Breaking

Showing posts with label Crime News. Show all posts
Showing posts with label Crime News. Show all posts

Tuesday, May 17, 2022

May 17, 2022

जींद जेल में नशे की गोलियां मिली, कैदी व चपरासी पर केस

जींद जेल में नशे की गोलियां मिली, कैदी व चपरासी पर केस

जींद : हरियाणा के जींद जिला मुख्यालय पर जेल में पुलिस ने तलाशी अभियान के दौरान कैदी के पास से नशीली गोलियां और चरस बरामद की है। गोलियों तथा चरस को कैदी ने बीड़ी के पैकेट में छुपाया हुआ था। कैदी को नशीले पदार्थ चपरासी ने उपलब्ध करवाया था। सिविल लाइन थाना पुलिस ने जेल उपाधीक्षक की शिकायत पर कैदी तथा चपरासी के खिलाफ NDPS एक्ट के तहत मामला दर्ज कर पूछताछ शुरु कर दी है। इससे पहले भी जेल में जांच के कैदियों से नशीले पदार्थ मिलते रहते हैं।
 *खरकगागर के अंकित से मिला था बीड़ी का पैकेट*

जेल उपाधीक्षक संदीप ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि शाम को कैदियों की तलाशी ली जा रही थी। उसी दौरान गांव खरकगागर निवासी अंकित की तलाशी ली तो उसके पास बीड़ी का पैकेट मिला। जांच करने पर उसमें नशे की 29 गोलियां और सुल्फा पाया गया।
*चपरासी ने कैंटीन में दी थी*

पुलिस पूछताछ में कैदी अंकित ने बताया कि गांव बिधवान के चपरासी शिवकुमार ने उसे कैंटीन में नशे की गोलियां उपलब्ध करवाई थी। सिविल लाइन थाना पुलिस ने जेल उपाधीक्षक संदीप की शिकायत पर कैदी अंकित तथा चपरासी शिवकुमार के खिलाफ के NDPS एक्ट में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
May 17, 2022

रोहतक के सांघी में युवक की हत्या कर शव तालाब में फेंका

रोहतक के सांघी में युवक की हत्या कर शव तालाब में फेंका 

रोहतक : रोहतक सदर थाना के अंतर्गत स्थित गांव सांघी और चिड़ी रोड पर एक तालाब में युवक का शव मिलने से हड़कंप मच गया। युवक की चोट मारकर हत्या की गई है। जिसके बाद शव तालाब में फेंका गया है। मृतक के परिजनों ने गांव के ही 2 लोगों पर हत्या करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने मौके का निरीक्षण कर जांच शुरू कर दी है। मामले के अनुसार साहिल उर्फ नारायण निवासी सांघी घर से लापता हो गया था। परिजन उसकी तलाश कर ही रहे थे कि सुबह सूचना मिली कि चिड़ी रोड पर एक तालाब में युवक का शव मिला है। परिजन मौके पर पहुंचे और शव की शिनाख्त की। इस दौरान मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। घिलोड़ चौकी के प्रभारी जसवंत सिंह दलबल समेत मौके पर पहुंचे और छानबीन शुरू कर दी। शव को पानी से बाहर निकाला गया तो युवक के शरीर पर कई जगह चोट के निशान मिले। एफएसएल इंचार्ज डॉ सरोज दहिया ने भी मौके पर आकर सबूत जुटाए। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए पीजीआई भेज दिया है। मृतक के परिजनों ने गांव के ही काली और प्रदीप पर युवक की हत्या कर शव फेंकने का आरोप लगाया है। चौकी प्रभारी जसवंत सिंह का कहना है कि अभी मौत के कारणों के बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारण स्पष्ट हो सकेंगे। पुलिस मामले की हर पहलू से जांच कर रही है।

Sunday, May 15, 2022

May 15, 2022

आर्थिक तंगी में डोनेट की थी किडनी:इकरारनामा करके मुकरे बाप-बेटा; मंत्री विज के दरबार में पहुंचा मामला तो केस दर्ज हुआ

आर्थिक तंगी में डोनेट की थी किडनी:इकरारनामा करके मुकरे बाप-बेटा; मंत्री विज के दरबार में पहुंचा मामला तो केस दर्ज हुआ

अंबाला : किडनी ट्रांसप्लांट के बाद इकरारनामे से मुकरने का मामला गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के दरबार में पहुंचा तो देर रात आरोपी पिता-पुत्र के खिलाफ केस दर्ज हो गया। अंबाला कैंट थाना पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ ट्रांसप्लांट ऑफ ह्यूमन ऑर्गन एक्ट के साथ-साथ अन्य कई धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है।
*पीड़ित ने जनता दरबार में लगाई थी फरियाद*

शनिवार को लगे जनता दरबार में सुंदर नगर DRM ऑफिस अंबाला कैंट निवासी राकेश कुमार ने फरियाद लगाई थी। उसने बताया था कि वह वर्ष 2007 में कुम्हार मंडी अंबाला कैंट में किराए के एक मकान में रहता था। वह आर्थिक तंगी से जूझ रहा था। परिवार का पालन पोषण करने में काफी परेशानी झेलनी पड़ रही थी। शारीरिक कमजोरी के चलते मेहनत मजदूरी भी नहीं कर पा रहा था। इसका फायदा उठाते हुए अमित नागपाल और अमन नागपाल ने उसकी किडनी अपने पिता ओमप्रकाश नागपाल को ट्रांसप्लांट करा दी, लेकिन बाद में इकरारनामे से मुकर गए।
*3 हजार हर माह, राशन व मकान का किराया देने का था इकरारनामा*

