नजर नही आया तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाऐगी। पुष्पा गोयल का कहना है कि शहर के 31 वार्डों के साथ साथ रानी तालाब जैसे ऐतिहासिक स्थलों को विकसित करने का काम भी किया जायेगा।
March 03, 2022

स्कूल जा रहे अतिथि अध्यापक की पुलिया से टकराई कार, हुई मौत

स्कूल जा रहे अतिथि अध्यापक की पुलिया से टकराई कार, हुई मौत
सोनीपत  : सोनीपत जिले में वीरवार सुबह एक दर्दनाक सड़क हादसा हो गया। जिसमें अतिथि अध्यापक की मौत हो गई और एक शिक्षिका गंभीर रूप से घायल हो गई है। मृतक की पहचान संदीप निवासी तेवड़ी के रूप में हुई है जो अभी सोनीपत रह रहे थे। वे खानपुर सरकारी सीनियर स्कूल में अतिथि अध्यापक के तौर पर कार्यरत थे। वहीं घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।
जानकारी के अनुसार संदीप गुरुवार सुबह अध्यापिका के साथ सोनीपत से खानपुर जा रहे थे। जब वह गांव ट्राली रोलद सड़क मार्ग पर पहुंचे तभी अचानक कार अनियंत्रित होकर पुलिया से टकरा गई। जिसमें उनकी मौत हो गई। वहीं हादसे में घायल अध्यापिका को खानपुर महिला कॉलेज अस्पताल में रेफर किया गया है। घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची है।
March 03, 2022

हरियाणा की होनहार बेटी को हर साल मिलेगी 1.80 लाख रुपये की छात्रवृत्ति

हरियाणा की होनहार बेटी को हर साल मिलेगी 1.80 लाख रुपये की छात्रवृत्ति

 नारनौल :  हरियाणा की होनहार बेटी अदिति वर्मा का आदित्य बिरला स्कॉलरशिप में चयन हुआ है और उन्हें अब हर साल बेटी को 1.80 लाख रुपये की छात्रवृत्ति मिलेगी। अदिति नारनौल के मोहल्ला जमालपुर निवासी प्रवक्ता डा. दीपक वर्मा व शिक्षिका शिवानी राजपूत की बेटी है। 

जानकारी के अनुसार नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी बेंगलुरू की छात्रा अदिति वर्मा का चयन आदित्य बिरला स्कॉलरशिप के लिए हुआ है। आदित्य बिरला फाउंडेशन की ओर से स्कॉलरशिप के रूप में अदिति को एक लाख 80 हजार रुपये हर साल प्रदान किए जाएंगे। स्कॉलरशिप की है यह राशि फाउंडेशन की ओर से अदिति के अध्ययनरत कॉलेज नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी बेंगलुरू के खाते में वार्षिक कोर्स फीस के रूप में जमा करवाई जाएगी। गौरतलब है कि अदिति ने पिछले वर्ष राष्ट्रीय स्तर की विधि प्रवेश परीक्षा क्लेट में पूरे देश में छठा स्थान लेकर नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी बेंगलुरू में प्रवेश पाया था।
आदित्य बिरला ग्रुप की ओर से स्कॉलरशिप के लिए हर वर्ष देश के शीर्ष संस्थानों में पढ़ रहे बच्चों के बीच से चयन किया जाता है। जिनमें मुख्य रूप से आईआईएम, आईआईटी व नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी शामिल है। आईआईएम में पढ़ रहे बच्चों को एक लाख 75 हजार, आईआईटी के बच्चों को एक लाख व नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी में पढ़ रहे बच्चों को एक लाख 80 हजार रुपये की स्कॉलरशिप हर वर्ष फाउंडेशन की ओर से दी जाती है। स्कॉलरशिप के लिए विद्यार्थियों के चयन के लिए संस्थानों में अध्ययनरत विद्यार्थियों में से टॉप 20 रैंक के विद्यार्थी अपने कॉलेज के डीन के माध्यम से स्कॉलरशिप के लिए आवेदन करते हैं। जिनमें आईआईटी से 180, आईआईएम से 160 व नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी से 100 बच्चों को मूल्यांकन करने के बाद शॉर्टलिस्ट कर इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है।
March 03, 2022

विधानसभा में बोले शिक्षा मंत्री कंवर पाल, छह से चौदह वर्ष की आयु का कोई भी छात्र शिक्षा से वंचित नहीं रहेगा

विधानसभा में बोले शिक्षा मंत्री कंवर पाल, छह से चौदह वर्ष की आयु का कोई भी छात्र शिक्षा से वंचित नहीं रहेगा
चंडीगढ़ : हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने बजट सत्र के दूसरे दिन सदन को बताया कि अनुच्छेद 21 ए के अनुसार भारत सरकार द्वारा बनाए गए निःशुल्क व अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 के तहत सरकार छह वर्ष से चौदह वर्ष की आयु के बच्चों को शिक्षा देने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार शिक्षा के अधिकार पर अमल कर रही है ताकि छह से चौदह वर्ष की आयु का कोई भी छात्र शिक्षा से वंचित न रहें। भौगौलिक स्थिति के आधार पर प्राईमरी स्तर के 8656 तथा माध्यमिक स्तर के 2421 सरकारी स्वतंत्र विद्यालय चलाये जा रहे हैं। उन्होंने अवगत कराया कि हरियाणा विद्यालय शिक्षा नियम , 2003 के नियम 134 - ए के अंतर्गत बी पीएल / ई डब्लयूएस वर्ग के मेधावी बच्चों को निजी विद्यालयों में पढ़ाई के लिए अवसर प्रदान करने का प्रावधान है । निःशुल्क व अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम -2009 के मध्यनजर , राज्य सरकार के हरियाणा शिक्षा नियमावली 2003 के द्वारा पारित 134 - ए नियम के पुनर्विचार किया जा रहा है। उन्होंने सदन को बताया कि वर्ष 2015-16 से वर्ष 2021-22 तक नियम 134-ए के तहत निजी विद्यालयों में कक्षा दो से बाहरवीं तक कुल 122636 बच्चों का दाखिला हुआ। उन्होंने सदन को यह भी बताया कि सरकार द्वारा वर्ष 2016-17 से वर्ष 2021-22 तक जिला अनुसार पूरे प्रदेश के निजी विद्यालयों को कक्षा दो से 8वीं तक 134-ए के अंतर्गत दाखिल छात्रों की फीस प्रतिपूर्ति राशि कुल 70,31,30,700 रुपये दी गई है।उन्होंने बताया कि जिला सोनीपत को वर्ष 2016-17 से वर्ष 2021-22 तक 6,47,51,100 रुपये जारी किये गये हैं।
March 03, 2022

