/>

Breaking

Tuesday, November 30, 2021

प्रदेश में बढ़ रहे आपराधिक मामले : डॉ. सुशील गुप्ता

प्रदेश में बढ़ रहे आपराधिक मामले : डॉ. सुशील गुप्ता
नई दिल्ली : डॉ सुशील गुप्ता सह प्रभारी हरियाणा प्रदेश आम आदमी पार्टी ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ,अनिल विज गृहमंत्री व डीजीपी को जींद में बढ़ती अपराधिक घटनाओं के बारे में शिकायत पत्र लिखा। उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले जो 10 लाख की फिरौती दी गई थी अभी तक उसके सारे मुजरिम नहीं पकड़े गए हैं। इसी दौरान एक व्यापारी की  हत्या कर दी गई। श्याम सुंदर जो ठेकेदारी का काम करता था । दिन दहाड़े गोलियों से भून दिया गया। अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं की वारदात करके आराम से चले जाते हैं। पुलिस उन पर कोई कार्रवाई नहीं करती। पुलिस प्रशासन इन घटनाओं को रोकने में नाकाम साबित हो रहा है। उन्होंने डीजीपी से मांग की है कि ऐसे अपराधियों को जल्द से जल्द पकड़ कर सख्त से सख्त सजा दी जाएम श्याम सुंदर के घर पर शोक में शिरकत करते हुए यह बातें कहीं। उन्होंने कहा कि पूरे हरियाणा के अंदर व्यापारियों से सरेआम फिरौती मांगी जा रही हैं। यदि कोई फिरौती  नहीं देता तो उसका मर्डर कर दिया जाता है। मौजूदा सरकार इसके लिए जिम्मेदार है । जो स्वस्थ प्रशासन नहीं दे पा रही जिससे व्यापारियों में भय का वातावरण बना हुआ है। अगर ऐसे ही चलता रहा तो वह दिन दूर नहीं के व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठानों को किसी दूसरे स्टेट में शिफ्ट करना पड़ेगा। हरियाणा के अंदर गुंडाराज बढ़ जाएगा। इसलिए मुख्यमंत्री से हम मांग करते हैं कि वह जल्द से जल्द एक अच्छा निर्णय लें और लोगों के अंदर भय का माहौल खत्म करें। जींद विधानसभा आम आदमी पार्टी ने  मीटिंग करके अपराधियों को जल्द पकड़ने का आह्वान किया है व श्याम सुंदर के लिए 2 मिनट का मौन रखकर के श्रद्धांजलि दी गई। 10 लाख की फिरौती लेने वाले लोगों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की अपील की गई । इस मीटिंग में शामिल आम आदमी पार्टी के पदाधिकारी वह सामान्य सदस्य शामिल हुए और मुख्य रूप से आम आदमी पार्टी के विधानसभा अध्यक्ष तरसेम गोयल, आम आदमी पार्टी के जिला संगठन मंत्री ईश्वर दास गोयल एडवोकेट, महिला विंग की अध्यक्ष डॉ रजनीश जैन , रोहित जैन , सचिव राजेश यादव धर्मवीर देशवाल , पालाराम, धीरज गुप्ता, मनोज भेरू खेड़ा, आशीष विद्यार्थी, विंग के प्रधान रमन गुप्ता, दीपक आर्य, पवन शर्मा और अन्य सदस्य मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment