/>

Breaking

Saturday, May 1, 2021

घोड़ी पर बैठा दूल्हा नहीं लगाए था मास्क, जिला उपायुक्त ने कटवाया चालान

घोड़ी पर बैठा दूल्हा नहीं लगाए था मास्क, जिला उपायुक्त ने कटवाया चालान

सोनीपत : शहर के दिल्ली रोड पर सिक्का कालोनी के पास वीरवार को बारात निकल रही थी। इस दौरान घोड़ी पर बिना मास्क लगाए दूल्हा बैठा हुआ था। कंटेनमेंट जोन की व्यवस्थाओं का निरीक्षण के लिए शहर में निकलते डीसी श्यामलाल पूनिया की नजर दूल्हे पर पड़ी। इस पर उन्होंने तुरंत गाड़ी से उतरकर बारात को रुकवाया और कोविड नियमों का पालन नहीं करने पर दूल्हे का 500 रुपये का चालान कराया। साथ ही बारात में शामिल अन्य लोगों को कोरोना संक्रमण से बचने के लिए हिदायत दी। बता दें कि कोरोना के बढ़ते सक्रमण को देखते हुए प्रशासन की ओर से सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन का सख्ती से पालन किया जा रहा है। 

*प्रशासन ने शादी समारोह के लिए केवल 30 व्यक्ति खुले में व 20 व्यक्तियों की हॉल में आने की अनुमति दे
 रखी है।*
 शादी कार्यक्रम में मास्क पहनना अनिवार्य है। शुक्रवार दोपहर शहर के सिक्का कालोनी में बारात निकल रही थी। इस दौरान दूल्हा घोड़ी पर बिना मास्क लगाए हुए बैठा था। इस दौरान कंटेनमेंट जोन की व्यवस्थाओं का निरीक्षण के लिए एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा के साथ शहर में निकले थे। तभी उनकी नजर दूल्हे पर पड़ी और बारात को मौके पर रुकवा लिया। आनन-फानन में दुल्हा रूमाल मुंह पर लगाने लगा। लेकिन जिला उपायुक्त ने चालान काटने के दिशा-निर्देश दिए। इसके बाद दुल्हे का पिता डीसी से विनती करता रहा, लेकिन डीसी ने उसकी एक न सुनी और कोविड-19 के नियमों की धज्जियां उड़ाने का हवाला दिया। इसके बाद कार्रवाई करते हुए दुल्हे का 500 रुपये का चालान कराया। डीसी श्यामलाल पूनिया ने कहा कि कोविड गाइडलाइन के नियम सभी के लिए बराबर है, इसमें किसी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा। दुल्हे ने उसके बाद अपने मुंह पर मास्क लगाया। जिला उपायुक्त निजी अस्पताल में निरीक्षण करने के लिए आए हुए थे। उसी दौरान एक बारात निकल रही थी। दुल्हे ने मास्क नहीं लगा रखा था। उपायुक्त के आदेशों पर दुल्हे का पांच सौ रुपये का चालान काटा गया हैं। नियमों की अवेहलना किसी सूरत में बर्दाश्त नहीं होगी।

No comments:

Post a Comment