/>

Breaking

Friday, September 25, 2020

कैथल:साधु समाज ने महंत रमनपुरी को सौंपी डेरा स्वामी परमहंस पुरी सूरजकुंड माता गेट डेरे की जिम्मेदारी

कैथल:साधु समाज ने महंत रमनपुरी को सौंपी डेरा स्वामी परमहंस पुरी सूरजकुंड माता गेट डेरे की जिम्मेदारी

डेरा स्वामी परमहंस पुरी सूरजकुंड माता मंदिर माता गेट डेरे की जिम्मेदारी साधु समाज ने महंत रमनपुरी को सौंपी गई। यह जिम्मेदारी महंत विश्वनाथ पुरी एवं श्री पंचदशनाम जूना अखाड़ा के महंत मच्छंदर पुरी द्वारा सौंपी गई। इस अवसर पर सुबह हवन का आयोजन किया। इसके बाद महंत रमनपुरी को चादर ओढ़ाकर और फूल-मालाओं से स्वागत किया गया। इसके बाद भंडारे का आयोजन किया गया।

पूरा कार्यक्रम सेवामडी के अध्यक्ष महंत मच्छंदर पुरी की देखरेख में हुआ। इस अवसर पर महामंडलेश्वर कपिल पुरी, सचिव कपिल पुरी, महंत कमलपुरी, महंत कर्णपुरी, थानापति सुरेश पुरी, महंत अभय पुरी, महंत केदारपुरी, महंत विद्यानंद सरस्वती, महंत भरत पुरी (दिल्ली), महंत कुशपुरी, महंत धीरेंद्र पुरी, महंत मुकेश पुरी (करनाल), महंत वेद व्यास पुरी (गुजरात), महंत गणेश पुरी व देवपुरी, थानापति नारायण गिरी (उत्तर प्रदेश) सहित समस्त साधु समाज सहित कैथल विधायक लीला राम गुज्जर, नगर परिषद के पूर्व चेयरमैन यशपाल प्रजापति, मास्टर रामपाल भट्ट, श्याम बंसल, समाजसेवी रामप्रताप गुप्ता, समाजसेवी कैलाश भगत, कपिल चौधरी, एडवोकेट धर्मबीर भोला, पवन शर्मा, राजीव, एडवोकेट अखिलेश पाठक, विकास शर्मा, सतीश सिंगला, अखिल भारतीय महासंघ के चेयरमैन सतपाल गुप्ता, सुरेंद्र अरोड़ा, ज्ञानचंद भल्ला, श्याम लाल, सतपाल मंगला, आशीष चौधरी, रेल यात्री कल्याण समिति के प्रधान लाजपत राय सिंगला, पवन शर्मा सहित अन्य शहरवासी उपस्थित रहे। बता दें कि कुछ दिन पूर्व ही डेरे के महंत रहे राजेश्वर पुरी ब्रह्मलीन हो गए थे। उनके कार्यकाल में डेरा ने खूब तरक्की की। यहां औषधीय पौधों की वाटिका भी उनके द्वारा स्थापित की गई थी।

No comments:

Post a Comment