/>

Breaking

Thursday, November 12, 2020

बीएसएफ जवान को नम आंखों से दी विदाई, शहीद की अंतिम यात्रा में जुटे हजारों युवा

बीएसएफ जवान को नम आंखों से दी विदाई, शहीद की अंतिम यात्रा में जुटे हजारों युवा








भिवानी : दार्जलिंग में शहीद हुए बीएसएफ के जवान पवन कुमार को बुधवार को उनके पैतृक गांव दिनोद में सैनिक सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी और उनको सुपुर्द-ए- खाक किया गया। जिला प्रशासन की तरफ से उपमंडल अधिकारी ना.महेश कुमार व उप पुलिस अधीक्षक सदर वीरेंद्र सिंह ने शहीद के पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र अर्पित कर अपनी श्रद्धांजलि दी।


भिवानी-महेंद्रगढ़ लोकसभा क्षेत्र से सांसद धर्मबीर सिंह भी दिनोद पहुंचे और शहीद पवन कुमार को नमन किया। इससे पहले बीएसएफ वाहन में तिरंगे में लिपटे शहीद पवन कुमार के पार्थिव शरीर को गांव के चारों तरफ घुमाया गया। गांव दिनोद निवासी बलवान सिंह के पुत्र बीएसएफ जवान पवन कुमार दार्जलिंग में तैनात थे। तैनाती के दौरान ही उन्होंने देश के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर दिए।

बुधवार को बीएसएफ के वाहन में शहीद पवन कुमार का पार्थिव शरीर सुबह करीब नौ बजे भिवानी शहर में पहुंचा। यहां से हजारों युवाओं के काफिले के साथ उनको गांव दिनोद ले जाया गया। शहीद पवन अमर रहे, जब तक सूरज-चांद रहेगा, पवन तेरा नाम रहेगा आदि गगनभेदी नारों के साथ बीएसएफ का वाहन गांव दिनोद में पहुंचा।

गांव में प्रवेश करने के साथ ही पवन कुमार के पार्थिव शरीर पर ग्रामीणों ने फूलों की बरसात कर उनको नमन किया। इसके बाद बीएसएसफ की गाड़ी को गांव के चारों तरफ घुमाया गया।

इस दौरान भी हजारों युवाओं ने पवन कुमार की शहादत को नमन किया। पवन को नमन करने वालों की भीड़ इतनी अधिक थी कि गांव के चारों तरफ से घर तक पहुंचने में एक घंटा से भी ज्यादा समय लगा। गलियों में सैंकड़ों महिलाओं, बच्चों व नौजवानों ने पवन कुमार पर अपने श्रद्धासुमन अर्पित किए। बीएसएफ वाहन के आगे-आगे युवाओं की गाड़ी चल रही थी, जिस पर बंदेमातरम, मेरा रंग दे बसंती चौला और संदेश आते हैं आदि देशभक्ति गीत चल रहे थे। हर बच्चे, बूढ़े और जवान में देशभक्ति की भावना देखते ही बन रही है। गांव के चारों तरफ घूमने के पश्चात पवन कुमार के पार्थिव शरीर को उनके घर पर ले जाया गया।

गांव दिनोद से कोहाड़ जाने वाले सडक़ मार्ग पर तालाब के पास पवन कुमार के पार्थिव शरीर को सुपुर्द-ए-खाक किया गया। दिल्ली से छावला कैंप से आई बीएसएफ की टुकड़ी ने शहीद पवन कुमार को अपने शस्त्र झुकाकर व हवा में गोली दागकर गार्ड ऑफ ऑनर दिया।

इस दौरान पूर्व विधायक शशि रंजन परमार, जिला सैनिक बोर्ड से कल्याण अधिकारी महेंद्र सिंह, गांव के सरपंच राजपाल सिंह, जिला पार्षद मनोज यादव, पूर्व सरपंच सतबीर सिंह, हरि सिंह सांगवान, दिलबाग सिंह नीमड़ी, युवा कल्याण संगठन के संरक्षक कमल प्रधान, पूर्व सरपंच विनोद कुमार, सूबेदार अतर सिंह, मन्नू नंबरदार, एडवोकेट राजेश जांगड़ा सहित अनेक गणमान्य नागरिकों ने पवन कुमार को अंतिम श्रद्धांजलि दी।



 

No comments:

Post a Comment