बॉक्सर सूरज रोहिल्ला को करनाल में मिलेगा लीजेंड ऑफ इंडिया अवार्ड

बॉक्सर सूरज रोहिल्ला को करनाल में मिलेगा लीजेंड ऑफ इंडिया अवार्ड 

महाभारत सीरियल के कुंती पुत्र अर्जुन और दुर्योधन मिलकर करेंगे सम्मानित 
जींद : ( संजय कुमार) ÷ एंटी करप्शन फाउंडेशन ऑफ इंडिया के चतुर्थ स्थापना दिवस के उपलक्ष में 6 मार्च को गोल्डन मूमेंट करनाल में एंटी करप्शन फाउंडेशन ऑफ इंडिया द्वारा लीजेंड ऑफ इंडिया अवार्ड समारोह का भव्य आयोजन किया जाएगा जिसमें देश के खिलाड़ियों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, पत्रकारों एवं सामाजिक संगठनों सहित उन लोगों को लीजेंड ऑफ इंडिया अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा जिन्होंने किसी भी क्षेत्र में अहम भूमिका निभाई है । इस अवॉर्ड शो में महाभारत सीरियल में दुर्योधन की भूमिका निभाने वाले फिल्म व टीवी जगत के महान अभिनेता पुनीत इस्सर चीफ सेलिब्रिटी गेस्ट व कुंती पुत्र अर्जुन की भूमिका निभाने वाले फिल्म व टीवी अभिनेता फिरोज खान सेलिब्रिटी गेस्ट के रूप में शिरकत करेंगे ।
इसी बीच जींद जिले के गांव फतेहगढ़ के बॉक्सिंग एवं किकबॉक्सिंग खिलाड़ी सूरज रोहिल्ला को भी फिल्म अभिनेता महाभारत सीरियल के दुर्योधन पुनीत इस्सर व कुंती पुत्र अर्जुन फिरोज खान द्वारा लीजेंड ऑफ इंडिया अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा । 
सूरज रोहिल्ला ने बताया कि समाज का नाम रोशन करने एवं खेलों में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए मुझे ये अवार्ड दिया जायेगा ।
बता दें कि सूरज रोहिल्ला पिछले 8 सालों से खेल जगत में अपना नाम कमा रहें हैं और इन्होंने इन 8 सालों में काफी समाज सेवा भी की है और अनेकों अभियान भी चलाएं हैं जैसे बेटी बचाओ बेटी खिलाओ साप्ताहिक साइकिल यात्रा, नशामुक्त हरियाणा साइकिल यात्रा जोकि पूरे हरियाणा में की गई थी, जल बचाओ अभियान, सफाई अभियान, रक्तदान, भारत को जानों निबंध लेखन प्रतियोगिता सहित अनेकों सामाजिक कार्य भी किए हैं और इन सभी को देखते हुए सूरज को एंटी करप्शन फाउंडेशन ऑफ इंडिया द्वारा लीजेंड ऑफ इंडिया अवार्ड से फिल्मी अभिनेताओं द्वारा सम्मानित किया जाएगा ।
सूरज रोहिल्ला ने बताया कि देश के विभिन्न सामाजिक क्षेत्रों जैसे शिक्षण, पर्यावरण, खेल जगत, जल संरक्षण, कला संगीत, भारतीय संस्कृति का संरक्षण एवं संवर्धन करोना योद्धा, सैनिक सेवा, रक्तदान, अंगदान, गो सेवा, इत्यादि जैसे अनुकरणीय कार्य करने वाले खिलाड़ियों, समाज सेवकों और उनकी संस्थाओं के साथ-साथ संगठन के आर्थिक सहयोगियों को एंटी करप्शन फाउंडेशन ऑफ इंडिया द्वारा लीजेंड ऑफ इंडिया अवार्ड सम्मानित किया जाएगा। 
एंटी करप्शन फाउंडेशन ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेंद्र अरोड़ा ने बताया कि एंटी करप्शन फाउंडेशन ऑफ इंडिया का चतुर्थ स्थापना दिवस एतिहासिक होगा जिसमें वह अपनी टीम मेंबर्स का विशेष रूप से स्वागत करेंगे। नरेंद्र अरोड़ा ने कहा कि एंटी करप्शन फाउंडेशन ऑफ इंडिया विगत 4 वर्षों से देश भर में भ्रष्टाचार उन्मूलन जागरूकता के लिए कार्य कर रहा है और इन्हीं विशेष कार्यों के लिए एंटी करप्शन फाउंडेशन ऑफ इंडिया देश में अपना प्रथम स्थान बना चुका है ।
सूरज की उपलंधियों को देखते हुए एंटी करप्शन फाउंडेशन ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेंद्र अरोड़ा ने सूरज की सराहना की ।
सूरज रोहिल्ला ने एंटी करप्शन फाउंडेशन ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेंद्र अरोड़ा का धन्यवाद किया और कहा ऐसे ऐसे सम्मान मुझे निरंतर आगे बढ़ने को प्रेरित करते हैं, मैं ऐसे ही मेहनत करता रहूंगा और हरियाणा राज्य सहित भारतवर्ष का नाम रोशन करता रहूंगा ।
March 03, 2022

ऑप्रेशन गंगा के तहत कुल 3500 से अधिक भारतीयों की हुई घर वापसी, 17000 भारतीयों ने छोड़ा यूक्रेन