शिकायतकर्ता राकेश कुमार ने बताया कि किसी ने उसको ओम प्रकाश नागपाल की एक किडनी खराब होने की बात बताई थी और कहा था कि अगर वह उसको किडनी डोनेट करेगा तो वे अच्छे रुपए दे देंगे। उक्त व्यक्ति ने राकेश की मुलाकात रेलवे रोड अंबाला कैंट स्थित ऑफिस में ओमप्रकाश नागपाल से कराई थी। साथ में अशोक के दोनों बेटे अमित नागपाल व अमन नागपाल से बातचीत हुई। उसने अपनी आर्थिक कमजोरी के बारे में बताया। इसका फायदा उठाते हुए तीनों ने उसे अपनी बातों में फंसा लिया। कहा कि वह उसको 30 हजार रुपए देंगे। हर माह 3 हजार रुपए, राशन और मकान का किराया भी देंगे। इस इकरारनामे के बाद उसने किडनी डोनेट करने का मन बनाया।
*कागजों पर सहमति न होते हुए कराए हस्ताक्षर*

शिकायतकर्ता ने बताया कि आरोपियों ने अंबाला सिटी स्थित लैब में उसके खून व किडनी के टेस्ट कराए। इसके बाद वे उसे सिविल अस्पताल अंबाला शहर ले गए। यहां CMO व डॉक्टरों से बातचीत कराई। इसके 3-4 दिन बाद उसे दोबारा सिविल अस्पताल अंबाला सिटी ले गए। यहां कुछ कागजों पर सहमति न होते हुए भी आरोपियों ने उसके ऊपर दबाव बनाकर हस्ताक्षर कराए। 15 जुलाई 2007 को सिल्वर ओक्स अस्पताल मोहाली में उसकी किडनी निकाल ओमप्रकाश नागपाल को ट्रांसप्लांट की। वह 8 दिन तक अस्पताल में दाखिल रहा। इस वक्त भी आरोपियों ने अपने इकरारनामे के अनुसार उसकी मदद करने का आश्वासन दिया था।
*शुरुआत में की आर्थिक मदद, बाद में मुकर गए*

शिकायतकर्ता ने बताया कि आरोपियों ने अगस्त 2007 में 30 हजार रुपए दिए। इसके कुछ समय तक आरोपियों ने हर माह 3 हजार रुपए, राशन व मकान का किराया दिया। आरोपी डॉक्टर द्वारा इंक्वायरी की बात कहकर उसका राशन कार्ड भी ले गए, लेकिन उसके बाद इकरारनामे के अनुसार आर्थिक मदद देना बंद कर दिया।
*थाना पड़ाव में भी की थी शिकायत*

राकेश कुमार ने बताया कि आरोपी उसे मात्र 300/400 रुपए ही देने लगे, जिसकी शिकायत उसने थाना पड़ाव में की थी। यहां आरोपियों ने इकरारनामे के तहत आर्थिक मदद करने तथा राशन कार्ड वापस करने की बात कहते हुए समझौता कर लिया था। कुछ समय तक ठीक रहा, लेकिन फिर वे अपने इकरारनामे से मुकर गए। अब जान से मारने की धमकी देते हैं।
*पिता व दोनों बेटों के खिलाफ किया केस दर्ज*

अंबाला कैंट थाना पुलिस ने आरोपी ओम प्रकाश नागपाल, उसके बेटे अमित नागपाल व अमन नागपाल के खिलाफ ट्रांसप्लांट ऑफ ह्यूमन ऑर्गन एक्ट की धारा 19 और धारा 120 बी, 420, 423, 506 के तहत केस दर्ज किया है।

Saturday, May 14, 2022

May 14, 2022

सोनीपत कोर्ट ने दुष्कर्मी को सुनाई 20 साल जेल, 60 हजार जुर्माने की सजा

सोनीपत कोर्ट ने दुष्कर्मी को सुनाई 20 साल जेल, 60 हजार जुर्माने की सजा

सोनीपत : सोनीपत की कोर्ट ने नाबालिग लड़की से दुष्कर्म के करीब डेढ़ साल पुराने मामले में बिहार के अररिया निवासी युवक को 20 साल की कैद और 60 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है। उसने पड़ोस में रहने वाली लड़की को धमका कर 2 महीने में कई बार उससे दुष्कर्म किया था। जुर्माना राशि में से 50 हजार रुपए पीड़ित लड़की को दिए जाएंगे। जुर्माना राशि न देने पर उसे 15 महीने अधिक जेल काटनी पड़ेगी।

*डेढ़ साल पहले हुआ था केस दर्ज*

सोनीपत शहर की एक कॉलोनी में रहने वाली महिला ने 7 दिसंबर, 2020 को पुलिस में शिकायत दी थी कि उनके पड़ोस बिहार के अररिया जिले का विशाल किराए के कमरे में रहता था। वह उसकी बेटी पर बुरी नजर रखता था। इसको लेकर उसे टोका तो वह शहर की बाबा कॉलोनी में रहने लगा। महिला ने बताया कि दिसंबर, 2020 में उसकी 14 साल की बेटी अचानक घर से लापता हो गई। इस बीच उसे पता चला कि बेटी को विशाल ले गया है।
*युवक के कमरे से मिली लड़की*

