/>

Breaking

Monday, May 3, 2021

नीम-हकीमी नुस्खों से खतरे में न डालें जान, कोरोना को लेकर प्रशासन की एडवाइजरी

नीम-हकीमी नुस्खों से खतरे में न डालें जान, कोरोना को लेकर प्रशासन की एडवाइजरी

रोहतक : कोरोना महामारी काफी लोगों निगल चुकी है। जैसे-जैसे महामारी का फैलाव बढ़ रहा है, वैसे-वैसे इस बीमारी से बचने और ठीक होने के नुस्खे नीम हकीम द्वारा बताए जाने लगे हैं। ऐसी सूचनाएं प्रशासन को मिली हैं।तभी तो उपायुक्त को एडवाइजरी जारी करनी पड़ी। एडवाइजरी में कहा गया है कि कोई भी व्यक्ति जिसका स्वास्थ्य इस समय ठीक नहीं है, वे चिकित्सक की सलाह बिना दवाइयों का सेवन न करें। बिना सलाह दवाई लेना अपने आपको सीधे-सीधे खतरे में डालना है। अपने यहां एक कहा जाता है कि कोई व्यक्ति बीमार है तो उसे सैकड़ों लोग सलाह दें कि यह खाएं और यह पिएं। यानि के दूसरे व्यक्ति के अस्वस्थ्य होने पर सलाह देने वालों की हमारे यहां कमी नहीं है। 

 कौशल गैंग ने व्यापारी से मांगी 10 लाख की रंगदारी उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार ने कहा कि अपनी सुरक्षा व दूसरों की सुरक्षा के लिए मास्क अवश्य पहनने। दिन में कई बार साबुन व सेनिटाइजर से हाथ साफ करें। छींकते वक्त नाक और मुंह को ढके। भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें। हाथ मिलाने की जगह नमस्कार करें। उन्होंने कहा कि बुखार, खांसी अथवा सांस लेने में कठिनाई हो तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। टीकाकरण ही कोरोना की रोकथाम का समाधान है। इसलिए सभी पात्र व्यक्ति टीकाकरण अवश्य करवाएं। दूसरे लोगों को भी टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करें। उन्होंने कहा कि कोरोना कि दोनों वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित हैं। हेल्पलाइन का लें सहारा डीसी कैप्टन मनोज कुमार ने कोरोना वायरस से सतर्क रहने की अपील की है। उन्होंने कहा कि सतर्कता ही इसका बचाव है। वायरस को लेकर घबराए नहीं और इससे जुड़ी अफवाहों से भी बचे। उन्होंने कहा कि नागरिकों की सुविधा के लिए राज्य सरकार ने हेल्पलाइन नंबर 108 जारी किया है। इसके अलावा चिकित्सा परामर्श के लिए दिल्ली परामर्श हेल्पलाइन नंबर 1075 भी जारी किया गया है। वायरस से बचाव के लिए नाक और कान को बार-बार ने छुए। बुखार या शरीर में कमजोरी महसूस होने पर यात्रा करने से बचें। छींकने वाले लोगों से दूरी बनाए। सार्वजनिक स्थानों पर न थूंके। चिकित्सीय परामर्श के बिना दवाई न लें।

No comments:

Post a Comment