Breaking

Showing posts with label Poltical News. Show all posts
Showing posts with label Poltical News. Show all posts

Monday, January 16, 2023

January 16, 2023

जींद के जुलाना BDPO कार्यालय पर लगाया ताला:सरपंचों ने की सरकार के खिलाफ नारेबाजी; 20 लाख के काम कराने की हो पावर

जींद के जुलाना BDPO कार्यालय पर लगाया ताला:सरपंचों ने की सरकार के खिलाफ नारेबाजी; 20 लाख के काम कराने की हो पावर

जींद : हरियाणा में सरंपचों के आंदोलन के ऐलान का असर सोमवार को जींद में भी दिखाई दिया। जुलाना में सरपंचों ने बीडीपीओ कार्यालय पर ताला जड़ दिया। इसके बाद प्रशासन और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। सरपंचों का कहना है कि जब तक ई-टेंडरिंग के निर्णय को वापस नहीं लिया जाता है, तब तक उनका विरोध जारी रहेगा। साथ ही धरना शुरू कर दिया गया है। वहीं जीन्द में मंगलवार को विरोध प्रदर्शन किया जाएगा।
जींद के गांव बुआना के सरपंच प्रतिनिधि सुधीर, कुलदीप सरपंच अकालगढ़, अनिल सरपंच बराड़ खेड़ा, महेंद्र सरपंच करसोला ने कहा कि उनके खिलाफ राइट टू रिकॉल की धमकी दी जाती है। मंत्री राइट टू रिकाल करवाकर दिखाएं। ई-टेंडरिंग के नाम पर सरकार द्वारा सरपंचों को परेशान किया जा रहा है। सरपंच गांव के चुने हुए प्रतिनिधि है और सरपंचों का अपमान सहन नहीं किया जाएगा।
*बीडीपीओ कार्यालय जुलाना में ताला लगाते हुए सरपंच।*

उन्होंने कहा कि ई-टेंडरिंग के नाम पर ठेकेदारों के माध्यम से धांधली के लिए एक पॉलिसी लाई गई है। सुधीर बुआना ने कहा कि जो फैसला सरकार ले रही है वो गांव के विकास के विरोध फैसला है। सरकार को चाहिए कि ये फैसला वापस ले। कम से कम 20 लाख रुपए की राशि तक के विकास कार्य गांव में बिना ई-टेडरिंग के करवाने की पावर सरपंचों को दी जाए।
*इससे बिगड़ेगा भाईचारा*

सरपंचों ने कहा कि राइट टू रिकॉल योजना से गांवों में भाईचारा समाप्त हो जाएगा। सरपंच पद को लेकर विवाद बना रहेगा। अगर सरपंच विवादों में ही उलझा रहेगा तो वह गांव का विकास कैसे करा पाएगा। ई-टेंडरिंग प्रणाली भी विकास कार्यों को तेजी से करवाने में बाधा बनेगी।
*बीडीपीओ कार्यालय में धरना देते सरपंच।*

गांव की समस्याओं के समाधान के लिए सरपंचों को तुरंत फैसला कर समस्या के समाधान के लिए काम शुरू करवाना पड़ता है। अब नियम बनाया गया है कि अगर 2 लाख से अधिक का काम होगा तो उसका टेंडर होगा। जिसमें काफी समय बर्बाद होता है।
सरपंचों व पंचों ने सरकार से मांग की कि दोनों योजनाओं को वापस लिया जाए। सरकार ने पंचायतों के विकास कार्यों के लिए ई.टेंडरिंग नियम लागू किया है, जिसके अंतर्गत यह तय किया गया है कि किसी भी गांव में अगर किसी विकास कार्य की लागत 2 लाख से अधिक है तो उसके लिए ई.टेंडर जारी किए जाएंगे। उसी के आधार पर काम किया जाएगा। सरपंचों का दावा है कि इस नियम से ग्रामीण क्षेत्रों के कामों की रफ्तार धीमी पड़ जाएगी। सरपंच ठीक ढंग से काम भी नहीं करवा पाएंगे।
January 16, 2023

'भारत जोड़ो यात्रा' में कांग्रेस सांसद संतोष सिंह चौधरी का निधन, पंजाब में यात्रा स्थगित

'भारत जोड़ो यात्रा' में कांग्रेस सांसद संतोष सिंह चौधरी का निधन, पंजाब में यात्रा स्थगित
अमृतसर : कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान एक दुखद खबर सामने आई है। जहां कांग्रेस नेता और पार्टी के सांसद संतोष सिंह चौधरी का निधन हो गया। संतोष सिंह राहुल गांधी के साथ भारत जोड़ो यात्रा में चल रहे थे।

बताया जा रहा है कि इस घटना के बाद यात्रा को फिलहाल पंजाब में रोक दिया गया है। वहीं राहुल गांधी संतोख सिंह के घर पर उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए जालंधर जाएंगे।
*यात्रा के दौरान कांग्रेस नेता को आया हार्ट अटैक*