महिला इसके बाद अपनी बेटी को तलाश करते हुए बाबा कॉलोनी में विशाल के कमरे पर पहुंची तो उसकी बेटी वहीं थी। वह उसको देखकर रोने लगी। इसके बाद वह बेटी को लेकर घर आ गई। बेटी ने घर लौटकर उसे बताया कि जब विशाल उनके पड़ोस में रहता था, तो करीब दो माह पहले उसने उसे अपने कमरे में ले जाकर दुष्कर्म किया था। उसके बाद वह उसे धमकी देकर अपने कमरे पर बुलाता और उसके साथ रेप करता था।
*नाबालिग से कई बार रेप*

विशाल ने उसकी बेटी को धमकी दी थी कि अगर उसने दुष्कर्म की बात किसी को बताई तो उसके परिवार को खत्म कर देगा। दो महीने में विशाल ने उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया। अब वह डराकर उसे अपने कमरे में लेकर आया था। महिला ने इसके बाद थाना सिविल लाइन पुलिस को शिकायत देकर विशाल के खिलाफ केस दर्ज कराया।
*मजिस्ट्रेट के सामने दिए बयान*

सिविल लाइन थाना पुलिस ने किशोरी का मेडिकल परीक्षण करवाकर मजिस्ट्रेट के सामने उसके बयान दर्ज कराए थे। मामले में जांच अधिकारी उषा रानी की टीम ने आरोपी विशाल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इस मामले की सुनवाई करते हुए एएसजे सुरुचि अतरेजा सिंह की कोर्ट में चल रही थी। पीड़िता के बयान और सबूतों को देखते हुए कोर्ट ने विशाल दोषी करार दिया।
*कोर्ट ने ये सुनाई सजा*

कोर्ट ने शुक्रवार को दोषी विशाल को 6 पॉक्सो एक्ट में 20 साल की कैद और 50 हजार रुपए जुर्माना तथा धारा 363 में 5 साल कैद व 10 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है। कोर्ट ने आदेश दिया कि जुर्माना राशि में से 50 हजार रुपए पीड़िता को दिए जाएं। जुर्माना नहीं देने पर विशाल को 15 माह अतिरिक्त कैद की सजा भुगतनी होगी।

Friday, May 6, 2022

May 06, 2022

रोहतक डीआरओ झज्जर से गिरफ्तार, कोर्ट ने दो दिनों के रिमांड पर भेजा, कारनामा सुन हो जायेंगे हैरान

रोहतक डीआरओ झज्जर से गिरफ्तार, कोर्ट ने दो दिनों के रिमांड पर भेजा, कारनामा सुन हो जायेंगे हैरान 

झज्जर :  पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा की टीम ने रोहतक के जिला राजस्व अधिकारी (DRO) कनब लाकड़ा को करोड़ों रुपये की कस्टोडियन भूमि की फर्जी तरीके से रजिस्ट्री और इंतकाल करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी उस समय की गई है। जब उनको बुधवार सीएम के रोहतक प्रवास के दौरान ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया हुआ था। वीआईपी ड्यूटी पर चढ़ने से पहले एक सीनियर अधिकारी की गिरफ्तारी से स्पष्ट संदेश है कि गलत करने वाले किसी भी अफसर को सरकार बर्दाश्त नहीं करने वाली है। 
गांव खेड़का मुसलमान में करीब 16 कनाल 8 मरले जमीन का अवैध रूप से रजिस्ट्रेशन किया गया था। इस मामले का खुलासा उस समय हुआ जब एक शिकायतकर्ता ने आरटीआई से इस जमीन की जानकारी मांगी। तो पूरा मामला सामने आया। जिसकी शिकायत पुलिस को दी गई। पुलिस मामला दर्ज करके जांच में जुटी हुई हैं। DRO कनब लाकड़ा को अदालत ने दो दिनों के रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया। पुलिस का दावा है कि रिमांड अवधि में पूछताछ के दौरान इस महत्वपूर्ण मामले से कई अहम खुलासे हो सकते है। 
यह बात वीरवार को झज्जर लघु सचिवालय में एसपी वसीम अकरम ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही। हालांकि उन्होंने इस मामले में आरोपी को किसी भी प्रकार का राजनीतिक संरक्षण होने की बात से साफ इन्कार किया। लेकिन इतना जरूर कहा कि जिस तरह से जमीन के इस फर्जीवाड़े को योजनाबद्ध तरीके से अंजाम दिया गया, उससे इसमें किसी बड़ी चैन की संलिप्तता से इन्कार नहीं किया जा सकता। कारण कि जमीन का फर्जी तरीके से रजिस्ट्रेशन किया जाना और बाद में सबूत नष्ट करने के लिए लघु सचिवालय के रजिस्ट्री कार्यालय में आग लगाकर रिकार्ड को जला डालना इस बात का परिचायक है कि इस प्रकार के कई मामले ओर भी हो सकते हैं, जिन पर रहस्यमयी पर्दा उठना बाकी है।
बता दें कि पूरे मामले के अनुसार कस्टोडियन एवं ग्राम पंचायत की खेड़का मुसलमान गांव संबंधी जमीन का मामला इसलिए भी काफी संगीन माना जा रहा है क्योंकि इसी जमीन के रिकॉर्ड को खुर्दपुर करने की नियत से झज्जर लघु सचिवालय स्थित रिकॉर्ड रूम को पिछले वर्ष 27 जून को आग के हवाले कर दिया गया था। कस्टोडियन विभाग में आग लगने की यह घटना जिला प्रशासन को झकझोर कर देने वाली थी। कस्टोडियन विभाग संबंधी रिकॉर्ड रूम में आग लगने की सूचना झज्जर जिले के सभी तहसील में पूरी तौर अवगत थी।

