/>

Breaking

Friday, May 28, 2021

दिल्ली में 31 मई से शुरू होगी अनलॉक प्रक्रिया

दिल्ली में 31 मई से शुरू होगी अनलॉक प्रक्रिया, सीएम अरविंद केजरीवाल ने बताया- क्या-क्या खुलेगा
नई दिल्ली : राष्ट्रीय राजधानी में पिछले कई दिनों से कोरोना संक्रमण के मामले कुछ कम होते दिख रहे हैं। इस बीच शुक्रवार को हुई दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की बैठक में क्रमबद्ध तरीके से दिल्ली को अनलॉक करने का फैसला लिया गया है। राजधानी में 20 अप्रैल से सख्त लॉकडाउन लगाया गया था।
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान इस संबंध में जानकारी दी। उन्होंने बताया है कि 31 मई सोमवार सुबह से दिल्ली में फैक्ट्रियों को खोल दिया जाएगा और इसके साथ ही निर्माण कार्य (कंस्ट्रक्शन) भी शुरू हो जाएंगे।
दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल, जो डीडीएमए के अध्यक्ष भी हैं, के साथ एक बैठक के बाद, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि समय आ गया है, जब लॉकडाउन हटाने की प्रक्रिया शुरू करने की आवश्यकता है। उन्होंने जोर देकर कहा कि दिल्ली के लोगों ने इस कोविड महामारी के दौरान और एक महीने के लॉकडाउन के कारण भी बहुत कुछ झेला है।
उन्होंने कहा कि जो मजदूर और दैनिक वेतन भोगी के रूप में काम कर रहे हैं, उनकी आजीविका चली गई है और यह निर्णय लिया गया है कि ये दोनों गतिविधियां सोमवार (31 मई) से खोली जाएंगी।
केजरीवाल ने कहा, बैठक के दौरान यह निर्णय लिया गया है कि कोविड-19 की स्थिति नियंत्रण में है, क्योंकि दैनिक मामले और पॉजिटिविटी रेट कम हो गई है और अब हमें आर्थिक गतिविधियों पर भी ध्यान देना होगा। कई गरीब परिवारों ने लॉकडाउन के कारण अपनी आजीविका खो दी है और इसलिए यह निर्णय लिया गया है कि दो प्रकार की गतिविधियां – दिल्ली में निर्माण कार्य और फैक्ट्री सोमवार से काम करना शुरू कर देंगे।
एक वरिष्ठ अधिकारी ने आईएएनएस को बताया कि स्वीकृत औद्योगिक क्षेत्रों में विनिर्माण, उत्पादन इकाइयों के संचालन, दिल्ली के भीतर श्रमिकों को नियोजित करने वाली गतिविधियों को कार्य करने की अनुमति दी जाएगी।
डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने यह भी कहा कि कोविड मामलों की संख्या को ध्यान में रखते हुए अनलॉक की प्रक्रिया को और बढ़ाया जाएगा।
उन्होंने कहा, हर हफ्ते हम जनता के सुझावों और विशेषज्ञों के विचारों के आधार पर धीरे-धीरे अनलॉक की प्रक्रिया को जारी रखेंगे। अगर मामले फिर से बढ़ने लगे तो हमें इस प्रक्रिया को रोकना होगा। सभी को सावधानी बरतने की जरूरत है। लॉकडाउन मजबूरी में लगाया जाता है। हम इसे थोपना नहीं चाहते।
इस बीच उन्होंने दिल्ली के नागरिकों से यह भी अपील की कि जब तक जरूरत न हो, तब तक घर से बाहर न निकलें। हम सभी को जिम्मेदारी से व्यवहार करना होगा।

No comments:

Post a Comment