/>

Breaking

Friday, May 7, 2021

धूल भरी हवाओं के साथ हरियाणा में बारिश, मंडियों में भीगा गेहूं

धूल भरी हवाओं के साथ हरियाणा में बारिश, मंडियों में भीगा गेहूं

हिसार : पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव के चलते प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में बृहस्पतिवार को धूलभरी हवाओं के साथ हल्की बारिश हुई। हिसार, झज्जर, सोनीपत, रोहतक, रेवाड़ी, जींद, भिवानी, चरखी दादरी, महेंद्रगढ़, कैथल, कुरुक्षेत्र, फतेहाबाद सहित कई इलाकों में बूंदाबांदी या फिर हल्की बारिश हुई। कई जगहों पर तेज अंधड़ के चलते बिजली आपूर्ति भी प्रभावित रही। उधर, मौसम वैज्ञानिकों ने अगले 24 घंटे मौसम परिवर्तनशील बनने करने की संभावना जताई है। जानकारी के अनुसार पिछले कुछ दिनों से प्रदेश में मौसम परिवर्तनशील बना हुआ है। कभी तेज धूप खिलती है, तो कभी आसमान में बादल छा जाते हैं। इसके साथ धूलभरी हवाएं भी चलती है। पिछले एक सप्ताह में दूसरी पर पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव के चलते बृहस्पतिवार को प्रदेश के अधिकतर स्थानों पर धूलभरी हवाओं के साथ बूंदाबांदी हुई है। बूंदाबांदी के कारण लोगों को गर्मी से कुछ राहत मिली। उधर, कई जगहों पर हल्की बारिश के चलते अनाजमंडियों में उठान कार्य धीमा होने से गेहूं की बोरियां एक बार फिर भीग गई। अगले 24 घंटे में फिर से बूंदाबांदी या हल्की बारिश के आसार है। हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के कृषि मौसम विज्ञान विभागाध्यक्ष डॉ मदन खीचड़ ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से राजस्थान के उपर एक साइक्लोनिक सकुर्लेशन बनने से प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में बृहस्पतिवार को धूलभरी हवाओं के साथ हल्की बारिश हुई है। अगले 24 घंटे मौसम परिवर्तनशील बना रहेगा। कहीं-कहीं गरज चमक के साथ बूंदाबांदी हो सकती है

No comments:

Post a Comment