दरअसल, यह घटना उस वक्त हुई जब शनिवार सुबह भारत जोड़ो यात्रा लुधियाना के लाडोवाल टोल प्लाजा से फगवाड़ा की तरफ जा रही थी। इस दौरान राहुल गांधी और संतोख कुछ दूरी पर चल रहे थे। इसी दौरान अचानक सुबह करीब साढ़े आठ बजे संतोख सिंह को कुछ बैचेनी हुई और वह वहीं पर बैठ गए। बताया जा रहा है कि उन्हें हार्ट अटैक आया था। आनन-फानन में उन्हें फगवाड़ा के अस्पताल लाया गया, लेकिन कुछ देर बाद ही उनकी मौत हो गई।
*खबर लगते ही मौके पर लगी कांग्रेस नेताओं की भीड़*

बता दें कि जैसे ही कांग्रेस नेताओं को इस घटना की खबर लगी तो मौके पर भीड़ लग गई। किसी तरह राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा को फिल्लौर के भटि्टयां तक ले गए। इसके बाद यात्रा को रोक दिया गया। खुद राहुल गांधी संतोख सिंह को देखने के लिए अस्पताल पहुंचे। फिलहाल अस्पताल में स्थानीय लोगों और कांग्रेस नेताओं की भीड़ लगी हुई है।
*कौन थे सांसद संतोष सिंह चौधरी...*

संतोष सिंह कांग्रेस के पंजाब में कद्दावर नेता थे। उनकी गिनती राज्य के सीनियर नेताओं में होती थी। उन्हंने 1978 में अपना राजनीतिक सफर पंजाब युवा कांग्रेस नेता के तौर पर शुरू किया था। इस दौरान वो 1978 से 1982 तक पंजाब युवा कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष रहे। 

वह जालंधर संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस के टिकट पर 2014 और 2019 में चुनाव जीते थे। फिलहाल वो जालंधर एससी सीट से कांग्रेस सांसद थे। संतोख सिंह मूल रूप से लांधरा हाउस, नूर महल रोड, फिल्‍लौर, जालंधर, पंजाब के रहने वाले थे।
*सीएम भगवंत मान से लेकर राहुल गांधी ने यूं जताया दुख*

संतोख सिंह के निधन पर राहुल गांधी समेत तमाम कांग्रेस नेताओं ने ट्वीट करते हुए शोक जताया है। राहुल ने ट्वीट करते हुए लिखा-श्री संतोख सिंह चौधरी जी के अकस्मात निधन से स्तब्ध हूं। वो ज़मीन से जुड़े परिश्रमी नेता, एक नेक इंसान और कांग्रेस परिवार के मज़बूत स्तम्भ थे, जिन्होंने युवा कांग्रेस से सांसद तक अपना जीवन जनसेवा को समर्पित किया। 

वहीं पंजाब के सीएम भगवात मान ने लिखा- जालंधर से कांग्रेस के सांसद संतो ख सिंह चौधरी के असामयिक निधन से मुझे गहरा दुख हुआ है. भगवान उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें।
लाल घेरे में स्व.सांसद संतोष सिंह
January 16, 2023

हरियाणा में चुनाव हारे प्रत्याशी का सम्मान:समर्थकों ने 31.31 लाख रुपए दिए, पंचायत इलेक्शन में 157 वोटों से मिली थी हार

हरियाणा में चुनाव हारे प्रत्याशी का सम्मान:समर्थकों ने 31.31 लाख रुपए दिए, पंचायत इलेक्शन में 157 वोटों से मिली थी हार
हिसार : हरियाणा में पंचायती चुनावों में पहले समर्थकों ने उम्मीदवारों को वोटों का सहयोग दिया, अब जब उम्मीदवार हार गया तो उसे नोटों का सहयोग दे रहे हैं। हिसार के बूडाखेड़ा गांव के हारे हुए उम्मीदवार सुभाष नंबरदार को उनके समर्थकों ने 31 लाख 31 हजार रुपए का सम्मान दिया।

समर्थकों का कहना है कि सुभाष नंबरदार का मान सम्मान के लिए यह कार्यक्रम आयोजित किया गया। सुभाष ने कहा कि यह पैसा सामाजिक कार्यों पर लगाए जाएंगे। इसके लिए जल्द ही मीटिंग की जाएगी।
*समर्थकों की थी इच्छा: शमशेर*

गांव के पूर्व सरपंच शमशेर कड़वासरा का कहना है कि सुभाष नंबरदार का मान सम्मान किया गया और उनके समर्थकों की इच्छा थी। समर्थकों ने कहा कि वे सुभाष नंबरदार के साथ हैं और अगले चुनाव में भी साथ देंगे। उम्मीदवार के सम्मान में बाकायदा गांव में एक समारोह किया गया। पंचायत चुनाव में उम्मीदवार सुखविंदर भादू ने सुभाष नंबरदार को 157 वोटों से हराया।
हारे हुए उम्मीदवार के समर्थक सम्मान समारोह में। 

*ढाणा कला और किरतान में हारे का किया सम्मान*

हिसार में ढाणा कला में हारे उम्मीदवार हरेंद्र सिंह को उसके समर्थकों ने 16 लाख 50 हजार रुपए की राशि सहयोग के लिए दी। इसी प्रकार से इंदवान और किरतान गांव में हारे हुए उम्मीदवार को करीब 5 लाख रुपए दिए गए। हालांकि अभी तक प्रदेश में सबसे बड़ा सम्मान रोहतक के गांव में हारे हुए उम्मीदवार धर्मपाल को 2 करोड़़ 11 लाख रुपए और गाड़ी भेंट की थी।
January 16, 2023

