/>

Breaking

Sunday, July 19, 2020

हरियाणा में प्रत्येक 100 किसानों पर तैनात होगा किसान मित्र,आधुनिक खेती की देगा जानकारी

हरियाणा में प्रत्येक 100 किसानों पर तैनात होगा किसान मित्र,आधुनिक खेती की देगा जानकारी

बड़ा फैसला:

हरियाणा में प्रत्येक 100 किसानों पर तैनात होगा किसान मित्र,आधुनिक खेती की देगा जानकारी किसान मित्र वालंटियर स्तर पर भर्ती किए जाएंगे सीएम मनोहर लाल ने चंडीगढ़ में की घोषणा


चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने रविवार को राज्य के सभी गावों में किसान मित्रों को नियुक्त करने का फैसला किया है। प्रदेश में इस समय 17 लाख किसान हैं। प्रत्येक सौ किसानों की संख्या को आधार बनाकर एक किसान मित्र नियुक्त किया जाएगा। यह किसान मित्र किसानों को आधुनिक खेती, कृषि कल्याण योजनाओं तथा कृषि के क्षेत्र में हो रही नई-नई शोध आदि के बारे में बताएगा। किसान मित्र वालंटियर स्तर पर भर्ती किए जाएंगे।
रविवार को चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि पिछले छह वर्षों के भीतर केंद्र व राज्य सरकार ने किसानों के हित में कई कल्याणकारी फैसले लिए हैं। जिन्हें आगे बढ़ाते हुए किसान मित्रों की नियुक्ति की जाएगी। मनोहर लाल ने 'मेरा पानी मेरी विरासत' योजना को सफल करार देते हुए कहा कि सरकार ने इस साल एक लाख हैक्टेयर में धान की पैदावार रूकवाने का फैसला किया था। इससे बढक़र अब तक एक लाख 18 हजार हैक्टेयर में किसान धान की पैदावार बंद कर चुके हैं।

रिटेल सेंटर खोलेगी हरियाणा सरकार

मुख्यमंत्री ने सहकारिता को बढ़ावा देने की अपील करते हुए कहा कि सरकार ने सहकारिता विभाग के माध्यम से रिटेल सेंटर खोलने का फैसला किया है। हरियाणा के गांव और शहरों में सुपर बाजार की तर्ज पर छोटे-छोटे रिटेल काउंटर खोले जाएंगे, जिन पर सीलबंद (पैक्ड) खाने-पीने की सस्ती तथा गुणवत्तापूर्ण वस्तुएं मिलेंगी। इनमें कई उत्पाद हरियाणा में तैयार होंगे तो कुछ उत्पाद हिमाचल, उत्तराखंड, पंजाब और राजस्थान में तैयार रखे जाएंगे। हरियाणा सरकार ने इन रिटेल काउंटर को हरित ब्रांड के नाम से खोलने का निर्णय लिया है, जिन पर कम से कम डेढ़ दर्जन खाने पीने की वस्तुएं रखने की योजना है।

एनसीआर में कर्फ्यू की नहीं कोई योजना

हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज जहां एनसीआर के जिलों में कफ्र्यू लगाने का संकेत दे चुके हैं वहीं मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने रविवार को इस बात को खारिज कर दिया। सीएम ने कहा कि एनसीआर के जिलों में कुछ पॉकेट ही ऐसी हैं जहां कोरोना केस आ रहे हैं। ऐसे में पूरे क्षेत्र में कर्फ्यू लगाने की अभी कोई योजना नहीं है।

No comments:

Post a Comment