/>

Breaking

Tuesday, June 29, 2021

14 माह बाद 1 जुलाई से सड़कों पर उतरेंगी रोडवेज की वोल्वो, अभी 1850 बसें ऑनरूट

ऑनलाइन बुकिंग:14 माह बाद 1 जुलाई से सड़कों पर उतरेंगी रोडवेज की वोल्वो, अभी 1850 बसें ऑनरूट
चंडीगढ : हरियाणा राेडवेज अब अपने पूरे बेड़े को सड़क पर उतारने की तैयारी कर रहा है। हरियाणा राज्य परिवहन ने सभी रोडवेज डिपो के जीएम को निर्देश दिए हैं कि वे अधिक से अधिक बसों को चलाएं, लेकिन यह भी ध्यान रखें कि बसें खाली भी न चलें।
फिलहाल रोडवेज की बसें पंजाब, यूपी, राजस्थान और नई दिल्ली जा रही हैं। रोडवेज के बेड़े में करीब 3500 बसें हैं। इनमें से करीब 1850 बसों का संचालन हो रहा है। यदि 50 फीसदी सवारी मिल गई तो ही वोल्वो बसें चलाई जाएंगी। टोटल वोल्वो बसें करीब 50 हैं, इनमें 18 नई खरीदी हैं, जबकि 32 पहले से हैं। वोल्वो बसें कोरोना काल में पूरी तरह से बंद रही। अब 14 महीने बाद 1 जुलाई से सड़कों पर उतरेंगी। विभाग ने पहले गुड़गांव-नई दिल्ली-चंडीगढ़ के बीच वोल्वो चलाने का निर्णय लिया है।
इन बसों की बुकिंग ऑनलाइन होगी, जितनी भी बसों की बुकिंग होगी, उतनी ही चलाई जाएंगी। रोडवेज महानिदेशक वीएस दहिया ने बताया कि 1 से 27 जून तक बसों की बुकिंग ऑफलाइन की गई है। इस अवधि में 50,46,948 यात्रियों ने सफर किया है। बसों में बिना टैक्स के 36,45,39,855 रुपए की टिकटें कटी हैं।
*पड़ोसी राज्यों में बढ़ी बसों की आवाजाही*

हरियाणा व आसपास के राज्यों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए रोडवेज ने बसों की संख्या बढ़ाई है। अब उत्तर प्रदेश में रोजाना करीब 85 बसें, राजस्थान में 166 बसें, दिल्ली में 207 बसें, पंजाब में 129 बसें जा रही हैं। जबकि हिमाचल और उत्तराखंड में बसों का संचालन एक जुलाई से आधी क्षमता के साथ शुरू होना है। 27 जून तक प्रदेश में 1853 बसें औसतन रोजाना चल रही हैं। कई बार यह आंकड़ा थोड़ा बढ़ा भी है।

No comments:

Post a Comment