/>

Breaking

Saturday, May 22, 2021

ऑक्सीजन सिलेंडर नहीं मिला तो खेतों में पेड़ों के नीचे जा बैठा युवक

ऑक्सीजन सिलेंडर नहीं मिला तो खेतों में पेड़ों के नीचे जा बैठा युवक

तीन दिन में कोरोना को हराया


पानीपत : कोरोना महामारी के चलते ऑक्सीजन सिलेंडर मिल पाना मुश्किल हो रहा है और बिना ऑक्सीजन के लोगों की जान जा रही है। लेकिन पानीपत के एक युवक ने प्राकृतिक ऑक्सीजन पाकर कोरोना को मात दी है।
जी हां, पानीपत के नंगला गांव निवासी प्रदीप कुमार की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई थी। प्रदीप कुमार एक निजी कंपनी में नौकरी करते हैं। करीब दस दिन पहले प्रदीप कुमार की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई थी।

प्रदीप कुमार की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद होम आईसोलेट किया गया था, लेकिन कुछ समय में ही प्रदीप की तबीयत बिगड़ने लगी और ऑक्सीजन लेवल कम होने लगा। प्रदीप को सांस लेने में दिक्कत हो रही थी।
ऑक्सीजन लेवल घटता देख प्रदीप के परिजनों ने ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए कई जगह हाथ पैर मारे लेकिन ऑक्सीजन सिलेंडर नहीं मिला जिसके बाद प्रदीप कुमार अपने खेतों में पेड़ों के नीचे जा बैठे।

खेतों में प्रदीप कुमार ने रोजाना 8 से 10 घंटे तक पेड़ों के नीचे गुजारे, परिजनों ने प्रदीप का खाना खेतों में ही पहुंचा दिया। तीन दिन में वहां पर प्रदीप की ऑक्सीजन लेवल सामान्य हो गया। धीरे धीरे सीने का दर्द भी सही हो गया।
इसके बाद जब प्रदीप को लगा की उसकी सेहत में काफी सुधार है और उसको किसी प्रकार की अब दिक्कत नहीं है तो उसके बाद प्रदीप ने अपना कोरोना टेस्ट करवाया जिसमें उसकी रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई।

आर्य डिग्री कॉलेज के बॉटनी डिपार्टमेंट के हैड डॉ. बलकार सिंह ने बताया कि उनका पूरा परिवार कोरोना से पीड़ित था। डॉक्टरों की सलाह पर दवाई लेने के साथ सभी ने अधिकतर समय खेतों और पेड़ों के नीचे बिताया।

No comments:

Post a Comment