/>

Breaking

Friday, September 18, 2020

हनीट्रैप में फंसा सेनाकर्मी:पाकिस्तान सैन्य खुफिया इकाई की महिला कर्मचारी को जानकारियां भेज रहा था, गुड़गांव एसटीएफ ने पकड़ा

हनीट्रैप में फंसा सेनाकर्मी:पाकिस्तान सैन्य खुफिया इकाई की महिला कर्मचारी को जानकारियां भेज रहा था, गुड़गांव एसटीएफ ने पकड़ा

रेवाड़ी : जयपुर में मिलिट्री इंजीनियरिंग सर्विस (एमईएस) में तैनात रेवाड़ी जिले का एक सैन्यकर्मी पिछले ढाई साल से हनीट्रैप में फंसकर पाकिस्तान सैन्य खुफिया इकाई की महिला कर्मचारी को जानकारियां भेज रहा था। मिलिट्री की इंटेलिजेंस की तरफ से लगातार की जा रही जांच के बाद बुधवार रात आरोपी जवान को इंटेलिजेंस एवं गुड़गांव स्पेशल टास्क फोर्स की टीम ने धारूहेड़ा बस स्टैंड से जयपुर जाते समय पकड़ लिया।
आरोपी से लगातार पूछताछ की जा रही है। आरोपी जवान महेश कुमार रेवाड़ी के जाटूसाना थाना क्षेत्र के गांव दखौरा का रहने वाला है। 26 वर्षीय महेश कुमार ढाई साल से सोशल मीडिया के जरिए पाकिस्तानी सैन्य खुफिया इकाई की एक महिला कर्मचारी के संपर्क में था। आरोपी जयपुर एमईएस में सफाईकर्मी के पद पर कार्यरत है और इस दौरान महिला को वह खुफिया जानकारियां भेज रहा था। वह एक सप्ताह पहले 7 दिन के लिए अवकाश पर घर आया था और बुधवार रात वापस जयपुर जाने के लिए धारूहेड़ा बस स्टैंड पहुंचा था।
हरलीन को भेजी थी रिक्वेस्ट, खातों में पाक से पैसा भी आया
जांच में सामने आया है कि आरोपी ने 2018 में हरलीन गिल नाम की महिला को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी थी। महिला के संपर्क में आने के बाद उसने खुद को लेखा नियंत्रक कार्यालय जालंधर में तैनात बताया। उसने जयपुर स्थित आर्मी ब्रिगेड का ओआरबीएटी, जयपुर के वरिष्ठ अधिकारियों का विवरण, पीसीडीए जयपुर का स्थान, एमईएस शिकायत रिकॉर्ड का विवरण, जयपुर राजघराने सहित एमईएस के कर्मचारियों की जानकारी भेजना स्वीकार किया है। आरोपी के खातों में पाक से पैसा भी आया।

No comments:

Post a Comment