हरियाणा के मंत्री संदीप सिंह को गणतंत्र दिवस पर तिरंगा फहराने की अनुमति नहीं

हरियाणा के मंत्री संदीप सिंह को गणतंत्र दिवस पर तिरंगा फहराने की अनुमति नहीं
चंडीगढ़ : हरियाणा के मंत्री संदीप सिंह, जिन पर एक जूनियर कोच के यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया गया है, को गणतंत्र दिवस पर तिरंगा फहराने की अनुमति नहीं दी जाएगी।
सर्व खाप महापंचायत ने झज्जर जिले के दावला गांव में धनखड़ -12 खाप (12 गांवों की एक जाति परिषद) के तहत निर्णय दिया।
खाप ने राज्य सरकार को अल्टीमेटम देते हुए 23 जनवरी तक मंत्री को कैबिनेट से बर्खास्त करने को कहा है।
खाप पंचायत राज्यपाल, राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति से मुलाकात करेगी।
सूत्रों ने कहा कि रविवार को हरियाणा के मंत्री संदीप सिंह से पुलिस ने पूछताछ की, जिन पर यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज किया गया है।
सूत्रों के मुताबिक, सिंह को पुलिस ने जांच में सहयोग करने के लिए 41ए का नोटिस भेजा था।
उन्होंने कहा कि पुलिस ने संदीप सिंह के दो मोबाइल फोन भी जब्त किए हैं।
पिछले महीने, जूनियर एथलीट कोच महिला ने विपक्षी इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के कार्यालय में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जिसमें उसने आरोप लगाया कि तत्कालीन खेल मंत्री ने पिछले साल फरवरी से नवंबर तक बार-बार उसे परेशान किया। सोशल मीडिया पर मैसेज किए और उन्हें गलत तरीके से छुआ और मैसेज में उन्हें धमकी भी दी।
चंडीगढ़ पुलिस ने संदीप सिंह के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 354, 354ए, 354बी, 342 और 506 के तहत प्राथमिकी दर्ज की है और जांच शुरू की है।
अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान, महिला कोच ने मांग की कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व वाली सरकार को तुरंत संदीप सिंह को बर्खास्त करना चाहिए और मामले की जांच के लिए एक विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन करना चाहिए। दत्तात्रेय ने खेल मंत्रालय खट्टर को सौंप दिया है।
आरोपों के बाद संदीप सिंह ने 1 जनवरी को कहा कि उन्होंने जांच रिपोर्ट आने तक खेल विभाग की जिम्मेदारी मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को सौंप दी है और आगे कहा कि उनकी छवि खराब करने के लिए उन पर आरोप लगाए गए हैं।

Sunday, January 15, 2023

January 15, 2023

इनेलोद हरियाणा प्रमुख के खिलाफ FIR: अभय चौटाला ने राजनीतिक षड्यंत्र का आरोप लगाया

इनेलोद हरियाणा प्रमुख के खिलाफ FIR: अभय चौटाला ने राजनीतिक षड्यंत्र का आरोप लगाया
गुरुग्राम : इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलोद) के वरिष्ठ नेता अभय सिंह चौटाला ने शुक्रवार को अपनी पार्टी की प्रदेश इकाई के प्रमुख नफे सिंह राठी का बचाव किया, जिन पर आत्महत्या के एक मामले में मामला दर्ज किया गया है। चौटाला ने आरोप लगाया कि राठी के खिलाफ एफआईआर एक 'राजनीतिक साजिश' के तहत दर्ज की गई है। चौटाला ने मामले की केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) से जांच कराने की भी मांग की।

पुलिस के अनुसार, हरियाणा के पूर्व मंत्री मांगे राम राठी के बेटे जगदीश राठी (55) ने बुधवार को झज्जर के बहादुरगढ़ में कथित तौर पर जहर खाकर आत्महत्या कर ली थी। इस मामले में नफे सिंह राठी सहित छह लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है।

Thursday, January 12, 2023

January 12, 2023

भारत जोड़ो यात्रा से हुए डैमेज को कंट्रोल करेंगे शाह:हरियाणा के जीटी बेल्ट को साधेंगे; करनाल में बड़ी रैली करेंगे, जनवरी के लास्ट में आएंगे

भारत जोड़ो यात्रा से हुए डैमेज को कंट्रोल करेंगे शाह:हरियाणा के जीटी बेल्ट को साधेंगे; करनाल में बड़ी रैली करेंगे, जनवरी के लास्ट में आएंगे

चंडीगढ़ : हरियाणा में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सूबे की सियासत को गर्माएंगे। चूंकि हरियाणा में राहुल गांधी ने BJP के गढ़ माने जाने वाले जीटी बेल्ट में यात्रा निकाल कर साधने का प्रयास किया है। राहुल की यात्रा से पार्टी को हुए डैमेज को कंट्रोल करने के लिए हरियाणा BJP ने शाह के इस कार्यक्रम का प्लान बनाया है।
*सीएम सिटी में बड़ी रैली*

