/>

Breaking

Tuesday, October 6, 2020

जिला प्रशासन अलर्ट मोड पर:किसान करेंगे घेराव: उप मुख्यमंत्री और बिजली मंत्री के आवासों से 100 मीटर दूर बनेगा सुरक्षा चक्र

जिला प्रशासन अलर्ट मोड पर:किसान करेंगे घेराव: उप मुख्यमंत्री और बिजली मंत्री के आवासों से 100 मीटर दूर बनेगा सुरक्षा चक्र

सिरसा : केंद्र सरकार की ओर से हाल ही में पास किए गए तीन कृषि बिलों के विरोध में आज प्रदेशभर के किसान संगठन डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला और बिजली मंत्री रणजीत सिंह के आवास का घेराव करके बीजेपी से समर्थन वापस लेने की मांग करेंगे। किसानों के प्रदेशस्तरीय घेराव को लेकर जिला प्रशासन अलर्ट मोड पर है।
सुरक्षा को लेकर तमाम प्रबंध सोमवार को ही पूरे कर लिए गए हैं। हिसार रेंज के आईजी संजय सिंह ने सिरसा पहुंचकर सुरक्षा संबंधी प्रबंधों की समीक्षा की। डीसी एसपी ने उनके समक्ष पूरी रणनीति के बारे में जिक्र करते हुए प्रबंधों की जानकारी दी। किसानों को कोठी तक नहीं पहुंचने देने के लिए स्पेशल प्रबंध किए गए हैं।
प्रशासन की रणनीति मुताबिक किसानों को डिप्टी सीएम और बिजली मंत्री की कोठी से 100 मीटर दूर ही रोका जाएगा। इसके लिए मुख्य केंद्र बरनाला रोड स्थित बाबा भूमणशाह चौक को बनाया गया है। सुरक्षा के लिए डीसी ने 16 ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किए हैं। इनकी निगरानी में 2 हजार से अधिक पुलिस कर्मी सुरक्षा का जिम्मा संभालेंगे। जिनमें 10 डीएसपी और 28 इंस्पेक्टर भी तैनात रहेंगे। किसानों को हर हालत में बाबा भूमणशाह चौेक से आगे नहीं जाने देने के लिए पुख्ता प्रबंध किए गए हैं।

10 रोडवेज बसें, एम्बुलेंस रहेगी अलर्ट मोड पर

डीसी की ओर से इमरजेंसी सेवा के 10 रोडवेज बस, क्रेन, फायर बिग्रेड और एंबुलेंस बाबा भूमणशाह चौक के आसपास तैनात रखने के आदेश दिए हैं। यहीं पर पुलिस की ओर से वाटर कैनन, वज्र वाहन सहित दंगा नियंत्रण करने वाले उपकरण मौजूद रहेंगे। डिप्टी सीएम और बिजली मंत्री की कोठी के दोनों तरफ पुलिस की घेराबंदी रहेगी। इस रोड का ट्रैफिक बंद रहेगा। इस रूट को डायवर्ट कर दिया जाएगा।

पंजाबी और हरियाणवी कलाकर भी आएंगे

किसान नेता भारूखेड़ा ने बताया कि प्रदेशभर से किसान संगठनों के नेता और किसान हजारों की संख्या में सिरसा में जुटेंगे। इनके साथ साथ पंजाबी कलाकर हरभजन मान, दीप सिंह सहित अन्य हरियाणवी कलाकर भी समर्थन में आ रहे हैं। भारूखेड़ा ने बताया कि व्यवस्था बनी रहे। इसके लिए स्पेशल वालिंटीयर तैयार किए गए हैं। वहीं किसानों के लिए गुरुद्वारा से लंगर व्यवस्था का भी प्रबंध किया गया है।

डिप्टी सीएम व बिजली मंत्री आवास में नहीं होंगे

भले ही किसान डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला और बिजली मंत्री रणजीत सिंह की कोठी का घेराव करने आ रहे हैं, मगर उन्हें यहां कोई नेता नहीं मिलेगा। प्रशासन का कहना है कि अगर ज्ञापन सौंपना है तो किसानों का एक प्रतिनिधि मंडल आकर ज्ञापन सौंप सकता है। यहां बता दें डिप्टी सीएम और बिजली मंत्री दोनों चंडीगढ रहेंगे। अजय चौटाला भी यहां नहीं है।
17 किसान संगठनों के पदाधिकारियों ने मीटिंग में लिया हिस्सा, सुबह दशहरा ग्राउंड में होंगे एकत्रित
केंद्र सरकार द्वारा पारित तीन कृषि अध्यादेशों के विरोध में मंगलवार को उपमुख्यमंत्री एवं बिजली मंत्री के घेराव कार्यक्रम को लेकर स्थानीय दशहरा ग्राउंड में सोमवार की सुबह एक बैठक हुई, जिसमें किसान यूनियनों के पदाधिकारियों ने भाग लिया। बैठक में घेराव कार्यक्रम को लेकर रणनीति तैयार की गई और वालंटियरों की ड्यूटियां लगाई गई।
हरियाणा किसान मंच के प्रदेशाध्यक्ष प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा ने बताया कि देशभर में किसान आज केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ सड़कों पर आ चुका है। उन्होंने बताया कि केंद्र के तीन कृषि अध्यादेशों के खिलाफ 17 किसान संगठनों द्वारा सिरसा में 6 अक्तूबर को प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला व बिजली मंत्री रणजीत सिंह के आवास का घेराव किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस प्रदर्शन में पंजाबी गायक दीप संधू, हरभजन मान सहित दो दर्जन हस्तियां भी किसानों के समर्थन में पहुंच रही हैं। कार्यक्रम को लेकर युवा किसानों में भारी उत्साह है।

बाबा भूमण शाह चौक से रूट होगा डायवर्ट : एसपी

एसपी भूपेंद्र सिंह ने बताया कि सुरक्षा के लिहाज से पुख्ता प्रबंध कर लिए गए हैं। इस घेराव से शहर की बाकी गतिविधियों पर कोई रोक नहीं है। केवल बाबा भूमणशाह चौक से रूट डायवर्ट होगा। बाकी सारे बाजार खुले रहेंगे। प्रदर्शन में भाग लेने वाले लोग बाइपास से दशहरा ग्राउंड में एंट्री करेंगे। सभी चौक पर पुलिस तैनात रहेगी।

No comments:

Post a Comment