ऑप्रेशन गंगा के तहत कुल 3500 से अधिक भारतीयों की हुई घर वापसी, 17000 भारतीयों ने छोड़ा यूक्रेन
नई दिल्ली : रूस और यूक्रेन के बीच हालात बिगड़ते ही जा रहे हैं। यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों को निकालने के लिए 26 फरवरी से भारत सरकार ऑपरेशन गंगा चला रही है। इस बारे में विदेश मंत्रालय ने बुधवार को बताया कि अब तक 17,000 भारतीयों को यूक्रेन से निकाला जा चुका है. जबकि अगले 24 घंटे में 15 उड़ानों के जरिए सैकड़ों भारतीयों की वतन वापसी कराई जाएगी। भारतीय नागरिकों को निकालने के लिए भारत से 6 विमान आज सुबह भी रवाना हो चुके हैं। उधर पोलैंड ने संघर्ष क्षेत्र में फंसे भारतीयों को सलाह दी है कि वे जल्द से जल्द पौलैंड की सीमा में दाखिल होने के लिए बुडोमिर्ज सीमा चौकी पर पहुंच जाएं, ताकि सुरक्षित घर वापसी हो सके। 
ऑपरेशन गंगा के तहत भारतीयों को सीमा चौकियों के जरिए यूक्रेन से निकलने के बाद हंगरी, रोमानिया, पोलैंड और स्लोवाकिया से हवाई मार्ग से स्वदेश लाया जा रहा है। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बताया कि भारत के अभियान ऑपरेशन गंगा के तहत पिछले 24 घंटों में भारत के लिए छह उड़ानें रवाना हुई हैं। पिछले 24 घंटों में छह उड़ानें भारत के लिए रवाना हुई हैं। इनमें पोलैंड से पहली उड़ान भी शामिल है। यूक्रेन से  अब तक लगभग 1,377 से अधिक भारतीयों को वापस लाया गया है। 
*पोलैंड में केंद्रीय मंत्री वीके सिंह*

भारतीय छात्रों को वापस लाने के लिए केंद्रीय मंत्री जनरल (रिटायर्ड) वीके सिंह पोलैंड गए हैं। वह वहां छात्रों का मनोबल बढ़ा रहे हैं। उन्होंने बुधवार को पोलैंड के एक होटल में छात्रों से बात की और कहा कि पोलैंड के लोग आपकी पढ़ाई की जिम्मेदार लेने के लिए तैयार हैं। वीके सिंह के इतना बोलते ही हॉल तालियों की गड़गड़गाहट से गूंज उठा। उन्होंने मंगलवार को पोलैंड से दिल्ली के लिए दो विमानों को रवाना किया। 
*17,000 भारतीय ने छोड़ा यूक्रेन*

वहीं विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने बुधवार को कहा कि यूक्रेन छोड़ने वाले भारतीयों की संख्या में तेजी से वृद्धि हुई है। हम अनुमान लगाते हैं कि हमारी सलाह जारी होने के बाद से लगभग 17,000 भारतीय नागरिक यूक्रेन की सीमाओं को छोड़ चुके हैं। उन्होंने आगे कहा कि अगले 24 घंटों में 15 उड़ानें निर्धारित हैं। इनमें से कुछ पहले से ही रास्ते में हैं। 
*यूक्रेन पर हमले तेज*

यूक्रेन पर रूस ने हमले तेज कर दिए हैं। इस हमले के बाद मोदी सरकार ने यूक्रेन में फंसे हुए भारतीयों को निकालने के लिए अभियान भी तेज कर दिया है। वायुसेना का C-17 ग्लोबमास्टर विमान भी भारतीय नागरिकों को लाने के लिए रवाना हो चुका है। इस बीच यूक्रेन की सेना ने दावा किया कि रूसी सेना खारकीव शहर में पहुंच चुकी है। पूरी दुनिया रूस पर लगातार युद्ध खत्म करने के लिए दवाब बना रही है। रूस पर कई देशों ने कई प्रतिबंध भी लगाए हैं। लेकिन रूस मानने को तैयार नहीं है।
March 03, 2022

दिल्ली- रोहतक रूट पर सुबह के वक्त सवारी गाड़ी न चलने से रेल यात्रियों को हो रही परेशानी

दिल्ली- रोहतक रूट पर सुबह के वक्त सवारी गाड़ी न चलने से रेल यात्रियों को हो रही परेशानी
बहादुरगढ़ : सुबह के वक्त दिल्ली से रोहतक की ओर पर्याप्त रेल गाडि़यां नहीं चल रही। इस वजह से दैनिक यात्रियों को काफी परेशानी हो रही है। यात्रियों की परेशानी को देखते हुए दिल्ली-रोहतक दैनिक रेल समिति ने रेलवे को पत्र लिखा है। पत्र के जरिये दिल्ली-फिरोजपुर गाड़ी सहित सुबह के वक्त पर्याप्त गाडि़यां चलाने की मांग की गई है। समिति के प्रवक्ता सतपाल हाडा का कहना है कि गत 25 मार्च 2020 को कोरोना महामारी के चलते सभी प्रकार की रेल गाड़ियाें के परिचालन पर रोक लगा दी गई थी। फिर महामारी के फैलाव में कमी आई तो धीरे-धीरे गाड़ियां पटरी पर उतार दी गई। इससे लोगों को राहत मिली। लेकिन सुबह के वक्त अब भी रोहतक-दिल्ली रूट पर पर्याप्त गाड़ियां नहीं चल रही। जिस कारण यात्रियों को असुविधा हो रही है। सुबह के समय रोहतक से दिल्ली के लिए तो गाड़ियां चल रही हैं लेकिन दिल्ली/नई दिल्ली से रोहतक के बीच पहली सवारी गाड़ी (04453) सुबह 9 बजकर 40 मिनट पर प्रस्थान करके दस बजकर 40 मिनट पर बहादुरगढ़ व 11 बजकर 40 पर रोहतक पहुंचती है। दूसरी गाड़ी (04431) दिल्ली से दोपहर साढ़े तीन बजे चलकर चार बजकर 40 मिनट पर बहादुरगढ़ और पांच बजकर 55 मिनट पर रोहतक स्टेशन पर पहुंचती है।  यानी 9 बजकर 40 मिनट से दोपहर साढ़े तीन बजे तक एक भी सवारी गाड़ी दिल्ली से रोहतक के लिए नहीं चलती। बकौल सतपाल, मार्च 2020 से पहले पुरानी दिल्ली जंक्शन से सुबह सात बजे के करीब गाड़ी संख्या-54641 (दिल्ली-फिरोजपुर) चलती थी। यह गाड़ी सवा आठ बजे यहां बहादुरगढ़ फिर 9 बजकर दस मिनट पर रोहतक पहुंचती थी। इस गाड़ी से विद्यार्थियों, रोहतक पीजीआई में जाने वालों, नौकरी पेशा वालों और दूध की आपूर्ति करने वालों को काफी सुविधा मिल रही थी। एक तरह से यह गाड़ी इस रूट की लाइफलाइन थी। इस गाड़ी को सुबह सात से साढ़े सात के बीच दोबारा चलाया जाए। इसके अलावा सभी प्रकार की मेल-एक्सप्रेस गाड़ियाें में मासिक पास धारकों को यात्रा करने की छूट दी जाए। नई दिल्ली-हिसार विशेष एक्सप्रेस गाड़ी का ठहराव दिल्ली सदर बाजार स्टेशन पर दिया जाए, क्योंकि इस गाड़ी में 70 प्रतिशत रेल यात्री इसी स्टेशन से उतरते हैं।
March 03, 2022