वहीं झज्जर के तत्कालीन जिला उपायुक्त की ओर से इस मामले में कस्टोडियन को पत्र लिखकर आगे अपनी जमीन के संबंध में कोई कार्रवाई नहीं की जाने के निर्देश भी जारी किए गए थे। लेकिन इसके बाद झज्जर की हेड रजिस्ट्रेशन ब्रांच में कस्टोडियन विभाग संबंधी दस्तावेजों की सत्यापित प्रतियों के आधार पर आगे जमीन का इंतकाल बहादुरगढ़ तहसील में दर्ज कर दिया गया। जबकि सत्यापित पतियों में कई गंभीर त्रुटियां प्रथम दृष्टि ही नजर आ रही थी। वहीं सबसे अहम यह है कि इस मामले में शिकायतकर्ता सुरेश जून ने पुलिस को बताया है कि कस्टोडियन के फर्जी दस्तावेज के संबंध में उन्होंने बहादुरगढ़ के तहसीलदार कनब लाकड़ा को बता दिया था।
फर्जीवाड़े के संबंध में मौखिक रूप से जानकारी दे दी गई थी। लेकिन उन्होंने फर्जी बैनामा संख्या 6350 दिनांक 23 मार्च 2001 के बारे में जाति जानकारी होने के बाद रिश्वत लेकर इंतकाल संख्या 1538 मंजूर कर दिया। यह भी आरोप है कि उक्त खसरा नंबर 29 का बंटवारा भी बिना कानूनी प्रक्रिया पूरे किए ही 2 महीने के अंदर कनब लाकड़ा की ओर से किया गया। इसके बाद जब शिकायतकर्ता जमीन के संबंध में कस्टोडियन विभाग के अधिकारियों से मिला तब उन्होंने इस मामले में डाक द्वारा जानकारी भेजे जाने की बात कही। इसके 2 दिन बाद झज्जर के लघु सचिवालय के रिकॉर्ड रूम में आग लगा दी गई।
तत्कालीन तहसीलदार कनब लाकड़ा ने पुलिस जांच पर भी उठाए थे सवालझज्जर की आर्थिक अपराध शाखा की ओर से इस मामले की जांच की गई। मामले में गिरफ्तार किए गए तत्कालीन तहसीलदार बहादुरगढ़ कनब लाकड़ा की ओर से न केवल पुलिस पर सवाल उठाए थे। बल्कि इनकी ओर से जांच अधिकारी हरिप्रकाश की भी शिकायत की गई थी। कनब लाकड़ा का आरोप था कि पुलिस को राजस्व संबंधी मामले का ज्ञान नहीं है और इस लिहाज से वे उनके साथ न्याय नहीं कर पाएंगे। जबकि झज्जर एसपी वसीम अकरम की ओर से इस मामले में डीसी से अनुरोध कर राजस्व विभाग से संबंधित अधिकारियों को इस जांच में संयोग के लिए लिया गया था।
विभागीय जानकार बताते हैं कि सरकारी खजाने को नुकसान पहुंचाने वाले इस मामले में एडिशनल एसपी के रूप में विक्रांत भूषण ने काफी रूचि लेकर काम किया है। तमाम तरह के अप्रत्यक्ष दबाव के बाद अधिकारी की निष्ठा पर कोई सवाल नहीं उठा सका। यही कारण है कि इनकी बदली के बाद मामले की फाइल ठंडे बस्ते में चली जाने की संभावनाएं जताई जा रही थी। लेकिन जिस तरीके से अब एक बड़े अफसर की गिरफ्तारी हुई है। बहुत जल्द पुलिस इस मामले में इस बात का पता लगाएगी कि आखिर इस पूरे षडयंत्र को कैसे रचा गया और इस मामले में और कितने लाेग छुपे बैठे हैं। जो सरकारी दस्तावेजों को अपने मनगढंत तरीके से बदलाव कर विवाद के बड़े मामले बनाने पर तुले हुए हैं।
आम आदमी के लिए यह मामला काफी हैरान करने वाला है। कस्टोडियन विभाग की खाना काश्त में कस्टोडियन विभाग खुद काश्तकार है। जबकि शिकायतकर्ता सुरेश जून इस मामले में अपने आप को काश्तकार होने का दावा कर रहे हैं। इनका स्पष्ट रूप से कहना है कि वे इस जमीन के मालिक नहीं है। यदि उनकी ओर से इस मामले को नहीं उठाया जाता। तब प्रदेश सरकार की करोड़ों रुपए की बे कीमती जमीन अफसरों की मिलीभगत से खुर्दबुर्द कर दी जाती।
मामले में जांच अधिकारी हरिप्रकाश ने बताया कि एफआईआर संख्या 13 में तत्कालीन तहसीलदार कनब लाकड़ा को पूछताछ के लिए आर्थिक अपराध शाखा में तलब किया गया था और पूछताछ के दौरान उनकी ओर से संतोषजनक जवाब नहीं दिया गया जिस पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। उनको गुरुवार को बहादुरगढ़ अदालत में पेश किया जाएगा इनको रात को बहादुरगढ़ सदर में रखा जाएगा। मामले में कई संगीन पहलू हैं जिनको जानने व दस्तावेज आदि जुटाने के लिए कनब लाकड़ा को पुलिस रिमांड पर लेने का अनुरोध अदालत से किया जाएगा।

