/>

Breaking

Friday, May 28, 2021

रामदेव के बयान पर बोलीं महुआ- किसी का बाप आपको गिरफ्तार नहीं कर सकता, वो तो विपक्षियों के पीछे पड़े हैं

रामदेव के बयान पर बोलीं महुआ- किसी का बाप आपको गिरफ्तार नहीं कर सकता, वो तो विपक्षियों के पीछे पड़े हैं

 नई दिल्ली : योगगुरु के नाम से चर्चित रामकिशन यादव उर्फ रामदेव अक्सर अपने विवादित बयानों के लिए चर्चा में रहते हैं। रामदेव एक बार फिर से एलोपैथ मेडिकल साइंस को लेकर दिए अपने बयान को लेकर विवाद में हैं।
अभी रामदेव के इस बयान का विवाद चल ही रहा था कि रामदेव ने कैमरे पर ही कह दिया कि गिरफ्तार तो मुझे उनका बाप भी नहीं कर सकता!
अब रामदेव के इस नए बयान से देश भर में सवाल खड़ा हो गया कि वो उनका आखिर है कौन, जिसका बाप भी रामदेव को गिरफ्तार नहीं कर सकता !
रामदेव के इस बयान के बाद टीएमसी नेता और सांसद महुआ मोइत्रा ने मोरचा संभाला और रामदेव के बहाने सरकार पर भी हमला बोल दिया।


महुआ ने कहा कि रामदेव कह रहे हैं कि “किसी का बाप भी उन्हें गिरफ्तार नहीं कर सकता. सच कहा आपने रामकिशन यादव ! आपको किसी का बाप भी गिरफ्तार नहीं कर सकता क्योंकि भाई और बाप तो विपक्ष को गिरफ्तार करने में व्यस्त है !”

हालांकि महुआ मोइत्रा ने अपने बयान में किसी का नाम नहीं लिया लेकिन माना जा रहा है कि उन्होंने पिछले दिनों नारदा केस में कुछ टीएमसी नेताओं की गिरफ्तारी हुई थी, उसी संदर्भ में उन्होंने केंद्र सरकार को भी घेर लिया है।
मालूम हो कि पिछले दिनों रामदेव का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ। इसके बाद इंडियन मेडिकल एसोसिएशन एक्शन में आ गई और उन्होंने रामदेव को मानहानि का नोटिस भेज दिया। इसके थोड़ी देर बाद ही सोशल मीडिया पर अरेस्ट रामदेव ट्रेंड करने लगा।
अब इस ट्रेंड के बाद रामदेव का एक और वीडियो सोशल मीडिया पर चलने लगा जिसमें वो यह कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि उन्हें बदनाम करने के लिए काफी दिनों से सोशल मीडिया पर तरह तरह के ट्रेंड चलाए जाते हैं।
अब तो हमारे लोगों को इसकी आदत हो गई है लेकिन इस तरह की चीजों से हम पर कोई प्रभाव नहीं पड़ने वाला है।अरेस्ट रामदेव ट्रेंड करने से क्या हो जाएगा ! किसी के बाप में दम नहीं है जो रामदेव को गिरफ्तार कर सके।
दरअसल रामदेव का इस तरह का बयान कोई नया बयान नहीं है। उटपटांग बयान देने में रामदेव कभी कभी नेताओं को अक्सर पीछे छोड़ते रहते हैं।
रामदेव के बयानों का कोई आधार नहीं होता। ये या इनके लोग जब खुद बीमार पड़ते हैं तो एलोपैथी का ही सहारा लेते हैं लेकिन अपना धंधा चमकाने के लिए अब एलोपैथी को निशाना बना रहे हैं।

No comments:

Post a Comment