/>

Breaking

Thursday, May 13, 2021

लॉकडाउन से हरियाणा में कोरोना मामलों में आई गिरावट

लॉकडाउन से हरियाणा में कोरोना मामलों में आई गिरावट

चंडीगढ़ : हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि राज्य में लॉकडाऊन से कोरोना मामलों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है, जोकि 4 मई के 15786 मामलों की तुलना में 12 मई को 11637 केस सामने आए हैं। विज ने बुधवार को केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन की अध्यक्षता में वीडियो-कांफ्रेसिंग द्वारा आयोजित कोविड समीक्षा बैठक में बोलते हुए कहा कि लॉकडाउन से कोरोना के मामलों को शीघ्र ही नियंत्रित करने में सफलता मिलेगी। डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि राज्यों को 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को दूसरी खुराक देने पर प्राथमिकता देनी चाहिए। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि हरियाणा में वैक्सिन की पहली खुराक करीब 37 लाख लोगों को दी गई है जबकि दूसरी खुराक 8 लाख लोगों को दे दी गई है। इसके लिए राज्य को और कोविशिल्ड वैक्सिन की जरूरत है ताकि दूसरी खुराक समय पर दी जा सके। उन्होंने कहा कि ग्रामीण आंचल में कोरोना जांच में तेजी लाई जा रही है तथा हॉट-स्पॉट पर कोविड केयर सेंटर बनाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस समय प्रदेश के अस्पतालों में करीब 62 फीसदी शहरी तथा 38 फीसदी ग्रामीण मरीज उपचाराधीन हैं, इसलिए सोशल मीडिया पर गांवों में कोविड ज्यादा फैलने की यह खबर गलत है। गांवों में जांच के लिए टीमों का गठन किया गया है तथा सावधानी के लिए गांवों में ठीकरी पहरा भी लगा दिया है।

*280 एमटी ऑक्सीजन तैयार की करने की व्यवस्था स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि ऑक्सीजन का पुन: वितरण किए जाने की आवश्यकता है।* हरियाणा में करीब 280 एमटी ऑक्सीजन तैयार की करने की व्यवस्था है, इसलिए हरियाणा को अपने हिस्से की ऑक्सीजन हरियाणा से ही उपलब्ध करवाई जाए तथा दूसरे प्रदेशों को उनके आसपास से ही ऑक्सीजन देने की व्यवस्था की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि हमारे प्रदेश में दिल्ली व अन्य प्रदेशों के मरीज भी आ रहे हैं, जिनके उपचार की व्यवस्था भी हम कर रहे हैं। इसके लिए हम जिलों में अतिरिक्त बैडस का सृजन कर रहे हैं तथा पानीपत और हिसार में 500-500 बिस्तरों के अस्पतालों का निर्माण करवाया जा रहा है। इसके साथ ही हरियाणा के अस्पतालों में करीब 2600 बिस्तर खाली हैं, जिन पर मरीजों को दाखिल करने में कोई दिक्कत नही है। एक लाख मरीज होम आईसोलेशन में उपचाराधीन विज ने कहा कि हरियाणा में करीब एक लाख मरीज होम आईसोलेशन में उपचाराधीन है, जिनकी देखरेख के लिए चिकित्सक 2 दिन में एक बार घरों में जाते हैं। इसके साथ ही सभी मरीजों को होम आईसोलेशन किट भी उपलब्ध करवाई जा रही है, जिसमें ऑक्सीमीटर, आयुर्वेदिक व एलोपैथिक दवाइयां, थर्मामीटर सहित अन्य आवश्यक 15 आइटम शामिल हैं। इसके साथ ही अस्पातलों में एमबीबीएस तथा पीजी विद्यार्थियों की ड्यूटी लगाई गई है तथा भारतीय चिकित्सा संघ हरियाणा से भी चिकित्सकों की सेवाएं देने की बात की है।

No comments:

Post a Comment