/>

Breaking

Thursday, September 17, 2020

जजपा विधायक देवेंद्र बबली के बगावती सुर:नेता दिग्विजय चौटाला करते नजर आए क्राइसिस मैनेजमेंट, बोले- दादा गौतम भी हमारे और बबली भी, हम अपने घर में बैठकर चर्चा कर लेंगे

जजपा विधायक देवेंद्र बबली के बगावती सुर:नेता दिग्विजय चौटाला करते नजर आए क्राइसिस मैनेजमेंट, बोले- दादा गौतम भी हमारे और बबली भी, हम अपने घर में बैठकर चर्चा कर लेंगे

चंडीगढ़ : जजपा के नारनौंद से विधायक रामकुमार गौतम के बाद अब टोहाना से विधायक देवेंद्र बबली के पार्टी के खिलाफ बगावती सुर अख्तियार कर लेने पर जजपा बैकफुट पर नजर आ रही है। गुरुवार को जजपा नेता दिग्विजय चौटाला ने चंडीगढ़ में प्रेसवार्ता के दौरान इस मामले पर क्राइसिस मैनेजमेंट करते नजर आए। उन्होंने कहा कि दादा गौतम भी हमारे हैं और देवेंद्र बबली भी। हम अपने घर में बैठकर चर्चा कर लेंगे।
दिग्विजय चौटाला ने कहा कि अगर बबली को किसी बात को लेकर बात करनी है तो पार्टी के अंदर चर्चा करेंगे। टोहाना को लेकर उनके कुछ मुद्दे हैं, उनपर हम उनसे चर्चा करेंगे। देवेंद्र बबली द्वारा डिप्टी सीएम की लोकप्रियता और कामों पर सवाल खड़े करने पर दिग्विजय ने कहा कि यदि देवेंद्र बबली डिप्टी सीएम को कोई अच्छी सलाह देना चाहते हैं तो हम उनकी सलाह जरूर मानेंगे, वे आखिरकार हमारे अपने हैं।
किसानों के लाठीचार्ज को बताया गलता
दिग्विजय चौटाला ने 10 सितंबर को पिपली में किसानों पर हुए लाठीचार्ज को गलत बताया। उन्होंने कहा कि लाठीचार्ज दुष्यंत चौटाला ने नहीं करवाया। जिसने भी यह किया, उसके खिलाफ जांच होनी चाहिए। किसी भी किसान को यदि लाठी लगी है तो हम उसके लिए माफी मांगते हैं।
कृषि अध्यादेश पर खड़े सरकार के साथ
दिग्विजय चौटाला से जब कृषि अध्यादेश से जुड़ा सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि हम एमएसपी के मुद्दे पर अडिग हैं। किसान को एमएसपी मिलना चाहिए। इस बात पर देश के कृषि मंत्री साफ तौर पर कह चुके हैं कि एमएसपी खत्म नहीं होगा। वैसे भी कृषि अध्यादेश से जुड़ा मामला केंद्र का है, राज्य सरकार का इससे कोई लेना देना नहीं है।
दिग्विजय चौटाला ने कहा कि कुछ लोग बेवजह डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला को इस मुद्दे पर टारगेट कर रहे हैं। कृषि अध्यादेश पर दिग्विजय ने कहा कि हमें देश के प्रधानमंत्री की बात पर विश्वास करना चाहिए।

No comments:

Post a Comment