/>

Breaking

Sunday, May 23, 2021

गुरमीत राम रहीम को 48 घंटे की पैरोल के बाद भी 12 घंटे में वापस आना पड़ा सुनारिया जेल

गुरमीत राम रहीम को 48 घंटे की पैरोल के बाद भी 12 घंटे में वापस आना पड़ा सुनारिया जेल, जानिये वजह

गुरुग्राम : साध्वी यौन शोषण मामले में सजा काट रहे डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को सुनारिया जेल प्रशासन ने 48 घंटे की पैरोल दी थी, लेकिन 12 घंटे के भीतर ही राम रहीम को वापस जेल आना पड़ा।

दरअसल दो दिन पहले राम रहीम को सुनारिया जेल की तरफ से अपनी बीमार मां से मिलने और देखभाल के लिए 48 घंटे की पैरोल दी गई थी। राम रहीम अपनी बीमार मां के लिए कई बार पैरोल मांग चुके हैं।

इस बार उन्होंने जेल प्रशासन से इमरजेंसी पैरोल की मांग की थी, जिसके बाद जेल प्रशासन ने जिला प्रशासन से इस बारे में जानकारी मांगी थी। वहीं राम रहीम को 48 घंटे की पैरोल दे दी गई थी।
जिसके बाद शुक्रवार की सुबह करीब सवा छह बजे राम रहीम को जेल से गुरुग्राम लेकर जाया गया और वहां मेदांता में राम रहीम की मां का इलाज चल रहा है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक राम रहीम को मानेसर में स्थित एक फार्म हाउस में रखा गया था।
राम रहीम को जेल से पैरोल दिये जाने के बाद स्वर्गीय पत्रकार रामचंद्र छत्रपति के बेटे अंशुल छत्रपति ने सरकार की मंशा पर सवाल उठाए थे। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के खूंखार कैदी को पैरोल देकर सरकार उसे वापस सिरसा लाना चाहती है।

अब बताया जा रहा है कि 48 घंटे की पैरोल मिलने के बावजूद भी राम रहीम को महज 12 घंटे ही जेल से बार रहने दिया गया। इसके पीछे वजह बताई जा रही है कि सुरक्षा कारणों के चलते वापस राम रहीम को जेल में लाया गया।
इससे पहले राम रहीम को स्वास्थ्य जांच के लिए रोहतक पीजीआई में भी लेकर गए थे, जहां पर करीब 21 घंटे तक राम रहीम को रखा गया था लेकिन भीड़ जुटने के अंदेशे के चलते पीजीआई प्रशासन ने वापस सुनारिया जेल भेज दिया था।

No comments:

Post a Comment