/>

Breaking

Monday, May 3, 2021

7 दिन के लॉकडाउन के बाद बंद की गई रोडवेज और प्राइवेट बसें, इमरजेंसी हो तो सफर करें, वरना घर ही रहें

7 दिन के लॉकडाउन के बाद बंद की गई रोडवेज और प्राइवेट बसें, इमरजेंसी हो तो सफर करें, वरना घर ही रहें

चंडीगढ : 7 दिन के लॉकडाउन के बाद बंद की गई रोडवेज और प्राइवेट बसें, अपील- इमरजेंसी हो तो सफर करें, वरना घर ही रहे

अगर सवारियां ज्यादा होती हैं और बस स्टैंड इंचार्ज कहेंगे, तभी एक-दो बस चलेगी।
*हरियाणा में सोमवार सुबह 5 बजे से 10 मई सुबह 5 बजे तक रहेगाा*

हरियाणा सरकार ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए सोमवार सुबह एक और बड़ा फैसला लिया। रविवार को प्रदेश में लॉकडाउन की अवधि बढ़ाते हुए 7 दिन के पूर्ण बंद का ऐलान किया गया था। सोमवार को मनोहर सरकार ने रोडवेज और प्राइवेट बसें भी बंद कर दी हैं।

सरकार के अगले आदेशों तक सड़कों पर बसें नहीं दौड़ेंगी। अगर सवारियां ज्यादा होती हैं और बस स्टैंड इंचार्ज कहेंगे, तभी एक-दो बस चलेगी। अन्यथा बसें बंद रहेंगी, इसलिए सरकार ने लोगों से अपील की है तो इमरजेंसी हो तो ही सफर करें। वरना घर पर रहकर लॉकडाउन में सहयोग करें।
बता दें कि हरियाणा में सोमवार सुबह 5 बजे से 10 मई सुबह 5 बजे तक रहेगा। राशन, दूध, सब्जी, कैमिस्ट शॉप आदि खुली रहेंगी। वैक्सीनेशन सेंटर चालू रहेंगे। कृषि विभाग ने मंडियों को भी इस अवधि में बंद करने का फैसला लिया है। जिसके चलते इस दौरान मंडियों में गेहूं की खरीद नहीं होगी।

सभी धार्मिक स्थल बंद रहेंगे। सरकार ने सभी जिला मजिस्ट्रेटों को यह पाबंदियां सख्ती से लागू करने के निर्देश दिए गए हैं। जो लोग पालना नहीं करेंगे उनके चालान काटे जाएंगे। जरूरी आवाजाही के लिए इंसीडेंट कमांडर पास जारी करेंगे। सरल हरियाणा के पोर्टल से ऑनलाइन पास ले सकते हैं।

No comments:

Post a Comment