हरियाणा दौरे के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह करनाल में एक बड़ी रैली करेंगे। इसकी तैयारियां प्रदेश स्तर पर पार्टी ने शुरू कर दी हैं। इस रैली से पहले शाह पार्टी सांसदों, मंत्रियों और विधायकों के साथ मंथन भी करेंगे। इस दौरान मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्‌टर भी मौजूद रहेंगे। पार्टी पदाधिकारियों से केंद्रीय मंत्री अलग से बैठक करेंगे।
*शाह के दौरे का मकसद*

शाह के हरियाणा में इस दौरे का मकसद 2024 में होने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनाव हैं। इस दौरे में शाह हरियाणा में BJP के मजबूत संगठन को लेकर मंथन करेंगे। साथ ही केंद्र और राज्य सरकार की नीतियों के व्यापक प्रचार प्रसार पर काम करेंगे और कार्यकर्ताओं को विजय का मंत्र भी देंगे।

*अक्टूबर में होनी थी शाह की रैली*

केंद्रीय मंत्री अमित शाह का यह दौरा अक्टूबर में प्रस्तावित था, लेकिन पंचायत चुनाव और आदमपुर चुनाव में लगी आचार संहिता के कारण यह कार्यक्रम नहीं हो पाया। हालांकि इस पूरे कार्यक्रम को लेकर अभी हरियाणा बीजेपी के नेता कुछ भी कहने से बच रहे हैं। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ओपी धनखड़ ने भी ऐसी किसी रैली का आयोजन होने की बात से इनकार किया है।
*राहुल का जीटी रोड बेल्ट पर रहा फोकस*

हरियाणा में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा खत्म हो चुकी है। दो चरण में हुई यात्रा के दौरान राहुल गांधी 255 किलोमीटर पैदल चले। इनमें उन्होंने 7 जिले कवर किए। पहले चरण में नूंह, फरीदाबाद और गुरुग्राम को कवर किया। दूसरे चरण में राहुल का फोकस जीटी रोड बेल्ट पर रहा। उन्होंने सीएम मनोहर और गृह मंत्री अनिल विज के जिलों में भी यात्रा निकाली। पानीपत, करनाल, कुरुक्षेत्र और अंबाला में राहुल गांधी कुल 8 दिन पैदल चले।

Monday, October 17, 2022

October 17, 2022

भारत जोड़ो यात्रा ने बदला देश का राजनीतिक माहौल : सहवाग

भारत जोड़ो यात्रा ने बदला देश का राजनीतिक माहौल : सहवाग


Bharat Jodo Yatra changed the political atmosphere of the country: Sehwag
भारत जोड़ो यात्रा के  दौरान पार्टी के नेता राहुल गांधी के साथ राजनीतिक माहौल पर चर्चा करते हुए जींद से पार्टी प्रत्याशी रहे एवं भारत यात्री प्रमोद सहवाग।

देश हित में हो रही भारत जोड़ो यात्रा में हरियाणा का प्रतिनिधित्व करना गौरव की बात - बोले सहवाग

 राहुल गांधी के नेतृत्व में चल रही भारत जोड़ो यात्रा ने तमिलनाडु, केरल  होते हुए आज कनार्टक में एक हजार किलोमीटर का सफलतापूवर्क सफर तय कर लिया है। इस विशेष अवसर पर कांग्रेस नेता एवं भारत यात्री प्रमोद सहवाग ने भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी के साथ देश-प्रदेश के राजनीतिक माहौल पर विस्तार से चचार् की। सहवाग ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा से देश व प्रदेश का राजनीतिक माहौल तेजी से बदल रहा है। देश की जनता एक बार फिर कांग्रेस की ओर उम्मीद से देखने लगी है। भारत यात्री और जींद हलके से कांग्रेस  प्रत्याशी रहे प्रमोद सहवाग अपने नेता राहुल गांधी के साथ 3570 किलोमीटर लंबी भारत जोड़ो यात्रा कर रहे हैं ।  सहवाग ने कहा कि सात सितंबर को राहुल गांधी की अगुवाई में  कन्याकुमारी से शुरू हुई भारत जोड़ो यात्रा को तमिलनाडु और केरल के बाद अब कर्नाटक में भी जोरदार समर्थन मिल रहा है।
भारत यात्री सहवाग ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी के साथ तिरंगा लेकर चलने की लोगों में होड़ सी लगी हुई है। जहां जहां यात्रा पहुंच रही है वहां पर लाखों की संख्या में लोग राहुल को अपना समर्थन और आशीर्वाद देने के लिए उमड़ रहे है । भारत जोड़ो यात्रा से देश में नया राजनीतिक माहौल बनकर उभरा है। सहवाग ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा विघटन की राजनीति करने वालों को जनता सत्ता से बेदखल कर देगी। कांग्रेस एकमात्र ऐसी पाटी है जो समाज की छतीस बिरादरी को साथ लेकर चल सकती है और देश को प्रगति के पथ पर आगे बढ़ा सकती है।
Bharat Jodo Yatra changed the political atmosphere of the country: Sehwag
भारत जोड़ो यात्रा के  दौरान पार्टी के नेता राहुल गांधी के साथ राजनीतिक माहौल पर चर्चा करते हुए जींद से पार्टी प्रत्याशी रहे एवं भारत यात्री प्रमोद सहवाग।
उल्लेखनीय है कि प्रमोद सहवाग ने कांग्रेस की छात्र विंग एनएसयूआई और युवा कांग्रेस से राजनीति शुरू की थी ।  गुजरात और उत्तर प्रदेश जैसे बड़े राज्यों में पाटी् की ओर से चुनाव पर्यवेक्षक का दायित्व भी निभा चुके हैं। पाटी ने 2014 में जींद विधानसभा क्षेत्र से अपना प्रत्याशी बनाया था। पाटी ने सहवाग की प्रभावशाली   संगठनात्मक कार्यशैली को देखते हुए भारत जोड़ो यात्रा में बतौर भारत यात्रा शामिल किया है। सहवाग ने बताया कि सांसद दीपेंद्र हुड्डा भी  भारत जोड़ो यात्रा के बीच बीच में आकर भारत यात्रियों का उत्साह बढ़ा रहे हैं।