Thursday, May 5, 2022

May 05, 2022

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड अध्यक्ष ने मारा छापा, आंसर शीट चेक करने घर ले जा रहे थे शिक्षक

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड अध्यक्ष ने मारा छापा, आंसर शीट चेक करने घर ले जा रहे थे शिक्षक

रोहतक :  हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह ने बुधवार को वैश्य सीनियर सेकेंडरी स्कूल में छापा मारा। यहां 10वीं-12वीं की आंसर शीट चैक करने के लिए सेंटर बनाया हुआ है। दो घंटे तक मूल्यांकन केंद्र के बाहर रैकी करने के बाद छापेमारी की। सेंटर में काफी ऐसे अध्यापक मिले जो उत्तरपुस्तिका हैं चेक करने के लिए अपने साथ घर ले जा रहे थे। अध्यक्ष ने करीब 12 अध्यापकों को पकड़ा और उन पर कार्रवाई के लिए शिक्षा विभाग को लिख दिया गया है। पूरी कार्रवाई शिकायत के आधार पर की गई है। बोर्ड अध्यक्ष ने मॉडल टाउन स्कूल व सैनी स्कूल के सेंटर का भी निरीक्षण किया और शिक्षकों को कड़े निर्देश दिए। दरअसल बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह को सूचना मिली थी कि वैश्य सीनियर सेकेंडरी स्कूल में बनाए गए मूल्यांकन केंद्र में अनिमितता हो रही हैं। यहां नियम के अनुसार मूल्यांकन नहीं किया जा रहा। बुधवार सुबह डॉ. जगबीर सिंह सेंटर के बाहर गाड़ी में खड़े हो गए। दो घंटे तक बिना किसी को बताए देखा गया कि सेंटर में कौन-कौन आ रहा है और कौन जा रहा है। इसके बाद वे सीधे सेंटर में पहुंच गए और जांच शुरू कर दी।  बोर्ड अध्यक्ष को अचानक सेंटर में देखकर अनियमितता करत रहे अध्यापकों के पसीने छूट गए। 12 उपपरीक्षक और एकल परीक्षक ऐसे मिले जो उत्तर पुस्तिका जांच करने के लिए घर ले जा रहे थे। कारण पूछने पर किसी ने खुद की तबीयत खराब होने का बहाना मिलाया तो किसी ने परिवार के किसी अन्य सदस्य की हालत खराब होने की बात कही। पैर पकड़े, आंसू बहाए छापेमारी के दौरान उत्तर पुस्तिका घरर ले जाते पकड़े गए अध्यापकों ने बोर्ड अध्यक्ष के पैर तक पकड़े। आंसू बहाए, लेकिन बोर्ड अध्यक्ष ने एक न सुनी। इन सभी अध्यापक/अध्यापिकाओं के खिलाफ कार्रवाई करेन के लिए शिक्षा विभाग को लिख दिया गया है। 109 सेंटर बनाए हैं हरियाणा बोर्ड की परीक्षाओं की आंसर शीट चैक करने के लिए बोर्ड की तरफ से सेंटर बनाए गए हैं। प्रदेशभर में 10वीं कक्षा के लिए 70 और 12वीं कक्षा के लिए 39 सेंटर निर्धारित किए गए है। हर अध्यापक को मूल्यांकन केंद्र के अन्दर ही बोर्ड द्वारा निर्धारित की गई 40 उत्तरपुस्तिकाएं जांचकर जमा करवानी होती हैं। मार्किंग सेंटर पर अनियमितता बरतने की शिकायत मिली थी, जिसके बाद पूरी तैयारी के साथ छापेमारी की गई। छापेमारी के दौरान 12 शिक्षकों को पकड़ा गया, जिन पर विभागीय कार्रवाई के लिए शिक्षा निदेशालय को पत्र भेजा गया है। शिक्षा विभाग तय करेगा कि आरोपित शिक्षकों के खिलाफ क्या कार्रवाई की जाएगी। _ डॉ. जगबीर सिंह, चेयरमैन, हरियाणा शिक्षा बोर्ड।

