/>

Breaking

Wednesday, October 7, 2020

लेनदेन को लेकर विवाद:सब्जी मंडी में देर रात चली गोली, पिकअप संचालक की मौत, टमाटर व्यवसायी घायल

लेनदेन को लेकर विवाद:सब्जी मंडी में देर रात चली गोली, पिकअप संचालक की मौत, टमाटर व्यवसायी घायल



झज्जर : सब्जी मंडी परिसर में सोमवार देर रात लेनदेन के विवाद में गोली चल गई। इससे सब्जी मंडी में टमाटर का व्यवसाय करने वाले राकेश सैनी व इनके पास टमाटर के लिए ट्रांसपोर्टेशन का काम करने वाले पिकअप संचालक संदीप पुत्र सूरजभान घायल हो गया। बाद में अस्पताल पहुंचने पर संदीप को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। वाखड़े होकर गोलियां दागते हुए नजर आ रहा है। सूचना मिलने के बाद पुलिस ने आरोपी को दबोच लिया। आरोपी मृरदात का पूरा घटनाक्रम सीसीटीवी में कैद हुआ है। जिसमें आरोपी जमीन पर बैठकर पार्टी कर रहे 3 लोगों के पास तक की रिश्तेदारी में ही बताया जा रहा है।
जानकारी के मुताबिक झज्जर के छावनी क्षेत्र के रहने वाले राकेश सैनी का दुकान संख्या 33 पर टमाटर का कारोबार है। वह गुजरात व हिमाचल से टमाटर की बड़ी गाड़ियां मंगवाते हैं और उसके बाद पिकअप के माध्यम से आसपास की मंडियों में उसका वितरण करते हैं। उनके लिए रेवाड़ी रोड के रहने वाले संदीप यादव पुत्र सूरजभान ट्रांसपोर्टेशन का काम करता है। सोमवार की शाम राकेश, संदीप व नरेश सब्जी मंडी में दुकान के पीछे बैठ थे। इसी दौरान मौके पर माता गेट का रहने वाला सुरेश यादव भी वहां पहुंचा।
रात करीब 9:15 बजे के बाद अचानक गोली चली। एक युवक बीच से उठकर निकल जाता है। जबकि एक अन्य युवक सफेद ड्रेस में मौजूद व्यक्ति को समझाने का प्रयास करता है। इसी दौरान फायरिंग का सिलसिला शुरू होता है। सिर में गोली लग जाने से संदीप पुत्र सूरज भान जमीन पर पड़ गया। जबकि गोली लगने के कारण राकेश सैनी ने अपने आप को संभालता हुआ नजर आता है और वह उठकर बाइक की तरफ चला। लेकिन शरीर की स्थिति ठीक न होने के कारण वह बाइक को छोड़कर बाहर की ओर निकल जाता है।
आवाज सुनने के बाद आसपास काम कर रहे लोग मौके पर पहुंचे और संदीप काे देखते हैं। बाद में उसे सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। यहां उपचार के दौरान चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। राकेश की गंभीर हालत को देखते हुए उसे रोहतक पीजीआई रेफर किया गया है। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और पोस्टमार्टम के लिए शव को रखवाया। मंगलवार सुबह शव का पोस्टमार्टम करके परिजनों को सौंप दिया। बताया जाता है कि आरोपी सुरेश, संदीप के जीजा का जीजा है। सुरेश भी काफी समय तक ट्रांसपोर्टेशन का काम कर रहा है। लेकिन अब उसने इस काम से किनारा कर लिया।
फायरिंग के दौरान डगमगा रहे थे आरोपी सुरेश के पांव
सब्जी मंडी में लगे कैमरा को देखने वाले लोगों का कहना है कि फायरिंग के दौरान मौके पर अंधेरा था और जिस समय गोलियां चल रही थी तब गोलियों के साथ-साथ चिंगारी अभी स्पष्ट रूप से नजर आ रही थी। फायरिंग के दौरान आरोपी सुरेश के पांव डगमगा रहे थे और ऐसा नहीं लग रहा था कि किसी चार शूटर की तरह वह मौके पर पहुंचा और सीधे आकर फायरिंग शुरू कर दी। पूरे घटनाक्रम में ऐसा प्रतीत हो रहा है कि बातचीत के बाद यह पूरा विवाद बढ़ा और जिसमें सुरेश ने अपनी लाइसेंसी हथियार से अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने सबूत के रूप में सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को अपने कब्जे में ले लिया है और इस मामले में गहराई से जांच शुरू की जा रही है।
संदीप के पास दो बच्चे हैं
सब्जी मंडी में सोमवार की रात हुई गोलाबारी की घटना में 28 वर्षीय युवक संदीप की मौत हो गई। संदीप के पास दो बच्चे हैं एक लड़का और एक लड़की। वह पिछले काफी समय से पिकअप चलाने का काम करता है। और इसी काम से वह अपनी आजीविका चलाते थे। आरोपी रिश्तेदारी में होने के कारण पोस्टमार्टम के दौरान गमगीन माहौल रहा। हालांकि सब्जी मंडी में आढ़तियों के बीच चर्चा थी कि सुरेश के टारगेट पर राकेश था। लेकिन उनकी जान शायद बच जाएगी, संदीप इस पूरे घटनाक्रम की चपेट में आ गया। हालांकि मोहल्ले के कुछ लोगों का यह भी कहना है कि संदीप और सुरेश की रिश्तेदारी में संबंध पूरी तरह से ठीक नहीं थे। रंजिश की वजह कुछ और भी हो सकती है। हालांकि मामले की जांच कर रही सिटी थाना पुलिस का कहना है कि इस मामले में अभी पूछताछ का दौर जारी है और रंजिश के बारे में अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी रहेगा।
घर जाकर खाना खाया आरोपी ने
सब्जी मंडी में वारदात को अंजाम देने के बाद सुरेश माता दरवाजे स्थित अपने मकान पर पहुंचा। वह साधारण भाव से गया और उसके बाद खाना खाना शुरु कर दिया। इधर सूचना के बाद जब पुलिस घर पर पहुंची तब उनके बारे में पूछताछ की तो वह मकान पर ही था। पूछताछ की गई कि उसने सब्जी मंडी में फायरिंग की है तब उसने बड़ी सहजता से अपना अपराध कबूल कर लिया। पुलिस ने उसे पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया।
संदीप हत्याकांड में आरोपी सुरेश के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। उसे गिरफ्तार भी कर लिया गया है। अब रंजिश के संबंध में कड़ी पूछताछ जारी है। इंटेरोगेशन के बाद ही इस मामले में स्थिति स्पष्ट होगी।
राजेश, सिटी थाना प्रभारी झज्जर

No comments:

Post a Comment