Monday, October 10, 2022

October 10, 2022

जींद में किरण चौधरी ने निकाला रोड शो:बोलीं- पार्टी छोड़ने की अफवाह फैलाना शुभचिंतकों का काम, कांग्रेस में ही रहूँगी

जींद में किरण चौधरी ने निकाला रोड शो:बोलीं- पार्टी छोड़ने की अफवाह फैलाना शुभचिंतकों का काम, कांग्रेस में ही रहूँगी

जींद में पत्रकारों से बातचीत करतीं किरण चौधरी।

जींद :  जींद में सोमवार को तोशाम से विधायक किरण चौधरी पहुंची। यहां कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। वह चौधरी देवी लाल चौंक पर पहुंचकर मूर्ति पर पुष्प अर्पित कर रोड शो की शुरुआत की। स्थानीय विश्राम गृह में पत्रकारों से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि पहले प्रत्याशी के चयन को लेकर पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की बैठक बुलाई जाती थी। इस बैठक में वरिष्ठ नेताओं से सलाह मशवरा कर टिकट के लिए प्रत्याशी का नाम फाइनल किया जाता था, लेकिन इस बार आदमपुर उपचुनाव को लेकर ऐसा अभी तक नहीं हुआ है।


उन्हें इस बैठक के लिए अभी तक कोई निमंत्रण भी नहीं मिला है। बावजूद इसके उन्हें आदमपुर उपचुनाव में प्रचार के लिए बुलाया जाता है तो वो कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार करने जाएंगी। कांग्रेस प्रत्याशी की जीत पर उन्होंने कहा कि अभी तक उन्हें न तो वहां बुलाया गया है और न ही उन्होंने आदमपुर का दौरा किया है। जब वो वहां जाएंगी तब ही वो कांग्रेस प्रत्याशी की जीत को लेकर कुछ कह सकेंगी।
जींद पहुंचे पर किरण चौधरी का स्वागत करते कांग्रेसी कार्यकर्ता।

अभय चौटाला के उनके पार्टी छोड़ने वाले बयान पर कहा कि कुछ शुभ चिंतक व हितैषी ऐसी अफवाहें फैलाने का काम कर रहे हैं। लेकिन वह इन शुभ चिंतकों को बताना चाहती है कि वो कांग्रेस में है और हमेशा कांग्रेस में ही रहेंगी। उन्होंने कांग्रेस में चल रही गुटबाजी को लेकर कहा कि वो किसी भी तरह की गुटबाजी में विश्वास नहीं करती हैं। आज पार्टी में कुछ कार्यकर्ता अपने आप को उपेक्षित महसूस कर रहे हैं।
ऐसे में कार्यकर्ताओं की आवाज बन कर वह उन्हें फिर से सक्रिय कर करने के लिए कार्यकर्ताओं के द्वार कार्यक्रम कर रही हैं ताकि कांग्रेस पार्टी और मजबूत हो। देश में भाइचारे और सद्भावना को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी कश्मीर से कन्या कुमारी तक भारत जोड़ो यात्रा पर निकले हैं। पूरे हरियाणा में चौधरी बंसीलाल और चौधरी सुरेंद्र सिंह के पुराने कार्यकर्ता हैं। इसलिए उन सभी कार्यकर्ताओं के द्वार जाकर नए कार्यकर्ताओं को जोड़ कर कांग्रेस पार्टी को मजबूत करने का काम कर रही हैं।

Friday, October 7, 2022

October 07, 2022

जेजेपी ने निभाया वादा, बाबा महेंद्र टिकैत के गांव में बनी आधुनिक लाइब्रेरी

जेजेपी ने निभाया वादा, बाबा महेंद्र टिकैत के गांव में बनी आधुनिक लाइब्रेरी,चौ महेंद्र टिकैत की जयंती पर अजय चौटाला ने लाइब्रेरी का किया उद्घाटन