Tuesday, May 3, 2022

May 03, 2022

डायल 112 पुलिस टीम खुद बनी शिकार, लोगों ने मारपीट कर वर्दी फाड़ी, 23 पर केस

डायल 112 पुलिस टीम खुद बनी शिकार, लोगों ने मारपीट कर वर्दी फाड़ी, 23 पर केस

जींद : गांव हमीरगढ में दो पक्षों के बीच हुए झगड़े की सूचना पाकर पहुंची डायल 112 पुलिस टीम के साथ झगड़ रहे लोगों ने दुर्व्यवहार तथा हाथापाई की। इस दौरान एक पुलिसकर्मी की वर्दी भी फट गई। घटना की सूचना पाकर गढी थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई और हालातों का जायजा लिया। गढी थाना पुलिस ने डायल 112 की एसपीओ की शिकायत पर तीन लोगो को नामजद कर 20 अन्य के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने, दुर्व्यवहार करने समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। डायल 112 टीम के एसपीओ तनवीर ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि कंट्रोल रूम से सूचना मिली थी गांव हमीरगढ में दो पक्षों के बीच झगड़ा हो गया, जिस पर वह ईएचसी रमेश, सिपाही भीम के साथ गांव हमीरगढ मौके पर पहुंच गया। उस दौरान दोनों पक्षों के बीच बहस चली हुई थी। जब उन्होंने समझाने की कोशिश की तो अमित, बलिंद्र, भीरा समेत 20 अन्य लोगों ने उन्हें घेर लिया और गाली गलौच करते हुए हाथापाई पर उतर आए। जिसमें उसकी वर्दी फट गई। गढी थाना से पुलिसबल पहुंचने के चलते आरोपित फरार हो गए। गढी थाना पुलिस ने एसपीओ तनवीर की शिकायत पर अमित, बलिंद्र, भीरा को नामजद कर 20 अन्य के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने, दुर्व्यवहार करने समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। गढी थाना प्रभारी सुनील ने बताया कि दो पक्षों के बीच झगडा हो गया था। सूचना मिलने पर डायल 112 पर तैनात पुलिस कर्मी मौके पर पहुंचे थे। जिनके साथ हाथापाई तथा दुर्व्यवहार किया गया। फिलहाल मामला दर्ज कर लिया गया है, मामले की जांच की जा रही है।

Monday, May 2, 2022

May 02, 2022

मोर्निंग वॉक पर निकला व्यक्ति रानी तालाब में गिरा, डूबने से मौत

मोर्निंग वॉक पर निकला व्यक्ति रानी तालाब में गिरा, डूबने से मौत

जींद : रानी तालाब पर सोमवार सुबह मोर्निंग वॉक पर निकले व्यक्ति की डूबने से मौत हो गई। शहर थाना पुलिस ने मृतक के शव का सामान्य अस्पताल में पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया। शहर थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है। रानी तालाब में पर सुबह मोर्निंग वॉक कर रहे लोगों ने एक व्यक्ति को तालाब में गिरे देखा। लोगों ने व्यक्ति को निकालने की कोशिश की लेकिन गहराई ज्यादा होने के चलते पानी में उतरने की कोई हिम्मत नहीं कर पाया। लोगों की इसकी सूचना शहर थाना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके कर स्थानीय लोगों की मदद से व्यक्ति को बाहर निकाला और व्यक्ति को सामान्य अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक की पहचान इंद्रा बाजार निवासी विजय (62) के रूप में हुई। मृतक विजय के बेटे अमित ने बताया कि उसका पिता काफी समय से बिमार चल रहे थे। सोमवार सुबह मोर्निंग वॉक के लिए रानी तालाब पर आए थे। तभी उन्हें चक्कर आ गया और वो तालाब में जा गिरे, जिससे उसके पिता की मौत हो गई। शहर थाना पुलिस ने मृतक के शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Sunday, May 1, 2022

May 01, 2022

LIC एजेंट से मांगी 5 लाख चौथ:जींद का मामला, गेट पर पत्र चिपका कर दी जान से मारने की धमकी

LIC एजेंट से मांगी 5 लाख चौथ:जींद का मामला, गेट पर पत्र चिपका कर दी जान से मारने की धमकी

 जींद : जुलाना में वार्ड 13 में एलआईसी एजेंट से पांच लाख रुपए की चौथ मांगने का मामला सामने आया है। बदमाशों ने गेट के बाहर पत्र चिपका दिया, जिस पर लिखा था कि तीन दिन में पांच लाख रुपए नहीं दिए तो उसे और उसके बेटे को जान से मार देंगे। एजेंट ने इसकी शिकायत पुलिस को दी। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।
*गेट पर चिपकाया धमकी भरा पत्र*


वार्ड 13 निवासी काम सिंह ने बताया कि वह आरएमपी चिकित्सक के साथ-साथ एलआईसी एजेंट का भी कार्य करता है। वार्ड 13 में ही उसका निवास स्थान है और दुकान भी उसके आगे ही है। शनिवार को रात को वह दुकान को बंद करके गया था, लेकिन रविवार सुबह जैसे ही उसने अपनी दुकान को खोला तो गेट पर एक धमकी भरा पत्र चिपका मिला।
*बेटे को गोली मारने की धमकी*

जिसमें लिखा गया है कि तीन दिन में घर खाली कर दो और पांच लाख रुपये दो। अगर नहीं दिए तो उसे और उसके बेटे सोनू को गोली मार दी जाएगी। काम सिंह ने इसकी शिकायत डायल 112 पर दी। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और जांच में जुटी गई। काम सिंह ने पुलिस को शिकायत देकर सुरक्षा की मांग की है। काम सिंह ने बताया कि उसकी किसी के साथ कोई रंजिश भी नहीं है।

Thursday, April 28, 2022

April 28, 2022

पानीपत में क्रेन ने लड़की को कुचला:दादा के साथ कॉलेज जा रही थी, मौके पर मौत; आरोपी 14 साल का नाबालिग

पानीपत में क्रेन ने लड़की को कुचला:दादा के साथ कॉलेज जा रही थी, मौके पर मौत; आरोपी 14 साल का नाबालिग

पानीपत : हरियाणा के पानीपत जिले में गुरुवार सुबह एक बड़ा सड़क हादसा हो गया। बाबरपुर मोड़ के पास कॉलेज जा रही लड़की को क्रेन ने कुचल दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के बाद मौके पर जुटी भीड़ ने पाया कि क्रेन चलाने वाला चालक नाबालिग था।


