/>

Breaking

Tuesday, June 29, 2021

षड्यंत्र के तहत सीबीआई से मिलकर कांग्रेस ने ओमप्रकाश चौटाला को जेल करवाई : अभय सिंह चौटाला

षड्यंत्र के तहत सीबीआई से मिलकर कांग्रेस ने ओमप्रकाश चौटाला को जेल करवाई : अभय सिंह चौटाला
कहा-पहली एफआईआर में नाम नहीं था, कांग्रेस के सिर्फ पांच विधायक दुर्भावना को छुपाने के लिए मुझ से पूछ रहे सात प्रश्न
-नगरपरिषद/पालिका, पंचायत व जिला परिषद चुनाव अपने सिंबल पर लड़ेगी इनेलो
जींद : ( संजय कुमार ) सोमवार को इनेलो जिला जींद की जिलास्तरीय कार्यकर्ता बैठक जाट धर्मशाला जींद में आयोजित हुई, जिसमें सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। बैठक को संबोधित करते हुए इनेलो के प्रधान महासचिव अभय सिंह चौटाला ने कहा कि इनेलो पार्टी का संगठन अन्य सभी राजनैतिक दलों से मजबूत एवं अनुशासित है। उन्होंने कहा आज प्रदेश की जनता मौजूदा गठबंधन सरकार से तंग है। आगामी पंचायत, जिला परिषद, नगरपरिषद व पालिका चुनाव इनेलो अपने दम पर पार्टी चुनाव चिन्ह पर लड़ेगी। 
उन्होंने कहा कि पिछले चुनाव में जनता ने कांग्रेस के शासन से दुखी होकर प्रदेश में बीजेपी-जेजेपी सरकार को बहुमत दिया था, परंतु अब प्रदेश की जनता पहले से भी ज्यादा तंग है और इनेलो पार्टी से जुडऩे के लिए तत्पर है। प्रत्येक जिले में आज विभिन्न दलों को छोडक़र सैकड़ों कार्यकर्ता इनेलो पार्टी में अपनी आस्था व्यक्त कर रहें है। 
इनेलो नेता ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने जान-बूझकर एक षड्यंत्र के तहत सीबीआई से मिलकर चौधरी ओमप्रकाश चौटाला को जेल करवाने का काम किया था। आज कांग्रेसी नेता इस बात की झूठी सफाई देते फिर रहे हंै कि जिस समय जेबीटी भर्ती घोटाले का केस दर्ज हुआ उस समय प्रदेश में इनेलो की सरकार हुआ करती थी और दुर्भावना को छुपाने के लिए मुझ से सात प्रश्न पूछ रहे है। लेकिन मैं कांग्रेस से पूछना चाहता हूं कि पहली एफआईआर में चौधरी ओमप्रकाश चौटाला का नाम नहीं था जो एक षड्यंत्र के तहत 2007 में 120बी के तहत दर्ज करवाया गया था। उस समय हरियाणा प्रदेश में कांग्रेस की सरकार थी और भूपेन्द्र सिंह हुड्डा हरियाणा के मुख्यमंत्री थे। उन्होंने कांग्रेस से एक प्रश्न पूछा कि क्या कांग्रेस पार्टी भाजपा से मिली हुई या नहीं, इस बात का कोई भी कांग्रेसी जवाब नहीं दे पाएगा। क्योंकि अनेकों ऐसे उदाहरण है जो यह साबित करने के लिए काफी हैं कि कांग्रेस का भूपेन्द्र हुड्डा गुट अंदरखाते भाजपा से मिला हुआ है।
 सोमवार को नरवाना से बलराज दनौदा रिटायर्ड एडीओ ने अपने साथियों सहित जेजेपी पार्टी को छोडक़र इनेलो पार्टी का दामन थामा वहीं, पूर्व सरपंच कली राम दनौदा खुर्द ने भी इनेलो पार्टी में अपनी आस्था जताई। वहीं प्रदीप, विरेन्द्र, राजपाल करसिंधु आदि ने भी परिवार सहित जेेजेपी को छोडक़र इनेलो में आस्था जताई। किसान नेता नवीन झांझ, जस्सु संगतपुरा, मोहित ढुल आदि अपने युवा साथियों सहित जेजेपी को अलविदा कहकर इनेलो का दामन थामा। किसान नेत्री सुदेश कंडेला ने भी महिलाओं सहित इनेलो पार्टी में अपनी आस्था जताई।
इस अवसर पर प्रदेशाध्यक्ष नफे सिंह राठी, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रकाश भारती, राष्ट्रीय संगठन सचिव श्याम सिंह राणा व जिला प्रभारी पूर्व विधायक ओमप्रकाश गोरा, पूर्व विधायक डा. सीता राम ने भी उपस्थित कार्यकर्ताओं को मजबूत संगठन बनाने के लिए दिशा-निर्देश दिए। मंच का संचालन प्रदेश प्रवक्ता विजेन्द्र रेढू ने किया। इस मौके पर सुमित्रा देवी प्रदेशाध्यक्ष महिला, सतीश जैन प्रदेशाध्यक्ष व्यापार, वेद सिंह मुंडे प्रदेशाध्यक्ष अनुसूचित, भगवती दहिया, सुबे सिंह लोहान सदस्य राज्य कार्यकारिणी उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment