/>

Breaking

Tuesday, July 21, 2020

सिरसा के चौटाला गांव में 35 राउंड फायरिंग, दो शराब ठेकेदारों को उतारा मौत के घाट

सिरसा के चौटाला गांव में 35 राउंड फायरिंग दो शराब ठेकेदारों को उतारा मौत के घाट


सिरसा। चौटाला गांव में देर रात दो शराब ठेकेदारों को गोलियों से भून डाला गया। मृतकों की शिनाख्त भारूखेड़ा निवासी मुकेश गोदारा व चौटाला निवासी प्रकाश पूनिया के रूप में हुई है। संगरिया बॉर्डर पर आछी ढाणी के नजदीक शराब ठेका है। दोनों ठेकेदार वहीं बैठे थे। देर रात पांच-छह लोग बाइक से आए और फायरिंग शुरू कर दी। दोनों को गोलियों से छलनी कर वे फरार हो गए। ठेकेदारों के साथी उन्हें सिरसा के सिविल अस्पताल ले गए,वहां डॉक्टर ने मृत करार दिया। पुलिस के अनुसार मौके पर 35 राउंड गोलियां चली हैं। सूचना पाकर डीएसपी कुलदीप सिंह बेनीवाल मौका पर पहुंचें।

पांच से छह लोगों ने हमला किया


संगरिया बॉर्डर पर स्थित आछी ढाणी के नजदीक शराब ठेका है। दोनों ठेकेदार वहीं बैठे हुए थे। इसी बीच 5-6 लोग बाइक पर सवार होकर आए। आते ही फायरिंग शुरू कर दी। दोनों को गोलियों से छलनी करने के बाद फरार हो गए। ठेकेदारों के साथी दोनों को उपचार के लिए सिरसा के सामान्य अस्पताल में ले गए थे,डॉक्टर ने दोनों को मृत करार दिया। पुलिस के अनुसार मौके पर 35 राउंड गोलियां चली हैं। 

फिर डबल मर्डर के छींटे


चौटाला में डबल मर्डर की कहानी नई नहीं है। हत्या का जैसा ढंग सोमवार को अपनाया गया। ठीक वैसा ही 11 जनवरी 2017 को पीके गोदारा के किन्नू प्लांट पर अपनाया गया था। उस वक्त हुई फायरिंग में चौटाला निवासी अमित सहारण उर्फ घन्ना तथा सतबीर पूनिया की हत्या हुई थी।

दोहरे हत्याकांड में शामिल था प्रकाश पूनियां


बताया जाता है कि प्रकाश पूनियां 6 वर्ष पूर्व 2014 में संगरिया में हुए दोहरे हत्याकांड में शामिल था। छात्र संघ चुनाव के दौरान उसने अपने साथियों के साथ मिलकर अँधाधुंन्ध फायरिंग करके डबवाली के गांव सक्ताखेड़ा निवासी अमनदीप उर्फ सोनू बिश्नोई तथा जंडवाला बिश्नोईयां निवासी संदीप बिश्नोई उर्फ पेट्रोल की हत्या कर दी थी।

संगरिया बॉर्डर पर शराब ठेके पर बैठे प्रकाश पूनिया तथा मुकेश गोदारा पर करीब 35 राउंड गोलियां चली गई। गोली लगने से दोनों की मौत हो गई। पुलिस मामले की जांच कर रही है। गोली चलाने वालों का पता नहीं चल पाया है। -डीएसपी कुलदीप बैनीवाल, डबवाली

No comments:

Post a Comment