हादसे की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम नंबर डायल 112 पर दी गई। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। लड़की के शव को सिविल अस्पताल भिजवाया गया है। सदर थाना पुलिस मामले में कार्रवाई कर रही है। आरोपी क्रेन छोड़कर भाग रहा था कि लोगों ने दबोच लिया।
Crane crushed girl in Panipat: was going to college with grandfather, died on the spot; accused 14 year old minor
*क्रेन, जिससे दादा-पोती को कुचला गया।*
मृतका की पहचान 19 साल की साक्षी निवासी बाबरपुर मंडी के रूप में हुई। वह इंजीनियरिंग की फर्स्ट ईयर की छात्रा थी। 65 वर्षीय दादा सुभाष से कॉलेज छोड़ने जा रहे थे कि दोनों को क्रेन ने कुचल दिया। साक्षी की मौत हो गई, वहीं दादा गंभीर रूप से घायल हो गए।

आरोपी चालक 14 साल का नाबालिग है, जो इस समय पुलिस गिरफ्त में है। साक्षी के पिता दीपक बाबरपुर मंडी में एक परचून की दुकान चलाते हैं। साक्षी बड़ी बेटी थी। एक छोटा बेटा भी है।
April 28, 2022

फानों में लगाई आग से हादसा : धुएं में दो बाइक भिड़ी, महिला की मौत, चार लोग घायल

फानों में लगाई आग से हादसा : धुएं में दो बाइक भिड़ी, महिला की मौत, चार लोग घायल

जींद : गांव सिंघाना तथा मुआना के बीच खेतों में फूंके जा रहे गेहूं के फानों से उठे धुएं के कारण वहां से गुजर रहे बाइक की दूसरी बाइक ट्राली से भिड़त हो गई। जिसमें बाइक पर सवार एक महिला की मौत हो गई जबकि पति समेत चार लोग घायल हो गए। सदर थाना सफीदों पुलिस मामले की जांच कर रही है। गांव जुलानी निवासी प्रवीण, उसकी पत्नी सोनम (24), भाई दीपक (22), बेटा रेहान (डेढ़ वर्ष), बेटी वर्षा चार माह को बाइक पर लेकर अपनी ससुराल गांव रामपुरा जा रहा था। जब वे गांव सिंघाना तथा मुआना के बीच पहुंचे तो वहां पर फाने फूंके जाने के कारण धुआं फैला हुआ था। धुएं के बीच उनकी बाइक दूसरी बाइक ट्राली से जा भिड़ी। जिसमें प्रवीण समेत उसके परिवार के पांच सदस्य घायल हो गए। राहगीरों ने घायलों को सामान्य अस्पताल सफीदों पहुंचाया जहां चिकित्सकों ने सोनम को मृत घोषित कर दिया। प्रवीण व परिवार के अन्य सदस्यों के हालात खतरे से बाहर हैं। घटना की सूचना पाकर सदर थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई और हालातों का जायजा लिया। दूसरा चालक बाइक ट्राली को मौके पर छोड़ कर फरार हो गया।
मृतक के भाई दीपक ने बताया कि सड़क पर काफी धुआं था। दूसरी तरफ से बाइक ट्राली आ रही थी। जिसमें सरिया भरा गया था। धुआं होने के कारण उन्हें दिखाई नहीं दिया और दोनों के बीच भिड़ंत हो गई। जिसमें उसकी भाभी सोनम की मौत हो गई। सदर थाना सफीदों प्रभारी धर्मबीर ने बताया कि जिस स्थान पर हादसा हुआ वहां पर धुआं था। धुएं में दोनों चालक साफ नहीं देख पाए और हादसा हो गया। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।
April 28, 2022

होटल, रेस्टोरेन्ट, पीजी, सिनेमा, बैक्वेट हाल, बहुमंजिला इमारतों में अग्नि सुरक्षा मापदंडों की होगी जांच

होटल, रेस्टोरेन्ट, पीजी, सिनेमा, बैक्वेट हाल, बहुमंजिला इमारतों में अग्नि सुरक्षा मापदंडों की होगी जांच

हिसार : शहर के मुख्य बाजार राजगुरू मार्केट स्थित राम चाट भंडार में पिछले दिनों आगजनी की घटना हुई थी। ऐसी घटना दोबारा न हो। इसलिये वीरवार को नगर निगम आयुक्त अशोक कुमार गर्ग दमकल विभाग को आदेश जारी किये कि शहर में होटल, रेस्टोरेन्ट, पीजी, सिनेमा , बैक्वेट हाल , बहुमंजिला इमारत व वाणिज्यिक भवनों में सुरक्षा मापदंडों की जांच करें। नियमानुसार नहीं पाने पर उनके खिलाफ कार्रवाई कर सात दिनों में रिपोर्ट प्रस्तुत करें। नगर निगम आयुक्त अशोक कुमार गर्ग ने कहा कि पिछले दिनों राम चाट भंडार में आग लगने के कारण एक बच्चे की मृत्यु हो गई तथा आस-पास के कई भवनो को नुकसान भी हो चुका है। इस तरह का हादसा और जान- माल का नुकसान दोबारा न हो। इसलिये दमकल विभाग के अधिकारियों को आदेश दिये गये है कि सभी वाणिज्यक भवनों जैसे होटल, रेस्टोरेंट, पीजी, सिनेमा, बैंक्वेट हॉल, बहुमंजिला इमारत व वाणिज्यिक भवनों के अग्नि सुरक्षा के मापदंडों की जांच करें। कौन मापदंड पूर्ण करता है, कौन नहीं करता है। जो अग्नि सुरक्षा मापदंडों को पूरा नहीं करते है तो उनके खिलाफ सात दिनों के अंदर अंदर कार्रवाई करें और अपनी रिपोर्ट दे।

