/>

Breaking

Wednesday, November 4, 2020

पंचकूला में पुलिसकर्मियों और खनन माफिया की हिंसक झड़प, 16 पुलिसकर्मी घायल


पंचकूला में पुलिसकर्मियों और खनन माफिया की हिंसक झड़प, 16 पुलिसकर्मी घायल




पंचकूला : पंचकूला के रत्तेवाली गांव में पुलिस की टीम पर हमला करने का मामला सामने आया है। यहां पर हमले में 16 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं जिसमें तीन महिला कर्मचारी और 13 पुरुष कर्मचारी शामिल हैं जिन्हे पंचकूला के अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।
जानकारी के मुबातिक पंचकूला के रत्तेवाली गांव में खनन की जमीन पर खनन होने का विरोध करीब हफ्ते भर से गांव वासियों द्वारा किया जा रहा था। जिसके चलते पंचकूला पुलिस ने मंगलवार को मोर्चा संभाला और गांव वासियों को समझाने की कोशिश की, लेकिन इसी बीच गांव वासियों और पुलिस के बीच झड़प हो गई।

दरअसल, पंचकूला प्रशासन की ओर से रत्तेवाली गांव में माइनिंग को लेकर खनन के लिए जमीन अलॉट की गई थी। वहीं इस जमीन पर खनन होने का ग्रामीण विरोध कर रहे थे। जिसके चलते मंगलवार को सुबह पंचकूला पुलिस फोर्स को गांव में लगाया गया।

वहीं जब पुलिस ने ग्रामीणों को खनन की जमीन से हटाना चाहा, तो ग्रामीणों ने पंचकूला पुलिस पर पत्थरबाजी शुरू कर दी। पुलिस और ग्रामीणों के बीच इस झड़प में करीब 16 पुलिसकर्मी घायल हो गए। डीसीपी मोहित हाडा ने बताया कि मामले को लेकर 14 असामाजिक तत्वों को राउंडअप किया गया है।

घटना में होमगार्ड हरकेश कुमार, सुखविंदर सिंह, गुरदीप, हरियाणा पुलिस के एएसआई जगदीश, हेड कॉन्स्टेबल रोशन लाल, प्रमोद, सोनू कुमार, कॉन्स्टेबल दलबीर सिंह, अंकित और सतीश कुमार घायल हुए हैं। घायल मुलाजिमों को सेक्टर-6 के नागरिक अस्पताल में दाखिल करवाया गया है। उधर सेक्टर-5 थाना प्रभारी ललित कुमार भी नागरिक अस्पताल में पहुंचे।

*यह है मामला-*
रत्तेवाली नदी में ठेकेदार ने 10 फुट खुदाई की मंजूरी लेकर 30 से 40 फुट खुदाई की थी। इसके बाद ठेकेदार द्वारा गड्ढों में पानी भर दिया गया। इसमें गिरने से एक पशु की मौत भी हो गई थी। नियमों को दरकिनार कर 30 से 40 फुट खुदाई करने से गुस्साए ग्रामीण पहले भी धरने पर बैठे थे। इस कारण प्रशासन ने खनन लाइसेंस को सस्पेंड कर दिया था।

कुछ ही दिन बाद प्रशासन ने जुर्माना वसूल कर सस्पेंड लाइसेंस को बहाल कर दिया और ठेकेदार की पूरी टीम रत्तेवाली नदी में खनन करने पहुंच गई। इसकी जैसे ही भनक ग्रामीणों को लगी उन्होंने इकट्ठा होकर खनन रुकवा दिया।

No comments:

Post a Comment