/>

Breaking

Thursday, July 16, 2020

अब CBI में जाएंगे हरियाणा के ये दो सुपर कॉप्स IPS Officer क्रिमिनल को पाताल से भी ढूंढ निकालते हैं IPS B Satish Balan और IPS Ashwin Shenvi

अब CBI में जाएंगे हरियाणा के ये दो सुपर कॉप्स IPS Officer क्रिमिनल को पाताल से भी ढूंढ निकालते हैं IPS B Satish Balan और IPS Ashwin Shenvi 

दोनों बेहद फिट और अपराधियों पर टूट पडने वाले अधिकारी हैं। हरियाणा में दोनों ने अपनी अलग पहचान बनाई है।


रोहतक : हरियाणा कैडर के दो आईपीएस अफसरों की Central Bureau of Investigation (CBI) को जरूरत है। इसके लिए CBI ने हरियाणा सरकार से उनकी कंफर्मेशन मांगी थी और अब हरियाणा सरकार ने भी सीबीआई में डपुटेशन पर उनकी सेवाओं के लिए हरी झंडी दे दी है। ये दो सुपर कॉप्स हैं 2004 बैच के आईपीएस अधिकारी बी सतीश बालन और 2006 बैच के अश्वनी शैणवी। दोनों ही IPS Officer युवा हैं और हरियाणा के कई जिलों में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। दोनों की पहचान अपराधियों को ढूंढ निकालने के लिए पाताल तक पीछा करने की है। दोनों के लिए ड्यूटी के घंटे नहीं बल्कि आउटपुट मायने रखते हैं। दोनों की वर्किंग भी काफी मिलती जुलती है। ऐसे हैं बी सतीश बालन: बेहद तेज दिमाग के अधिकारी बी सतीश बालन के नाम का अपराधियों में खौफ है। फिलहाल वे एसआईटी के हेड हैं और कई खूंखार अपराधियों को जेल का रास्ता दिखा चुके हैं। वे हरियाणा के अपराधियों को बाहर के राज्यों से भी गिरफ्त में लेने के माहिर हैं और आईपीएस लॉबी में उनका नाम बडे ही सम्मान के साथ लिया जाता है। जिला पुलिस अधीक्षक के रूप में भी वो जनता से सीधा जुडने में विश्वास करते रहे हैं और आम आदमी निर्भीक होकर उनके आफिस में न्याय मांगने चला जाता था। बताते हैं बी सतीश बालन एक बेहद सामान्य घर से निकले हुए आईपीएस हैं और सिविल सर्विस की तैयारी करने के साथ वो 12 घंटे की ड्यूटी भी करते थे और सफर में ही पढते थे। उन्हें आमिर खान ने अपने एपिसोड सत्यमेव जयते में भी बुलाया था। Also Read - Gym खोलकर करवा रहे थे एक्रसाइज, सील कर जिम संचालक व कोच को किया गिरफ्तार ऐसे हैं अश्विन शेणवी: 2006 बैच के आईपीएस अश्वनी शेणवी बेहद तेज तरार आईपीएस हैं। अपने को फिट रखने के लिए वो खुद एक्सरसाइज करते हैं वहीं पुलिस के अधिकारियों से लेकर पुलिसकर्मियों के ताेंद को कम करने के लिए भी जाने जाते हैं। अक्सर रातों को बाइक पर गश्त पर निकल जाना, सीधे जनता से फीडबैक लेना और राजनीतिक दबाव नहीं माने जाने के उनकी पहचान है। उनका कई नेताओं से भी टकराव हुआ है और इसके चलते उनके तबादले भी हुए हैं लेकिन अश्विन शेणवी ने अपने काम करने की शैली नहीं बदली है। खास बात ये है कि अब डेपुटेशन पर सीबीआई में जाने वाले ये दोनों अधिकारी आपस में अच्छे दोस्त भी हैं। दोनों में समानताएं -दोनों ही अधिकारी अपने को फिट रखते हैं और रोजाना एक्सराइज करते हैं। इसके साथ ही अपने पुलिसकर्मियों को फिट रखने के लिए पीटी परेड करवाते हैं। -दोनों ही सामान्य घरों से निकले हैं और इंजीनियरिंग बैकग्राउंड से आते हैं। -दोनों अच्छे दोस्त हैं और पूरे देश के आईपीएस अफसरों से अच्छे ताल्लुक हैं, जिनका इस्तेमाल हरियाणा के अपराधियों को दूसरे राज्यों में चले जाने पर पीछा नहीं छोडते हैं। -दोनों की पब्लिक के बीच अच्छी इमेज है। कभी कंट्रोवर्सी में नहीं पडे हैं और दोनों की पहचान एक ईमानदार अधिकारी है। -दोनों पब्लिक से सीधा तालमेल रखते हैं। बताते हैं इनका पब्लिक के बीच खुद का एक नेटवर्क होता है। 

No comments:

Post a Comment