Russia- Ukraine महायुद्ध से पीतल बर्तन उद्योग के बिगड़े हालात, आयात और निर्यात हुआ ठप

Russia- Ukraine महायुद्ध से पीतल बर्तन उद्योग के बिगड़े हालात, आयात और निर्यात हुआ ठप
यमुनानगर : यूक्रेन और रुस का महायुद्ध शुरु होने जाने से प्राचीन समय से एशिया भर में पीतल नगरी के नाम से मशहूर जगाधरी के पीतल व स्टील के बर्तन कारोबार को बड़ा झटका लगा है। कारोबारियों की मानें तो महायुद्ध के शुरु हो जाने से परिवहन व्यस्था प्रभावित हो गई है। जिसकी वजह से विदेशों से जहां कच्चा माल नहीं आ रहा है, वहीं, उनके पीतल व स्टील से बने उत्पादों का निर्यात ठप हो गया है। खास बात यह है कि विदेशों से आने वाले स्क्रैप व ब्रास समेत कच्चे माल की कीमतें इतनी बढ़ गई हैं कि स्थानीय बाजार में बर्तनों की डिमांड घट गई है। पिछले कुछ दिनों में बर्तन नगरी का बर्तन कारोबार आधे से भी कम रह गया है।
 *जगाधरी मेटल मैन्युफैक्चरिंग एंड सप्लायर*

एसोसिएशन(रजि।) के महासचिव सुंदरलाल बत्रा ने बताया कि प्राचीन समय से देश ही नहीं, बल्कि विश्व भर में कई देशों में जगाधरी में बने पीतल व स्टील उत्पादों का कारोबार किया जा रहा है। रशिया, आस्ट्रेलिया, इटली, जापान, जर्मन, कैनेडा व यूरेपियन देशों समेत कई बडे देशों में जगाधरी में बने पीतल उत्पादों को पसंद किया जाता है। वहीं, दर्जन भर देशों से स्क्रैप व ब्रास समेत बर्तन बनाने का अन्य कच्चा माल आयात किया जाता है। मगर पिछले कई दिन से रुस और यूक्रेन के बीच महायुद्ध छिड़ जाने से परिवहन सेवाएं प्रभावित हो गई हैं। उनका बर्तन कारोबार का आयात और निर्यात पूरी तरह ठप हो गया है। वहीं, कच्चे दाम और पेट्रोलियम पदार्थों के दाम बढ़ने से बर्तन बाजार पर मंदी की मार पड़ने लगी है। बर्तन कारोबारियों का धंधा घटकर आधे से भी कम रह गया है।
 फैक्ट्रियों में पड़ा है लाखों रुपये का तैयार माल बर्तन कारोबारी विवेक गुप्ता, सुशील बंसल, अंकित गोयल व संदीप का कहना है कि रुस और यूक्रेन का युद्ध शुरु होने जाने से विदेशों से उन्हें आर्डर मिलने बंद हो गए हैं। इससे पहले जो पुराने ऑर्डर मिले थे, उनका माल बनकर तैयार है। मगर परिवहन व्यवस्था प्रभावित होने की वजह से माल भेज नहीं पा रहे हैं और लाखों का तैयार माल फैक्ट्रियों में पड़ा है। किसी तरह स्थानीय ऑर्डर लेकर काम किया जा रहा है। मगर वह पर्याप्त नहीं है और फैक्ट्रियों में उत्पादन घटकर आधे से भी कम रह गया है। खास बात तो यह है कि कच्चे माल के दाम इतने बढ़ चुके हैं कि स्थानीय व्यापारी भी बर्तन नहीं खरीद रहा है। जिससे बर्तन कारोबार को झटका लग रहा है। यदि रुस और यूक्रेन युद्ध लंबा खिंचा तो बर्तन कारोबार पूरी तरह ठह हो जाएगा।
March 03, 2022

महिलाओं के लिए हरियाणा सरकार ने शुरू की यह योजना, मिलेंगे गजब के फायदे

महिलाओं के लिए हरियाणा सरकार ने शुरू की यह योजना, मिलेंगे गजब के फायदे
चंडीगढ़ : हरियाणा सरकार द्वारा हरियाणा महिला विकास निगम के उपभोक्ताओं को ऋण मुक्त होने का अवसर देते हुए वन टाइम सेटलमेंट योजना के तहत 1 जून 2022 तक एकमुश्त या 6 किश्तों में बकाया ऋण की राशि जमा करवाकर ब्याज की राशि में सौ प्रतिशत छूट का लाभ दिया जा रहा है। इस योजना के तहत उन महिला ऋणी को कवर किया गया है जिनका 31 मार्च 2019 तक निगम को ऋण भुगतान के लिए देय था। यह योजना 31 मार्च 2019 तक के डिफॉल्ट रूप से मूलधन की राशि पर लागू होगी और इसके पश्चात भुगतान की गई मूलधन की राशि इस योजना में शामिल नहीं होगी। ऋण लेने वालों को 6 महीने के भीतर इसका लाभ उठाने की अनुमति दी जाएगी। यदि ऋणी द्वारा बकाया मूल राशि को एकमुश्त या किश्तों में छह महीने के भीतर चुका दिया जाता है तो वह लाभार्थी महिला ब्याज की 100 फीसदी छूट के लिए पात्र होगी।  छूट का लाभ ऋणी को बकाया मूलधन की अंतिम किस्त के भुगतान के बाद ही दिया जाएगा और योजना के लाभार्थी कम से कम एक वर्ष के अंतराल के बाद ही भविष्य में एक और ऋण लेने के पात्र हो सकेंगे। प्रदेश सरकार की यह योजना केवल 1 जून 2022 तक ही लागू रहेगी इसके बाद किसी भी दावे पर विचार नहीं किया जाएगा। इस योजना से संबंधित किसी भी अन्य जानकारी के लिए हरियाणा महिला विकास निगम के मुख्यालय के दूरभाष नंबर 0172-2564720 व जिला स्तर पर निगम के कार्यालयों से संपर्क किया जा सकता है। योजना के लाभार्थी कम से कम एक वर्ष के अन्तराल के बाद ही भविष्य में एक और ऋण अग्रिम कर सकते हैं। सरकार की योजना 6 महीने तक मान्य होगी और किसी भी आधार पर या किसी न्यायालय के मामले या मध्यस्थता के बहाने योजना की मान्यता अवधि समाप्त होने के बाद किसी भी दावे पर विचार नहीं किया जाएगा। हरियाणा महिला विकास निगम की ऋणी लाभार्थियों को लाभ देने की इस प्रक्रिया में राज्य सरकार को आर्थिक हानि उठानी पड़ेगी लेकिन महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए सरकार ने यह फैसला लिया है।