चंडीगढ़ :  जननायक जनता पार्टी ने अपने वादे के अनुसार उत्तर प्रदेश राज्य में मुजफ्फरनगर जिले के गांव सिसौली में आधुनिक डिजिटल लाइब्रेरी का निर्माण करवा दिया है। जेजेपी ने यह वादा किसानों के मसीहा स्व. चौधरी महेंद्र सिंह टिकैत के जन्मदिवस के अवसर पर पूरा किया। उनकी जयंती पर वीरवार को गांव सिसौली में आयोजित कार्यक्रम में जेजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अजय सिंह चौटाला पहुंचे। उन्होंने पुष्पांजलि अर्पित कर बाबा महेंद्र टिकैत को नमन किया और यहां एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान डॉ. चौटाला ने किसान भवन में चौधरी देवीलाल पुस्तकालय का उद्घाटन कर युवाओं को समर्पित की। बता दें कि इसी वर्ष 15 मई को सिसौली गांव में किसान मसीहा बाबा महेंद्र सिंह टिकैत की पुण्यतिथि कार्यक्रम में जेजेपी प्रधान महासचिव दिग्विजय चौटाला ने ग्रामीणों युवाओं से वादा करते हुए यहां लाइब्रेरी बनाने की घोषणा की थी।
जेजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अजय सिंह चौटाला ने ग्रामीण आंचल के युवाओं के लिए गांव में पढ़ने के लिए लाइब्रेरी का होना जरूरी बताया और कहा कि आधुनिक लाइब्रेरी समय की जरूरत है। उन्होंने कहा कि  सिसौली में चौधरी देवीलाल पुस्तकालय खुलने से यहां के युवाओं को परीक्षाओं और नौकरी की तैयारी में सुविधा होगी। अजय चौटाला ने कहा कि हरियाणा में जेजेपी ग्रामीण क्षेत्र में 108 मॉडल लाइब्रेरी खोलने की दिशा में काम कर रही है। उन्होंने यह भी कहा कि युवाओं के उज्जवल भविष्य के लिए ऐसे कदम निरंतर उठाने चाहिए ताकि ग्रामीणों बच्चों को लाभ मिले। इस अवसर पर स्व. महेंद्र सिंह टिकैत के बेटे राकेश टिकैत और नरेश टिकैट, जेजेपी वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. केसी बागड़, जेजेपी प्रदेश संगठन सचिव देवेंद्र कादियान, पूर्व विधायक पदम दहिया, भूपेंद्र मलिक, कार्यक्रम के आयोजक सचिन चौधरी आदि मौजूद रहे।

Tuesday, October 4, 2022

October 04, 2022

आदमपुर उपचुनाव: सियासतदानों ने शुरू की सियासत:AAP ने कसा कुलदीप पर तंज, हुड्‌डा बोले- दूसरे नंबर पर आएगी BJP, भाजपा की चुप्पी

आदमपुर उपचुनाव: सियासतदानों ने शुरू की सियासत:AAP ने कसा कुलदीप पर तंज, हुड्‌डा बोले- दूसरे नंबर पर आएगी BJP, भाजपा की चुप्पी

चंडीगढ़ : हरियाणा में आदमपुर उपचुनाव की घोषणा हो चुकी है। सियासतदानों ने अपनी अपनी जीत के दावे शुरू कर दिए हैं। AAP ने कुलदीप बिश्नोई पर तंज कसते हुए ट्वीट किया है कि परमानेंट पूर्व विधायक बनने का समय आ गया है। वहीं पूर्व CM भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा ने आदमपुर को कांग्रेस का गढ़ बताया है। साथ ही कहा है कि चुनाव में BJP दूसरे नंबर पर आएगी। BJP का अभी तक उपचुनाव को लेकर कोई बयान नहीं आया है।
पूर्व CM ने उपचुनाव पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि आदमपुर कांग्रेस पार्टी का हमेशा से गढ़ रहा है। कुलदीप बिश्नोई हमेशा से ही पार्टी टिकट पर ही चुनाव जीते हैं। इस बार के चुनाव में भी कांग्रेस ही जीत दर्ज करेगी। भाजपा सरकार की कुनीतियों के कारण किसान से लेकर आम जनत परेशान है। इसलिए आदमपुर की जनता उसे इस उपचुनाव में नकार देगी।
*BJP ने साधी चुप्पी*

आदमपुर उपचुनाव की घोषणा के बाद हरियाणा BJP की ओर से अभी तक कोई बयान नहीं आया है। पार्टी नेताओं का कहना है कि पार्टी प्रदेश अध्यक्ष ओपी धनखड़ त्रिपुरा में हैं। CM मनोहर लाल भी दुबई यात्रा पर गए हैं। हालांकि पार्टी आदमपुर उपचुनाव को लेकर भाजपा की पूरी तैयारी है और चुनाव में जीत दर्ज करेगी।
*लोगों से जुड़े हैं बिश्नोई: भव्य*

आदमपुर उपचुनाव पर कुलदीप बिश्नोई के बेटे भव्य बिश्नोई ने प्रतिक्रिया दी है। भव्य का कहना है कि वह चुनाव के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। बिश्नोई आदमपुर की जनता से सीधे जुड़े हुए हैं। व्यक्तिगत रूप से मैं लोगों के बीच हमेशा रहता हूं। इस चुनाव में हम सभी दलों को हराकर जीत दर्ज करेंगे।
*कुलदीप ने पूर्व CM को किया चैलेंज*

