/>

Breaking

Sunday, October 4, 2020

कार्रवाई:दो साल में 750 बेरोजगारों को नौकरी देने का लालच देकर ऐंठे एक करोड़, 6 ठग गिरफ्तार; आरोपी साइन साइट के पोर्टल को 47 हजार में 3 माह के लिए खरीदते

कार्रवाई:दो साल में 750 बेरोजगारों को नौकरी देने का लालच देकर ऐंठे एक करोड़, 6 ठग गिरफ्तार; आरोपी साइन साइट के पोर्टल को 47 हजार में 3 माह के लिए खरीदते

पुलिस ने छह ऐसे ठगों को गिरफ्तार किया है जिन्होंने दो साल में करीब 750 बेरोजगार युवाओं को नौकरी देने का लालच देकर उन्हें एक करोड़ रुपए का चूना लगाया है। पुलिस ने आरोपियों को कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें रिमांड पर सौंप दिया गया। पकड़े गए आरोपियों में वोडाफोन कंपनी का एक प्रमोटर भी है जो फर्जी सिम कार्ड एक हजार रुपए में उपलब्ध कराता था।

सीआईए इंचार्ज अशोक कुमार के अनुसार सेक्टर-56ए फरीदाबाद निवासी इश्ताक ने गदपुरी थाने में केस दर्ज कराया कि सेक्टर-17 फरीदाबाद निवासी इरशाद ने अपने रुपए आने की बात कहकर उनसे बैंक का खाता नंबर लेकर उसमें फर्जी तरीके से रुपए डलवाकर निकाल लिए। इसकी जानकारी मिलने पर बैंक ने उनके खाते को सील कर दिया है। क्योंकि पीड़ित के खाते में हैदराबाद से जल्दी-जल्दी रुपए डाले गए और निकाले गए। पीड़ित के खाते में एक सप्ताह में एक लाख 80 हजार रुपए का लेन-देन हुआ।

पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर केस दर्ज कर जांच शुरू की तो पाया कि आरोपी इरशाद एजेंट के रूप में काम करता है, जो गरीब व अनपढ़ लोगों को पांच-छह हजार रुपए का लालच देकर उनसे बैंक खाता लेकर उसे 35 हजार रुपए में साइबर ठगों को बेच देता था। सीआईए ने बदपुर बॉर्डर से 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनकी पहचान नांगल दिल्ली निवासी राजा चौधरी उर्फ विवेक, सागरपुर निवासी अजय कुमार, शकूरपुर निवासी विजय, लोधी रोड निवासी विशाल, लोधीपुरम आगरा निवासी हिमांशु व कालकाजी नई दिल्ली निवासी नितिन के रूप में हुई है।

सभी अलग-अलग प्रकार की भाषा बोलने व समझने में एक्सपर्ट हैं। इनमें राजा चौधरी उर्फ विवेक गिरोह का सरगना है। जबकि नितिन वोडाफोन कंपनी का प्रमोटर है, जो फर्जी सिम कार्ड एक हजार रुपए में उपलब्ध कराता था। आरोपियों ने दिल्ली के संतनगर ईस्ट ऑफ कैलाश में फर्जी कॉल सेंटर खोल रखा है।

No comments:

Post a Comment