Wednesday, March 2, 2022

March 02, 2022

जींद डीसी बोले: यूक्रेन गए जिले के सभी छात्रों के अभिभावकों के सम्पर्क में जिला प्रशासन

जींद डीसी बोले: यूक्रेन गए जिले के सभी छात्रों के अभिभावकों के सम्पर्क में जिला प्रशासन

- उपायुक्त डा० मनोज कुमार ने बताया- हरियाणा सरकार द्वारा मुंबई एयरपोर्ट पर हेल्प डेस्क का संचालन किया शुरू

- जिला में प्रशासनिक अधिकारी निरंतर संपर्क में यूक्रेन गए विद्यार्थियों के अभिभावकों के संपर्क में

- आपदा की इस स्थिति में केंद्र व प्रदेश सरकार नैतिकता का धर्म प्रभावी रूप से अदा कर रही है
जींद : ( संजय कुमार ) -यूके्रन-रूस युद्ध के दौरान यूके्रन में फंसे भारतीयों को मानवीय आधार पर स्वदेश लाने के लिए केंद्र व प्रदेश सरकार नैतिकता का धर्म प्रभावी रूप से अदा कर रही है। आपरेशन गंगा के तहत भारतीय नागरिकों की वापसी करवाई जा रही है और जो भारतीय नागरिक अभी स्वदेश नहीं लौटे हैं तो उनके अभिभावकों व परिजनों से सरकार निरंतर संपर्क में है। शेष नागरिकों को भी स्वदेश लाने की प्रक्रिया सरकार के स्तर पर अपनाई जा रही है। जींद जिला प्रशासन जिला के उन अभिभावकों के संपर्क में है जो अभी स्वदेश नहीं लौटे हैं। उपायुक्त डा. मनोज कुमार  ने कहा कि प्रशासन की ओर से हर परिस्थिति पर नजर रखते हुए अपडेट रिपोर्ट अभिभावकों से सांझा की जा रही है।
 उपायुक्त डा० मनोज कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि यूक्रेन से देश लौट रहे विद्यार्थियों की मदद के लिए हरियाणा सरकार द्वारा मुंबई एयरपोर्ट पर हेल्प डेस्क सुचारू रूप से शुरू कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि हेल्प डेस्क के माध्यम से हरियाणा के जो विद्यार्थी मुंबई पहुंचेंगे, उन्हें दिल्ली पहुंचाने की व्यवस्था सरकार द्वारा की जा रही है। उल्लेखनीय है कि यूक्रेन संकट के मद्देनजर हरियाणा सरकार की ओर से विद्यार्थियों की मदद के लिए दिल्ली एयरपोर्ट पर पहले ही हेल्प डेस्क स्थापित किया हुआ है। उन्होंने बताया कि यूक्रेन में फंसे हरियाणा राज्य के निवासियों व विद्यार्थियों की सहायता के लिए सरकार ने राज्य स्तर पर आवासीय आयुक्त हरियाणा भवन संजय जून को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है।
डीसी ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल स्वयं सारी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं और अधिकारियों से लगातार अपडेट ले रहे हैं। किसी भी विद्यार्थियों को कोई परेशानी न हो इसके लिए सरकार की ओर से सकारात्मक प्रयास किए जा रहे हैं। इसके लिए भारतीय विदेश मंत्रालय और हरियाणा सरकार पूरी तरह सजग एवं सतर्क हैं। डीसी ने बताया कि यूके्रन के मौजूदा हालातों पर सरकार लगातार नजर बनाए हुए है और दिन रात आवागमन करके लोगों को सुरक्षित वापिस लाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि यूक्रेन में अध्ययनरत बच्चों की सुरक्षित वापसी सुनिश्चित करने के लिए सरकार ने अहम कदम उठाते हुए हर पहलू पर फोकस किया है। उन्होंने कहा कि यूके्रन से भारतीय नागरिक साथ लगते देशों में पहुंच चुके हैं और जल्द ही आपरेशन गंगा के तहत शेष नागरिकों को स्वदेश लाने की प्रक्रिया चल रही है। सरकार के निर्देश पर जिला में यूक्रेन गए भारतीय नागरिकों के परिजनों से संपर्क किया जा रहा है।  
उपायुक्त डा० मनोज कुमार ने जींद के तहसीलदार को दिशा-निर्देश जारी करते हुए कहा कि वे यूक्रेन गए  नागरिकों के परिजनों से निरंतर सम्पर्क बनाए रखें।  
उन्होंने आमजन से अपील कि है कि वे यूक्रेन में बढ़ते तनाव को लेकर वहां फंसे भारतीयों की सुरक्षा को लेकर किसी प्रकार की अफवाह या भ्रामक खबरों पर ध्यान न दें। हरियाणा सरकार राज्य के निवासियों की सुरक्षित वापसी के लिए निरंतर केंद्र सरकार से समन्वय बनाए हुए है और भारतीय नागरिकों को वापिस स्वदेश लाया जा रहा है।
March 02, 2022

