/>

Breaking

Wednesday, June 16, 2021

अपहरण कर आंतकी संगठन ने मांगे 1 बिलियन डाॅलर

अपहरण कर आंतकी संगठन ने मांगे 1 बिलियन डाॅलर:आरपीएफ में तैनात छोटे भाई और दोस्त ने पीएम से ट्विटर और पोर्टल पर लगाई रिहा कराने की गुहार

रोहतक : अफ्रीकी देश मोजाम्बिक गए समालखा निवासी विनोद बेनीवाल को आतंकी संगठन अलसबाब ने अगवा कर एक बिलियन डालर की फिरौती मांगी है। 24 मार्च से अब तक विनोद की वापसी न होने पर परिजन परेशान हैं। आरपीएफ में तैनात छोटे भाई सतेंद्र और दोस्त ने पीएम से ट्विटर व पोर्टल पर रिहा कराने की गुहार लगाई है।

भाई सतेंद्र ने बताया कि विनोद 2015 से वर्क वीजा पर मोजाम्बिक में गया। वहां पर मेरे साले व साढू भी दूसरे शहर में नौकरी करते हैं। अफ्रीका के मोजाम्बिक में फ्रांस की कंपनी के साथ मिलकर नेचुरल गैस का प्लांट लगाया है।
इसमें विनोद ब्रांच मैनेजर के तौर पर मोजाम्बिक के पाल्मा में तैनात था। यहां पर इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) समूह से जुड़े कुछ आतंकवादियों ने 24 मार्च 2021 को उत्तरी मोजाम्बिक के पाल्मा शहर पर हमला कर दिया। 24 मार्च से विनोद से संपर्क टूट गया।
मोजाम्बिक में भारतीय दूतावास के अधिकारी से बात की, लेकिन जवाब नहीं आया। अब पता चला कि आतंकियों ने अपहरण कर लिया है। आतंकियों का कहना है कि विदेशियों को नौकरी देने की बजाय स्वदेशी अफ्रीकियों को नौकरी पर रखा जाए। अब विनोद को छोड़ने की एवज में एक बिलियन डॉलर की मांग कर रहे हैं।
जगमोहन सैनी बताते हैं कि विनोद के दो बच्चे हैं। बेटी 14 साल की और बेटा 10 साल का है। मेरे दोस्त के परिवार वाले व उसकी पत्नी व बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल है। अगर अपहरणकर्ता रुपए-पैसे की मांग करते हैं तो हम तो उनकी डिमांड पूरी करने के लिए अपना घर-बार भी बेचने को तैयार हैं।

No comments:

Post a Comment