/>

Breaking

Friday, July 9, 2021

किसान आंदोलन के दौरान रेप का मामला

किसान आंदोलन के दौरान रेप का मामला:टीकरी बॉर्डर पर रेप करने वाले दो आरोपियों पर 25-25 हजार का इनाम घोषित; पुलिस दो महीने में नहीं पकड़ सकी
बहादुरगढ़ : टीकरी बॉर्डर पर किसान आंदोलन में शामिल होने आई पश्चिमी बंगाल की एक युवती के साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम देने के बाद से फरार चल रहे दो आरोपियों पर झज्जर पुलिस ने 25-25 हजार रुपए का इनाम रखा है। इस मामले में आरोपी अनूप चिनौत और अंकुर सांगवान वारदात के बाद से ही फरार चल रहे हैं। दोनों की गिरफ्तारी को लेकर बहादुरगढ़ डीएसपी के नेतृत्व में गठित एसआईटी की टीम लगातार छापेमारी कर रही है। हालांकि अभी एसआईटी को कोई बड़ी कामयाबी नहीं मिल पाई है।
एसपी राजेश दुग्गल ने बताया कि 9 मई 2021 को टिकरी बार्डर पर चल रहे किसान आंदोलन क्षेत्र के एरिया में आंदोलन के समर्थन में पश्चिम बंगाल से आई एक लड़की के साथ छेड़खानी व दुष्कर्म की वारदात हुई थी। पुलिस ने बताया कि 11 अप्रैल 2021 को पीड़िता पांच व्यक्तियों अनिल मलिक, जगदीश बराड़, अंकुर सांगवान, अनूप चिनौत व एक महिला के साथ वेस्ट बंगाल से चली थी। पीड़िता के पिता ने एसआईटी को बताया था कि उसकी लड़की अनूप चिनौत व अनिल मलिक के साथ उनके टेंट में रही थी, जहां पर उसके साथ वारदात हुई।
पीड़िता के पिता की शिकायत पर थाना शहर बहादुरगढ़ में आरोपियों के खिलाफ 120B, 365, 354, 376D, 342 और 506 में केस दर्ज है। पुलिस मामले में तीन आरोपियों अनिल मलिक निवासी नौरंगाबाद जाटान हाल पोचनपुर दिल्ली, अनूप निवासी गांव चिनौत जिला हिसार तथा अंकुर निवासी गांव मंदोला जिला चरखी दादरी को पकड़ने के लिए एसआईटी लगातार दबिश दे रही है। इस वारदात में शामिल दो आरोपी अनूप चिनौत व अंकुर सांगवान की अग्रिम जमानत याचिकाएं भी खारिज हो चुकी है। अब दोनों पर पुलिस ने 25-25 हजार का इनाम रखा है।

No comments:

Post a Comment