/>

Breaking

Friday, September 18, 2020

बैठक:किसान फसल अवशेष प्रबंधन करके बढ़ाएं आय के साधन :डीसी सुजान सिंह

बैठक:किसान फसल अवशेष प्रबंधन करके बढ़ाएं आय के साधन :डीसी सुजान सिंह

डीसी सुजान सिंह ने फसल अवशेष प्रबंधन पर कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक कर जायजा लिया। कहा कि फसल अवशेष प्रबंधन के तहत जागरुकता अभियान जोरों पर चल रहा है। सरकार द्वारा फसल अवशेष प्रबंधन के तहत सीएससी व व्यक्तिगत तौर पर कृषि यंत्रों को उपलब्ध करवाया गया है। अबकी बार प्रशासन ने अवशेषों पर आग लगाने वालों की निगरानी के लिए कमेटियां गठित की गई हैं, जो धान कटाई के दौरान क्षेत्रों का दौरा करेंगे। अगर कोई व्यक्ति फानों में आग लगाने की प्रक्रिया में शामिल मिलता है तो उसके खिलाफ आवश्यक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

डीसी सुजान सिंह ने कृषि विभाग के उपनिदेशक को निर्देश दिए कि वे संबंधित विभागों के साथ जाइंट बैठक करवाना सुनिश्चित करें, ताकि सभी अधिकारियों को इस कार्य के लिए अपडेट व चुस्त रखा जा सके। जिला में कोई भी किसान बचे हुए अवशेषों को जलाएं नहीं, बल्कि फसल अवशेष प्रबंधन करके उसे अपनी आय का जरिया बनाए। इस कार्य में जिला के किसान भी अपना सकारात्मक सहयोग दें।

पंचायत भवन में कैथल खंड के किसानों को किया जागरूक

सुजान के निर्देशानुसार प्रत्येक खंड में फसल अवशेष प्रबंधन हेतू किसानों को जागरूक किया जा रहा है, जिसके तहत पंचायत भवन में कैथल खंड के किसानों को जागरूक करने के लिए खंड स्तरीय जागरुकता अभियान कार्यक्रम किया गया। मौके पर जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी जसविंद्र सिंह, उपकृषि निदेशक डॉ. कर्मचंद ने किसानों को जागरूक करते हुए कहा कि प्रशासन के पास फसल अवशेष प्रबंधन हेतू व्यापक स्तर पर कृषि यंत्र उपलब्ध है। जिला के किसान बचे हुए अवशेषों को जलाने की बजाए उसका उचित प्रबंधन करें। मौके पर नायब तहसीलदार ईश्वर सिंह, सतीश नारा आदि मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment