/>

Breaking

Friday, October 9, 2020

सनसनी:घर में घुसी 8 फीट लंबी इंडियन पाइथन प्रजाति की मादा अजगर, वन्य जंतु संरक्षण विभाग ने कड़ी मशक्कत के बाद पकड़ा

सनसनी:घर में घुसी 8 फीट लंबी इंडियन पाइथन प्रजाति की मादा अजगर, वन्य जंतु संरक्षण विभाग ने कड़ी मशक्कत के बाद पकड़ा


यमुनानगर : यमुनानगर जिले के गांव फैजपुर में 8 फीट लंबा अजगर देखा गया। इंडियन पाइथन प्रजाति के इस अजगर के एक घर में घुस जाने की वजह से गांव में दहशत फैल गई। आनन-फानन में वन्य जीव संरक्षण विभाग को सूचित किया गया। विभाग की टीम ने मौके पर पहुंचकर कड़ी मशक्कत के बाद अजगर को काबू किया और फिर कलेसर के जंगल में छोड़ दिया। अजगर को पकड़ने वाली टीम ने बताया कि वह मादा थी और उसका वजन 18 किलो के करीब था।
घटना नेशनल पार्क से सटे इलाके में फैजपुर गांव में गुरुवार को घटी। यहां ढाबे के पास स्थित एक मकान में एक अजगर के घुस जाने की सूचना मिली तो लोगों में दहशत फैल गई। इसकी सूचना वन्य प्राणी विभाग के कर्मचारियों को दी गई। वन्य प्राणी विभाग कलेसर की टीम ने अजगर को कड़ी मशक्कत के बाद पकड़ा। बाद में उसे नेशनल पार्क में छोड़ दिया गया। कलेसर के वाइल्ड लाइफ रक्षक परवेज के मुताबिक उन्हें फैजपुर के संजू ने सूचना दी थी कि जगाधरी-पौंटा नेशनल हाईवे किनारे पर पाल ढाबे के नजदीक एक मकान में अजगर देखा गया है। टीम ने अजगर को सुरक्षित पकड़कर साथ लगते कलेसर नेशनल पार्क मे छोड़ दिया।

अगजरों के बारे में यह भी जानना जरूरी है।

परवेज ने बताया कि सांपों की दुनियाभर में दो हजार से ज्यादा प्रजातियां हैं। सामान्यत: अजगर विषहीन होते हैं, लेकिन जो प्राणी इनके चंगुल में फंस जाए, उसे निगल जाते हैं। अजगर 10 फीट से 25 फीट तक लंबे हो सकते हैं। इनकी मोटाई प्रजातियों के हिसाब से कम ज्यादा होती है। अक्सर पानी की तलाश में ये जंगल से बाहर आ जाते हैं। वहीं, खेतों में फसल की कटाई चल रही है। इसके चलते भी जीव-जंतु विचलित होकर गांवों का रुख कर लेते हैं। एक माह पहले भी गांव कलेसर से प्रदीप चौधरी के घर से इसी प्रकार का अजगर पकड़ा गया था। वन्य प्राणी विभाग के जिला इंस्पेक्टर सुनील कुमार ने बताया कि नेशनल पार्क के साथ लगते 15 से 20 किलोमीटर के एरिया में रैड स्नेक और कोबरा के अलावा अजगर भी काफी मात्रा में हैं। कई बार बल्लेवाला, भूड़कलां, मांडेवाला, अराइयांवाला से अजगर पकड़ कर नेशनल पार्क मे छोड़े गए हैं।

No comments:

Post a Comment