/>

Breaking

Friday, July 17, 2020

घर में सो रही नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता को तेल छिड़ककर जिंदा जलाया,पीजीआई में दम तोड़ा

घर में सो रही नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता को तेल छिड़ककर जिंदा जलाया,पीजीआई में दम तोड़ा


नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म कर बनाया वीडियो आरोपी के पिता की भी हो गई थी इसी सदमे में मौत,गुस्साए आरोपी ने फूफा के साथ मिलकर लड़की को जिंदा जलाया

भिवानी। सदर थाना क्षेत्र के एक गांव में घर के आंगन में सो रही एक नाबालिग लड़की को जिंदा जलाने का मामला प्रकाश में आया है। दो युवकों पर जलाने के आरोप हैं। गंभीर हालत में लड़की को परिजन देर रात को ही उपचार के लिए जिला सामान्य अस्पताल लेकर आए,जहां से उसे रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया गया। वहीं लड़की ने पीजीआई में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। पुलिस ने लड़की के पिता की शिकायत पर दो आरोपियों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है। 
वहीं पीड़ित लड़की ने आरोपी युवक के खिलाफ तीन दिन पहले ही सदर पुलिस थाना में सामूहिक दुष्कर्म कर अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल किए जाने की शिकायत दर्ज कराई थी। पुलिस ने आरोपी युवक और उसके फूफा पर दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया था। इस मामले में आरोपी युवक के पिता ने भी 13 जुलाई को जहरीला पदार्थ निगल लिया था। जिससे उसकी मौत हो गई थी। उसके परिजनों ने लड़की के परिजनों पर ही परेशान करने के आरोप लगाए थे। जिसमें पांच के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज हुआ था। 
सदर पुलिस थाना की गुजरानी पुलिस चौकी के अंतर्गत आने वाले एक गांव में गुरुवार अल सुबह करीब साढ़े तीन बजे साढ़े 15 साल की एक नाबालिग लड़की घर के आंगन में सोते समय संदिग्ध परिस्थितियों में आग में झुलस गई। आरोप है कि लड़की को जलाया गया। लड़की के चिल्लाने की आवाज सुनकर जब परिजन जागे तो आरोपी मौका पाकर फरार हो गए। वहीं गंभीर रूप से झुलसी लड़की को लेकर परिजन जिला सामान्य अस्पताल पहुंचे, जहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया। गुरुवार दोपहर बाद लड़की ने पीजीआई में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। 
लड़की के पिता ने बताया कि उसके तीन बच्चे हैं,दो लड़की और एक लड़का। उसकी दूसरे नंबर की साढ़े 15 वर्षीय लड़की दसवीं कक्षा में पढ़ती थी। परिवार में ही रिश्ते में लड़की का चाचा लगने वाला युवक पिछले एक साल से उसका यौन शोषण करता आ रहा था। आरोपी लड़के ने उसकी बेटी को अपनी 20 वर्षीय बहन की सहायता से बुलाया था और उसके साथ दुष्कर्म कर अश्लील वीडियो भी बना लिया था। इसी अश्लील वीडियो के सहारे उसकी बेटी को आरोपी ब्लैकमेल करने लगा और उसे बुलाकर जबरन दुष्कर्म करता रहा। 

आरोपी युवक के फूफा ने भी नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद दोनों आरोपी उसकी बेटी को अश्लील वीडियो के जरिए ब्लैकमेल कर सामूहिक दुष्कर्म करते रहे। इसी की जानकारी बेटी ने परिजनों को दी तो 13 जुलाई को मामले की शिकायत सदर पुलिस थाना में दी गई। सदर पुलिस ने इस संबंध में लड़की की शिकायत पर आरोपी युवक और उसके फूफा पर दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया था। इससे पहले भी कई बार इस मामले में पंचायतें हुई और लड़के की करतूत को रखा गया था। 

गुरुवार अल सुबह करीब साढ़े तीन बजे आरोपी युवक और उसका चाचा घर आए है और आंगन में सो रही लड़की पर पेट्रोल और डीजल डालकर उसे बेरहमी से जिंदा जला दिया। लड़की के पिता ने बताया कि उसकी बेटी पढ़ाई में काफी होशियार थी। हाल ही में आए दसवीं कक्षा के परिणाम में उसने 80 फीसदी अंक पाए हैं लेकिन आरोपी ने उसकी बेटी से हैवानियत की और फिर उसे जिंदा जला दिया। 

लड़की के परिजनों पर भी दर्ज है आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस
लड़की ने 13 जुलाई को दुष्कर्म, चोरी, छेड़छाड़ और जान से मारने की धमकी देने, पॉक्सो एक्ट के तहत युवक पर केस दर्ज करवाया था। युवक के पिता ने इससे आहत होकर 13 जुलाई की शाम को जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया और एक निजी अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। परिजनों ने आरोप लगाया था कि मृतक के छोटे लड़के पर कुछ लोगों ने झूठा केस दर्ज करवाया और अब परेशान किया जा रहा था। पुलिस पांच के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज किया था।

थाने में 13 जुलाई को नाबालिग लड़की की तरफ से शिकायत आई थी, जिस पर आरोपी व उसके फूफा पर दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज हुआ था। आरोपी के पिता ने सुसाइड किया था। जिसके बाद आरोपी के भाई की शिकायत पर लड़की के पिता व अन्य पर भी आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज हुआ था। देर रात साढ़े तीन बजे जैसे ही लड़की को जलाने की सूचना मिली तो मैं खुद जिला सामान्य अस्पताल पहुंचा और प्राथमिक उपचार दिला गंभीर हालत में लड़की को पीजीआई भिजवा दिया। उस समय हत्या का प्रयास का केस दर्ज किया था। लेकिन लड़की ने पीजीआई में दम तोड़ दिया। जिसके बाद दोनों आरोपी पर हत्या का केस दर्ज हुआ। पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।
  इंस्पेक्टर श्रीभगवान यादव, इंचार्ज सदर पुलिस थाना भिवानी।

No comments:

Post a Comment