/>

Breaking

Saturday, February 20, 2021

अमेजन से ब्लूटूथ मंगाकर वापस करना पड़ा महंगा, खाते से गायब हो गए 20 लाख रुपये

अमेजन से ब्लूटूथ मंगाकर वापस करना पड़ा महंगा, खाते से गायब हो गए 20 लाख रुपये


नारनौल : नारनौल पुरानी सराय मोहल्ले की एक महिला को ऑनलाइन मंगवाया गया ब्लूटूथ वापस करना बड़ा महंगा पड़ा। महिला के बैंक खाते से करीब 20 लाख रुपये धोखाधड़ी से निकाल लिए गए हैं। इसका पता चलने पर पीड़ित ने पुलिस में शिकायत दी, जिस पर मामला दर्ज करने उपरांत जांच शुरू कर दी गई है। पीड़िता के पति राजेश कश्यप ने बताया कि उसकी पत्नी सीमा कश्यप ब्यूटी पॉर्लर चलाती हैं और उन्होंने अमेजन कंपनी की साइट पर मोबाइल फोन के लिए एक ब्लूटूथ का ऑर्डर किया था, जो करीब चार हजार रुपये का था। उक्त ब्लूटूथ की डिलीवरी होने उपरांत जब उसे इस्तेमाल किया तो उसमें कुछ कमियां लगी, जिस पर उन्होंने ब्लूटूथ को वापस कर दिया। वापस करने पर एक फोन आया कि ब्लूटूथ के पैसे किस अकाउंट में डालने हैं। सीमा कश्यप ने उक्त अज्ञात व्यक्ति को अपने बैंक खाता संबंधी जानकारी दी जिसके बाद खाते से 20 लाख रुपये निकाल लिए गए। 

*रुपये निकलने की जानकारी पाकर पत्नी हो गई बीमार* 

जब सीमा कश्यप बैंक गई और पैसे निकलने की जानकारी मिली तो उनके पैरों तले की जमीन खिसक गई। कश्यप ने बताया कि उसकी पत्नी की हालत बेहद खराब हो गई। हालत इतनी खराब हो गई कि उन्हें अस्पताल ले जाना पड़ा और एमआरआई तक करानी पड़ी है। अब वह उपचाराधीन है। साइबर ब्रांच का लिया जा रहा सहयोग जब बैंक खाते से रुपए निकलने की पुष्टि हो गई तो राजेश कश्यप ने सिटी पुलिस से संपर्क किया और लिखित में एक शिकायत दी। शिकायत के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और इसकी जांच में साइबर क्राइम ब्रांच का सहयोग लिया जा रहा है, जिसने उक्त मोबाइल नंबर एवं खाता से हुए लेन-देन की जानकारी खंगालना शुरू कर दिया है। जिस नंबर से कॉल आई, वह ­झारखंड का सीमा कश्यप के जिस मोबाइल फोन नंबर पर ब्लूटूथ की राशि वापस अदा करने के लिए फोन आया था, पुलिस जांच में वह फोन नंबर ­झारखंड का होना बताया जा रहा है। उक्त फोन की लोकेशन व एड्रेस के आधार पर पुलिस अब ­झारखंड जाकर ठगी करने वाले व्यक्ति की पहचान कर उसे गिरफ्तार करने के प्रयास में है। सिटी थाना इंचार्ज कृपाल सिंह ने बताया कि ऑनलाइन बैंकिंग धोखाधड़ी की शिकायत मिली थी। उस पर कार्रवाई की जा रही है और साइबर क्राइम ब्रांच का सहयोग लिया जा रहा है।

No comments:

Post a Comment