Wednesday, April 27, 2022

April 27, 2022

मंदिर के भवन पर चला भू-माफिया का हथौड़ा, आज होगी पंचायत

मंदिर के भवन पर चला भू-माफिया का हथौड़ा, आज होगी पंचायत

भिवानी : भू माफिया की नजर में पुराने व जर्जर मंदिर चढ गए हैं। हरियाणा की छोटी काशी के नाम से प्रसिद्ध शहर भिवानी में भू माफिया ने बंसीलाल पार्क के पीछे स्थित जर्जर शिवालय व उसके भवन को तोड़ने का प्रयास किया, लेकिन मौके पर पहुंचे शहर व आसपास के लोगों ने तोड़फोड़ बंद करवा दी। साथ ही शहर के लोगों ने इस मामले में बुधवार को पंचायत बुलाई है। पंचायत के फैसले के बाद ही आगामी रणनीति तय की जाएगी। सर्व धर्म संस्था के संस्थापक ठाकुर रणधीर सिंह व करणी सेना के प्रदेश उपाध्यक्ष जितेंद्र तंवर हालवास ने बताया कि कुछ लोगों ने बंसीलाल पार्क के पीछे स्थित एक शिवमंदिर व उसके पास बने कमरों को तोड़ने का प्रयास किया। उक्त लोगों ने ट्रैक्टर से भवन की दिवारों को गिराने का प्रयास किया। क्षेत्र के लोगों ने इसकी सूचना सर्व धर्म संस्था के संस्थापक ठाकुर रणधीर सिंह को दी। सूचना के बाद ठाकुर रणधीर सिंह मौजिज लोगों के साथ मौके पर पहुंच गए। उन्होंने दिवारों को तोड़ने के कार्य को रूकवा दिया। सर्व धर्म संस्था के संस्थापक ठाकुर रणधीर सिंह व करणी सेना के प्रदेश उपाध्यक्ष जितेंद्र तंवर हालवास ने बताया कि उक्त मंदिर में लोग पूजा अर्चना के आते हैं। उन्होंने बताया कि करीब पौने दो सौ साल पहले मंदिर, कुआ, बावड़ी व धर्मशाला का निर्माण करवाया गया था। उक्त जगह पर लोग आकर विश्राम करते थे, लेकिन अब भू माफियाओं ने उक्त मंदिर को तोड़ने की साजिश रच डाली। जिसके तहत मंदिर को तोड़ने का प्रयास किया गया। जिसको लेकर शहर के लोगों में जबरदस्त रोष है। इसी मामले को लेकर बुधवार को शहर के मौजिज लोगों की पंचायत बुलाई जाएगी। जिसमें मंदिर को बचाने के लिए आगे की रणनीति तय की जाएगी।
April 27, 2022

कैदियों ने चम्मचों से बनाए हथियारों से किया हमला, छह घायल

कैदियों ने चम्मचों से बनाए हथियारों से किया हमला, छह घायल

झज्जर :  मंगलवार देर सांय झज्जर जिला मुख्यालय स्थित दुलीना जेल में आपसी विवाद के चलते कैदियों के दो गुटों में झगड़ा हो गया। जिसमें दो गुटों के कई लोग घायल हो गए। आनन-फानन में सूचना पुलिस को दी गई। जिस पर कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम मौके पर पहुंची और मामले की जानकारी लेते हुए आवश्यक साक्ष्य जुटाए। पुलिस द्वारा इस संबंध में नियमानुसार आगामी कार्यवाई अमल में लाई जा रही है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार की शाम खाना खाते समय दो गुटों में किसी बात को लेकर आपसी विवाद हो गया। जिसके चलते दोनों पक्षों की ओर से बर्तनों की सहायता से बनाए गए चम्मचनुमा हथियारों से हमला बोला गया। इस झगड़े में दोनों पक्षों की तरफ से तीन-तीन लोगों को घायल होने के चलते स्थानीय नागरिक अस्पताल में लाया गया। यहां उनका उपचार किया गया। एक पक्ष से वीरेंद्र उर्फ वीरा चरखी दादरी, विनोद उर्फ काला गोच्छी तथा नीरज टांडाहेड़ी शामिल है जबकि दूसरे पक्ष की ओर से अश्वनी उर्फ बॉक्सर जिला सोनीपत, प्रीतम व अजीत बादली घायल हुए। जेल में झगड़ा होने की सूचना मिलने के बाद जहां डीएसपी राहुल देव ने नागरिक अस्पताल पहुंचकर मामले की जानकारी वहीं शहर थाना प्रभारी शेर सिंह, कर्मबीर, सदर थाना प्रभारी रमेश कुमार सहित जेल सुप्रीटेडेंट सुरेंद्र दलाल भी सुरक्षा कारणों के चलते अस्पताल पहुंचे और मामले की जानकारी ली। मामले की गंभीरता के चलते पुलिस और जेल प्रशासन द्वारा विभिन्न पहलूओं को देखते हुए मामले की जांच की जा रही है।