/>

Breaking

Wednesday, July 15, 2020

यूपीएससी की तर्ज पर होगी एचसीएस परीक्षा -पैटर्न और अंकों के लिए भी नया नियम

यूपीएससी की तर्ज पर होगी एचसीएस परीक्षा, -पैटर्न और अंकों के लिए भी नया नियम

 चंडीगढ़, 15 जुलाई।
हरियाणा में अब एचसीएस की परीक्षा 200 अंकों की होगी। सरकार इस परीक्षा को यूपीएससी की तर्ज पर आयोजित करवाएगी। इसके प्रश्न पत्र भी इसी तर्ज पर तैयार किए जाएंगे, जिसके अंतर्गत आवेदकों का अब जरनल स्टडी के साथ-साथ एप्टिट्यूड टेस्ट भी होगा।
एचसीएस (एग्जीक्यूटिव ब्रांच) की परीक्षा किस तरह होगी और किस आधार पर इनके प्रश्नपत्र तैयार किए जाएंगे। इस संदर्भ में हरियाणा सरकार ने अधिसूचना जारी कर दी है। बताते चलें कि 6 जुलाई को इस बाबत कैबिनेट की मीटिंग में सरकार ने प्रस्ताव पर भी मुहर लगा दी थी।
इसके प्रिलिमनरी एग्जामिनेशन के तहत 100 अंक की परीक्षा जरनल स्टडी बेस होगी। जबकि अन्य 100 अंक की परीक्षा सिविल सर्विस एप्टिट्यूड टेस्ट पर आधारित होगी। एप्टिट्यूड टेस्ट में आवेदक की इंटरपर्सनल स्किल्स, कम्युनिकेशन स्किल्स, विश्लेषण करने की योग्यता, निर्णय लेने की योग्यता, समस्या के समाधान करने की योग्यता, मानसिक योग्यता इत्यादि के साथ-साथ कई पहलुओं को परखा जाएगा। एग्जाम का पैटर्न पूरी तरह यूपीएससी की तरह रहेगा।
बताते चलें कि मंत्रिमंडल की बैठक में हरियाणा लोक सेवा आयोग द्वारा हरियाणा सिविल सेवा (कार्यकारी शाखा) और अन्य समवर्गी सेवाओं के पदों के लिए प्रारंभिक परीक्षा के सिविल सेवाएं योग्यता परीक्षा(सीएसएटी पेपर) को संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की तर्ज पर क्वालिफाइंग पेपर बनाने की स्वीकृति प्रदान की थी। जिसकी अधिसूचना अब जारी कर दी गई है।

No comments:

Post a Comment