/>

Breaking

Wednesday, July 22, 2020

अब नड्डा की टीम पर हरियाणा भाजपा की नजर, अभिमन्‍यु व भाटिया को मिल सकती जिम्‍मेदारी

अब नड्डा की टीम पर हरियाणा भाजपा की नजर अभिमन्‍यु व भाटिया को मिल सकती जिम्‍मेदारी



चंडीगढ़। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष पद पर पूर्व कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ की नियुक्ति के बाद अब पार्टी के प्रदेश नेताओं की नजर राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की टीम पर है। खासतौर पर उन नेताओं को तो नड्डा की टीम में ही शामिल होने की आस बंधी है जो प्रदेशाध्यक्ष पद की दौड़ में शुरू से आखिर तक रहे। हिमाचल प्रदेश को छोड़कर लगभग सभी प्रदेशों में नए अध्यक्षों की नियुक्ति के बाद भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को राष्ट्रीय टीम का गठन करना है। इस टीम में हरियाणा से आमतौर पर दो नेताओं को पदाधिकारी बनाया जाता है। कयास लगाए जा रहेे हैं कि प्रदेश भाजपा अध्‍यक्ष दौड़ में चूक गए क‍ैप्‍टन अभिमन्‍यु को नड्डा की टीम में बड़ी जिम्‍मेदारी मिल सकती है।

प्रदेश भाजपा प्रभारी और संगठन मंत्री के पदों पर तय माना जा रहा है बदलाव

पूर्व में अमित शाह की टीम में सुधा यादव राष्ट्रीय सचिव और कैप्टन अभिमन्यु पंजाब प्रांत के सहप्रभारी के रूप में काम देख रहे थे। अब सुधा यादव क्योंकि पिछड़ा वर्ग आयोग की सदस्य बन गई हैं इसलिए यह भी देखना होगा कि पार्टी उन्हेंं राष्ट्रीय टीम में जिम्मेदारी देती है या नहीं। यह तय माना जा रहा है कि कैप्टन अभिमन्यु को नड्डा की टीम में बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है। इसके अलावा मुख्यमंत्री मनोहर लाल की कोर टीम के महत्वपूर्ण सदस्य करनाल लोकसभा के सांसद संजय भाटिया को प्रदेश से केंद्र में भेजा जा सकता है।

कैप्टन का कद बढ़ेगा

इसका कारण यह भी बताया जा रहा है कि यदि हरियाणा के नेताओं का विरोध नहीं होता तो दिल्ली में पार्टी नेता तो कैप्टन अभिमन्यु को ही प्रदेशाध्यक्ष बनाना चाहते थे। इसलिए अब कैप्टन अभिमन्यु को राष्ट्रीय महासचिव सहित पंजाब,राजस्थान या उत्तर प्रदेश में किसी एक प्रदेश के प्रभारी की जिम्मेदारी मिल सकती है। 

सरकार के अनुकूल चाहिए प्रभारी व संगठन मंत्री


निवर्तमान प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला, प्रदेश संगठन मंत्री सुरेश भट्ट और मुख्यमंत्री मनोहर लाल में आपसी तालमेल काफी अधिक रहा। मौजूदा प्रदेश प्रभारी डॉ. अनिल जैन इस तालमेल के बीच ही अपना राजनीतिक कौशल दिखाते रहे थे। अब नए प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ चूंकि पार्टी कॉडर के मजबूत नेता हैं इसलिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल की तो यही इच्छा रहेगी कि नए प्रभारी व संगठन मंत्री भी उनके अनुकूल आएं।

No comments:

Post a Comment