यूक्रेन में ब्रेन हैमरेज का शिकार हुए बरनाला के चंदन जिंदल ने तोड़ा दम

यूक्रेन में ब्रेन हैमरेज का शिकार हुए बरनाला के चंदन जिंदल ने तोड़ा दम
नई दिल्ली : 2 मार्च : रूस व यूक्रेन में जारी युद्ध के कारण बरनाला के रहने वाले जिदल परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। इस युद्ध ने जिंदल परिवार का इकलौता चिराग बुझा दिया है।

वह वहां (यूक्रेन में) बीमार था, आईसीयू में भर्ती था। बीमार बेटे की देखरेख के लिए यूक्रेन गए चंदन के पिता भी युद्ध के कारण वहीं फंसे हुए हैं।

यूक्रेन में एमबीबीएस चौथा वर्ष की पढ़ाई कर रहा परिवार का बेटा चंदन जिंदल इस युद्ध के कारण वहीं फंस गया व वापस नहीं आ पाया। दो फरवरी को उसे हार्ट अटैक हुआ था। उसके दिमाग में रक्त जम गया। डाक्टरों ने आपरेशन तो कर दिया लेकिन वह कोमा में चला गया। दो मार्च को उसने दम तोड़ दिया है।
सात फरवरी को अपने इकलौते बेटे की देखभाल करने के लिए उसका पिता शीशन कुमार जिदल व ताया कृष्ण कुमार जिदल यूक्रेन चले गए थे। इसी दौरान वहां युद्ध शुरू हो गया। एक मार्च की रात को ताया कृष्ण कुमार जिदल वापस बरनाला लौट आए हैं परंतु पिता शीशन कुमार जिदल अभी भी अपने बेटे के इलाज के लिए वहां पर मजबूरी में फंसे हुए थे कि दो मार्च को चंदन जिदल का निधन हो गया।

*--माता व बहन का रो-रोकर बुरा हाल*

जिला प्रबंधकीय परिसर के सामने गली में रहने वाले चंदन जिदल की माता किरन जिदल और बहन रशिमा जिदल का रो-रोकर बुरा हाल है। बरनाला में मृतक युवक चंदन जिदल की माता व बहन का रो-रोकर बुरा हाल है। जैसे ही ये खबर बरनाला पहुंची तो शहर में भी माहौल गमगीन हो गया है। स्वजनों के अलावा शहर की समाजसेवी संस्थाओं ने परिवार से संवेदना व्यक्त की है। केंद्र सरकार से मांग की है कि मृतक देह व वहां फंसे बेबस पिता की सकुशल स्वदेश वापसी करवाने के प्रयास तेज किए जाएं।
March 02, 2022

इनेलो ने बजट सत्र के लिए विधानसभा में सोलह ध्यानाकर्षण प्रस्ताव किए प्रस्तुत

इनेलो ने बजट सत्र के लिए विधानसभा में सोलह ध्यानाकर्षण प्रस्ताव किए प्रस्तुत
चंडीगढ़ : इनेलो ने हरियाणा विधानसभा के बजट सत्र के लिए प्रक्रिया व कार्य संचालन संबंधी नियमों के नियम 73 के तहत 10 साल पुराने ट्रैक्टर पर एनसीआर में एनजीटी द्वारा पाबंदी लगवाए जाने, परिवार पहचान-पत्र के तहत बुजुर्गों की पेंशन काटने, रजिस्ट्रियों में घोटाले, प्रोपर्टी के विवरण के लिए प्रोपर्टी आईडी लागू करने, कर्मचारियों की पुरानी पेंशन योजना लागू करने, बेमौसम बारिश से खराब हुई फसलों के मुआवजे, भूमि अधिग्रहण पुनर्वास एवं पुनर्व्यवस्थापन (हरियाणा संशोधन) बिल 2021, बढ़ती बेरोजगारी, बिगड़ती कानून व्यवस्था, बढ़ रहे भ्रष्टाचार, वर्ष 2022 में किसानों की आय दोगुनी करने, मुख्यमंत्री द्वारा की गई घोषणाओं, बढ़ता नशा एवं शराब पीने की आयु सीमा 25 से 21 करने, प्रदेश में हो रहे अवैध खनन, प्रदेश पर बढ़ता कर्ज, रेजिडेंट्स सर्टिफिकेट में 15 साल की सीमा को खत्म करके 5 साल करने बारे जैसे जनहित से जुड़े अति महत्वपूर्ण सोलह ध्यानाकर्षण प्रस्ताव प्रस्तुत किए हैं। ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के साथ ही मुख्यमंत्री, वित्त मंत्री, कृषि मंत्री, शिक्षा मंत्री, लोक निर्माण मंत्री, स्वास्थ्य मंत्री, जनस्वास्थ्य मंत्री और सिंचाई मंत्री से लोकहित से जुड़े तारांकित एवं अतारांकित प्रश्र भी विधानसभा में प्रस्तुत किए गए हैं। बजट सत्र में इनेलो विधायक लोकहित से जुड़े सभी मुद्दों को प्रमुखता से उठाएंगे।
March 02, 2022

शक्ति पीठ से महालक्ष्मी की शोभायात्रा का होगा आयोजन : डॉ रजनीश जैन

शक्ति पीठ से महालक्ष्मी की शोभायात्रा का होगा आयोजन : डॉ रजनीश जैन
जींद, : (  संजय कुमार) - अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन, हरियाणा प्रदेश इकाई के तत्वाधान में  "कुलदेवी आद्य महालक्ष्मी जन आशीर्वाद रथ यात्रा" को लेकर एक मीटिंग डॉ रजनीश जैन की अध्यक्षता में संपन्न हुई। जिसमें जिला भिवानी से प्रदेश अध्यक्ष सीमा बंसल ,प्रदेश महामंत्री मोहित जैन, जिला अध्यक्ष सुनील जिंदल, युवा जिलाध्यक्ष साहिल जिंदल विशेष रूप से पधारे। उन्होंने 5 मार्च  शनिवार को जींद में पधारने वाले अग्रवाल शक्ति पीठ से महालक्ष्मी की शोभायात्रा के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि शोभा यात्रा को शहर के विभिन्न मार्गों से होते हुए बनखंडी महादेव मंदिर पर कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इसमें शाम को 6:00 बजे जयपुर से अगर भागवत कथा वाचक नर्मदा शंकर द्वारा बनखंड महादेव मंदिर में अपने विचारों को रखा जाएगा। डॉ रजनीश जैन ने बताया कि 5 मार्च को शोभायात्रा धूमधाम से निकाली जाएगी। मीटिंग में डॉ मोनिका जैन महामंत्री , शालिनी गोयल सचिव, शीला बंसल उपाध्यक्ष, डॉ वंदना गुप्ता उपाध्यक्ष ,ललिता गोयल उपाध्यक्ष,  सरोज गर्ग कार्यकारिणी सदस्य उपस्थित रहे।
March 02, 2022

