/>

Breaking

Wednesday, July 7, 2021

टोक्यो ओलंपिक में अपना दम दिखाएगी हरियाणा की छोरी

टोक्यो ओलंपिक में अपना दम दिखाएगी हरियाणा की छोरी, 50 kg कैटेगरी मिला कोटा

रोहतक : खेलों में हरियाणा प्रदेश का लोहा देश ही नहीं विदेशों में भी माना जाता है। पहलवानी में हरियाणा के इन पहलवानों ने अपना जोर विदेशों तक दिखाया है। अब हरियाणा की महिला पहलवान सीमा बिसला 50 किलोभाग की कैटेगरी में टोक्यो ओलंपिक में अपना दम दिखाएगी।

महज 12 साल की उम्र से पहलवानी के गुर सीखने वाली हरियाणा की सीमा बिसला ने टोक्यो ओलंपिक) के लिए क्वालीफाई किया है। वहीं इससे पहले वह कॉमनवेल्थ और एशियाड, नेशनल कुश्ती प्रतियोगिताओं में भी मेडल दिलवा चुकी हैं।

आपको बता दें कि अब तक टोक्यो के लिए हरियाणा से 29 खिलाड़ियों ने क्वालीफाई किया है, रोहतक से बॉक्सर अमित पंघाल और कुश्ती में सीमा बिसला जैसी कई महिला पहलवानों ने भी 50 किलोभार कैटेगरी में क्वालीफाई किया है।
सीमा बिसाल हरियाणा के जिला रोहतक के छोटे से गांव गुढान में 1993 में जन्मी थी। सीमा अपने 5 भाई बहनों में सबसे छोटी हैं। उन्हें बचपन से ही कुश्ती का शौक था। उनके पिता आजाद बिसला किसान हैं। सीमा ने अपने कश्ती के बल पर नेशनल और इंटरनेशनल पदक जीते। इसी के बाद सीमा को हरियाणा सरकार में सीनियर कुश्ती कोच के पद पर नौकरी मिली।

सीमा बिसाल पहले रोहतक के छोटूराम स्टेडियम में अभ्यास करती थीं, लेकिन रेलवे में जाने के बाद उन्हें रेलवे के कोच ने बहुत मेहनत करवाई। हालांकि उन्होंने रेलवे की नौकरी छोड़ दी थी, लेकिन वह कोच से आज भी ट्रेनिंग लेती हैं। इसके साथ ही उनके घर वालों को भी उम्मीद है कि वह टोक्यो ओलंपिक में पदक जरूर लाएंगी।

No comments:

Post a Comment