/>

Breaking

Tuesday, November 17, 2020

किसानों की समस्या:शुभारंभ होने के बाद 7 दिन में महज 12 घंटे ही चल पाई शुगर मिल, किसान हुए परेशान

किसानों की समस्या:शुभारंभ होने के बाद 7 दिन में महज 12 घंटे ही चल पाई शुगर मिल, किसान हुए परेशान

जींद : शुगर मिल गन्ना पेराई सत्र की शुरुआत में ही जवाब दे गया है। 7 दिन पहले शुगर मिल में गन्ना पेराई का शुभारंभ हुआ था। इसके बाद महज 12 घंटे ही शुगर मिल में गन्ना पेराई का काम हो सका। अब पिछले कई दिनों से शुगर मिल में गन्ना पेराई का कार्य बंद पड़ा है।
शुगर मिल अधिकारियों द्वारा रोजाना किसानों को आश्वासन दिया जाता है कि आज मिल में गन्ना पेराई शुरू जाएगी लेकिन ऐसा हो नहीं पा रहा। अनेक किसान शुगर मिल में गन्ना लेकर फंसे हुए हैं और उन्हें दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इससे किसान गन्ना डालकर खेत में गेहूं की बिजाई करने से भी वंचित हो गए हैं।
समस्या को लेकर सोमवार को अनेक किसान डीसी डाॅ. आदित्य दहिया से मिलने जींद पहुंचे। किसानों का कहना था कि कई दिन बीत जाने के बाद मिल की तकनीकी दिक्कत दूर नहीं हो पाई है। इससे वे काफी परेशान हैं।
10 नवंबर को शुगर मिल में गन्ना पेराई का सत्र शुरू हुआ था। शुभारंभ होने के कुछ घंटे बाद ही आई तकनीकी दिक्कत के बाद गन्ना पेराई का काम बंद हो गया था। शुगर मिल प्रबंधन का कहना है कि टरबाइन में आई दिक्कत के कारण गन्ना पेराई का काम बंद हुआ है। इसको ठीक करने के लिए इंजीनियर लगे हुए हैं लेकिन कई दिन बीत जाने के बाद तकनीकी दिक्कत दूर नहीं हो पाई है।

*सवाल... पहले क्यों नहीं हुआ मेंटेनेंस वर्क*

गन्ना पेराई सत्र के शुभारंभ होते ही टरबाइन में आई दिक्कत से साफ है कि शुगर मिल प्रबंधन पेराई सत्र शुरू होने से पहले मेंटेनेंस वर्क किया ही नहीं। यदि शुगर मिल प्रबंधन समय रहते मेंटेनेंस वर्क करता तो इतने लंबे समय तक पेराई सत्र के शुरू होने के बाद शुगर मिल बंद नहीं रहती।

*टरबाइन काे ठीक करने के लिए लगे हैं इंजीनियर*

टरबाइन में तकनीकी दिक्कत आई हुई है। इसको ठीक करने के लिए इंजीनियर लगे हुए हैं। उम्मीद है कि देर रात तक आई दिक्कत दूर हो जाएगी और उसके बाद मिल में गन्ना पेराई का काम सुचारू रूप से शुरू हो जाएगा।
राजेश खोथ, एमडी शुगर मिल जींद।

No comments:

Post a Comment