/>

Breaking

Tuesday, June 8, 2021

ब्लैक फंगस से बचाव के इंजेक्शन के नाम पर ऑनलाइन ठगी

ब्लैक फंगस से बचाव के इंजेक्शन के नाम पर ऑनलाइन ठगी

कोरोना संक्रमण के चलते हुए ब्लैक फंगस से बचाव के इंजेक्शन की एवज् में अटेली के एक व्यक्ति से करीब 62470 रुपये की ऑनलाइन ठगी कर ली गई। पीड़ित के पुत्र द्वारा शिकायत देने पर अटेली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। जानकारी के मुताबिक गत तीन मई को राजेश गर्ग के छोटे भाई की 36 वर्षीय पत्नी पार्षद सुनीता देवी की कोरोना से असामयिक मौत हो गई थी। उसके बाद पार्षद के परिवार में दूसरे लोग संक्रमित हो गए थे। मृतका के जेठ राजेश कुमार गर्ग भी कोरोना से संक्रमित हो गए थे और वह मेदांता अस्पताल गुरुग्राम में उपचाराधीन रहे थे। प्राथमिकी दर्ज करवाने वाले पीड़ित के पुत्र मुकुल गर्ग ने दर्ज शिकायत में बताया कि पिता राजेश गर्ग ब्लैक फंगस से पीड़ित होने के बाद गुरुग्राम अस्पताल में भर्ती थे। उनके उपचार में हमें एक ऐसे इंजेक्शन की आवश्यकता थी, जो ब्लैक फंगस रोग उपचार में काम आता है। यह इंजेक्शन अस्पताल में उपलब्ध न होने पर हमने हर जगह तलाश की। हम परिवार के लोग घर मेें एक मौत तथा दूसरे सदस्य संक्रमित होने के बाद ज्यादा परेशान थे। इसलिए बहुत ज्यादा इंक्वारी नहीं कर सके। बस दिल में एक ही इच्छा थी कि किसी तरह इनको बचाया जा सके। इंजेक्शन के लिए हरियाणा सरकार के लिए भी फॉर्म जमा कर दिया था, लेकिन फिर सोशल मीडिया का सहारा लेते हुए टीका मांगने के लिए एक ट्वीट पोस्ट किया।

पीड़ित के पुत्र मुकुल गर्ग ने बताया कि ट्वीट करने पर किसी ने हमसे हमारे मोबाइल नंबर मांगे। मोबाइल नंबर देने पर एक फोन आया और उन्होंने खुद को फोर्टिस अस्पताल गुरुग्राम के पास राधे मेडिकॉज से बोल रहा है। उनका कहना था कि उनके पास इंजेक्शन है, लेकिन एडवांस पेमेंट करनी होगी। उन्होंने एक बैंक खाता नंबर दिया और उसमें हमने 62470 रुपये गूगल फोन एप से भेज दिए। उन्होंने बताया कि रुपये खाते में भेजने उपरांत अब उनका फोन लगातार बंद आ रहा है। उन्होंने बताया कि रुपये भेजने से पहले उन्होंने हमें इंजेक्शन की फोटो दिखाई थी, लेकिन अब न तो इंजेक्शन मिला है और न ही रुपये मिल रहे हैं। पुलिस ने मुकुल गर्ग की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए अज्ञात आरोपित के विरुद्ध मामला दर्ज कर लिया है तथा मोबाइल नंबरों एवं बैंक खाता के आधार पर उसकी तलाश शुरू कर दी गई है

No comments:

Post a Comment