हरियाणा का बजट देखें किस प्रकार का होगा

हरियाणा का बजट देखें किस प्रकार का होगा
चंडीगढ़ : हरियाणा का वर्षिक बजट इस साल बढक़र दो लाख करोड़ के करीब पहुंचने की उम्मीद है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल अपने दूसरे कार्यकाल में बतौर वित्त मंत्री तीसरा बजट पेश करेंगे। सभी विभागों ने पिछले साल अलाट हुए बजट तथा एक साल में किए गए खर्च का ब्यौरा वित्त विभाग को भेज दिया है। जिसके आधार पर नए बजट में पैसा अलाट किया जाएगा।
हरियाणा में अगले महीने 51 स्थानीय निकायों में चुनाव होने हैं और पंचायत चुनाव किसी भी हो सकते हैं। ऐसे में यह माना जा रहा है कि चुनाव को ध्यान में रखकर सरकार प्रदेश वासियों पर बजट के माध्यम से किसी प्रकार का कर आदि नहीं लगाएगी।
पिछले साल मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने 13 प्रतिशत की वृद्धि के साथ एक लाख 55 हजार 645 करोड़ का बजट पेश किया था। बजट में 29 हजार 193.95 करोड़ का घाटा दिखाया गया था। 
जबकि वर्ष 2020 में कुल 14234.78 करोड़ का बजट पेश किया गया था। पिछले साल कोरोना के चलते प्रति व्यक्ति आय में भी कमी आई थी। पिछले साल हरियाणा में प्रति व्यक्ति आय का ग्राफ गिरकर दो लाख 39 हजार 535 पर पहुंच गया था। जिसमें इस साल सुधार होने की गुंजाईश है। पिछले बजट में हरियाणा के सिर एक लाख 99 हजार 823 करोड़ का कर्ज दिखाया गया था जो इस बार बढऩा तय है। 
हरियाणा का बजट एक नजर में
कुल बजट                             155645.45
कुल घाटा                              029193.95
कुल कर्ज                               199823.00

वर्ष 2021 के बजट में किस विभाग को क्या मिला
विभाग                                                 धनराशि
कृषि                                                     05279.49 करोड़
सहकारिता                                             01274.05 करोड़
शिक्षा व खेलकूद, कला व संस्कृति              18118.23 करोड़
तकनीकी शिक्षा, कौशल विकास                  01573.02 करोड़
स्वास्थ्य,चिकित्सा शिक्षा                           07336.75 करोड़
गृह विभाग                                              05897.38 करोड़
ऊर्जा                                                       07359.43 करोड़
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता                10798.01 करोड़
ग्रामीण विकास एवं पंचायत                        05979.94 करोड़
परिवहन विभाग                                       02699.05 करोड़
शहरी विकास, टाउन एंड कंट्री प्लानिंग          05599.39 करोड़
उद्योग एवं वाणिज्य                                  00516.30 करोड़
सिंचाई एवं जल संसाधन                              05081.09 करोड़
जनस्वास्थ्य                                              03401.86 करोड़
लोक निर्माण विभाग                                   02984.63 करोड़
March 02, 2022

हनीट्रैप गिरोह को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर प्रदर्शन, लोगों ने एसपी आवास के सामने जमकर काटा बवाल

हनीट्रैप गिरोह को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर प्रदर्शन, लोगों ने एसपी आवास के सामने जमकर काटा बवाल
जींद :  हनीट्रैप में फांस लोगों को ब्लैकमेल करने वाले गिरोह को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर पीड़ित व्यक्ति के परिजनों ने एसपी आवास के सामने जमकर बवाल काटा। परिजनों की पुलिसकर्मियों के साथ तीखी नोकझोंक भी हुई। पुलिस ने परिजनों को वहां से हटाया तो एसपी कार्यालय पहुंच गए और डीएसपी को भी खूब खरी खोटी सुनाई। डीएसपी ने बुधवार को सबूतों के साथ पीड़ित के परिजनों को बुलाया तो परिजनों ने आने से इंकार करते हुए एसपी कार्यालय के सामने धरने पर बैठ गए। परिजनों ने पुलिस पर गिरोह के सदस्यों के साथ मिलीभगत करने का आरोप लगाते हुए पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। गांव सुरबूरा निवासी राजेश के परिजन व रिश्तेदार बुधवार को पटियाला चौक पर एकत्रित हुए। राजेश की पत्नी बीना ने बताया कि उसके पति राजेश को पटियाला चौक निवासी मुस्कान उर्फ निशा ने अपने जाल में फांस कर कुछ लोगों के साथ मिलकर ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया। उसके पति से लाखों रुपये की डिमांड की गई। डिमांड पूरी न करने पर मुकदमें में फंसा जेल भिजवाने की धमकी दी गई। मामले को लेकर सौदेबाजी हो रही थी तो परिजनों ने उसकी रिकॉडिंग तथा वीडियो बना ली। ब्लैकमेल करने की शिकायत शहर थाना पुलिस को दी गई। इसी बीच मुस्कान व उसके गिरोह के लोगों ने उसके पति राजेश के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवा दिया। बाद में पुलिस ने गत 18 जनवरी को उसकी शिकायत पर मुस्कान, उसकी मां कमलेश, चांदराम, पवन उर्फ सोनी व कुछ अन्य लोगों के खिलाफ चौथ मांगने, ब्लैकमेल करने, महिला सेफ्टी कानून का दुरूपयोग करने का मामला दर्ज किया था।पुलिस ने उसके पति को गिरफ्तार कर लिया, लेकिन हनीट्रैप में फांसने वाले गिरोह को तीन माह बाद भी गिरफ्तार नहीं किया गया, जबकि वह लगातार अधिकारियों की चौखट पर दस्तक दे चुकी है।  बीना ने आरोप लगाया कि पुलिस गिरोह के साथ मिली हुई है और उन पर हाथ डालने से गुरेज कर रही है। जिसके बाद गांव सुरबूरा के लोग शहर में प्रदर्शन करते हुए एसपी आवास पर पहुंचे। वहां पर लोगों ने जमकर नारेबाजी की और पुलिस पर भडास निकाली। बाद में परिजनों ने एसपी कार्यालय की तरफ रूख किया। परिजनों से मिलने के लिए डीएसपी धर्मबीर खर्ब पहुंचे। उन्होंने परिजनों को बुधवार को सबूतों के साथ आने के लिए कहा, जिसपर परिजनों ने साफ मना कर दिया। इस दौरान परिजनों और एसपी कार्यालय के सामने धरने पर बैठ गए।
March 02, 2022

