/>

Breaking

Friday, April 30, 2021

खट्टर-दुष्यंत सरकार का असली चेहरा इतिहास में शर्मनाक, अमानवीय और संवेदनहीन : सुरजेवाला

खट्टर-दुष्यंत सरकार का असली चेहरा इतिहास में शर्मनाक, अमानवीय और संवेदनहीन : सुरजेवाला

कहा- किस कदर तासीर बदल गई है देश व प्रदेश की जिसमें सांस धीमे व आकंड़े तेज चल रहे हैं।
बोले - भाजपा व जजपा सरकार के निक्कमेपन के कारण आज हरियाणा की जनता मौत का ग्रास बन चुकी है
कैथल : कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि आज प्रदेश में मरीजों को लेकर अस्पतालों की जो दुर्दशा है उसमें चौंकाने वाली कोई बात नहीं है क्योंकि हरियाणा में भाजपा-जजपा सरकार है तो यही मुमकिन है।
सुरजेवाला ने कहा कि गुहला-चीका का सरकारी अस्पताल सहित समस्त हरियाणा के अस्पताल राम भरोसे चल रहे हैं। चीका के अस्पताल में मात्र 2 डॉक्टर्स व 3 नर्स हैं, न आईसीयू और न वेंटिलेटर की सुविधा, न अस्पताल में सर्जन,न फिजिशियन व न स्त्री रोग विशेषज्ञ, न आई सर्जन और न ही स्किन स्पेशलिस्ट हैं। बिना तैयारी और बिना सुविधाओं के मरीज दर दर की ठोकरें खाकर मरने की कगार पर है।
उन्होंने कहा कि कोरोना काल की दूसरी लहर चली हुई है, अस्पतालों में मरीजों का कहर बरपा रहा है। खट्टर व दुष्यंत बताएं कि क्या यही कोरोना से लड़ने की तैयारी है। अगर आप जनता को बचाने में असमर्थ हैं तो अब सत्ता छोड़िए और चलने की तैयारी कीजिए।
मुख्यमंत्री खट्टर पर प्रहार करते हुए कहा कि आप न तो जीने देंगे और अगर मर भी गए तो आँकड़े भी बाहर नहीं आने देंगे। क्योंकि इससे भाजपा-जजपा सरकार की विफलता निकालकर जो सामने आती है।
उन्होंने कहा कि खट्टर साहेब। अगर यह वक्त मौत के आंकड़े बताने का नहीं तो बताइये,
◆ कि मरीजों को अस्पतालों में सम्पूर्ण ऑक्सीजन मुहैया क्यों नहीं करवाई जा रही?
◆ आखिर परिजन क्यों सरकार व प्रशासन पर विश्वास कायम नहीं कर पा रहे?
◆ आखिर कब तक हरियाणा की जनता भय व सदमे में मौत का ग्रास बनते रहेगी?
◆ शायद आपको बिलखते परिवार जनों के दर्द व तकलीफ का एहसास होता?
◆ ये एक बेरहम शासक के शब्द ही हों सकते हैं।
◆ सत्ता पर काबिज अहंकारी व नालायक हुक्मरानों को अपनी विफलता व नाकामियों को स्वीकार करना चाहिए।
◆ हर मौत, जो सरकार के निक्कमेपन का नतीजा है, पर शोर मचाने की आवश्यकता है ताकि बहरी भाजपा सरकार के कान में गूँज सुने।

No comments:

Post a Comment