/>

Breaking

Tuesday, May 25, 2021

किसान बोले- इनके समर्थकों से भी नहीं करेंगे शादी-ब्याह, सब रिश्ते खत्म

BJP और JJP का अब घर-घर बहिष्कार! किसान बोले- इनके समर्थकों से भी नहीं करेंगे शादी-ब्याह, सब रिश्ते खत्म

जींद : ( संजय तिरँगाधारी ) कोई ये नहीं समझे कि किसान आंदोलन अब समाप्त हो चुका है। केंद्र की मोदी सरकार के तीनों कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का आंदोलन अब भी जारी है और मोदी सरकार के खिलाफ किसानों का गुस्सा भी अभी तक जारी है।
किसान संगठन अब भी अपने पूरे स्टैंड पर कायम हैं। जब तक मोदी सरकार तीनों कृषि कानूनों को रद्द नहीं करती है तब तक आंदोलन जारी रहेगा।
ये अलग बात है कि कोरोना की दूसरी लहर में मीडिया के कैमरे अभी किसान आंदोलन से दूर है।
इसी आंदोलन के क्रम में हरियाणा के किसानों ने एक अनोखा फैसला ले लिया है। किसानों का स्पष्ट रुप से कहना है कि अब वो किसी भी घर में अपने बेटे या बेटी की शादी नहीं करेंगे जिनका संबंध भाजपा या जजपा से होगा।
हरियाणा के जींद के खटकड़ टोल प्लाजा पर किसानों ने यह ऐलान किया कि अब हम जब भी किसी भी घर में अपने बेटे या बेटी के रिश्ते की बात चलाएंगे, वहां सबसे पहले ये सवाल पूछेंग कि आपका परिवार कहीं भाजपा या दुष्यंत चैटाला की पार्टी जजपा का समर्थक तो नहीं!
अगर ऐसा होगा तो हम अपने बच्चों की शादी वैसे घर में नहीं करेंगे या और नहीं किसी भी प्रकार का कोई भी रिश्ता रखेंगे।
यह फैसला रविवार को हुआ। इस दौरान खटकड़ टोल प्लाजा पर खेड़ा खाप के प्रधान एवं संयुक्म किसान मोरचा के सदस्य सतबीर सिंह पहलवान ने लोगों कें बीच अपनी बात रखते हुए यह प्रस्ताव दिया और वहां मौजूद सभी लोगों से उनकी राय मांगी।
वहां लोगों ने सर्वसम्मति से सतबीर पहलवान के प्रस्ताव का समर्थन किया और किसान एकता जिंदाबाद के नारे लगाए गए।
वहीं संयुक्त किसान मोर्चा के सदस्य आजाद पालवां ने बताया कि पहले हम लोगों ने ही निर्णय लिया था कि किसी भी हाल में भाजपा और जजपा के नेताओं को अपने गांव में घुसने नहीं देंगे।
इस निर्णय पर आज भी हम सब अडिग हैं। हमारे गांवों में भाजपा और जजपा के नेता नहीं घुस सकते। इसके अलावा जहां भी भाजपा और जजपा के नेता जाएंगे, उनका विरोध होगा।
उन्होंने साफ तौर पर कहा कि तीनों कृषि कानूनों को रद्द करो और एमएसपी की गारंटी देनी होगी अन्यथा भाजपा जजपा के साथ ऐसा ही व्यवहार किया जाएगा।
जिस प्रकार जिस व्यक्ति का हुक्का पानी बंद हो जाता है, उससे गांव का कोई भी व्यक्ति रिश्ता नहीं रखता, ठीक वैसे ही भाजपा और जजपा समर्थकों के साथ भी कोई भी रिश्ता नहीं रखा जाएगा।

No comments:

Post a Comment