BJP नेता कुलदीप बिश्नोई ने उपचुनाव की घोषणा का स्वागत किया है। उन्होंने भूपेंद्र हुड्डा को चैलेंज देते हुए कहा कि यदि भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने आदमपुर में विकास करवाने का काम किया है तो वो स्वयं या अपने बेटे दीपेंद्र को उपचुनाव लड़कर दिखाएं।

Wednesday, September 14, 2022

September 14, 2022

दिल्ली में अब फ्री बिजली नहीं मिलेगी, अगर नहीं किया यह काम, आएगा मोटा बिल

दिल्ली में अब फ्री बिजली नहीं मिलेगी, अगर नहीं किया यह काम, आएगा मोटा बिल

नई दिल्ली : दिल्ली वासियों के लिए उनकी आम आदमी पार्टी की सरकार ने एक बड़ा फैसला लागू कर दिया है। दरअसल, यह फैसला फ्री बिजली को लेकर है। सीएम अरविन्द केजरीवाल ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए जानकारी दी है कि 1 अक्टूबर 2022 से दिल्ली में सबको बिजली पर सब्सिडी नहीं दी जाएगी। यानि फ्री बिजली नहीं मिलेगी। 
केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में अब सिर्फ उन्हीं लोगों को फ्री बिजली मिलेगी। जो इसके लिए अप्लाई करेंगे। केजरीवाल ने कहा कि 30 सितंबर से पहले दिल्ली वालों को फ्री बिजली के लिए अप्लाई करना होगा। अगर उन्होंने ऐसा नहीं किया तो फिर उन्हें 1 अक्टूबर से बिजली का पूरा बिल देना पड़ेगा। बतादें कि, दिल्ली में 200 यूनिट तक बिजली फ्री है। जबकि 201 से 400 यूनिट पर 50 फीसद बिजली बिल वसूला जाता है। दिल्ली में टोटल 58 घरेलू बिजली उपभोक्ता हैं। जिनमें से 30 लाख लोगों का जीरो बिल आ रहा है। 
*बिजली सब्सिडी के लिए हर माह भी कर सकते हैं अप्लाई*

हालांकि, ऐसा नहीं है कि आप सितंबर में फ्री बिजली के लिए अप्लाई नहीं कर पाए तो आगे नहीं कर पायेंगे। दरअसल, आप सितंबर के बाद भी फ्री बिजली के लिए अप्लाई कर सकते हैं लेकिन यहां एक घाटा आपको यह होगा कि आपसे मौजूदा या पिछले महीने का पूरा बिल वसूला जाएगा। अप्लाई करने वाले महीने के अगले महीने से ही आपकी बिजली फ्री होगी। 
*फ्री बिजली पाने के लिए जान लें तरीका*

बतादें कि, दिल्ली की केजरीवाल सरकार से फ्री बिजली जारी रखने के लिए आपको कुछ इस प्रकार से अप्लाई करना होगा। आप फ्री बिजली के लिए केजरीवाल सरकार द्वारा जारी मोबाइल नंबर 7011311111 पर एक मिस्ड कॉल कर सकते हैं। जिसके बाद आपके मैसेज बॉक्स में लिंक आ जाएगा। उस लिंक जैसे ही आप क्लिक करेंगे। आपको एक फार्म मिलेगा। जिसे आपको भर देना है। 
इसके आलावा आप इस नंबर के जरिये व्हाट्सअप पर Hi लिखकर भेज सकते हैं। जिसके बाद आपके पास व्हाट्सअप पर फार्म भेज दिया जाएगा। इसे भरकर आपको व्हाट्सअप पर ही दोबारा सेंड कर देना है। 
*फ्री बिजली के लिए ऑफलाइन भी हो जाएगा अप्लाई*

बतादें कि, आप फ्री बिजली के लिए ऑफलाइन भी अप्लाई कर सकते हैं। केजरीवाल सरकार आपको बिजली बिल के साथ एक फार्म भेजेगी। जिसे भरकर आपको अपने नजदीकी बिजली कार्यालय में जमा कराना होगा  ।

Tuesday, September 6, 2022

September 06, 2022

चौधरी बीरेन्द्र सिंह का बगावती संदेश:बोले- BJP रेजिमेंटेशन पार्टी, कांग्रेस एक मूवमेंट; काडर बेस पार्टी में एक ही सर्वेसर्वा होता

चौधरी बीरेन्द्र सिंह का बगावती संदेश:बोले- BJP रेजिमेंटेशन पार्टी, कांग्रेस एक मूवमेंट; काडर बेस पार्टी में एक ही सर्वेसर्वा होता

रेवाड़ी : भाजपा नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री चौधरी बीरेन्द्र सिंह भी अब बगावती संदेश दे रहे हैं। चौधरी बीरेन्द्र सिंह ने BJP को रेजिमेंटेशन पार्टी करार दिया। साथ ही कहा कि कांग्रेस एक मूवमेंट है। भाजपा में रहते हुए आजादी के सवाल पर चौधरी बीरेन्द्र सिंह बोले कि काडर बेस पार्टी में एक ही नेता सर्वेसर्वा होता है और जहां काडर होता है, वहां नेता नहीं उभरते।
सोमवार शाम रेवाड़ी में अपने परिचित के कार्यालय में पहुंचे चौधरी बीरेन्द्र सिंह यहीं नहीं रूके। उन्होंने कांग्रेस को लेकर भी बहुत कुछ कह दिया। उन्होंने कहा कि UP और बिहार की तरह हरियाणा में अभी कांग्रेस मरी नहीं है। मगर पार्टी ने सबकुछ भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा को सौंप दिया। उनको पूरी पावर देने से कांग्रेस उठेगी या और गिरेगी, यह पार्टी को खुद सोचना चाहिए।

