/>

Breaking

Sunday, August 30, 2020

यमुनानगर:अस्पताल स्टाफ ने बताया मृत, पोस्टमार्टम कराने पुलिस पहुंची तो जिंदा थी महिला, परिवार ने कर ली थी अंतिम संस्कार की तैयारी

अस्पताल स्टाफ ने बताया मृत, पोस्टमार्टम कराने पुलिस पहुंची तो जिंदा थी महिला, परिवार ने कर ली थी अंतिम संस्कार की तैयारी

शव का संस्कार करने के लिए श्मशान तक तैयारी हो चुकी थी, महिला के परिवार से एक व्यक्ति जबरदस्ती आईसीयू में गया तो देखा डॉक्टर इलाज कर रहे थे।

यमुनानगर : शहर के एक प्राइवेट अस्पताल ने महिला को मृत बता दिया। सूचना पर पुलिस पहुंची तो महिला वेंटिलेटर पर जिंदा मिली। अस्पताल स्टाफ ने परिजनों को मौत होने की सूचना दे दी थी। शव का संस्कार करने के लिए श्मशान तक तैयारी हो चुकी थी। 2 घंटे तक परिजन इंतजार करते रहे। इससे गुस्साए महिला के परिवार से एक व्यक्ति जबरदस्ती आईसीयू में चला गया। वहां देखा तो महिला जिंदा थी। डॉक्टर इलाज कर रहे थे।
महिला ने हाथ-पैर हिलाए और जीभ तक बाहर निकाल कर दिखाई। यह देखकर वह हैरान रह गया। फिलहाल महिला जिंदा है और वहीं इलाज चल रहा है। उधर, डॉक्टर का कहना है कि महिला को मृत घोषित नहीं किया था। उसकी हालत बेहद खराब थी। वहीं, परिजनों ने पुलिस को कोई शिकायत नहीं दी है। जठलाना थाना एरिया के एक गांव निवासी की महिला की 3 दिन पहले हालत बिगड़ गई थी।
उसे पेट दर्द और सांस लेने में दिक्कत थी। परिजन उसे एक निजी अस्पताल में ले गए। शुक्रवार शाम 4 बजे बता दिया कि सांसें नहीं चल रहीं, लेकिन परिजन बोले कि वेंटिलेटर से मत हटाना। महिला के मायके वाले शक के चलते पोस्टमार्टम कराना चाहते थे। जठलाना थाना प्रभारी पूर्ण सिंह ने बताया कि रुक्का आया था कि महिला के शव का पोस्टमार्टम करना है। आईओ को भेजा तो पता चला कि महिला जिंदा है।

No comments:

Post a Comment