/>

Breaking

Monday, August 31, 2020

शिक्षा:सीआरएसयू में विद्यार्थियों के लिए खुले हाॅस्टल के द्वार, केवल हाॅस्टलर को ही मिलेगा कमरा

शिक्षा:सीआरएसयू में विद्यार्थियों के लिए खुले हाॅस्टल के द्वार, केवल हाॅस्टलर को ही मिलेगा कमरा

जीन्द:   चौ. रणबीर सिंह विश्वविद्यालय में विद्यार्थियों के लिए हास्टल के द्वार खुल गए हैं। विवि ने फाइनल ईयर के विद्यार्थियों की परीक्षाओं को देखते हुए निर्णय लिया है। इसके तहत पहले से ही हाॅस्टल में रहने वाले फाइनल ईयर के विद्यार्थियों को इसकी सुविधा दी जाएगी। इसके अलावा अन्य किसी विद्यार्थी को सुविधा नहीं मिलेगा। इसके तहत हर कमरे में केवल एक ही विद्यार्थी को ठहराया जाएगा।

सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करवाई जाएगी। हर विद्यार्थी के लिए मास्क अनिवार्य होगा। ऐसा न करने वाले विद्यार्थियों पर कार्रवाई भी की जाएगी। 1 सितंबर से सीआरएसयू के टीचिंग डिपार्टमेंट सहित संबंधित कॉलेजों के फाइनल ईयर के विद्यार्थियों की परीक्षाएं शुरू होने जा रही हैं। अब तक विद्यार्थियों में संशय था कि उन्हें हाॅस्टल की सुविधा मिलेगी या नहीं?

विवि ने अब उन फाइनल ईयर विद्यार्थियों को हाॅस्टल की सुविधा देने का निर्णय लिया है, जो पहले से ही हाॅस्टल में रह रहे थे और फीस भर चुके थे। बाहरी छात्रों के लिए हाॅस्टल में एंट्री नहीं होगी। गर्ल्स व बाॅयज हाॅस्टल में 200-200 कमरे हैं और छात्र-छात्राओं की संख्या लगभग 120 से 130 के आसपास है। ऐसे में हर कमरे में एक-एक छात्र-छात्रा को रहने दिया जाएगा। गर्ल्स हाॅस्टल के एक फ्लोर पर फिलहाल काम चल रहा है। बाकी फ्लोर पर छात्राओं को ठहराया जाएगा। वाॅशरूम व अन्य जगहों को प्रतिदिन सेनिटाइज किया जाएगा।

मेस काॅन्ट्रैक्टर भी पहुंचा

अब तक विवि के हाॅस्टलों की मेस बंद पड़ी थी, लेकिन 1 सितंबर को परीक्षाएं शुरू हो रही है। ऐसे में फाइनल ईयर के विद्यार्थी आएंगे। इसके लिए विवि ने मेस काॅन्ट्रैक्टर को बुला लिया है। रविवार को मेस काॅन्ट्रैक्टर पहुंच चुका है। मेस में किस प्रकार की व्यवस्था करवाई जाएगी, इसके लिए विवि प्रशासन सोमवार या मंगलवार को प्लानिंग तय करेगा।

विवि में हाॅस्टल विद्यार्थियों के लिए खोल दिए गए हैं। फाइनल ईयर जो विद्यार्थी पहले रुके हुए थे, उन्हें भी ठहरने की इजाजत रहेगी। एक कमरे में एक छात्र को ठहराया जाएगा। -डॉ. राजेश पूनिया, रजिस्ट्रार, सीआरएसयू, जींद

No comments:

Post a Comment