बीरेन्द्र सिंह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी का UP में 2 करोड़ लाभार्थियों को डेढ़ साल तक मुफ्त में राशन देना चुनाव में जातीय समीकरण पर भारी पड़ गया। देश में आज भी गरीबी, बेरोजगारी व असमानता का माहौल है।
*महत्वकांक्षाओं से आता बिखराव*

बिहार में हुई राजनीतिक उठा पटक पर चौधरी बीरेन्द्र सिंह ने कहा कि यह विपक्ष के लिए संगठित होने का एक और मौका है। उन्होंने देश में तीसरे मोर्चे की संभावना पर कहा कि 50 साल के सक्रिय राजनीतिक अनुभव से कह सकता हूं कि महत्वाकांक्षाएं ज्यादा होती हैं तो बिखराव आता ही है।
*सोनिया के अध्यक्ष बनने से बची रह सकती पार्टी*

बीरेन्द्र सिंह ने कहा कि कांग्रेस में निर्णय लेने की क्षमता नहीं है। हरियाणा में इसका सबसे पहला शिकार केन्द्रीय मंत्री राव इन्द्रजीत सिंह हुए और फिर वह खुद हो गए। हालात ऐसे बन गए कि कांग्रेस छोड़नी पड़ी। अगर सब कुछ ठीक होता तो गुलाम नबी आजाद और मेरे जैसे आदमी कभी कांग्रेस नहीं छोड़ते। कांग्रेस के बागी गुट G-23 को लेकर बीरेन्द्र सिंह ने कहा कि 23 आदमी नेतृत्व को चिट्‌ठी लिखें तो उन्हें बागी कहा जाता है। पार्टी के लिए जीवन लगाने वाले कभी बागी नहीं होते।

Friday, September 2, 2022

September 02, 2022

Supreme Court से संस्कृत को राष्ट्रभाषा घोषित करने की याचिका खारिज, सरकार के पास जाने की दी गई नसीहत

Supreme Court से संस्कृत को राष्ट्रभाषा घोषित करने की याचिका खारिज, सरकार के पास जाने की दी गई नसीहत

नई दिल्ली : संस्कृत को भारत की राष्ट्रीय भाषा बनाने की मांग को बड़ा झटका लगा है। सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को एक याचिका खारिज कर दी जिसमें संस्कृत को भारत की राष्ट्रीय भाषा बनाने की घोषणा की मांग की गई थी। जस्टिस एमआर शाह और जस्टिस कृष्ण मुरारी की पीठ ने यह कहते हुए याचिका पर विचार करने से इनकार कर दिया कि किसी भाषा को 'राष्ट्रीय' का दर्जा देना एक नीतिगत निर्णय है। कोर्ट ने कहा कि इसके लिए संविधान में संशोधन की आवश्यकता है और यह अदालत द्वारा आदेशित नहीं है।
*संसद को रिट जारी नहीं की जा सकती*

पीठ ने मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि यह नीतिगत निर्णय के दायरे में आता है और इसके लिए भारत के संविधान में संशोधन किया जाने की जरूरत है। शीर्ष अदालत ने कहा कि किसी भाषा को राष्ट्रीय भाषा घोषित करने के लिए संसद को कोई रिट जारी नहीं की जा सकती है।
*याचिकाकर्ता से पूछे कई सवाल*

शीर्ष अदालत ने याचिकाकर्ता से सुनवाई के दौरान कई सवाल पूछे। कोर्ट ने कहा कि क्या आपको पता है भारत में कितने शहर संस्कृत बोलते हैं? क्या आप संस्कृत बोलते हैं? क्या आप संस्कृत में एक पंक्ति का पाठ कर सकते हैं या कम से कम अपनी रिट याचिका में की गई अपील का संस्कृत में अनुवाद कर सकते हैं। यह जनहित याचिका सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी और वकील केजी वंजारा ने दायर की थी।
*सरकार के पास जाने को कहा*

याचिकाकर्ता के वकील ने कहा कि संस्कृत एक 'मातृभाषा' है जिससे अन्य भाषाओं ने प्रेरणा ली है। याचिका पर विचार करने से इनकार करते हुए शीर्ष अदालत ने कहा कि याचिकाकर्ता सरकार के समक्ष इस तरह का अभ्यावेदन दायर करने के लिए स्वतंत्र हो सकता है।
बता दें कि याचिका में केंद्र सरकार को यह कहते हुए संस्कृत को राष्ट्रभाषा के रूप में अधिसूचित करने का निर्देश देने की मांग की गई है कि इस तरह के कदम से मौजूदा संवैधानिक प्रावधानों में खलल नहीं पड़ेगा जो अंग्रेजी और हिंदी को देश की आधिकारिक भाषाओं के रूप में प्रदान करते हैं।