हरियाणा सरकार ने यूक्रेन में फंसे 700 छात्रों से साधा संपर्क, मुंबई एयरपोर्ट पर बनाया कंट्रोल रूम

हरियाणा सरकार ने यूक्रेन में फंसे 700 छात्रों से साधा संपर्क, मुंबई एयरपोर्ट पर बनाया कंट्रोल रूम
करनाल : हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि यूक्रेन में फंसे हरियाणा के सभी छात्रों को सकुशल वापिस लाया जाएगा। इसके लिए भारतीय विदेश मंत्रालय और हरियाणा सरकार पूरी तरह प्रयासरत हैं।अभी तक 700 छात्रों से हरियाणा सरकार ने मेल आईडी, वाट्सएप व अन्य संचार माध्यमों से संपर्क साध लिया है। 90 छात्र वापिस भी आ चुके हैं। मुख्यमंत्री मंगलवार को एक दिवसीय करनाल प्रवास के दौरान पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे। यूक्रेन में फंसे नागरिकों के लिए हमने अपने यहाँ एक कंट्रोल रूम बनाया है और अब तक हरियाणा के 700 लोगों से संपर्क हो चुका है। हमारे कंट्रोल रूम 8 दिन से चालू हैं।
 pic.twitter.com/fBIzDFO0Ht — Manohar Lal (@mlkhattar) March 1, 2022 
इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि यूक्रेन संकट को देखते हुए हरियाणा सरकार ने पहले ही कंट्रोल रूम स्थापित कर दिया था। छात्रों की मदद के लिए दिल्ली एयरपोर्ट पर हैल्प डैस्क बनाया गया है। इसके साथ-साथ हरियाणा के कुछ छात्र यूक्रेन से विमान द्वारा मुंबई भी पहुंचे हैं, उनकी मदद के लिए वहां भी कंट्रोल रूम स्थापित किया जा रहा है। उन्हें दिल्ली व हरियाणा लाने के लिए हर संभव मदद की जाएगी। भारतीय विदेश मंत्रालय पूरे मामले पर पैनी नजर बनाए हुए है । केंद्र सरकार के चार मंत्री यूक्रेन से लगते चार देशों में पहुंच चुके हैं, वे उन देशों के साथ बातचीत करके भारतीय नागरिकों को देश में लाने के लिए प्रयास कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस भी जिले के नागरिक यूक्रेन में फंसे हुए हैं, उस जिले के उपायुक्त उन परिवारों से संपर्क साध रहे हैं।
March 02, 2022

कार और बाइक की भिड़ंत में एक की मौत, छह की हालत गंभीर

कार और बाइक की भिड़ंत में एक की मौत, छह की हालत गंभीर 
जींद : गांव हाट व कारखाना के बीच कार तथा बाइक के बीच हुई भिडंत में बाइक सवार एक युवक की मौत हो गई। जबकि बाइक सवार दूसरा युवक व कार में सवार पांच लोगों समेत छह लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। भिडंत इतनी जबरदस्त थी कि कार तथा बाइक के परखच्चे उड गए और कार खेतों में जाकर पलट गई। सभी घायलों को सामान्य अस्पताल सफीदों में लाया गया जहां उनकी गंभीर हालात देख पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया। सदर थाना सफीदों पुलिस मामले की जांच कर रही है। गांव हाट तथा कारखाना के बीच मंगलवार दोपहर को कार तथा बाइक के बीच आमने सामने की जोरदार भिडंत हो गई। जिसमें बाइक सवार गांव हाट निवासी मोहित 16, रोहित तथा कार सवार गांव बागडू कलां निवासी आरती, उसका भाई अजय, सोनू, ज्योती तथा गांव ऐंचरा खुर्द निवासी अंजली गंभीर रूप से घायल हो गई। भिडंत इतनी जबरदस्त थी कि खेतों में पलटी कार में फसें लोगों को निकालने के लिए कडी मश्क्कत करनी पडी। राहगीरों ने दोनों बाइक सवारों तथा कार में सवार पांचों लोगों को सामान्य अस्पताल सफीदों पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने मोहित को मृत घोषित कर दिया, जबकि रोहित तथा कार सवार पांचों लोगों की गंभीर हालात देख पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया। 
 शादी का सामान खरीदने आ रहे थे कार सवार जिस कार के साथ बाइक की भिडंत हुई उस कार में गांव बागडू कलां निवासी ज्योती भी सवार थी, जिसकी शादी परिजनों द्वारा तय की हुई है। ज्योती अपनी बहनों तथा भाइयों के साथ शादी के लिए सामान खरीदने के लिए कार में सवार होकर सफीदों की तरफ आ रही थी। इसी बीच उनकी कार की टक्कर सामने से आ रही बाइक से हो गई। जिसमें बाइक सवार एक युवक की मौत हो गई, जबकि उसका साथी गंभीर रूप से घायल हो गया। कार में सवार ज्योती व उसके परिवार के पांच लोग भी गंभीर रूप से घायल हो गए। बताया जाता है कि दोनो वाहनों की ओवर स्पीड होने के कारण हादसा हुआ है। हादसा घटनास्थल के निकट लगे सीसीटीवी में कैद हो गया।
 
 सदर थाना सफीदों प्रभारी कृष्ण ने बताया कि कार तथा बाइक के बीच हुई भिडंत में एक युवक की मौत हो गई, जबकि उसका साथी व कार सवार पांच लोग भी घायल हो गए। जिन्हें पीजीआई रोहतक रेफर किया गया है। मृतक के शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया है।